क्षेत्र की समस्याओं और विकास कार्यों से सम्बन्धित प्रत्यावेदन

भोजपुर/कोइलवर (आमोद कुमार)| गत सोमवार 9 सितम्बर को जनसमस्या समाधान केंद्र बबुरा के संस्थापक व निदेशक डा० अनिल कुमार सिंह “अनल” के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं व स्थानीय निवासियों का प्रतिनिधि मंडल‌ ने बडहरा प्रखन्ड‌ विकास पदाधिकार सुशील कुमार से मुलाकात की और क्षेत्र की समस्याओं और विकास कार्यों से सम्बन्धित एक प्रत्यावेदन समर्पित किया.

डा० अनिल कुमार सिंह “अनल” ने बडहरा प्रखन्ड के एकवना पंचायत के सिरिसियां ग्राम में आजादी से लेकर आज तक गांव को मुख्य मार्ग से जोडने वाले सम्पर्क मार्ग के निर्माण नहीं होने की बात कहते हुये इसके लिये भूमि चिन्हित कर इस मार्ग को तुरंत बनवाये जाने की मांग की. इस गांव में आजादी के बाद से कोई विकास कार्य नहीं हुआ है तथा आज भी नाली खडंजे का अभाव‌ है. लोग कीचड मे आने जाने और गंदे पानी से गुजरने को मजबूर हैं.
सम्पर्क मार्ग के अभाव में बरसात के समय इस गांव में कीचड़ के कारण दुपहिया वाहन तक ले जाना समभव नहीं होता. बीमार व गर्भवती महिलाओं को चारपाई पर लाद कर बांध तक लगभग पौन किलोमीटर ढोया जाता है.
इस पर प्रखन्ड विकास अधिकारी द्वारा प्रतिनिधिमंडल को तुरंत उचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया गया.
दूसरे मुद्दे पर चर्चा करते हुये डा० अनिल कुमार सिंह “अनल” ने बबुरा बडहरा बांध स्थित जर्जर सड़क मार्ग का मुद्दा उठाया. उन्होने कहा कि यह सडक इस क्षेत्र की जीवन रेखा की तरह काम करती है तथा दर्जनों गांवो को जोडती है. यह सड़क बबुरा छपरा फोरलेन और बडहरा आरा रोड के बीच सम्पर्क को स्थापित करती है तथा प्रखन्ड और अंचल तक आने का एक मात्र मार्ग है जिससे हजारों वाहन और यात्री सफर करते हैं.




आज इस सड़क की स्थिती इतनी दयनीय है कि कब कोई चौपहिया वाहन या दुपहिया वाहन गड्ढे में पड़कर गिर जाये वह पता नहीं है. दर्जनों लोग रोज घायल हो रहे हैं और वाहन पलटने से कईयों की मृत्यु भी हुई है. इस सड़क की अविलम्ब मरम्मत होनी चाहिये – यह मांग की गई. साथ ही डा० अनिल कुमार सिंह “अनल” ने कहा कि इस पर त्वरित कार्यवाही नही होने पर आंदोलन के लिये बाध्य होना पडेगा.
प्रखन्ड विकास पदाधिकारी द्वारा इस मामले को उचित विभाग को अनुसंसा के साथ भेजने का आश्वासन दिया गया.
इसके साथ ही कोईलवर बड़हरा फोरलेन की जर्जर स्थिती पर चर्चा कर उसे शीघ्रातिशीघ्र मरम्मत करने की मांग की गई.
इस अवसर पर ओम प्रकाश सिंह, कुन्दन सिंह, प्रिंस सिंह भारद्वाज, रामनेह सिंह, राजेश कुमार राय, छोटू सिंह, बिपिन कुमार आदि गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे.