मुख्यमंत्री नीतीश कुमार live …

प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन पर बिहार में मेगा वैक्सीन ड्राइव की शुरुआत

Read more

पढ़ते समय कहानियों के पात्र मेरे आगे खड़े हो जाते थे- रेणु

एक अभिनेत्री की कहानी रेणु सिन्हा की कलम से .. पढ़ते समय कहानियों के पात्र मेरे आगे खड़े हो जाते थे, उनकी दुनिया मेरे आसपास बस जाती थी शायद उसी समय अभिनय और थियेटर के प्रति मेरे रुझान के बीज पड़ गए.. यह कहते हुए मुझे अजीब तो लगता है लेकिन यह सच है कि बचपन में अक्षर – ज्ञान मिलते ही मैं हिंदी साहित्य का अध्ययन करने लगी थीं साथ ही कविताएँ, कहानियाँ लिखने की भी कोशिश करती थी । दस वर्ष की अवस्था तक पहुँचते – पहुँचते मैंने भी अमृत लाल नागर, भगवती चरण वर्मा, धर्मवीर भारती, श्रीलाल शुक्ल और आचार्य चतुर सेन जैसे तकरीबन सभी नामचीन साहित्यकारों की पुस्तकों का अध्ययन कर लिया और बाद में अंग्रेजी साहित्यकारों को भी पढ़ा। अभी के उपन्यासकारों में अंग्रेजी के अभिताव घोष मुझे बेहद पसंद हैं । पढ़ते समय कहानियों के पात्र मेरे आगे खड़े हो जाते थे, उनकी दुनिया मेरे आसपास बस जाती थी । शायद उसी समय अभिनय और थियेटर के प्रति मेरे रुझान के बीज पड़ गए, लेकिन उन सपनों को मूर्त रूप देने में परिस्थितियों की सहयोग नहीं मिल सका । अन्य महिलाओं की तरह मैंने भी घर-परिवार की जिम्मेदारियों में ही अपने वजूद को कहीं खो सा दिया था। लेकिन कहते “Its better late than never”. यूँ कहें कि “देर आए, दुरुस्त आएँ” तो 2017 में मेरी कविताओं का संग्रह पुस्तक रूप में “स्वयंत” नाम से प्रकाशित हुआ । इसने मुझे खुशी तो दी लेकिन पूरा संतोष नहीं मिला | जब भी नाटक था थियेटर

Read more

महात्मा गांधी पीएमसीएच में …

पुष्यमित्र की कलम सेमहात्मा गांधी जी का यह बड़ा दुर्लभ चित्र है। इस चित्र में बाईं तरफ कोने में बापू बैठे हैं। मुंह पर मास्क लगाये। सामने कई डॉक्टर नजर आ रहे हैं। यह पटना के पीएमसीएच के ऑपरेशन थियेटर का दृश्य है। तारीख 15 मई 1947, रात के 8 से 9 बजे के बीच। गांधी की पोती मनु का एपेंडिक्स का ओपरेशन चल रहा है। यह चित्र इसलिये भी दुर्लभ है क्योंकि गांधी इलाज के लिये एलोपेथी पर बिल्कुल भरोसा नहीं करते थे। वे अपना इलाज प्राकृतिक चिकित्सा से ही करते थे और दूसरों को भी इस बारे में सलाह देते थे। मगर जब मनु गांधी का दर्द बरदास्त से बाहर हो गया तो उन्होने एलोपेथी की सर्जरी के आगे आत्मसमर्पण कर दिया। यह उस दौर की बात है जब बिहार के साम्प्रदायिक दंगों के बाद शांति मिशन के सिलसिले में गांधी पटना आये थे। वे लगभग दो महीने मार्च से मई तक यहां रहे। मनु गांधी नोआखली से ही उनकी सेवा के लिये उनके साथ रहती थी। आखिर तक रही। पटना में गांधी मैदान के पास डा सैयद महमूद के घर में उनका ठिकाना था। गांधी इस लम्बी अवधि के दौरान जहां ठहरे थे वह छोटा सा मकान आज भी एएन सिन्हा इंस्टीटयूट के परिसर में है। मगर अब वहां लगभग कोई नहीं जाता। कोई आयोजन नहीं होता। एकाध बार इसकी मरम्मत जरूर हुई मगर अब भी उपेक्षित पड़ा है। उसी मकान में रहते हुए मनु गांधी के एपेंडिक्स का दर्द शुरू हुआ था। पहले तो गांधी ने

Read more

‘उसका फैसला’ का लोकार्पण

कहानियों का संग्रह है ‘उसका फैसला’ साहित्यकार डॉ. नीरज सिंह की सद्य प्रकाशित पुस्तक का लोकार्पण डॉ. कुंती सिंह को समर्पित है ‘उसका फैसला‘ आरा: कहानी संग्रह ‘उसका फैसला’ डॉ नीरज सिंह की नई पुस्तक का नाम है जिसे अभिधा प्रकाशन ने प्रकाशित किया है । इस पुस्तक को डॉ. नीरज सिंह ने अपनी जीवन संगिनी डॉ. कुंती सिंह को समर्पित की है । इसका लोकार्पण भी उन्हीं के हाथों एक पारिवारिक आयोजन में सम्पन हुआ था । पुस्तक का सार्वजनिक लोकार्पण पटना के जमाल रोड स्थित जनवादी लेखक संघ के राज्य कार्यालय में सुप्रसिद्ध कवि श्रीराम तिवारी , सीटू के पूर्व राज्य महासचिव अरुण कुमार मिश्र, बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ की पत्रिका ‘ प्राच्यप्रभा ‘ के संपादक चर्चित कवि विजय कुमार सिंह , जनवादी लेखक संघ ,बिहार के सचिव चर्चित युवाकवि कुमार विनीताभ , शिक्षक नेता और साहित्यकार शाह जफर इमाम तथा हिदी और मगही के चर्चित साहित्यकार घमंडी राम के हाथों सम्पन्न हुआ.कार्यक्रम में जनवादी सांस्कृतिक मोर्चा , बिहार के अध्यक्ष प्रख्यात लोकगायक अशोक मिश्र , राज्य किसान सभा के उपाध्यक्ष अरुण कुमार , आलोचक युगलकिशोर दुबे , डॉ उपेंद्र कुमार यादव , उर्दू के युवा कवि – आलोचक जफर इकबाल , युवा कवि सुनील प्रिय आदि अन्य कई गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे. डॉ नीरज सिंह की कहानियों में है क्या क्लासिक अंदाज की मुकम्मल संरचना नीरज सिंह की ज्यादातर कहानियों में मिलती है, इसे आप इस संग्रह से गुजरते हुए सहज ही गौर कर सकते हैं। इसके साथ-साथ, इस बात पर भी गौर कर सकते हैं

Read more

गंभीर मरीजों को पटना एम्स नहीं उपलब्ध करा पा रहा आईसीयू बेड

एम्स में 85 बेड वेंटिलेटर युक्त हैं जो सभी मरीजों से फूल हैंकई दिनों से एम्स पटना में ईलाज कराने आ रहे गंभीर रूप से बीमार मरीजों को अस्प्ताल दर अस्प्ताल भटकना पड़ रहा है एम्स निदेशक ने खड़े किए हाथ फुलवारी शरीफ ,अजीत। कोरोना के मामले में कमी आने के बाद इमरजेंसी और गंभीर रूप से बीमार मरीजों के इलाज के लिए शुरू हुए एम्स पटना का इमरजेंसी एंड ट्रामा विभाग की सारी बेड फूल हो चुकी है ऐसे में बिहार में मरीज़ो को समुचित स्वास्थ्य सुविधाओं को पूर्ण रूप से उपलब्ध कराने का सरकार का दावा पूरी तरह खोखला साबित हो रहा है। सरकार चाहे लाख दावे करे लेकिन हकीकत यह है कि बिहार स्वास्थ्य सेवाएं बुरी तरह चरमराई हुई हैं । लोग अपने बीमार परिजन को लेकर अस्पतालों के चक्कर लागते फिर रहे हैं लेकिन उन्हें अस्पतालों में भर्ती करने से यह कहकर इनकार कर दिया जा है कि गंभीर मरीजों के लिए जरूरी आईसीयू और वेंटिलेटर सुविधाओं वाली बेड खाली नही है। हालत बद से बदतर होते जा रहे है लेकिन कोई जिम्मेवार अधिकारी इस ओर ध्यान नही दे रहे हैं । गौरतलब हो कि दिल्ली के बड़े-बड़े अस्पतालों में गंभीर रुप से ग्रस्त मरीजों को भर्ती व ईलाज कराने पहुंचने वालों में सबसे अधिक बिहार और आसपास के राज्यों के भीड़ को कम करने के इरादे से सरकार ने बिहार में पटना एम्स की स्थापना की थी। बिहार के गरीब परिवार के मरीजों को सस्ते दर पर बेहतर इलाज और अत्याधुनिक चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराने

Read more

मुख्यमंत्री का जनता दरबार LiVE

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार में आज क्या हो रहा है इसे देखें नीचे दिए हुए लिंक पर क्लिक करें

Read more

भगवान बलभद्र की जयंती सह सम्मान समारोह

आरा में जल्द ही बनेंगे सड़क और नालियां -उप मुख्यमंत्री बियाहूत कलवार सेवा का कार्यक्रमकलवार समाज को अनुसूचित जाति की श्रेणी में रखा जायइस मौके पर 110 लोगों को सम्मानित किया गया सीए की पढ़ाई कर रही छात्रा राधा कुमारी को 35000 का चेक डिप्टी सीएम आरा, वियाहुत कलवार सेवा संघ ट्रस्ट आरा, भोजपुर के द्वारा भगवान बलभद्र की जयंती सह सम्मान समारोह धूमधाम से मनाया गया। शुभारंभ सुबह में भगवान बलभद्र जी की प्रतिमा के पास ट्रस्टी रामेश्वर प्रसाद, उर्मिला देवी के साथ पूजा-अर्चना किया गया। उसके बाद झंडोत्तोलन अध्यक्ष सत्यनायण प्रसाद ने अपने सदस्यों के साथ किया। मौके पर 110 लोगों को सम्मानत किया गया जिसमें 60 ट्रस्टी 20 कलवार समाज के सक्रिया कार्यकर्ता व 40 वैश्य समाज के लोगों को सम्मानित अध्यक्ष सत्यनारायण प्रसाद, पूर्व अध्यक्ष जितेन्द्र ब्याहुत के द्वारा उन ट्रस्टियों को सम्मानित किया गया जिन्होने समाजिक कार्यो में बढ़चढ़कर हिस्सा लिया है। संचालन सदस्य राघवेन्द्र नारायण ,पंकज कुमार प्रभाकर और अध्यक्षता सत्यनारायण प्रसाद ने किया। समारोह का उद्घाटन डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने दीप प्रज्वलित कर किया। इस अवसर पर डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि वियाहुत कलवार सेवा संघ 24 साल से यह समारोह आयोजित कर रहा है यह बहुत ही सराहनीय है। शहर की सड़क व नाली जल्द से जल्द निर्माण कराया जाएगाा। समाज के छात्र व छात्राओं को मन लगाकर शिक्षा ग्रहण करने की बात कही। समाज की तरफ सीए की पढ़ाई कर रही छात्रा राधा कुमारी को 35000 का चेक डिप्टी सीएम के हाथों दिया गया। मौके पर डिप्टी सीएम

Read more

करें तो क्या करें .. वकील और उनके साथ काम करने वाले ..

वकील और उनके साथ काम करने वाले लोगों के समक्ष भूखमरी की समस्या कर्ज में डूब रहे रहेें लाखों परिवारबिहार के 150 न्यायालयों के लगभग 1.5 लाख अधिवक्ताओं, उनके सहयोगियों जैसे मुंशी … पटना ; विधि प्रकोष्ठ भाजपा बिहार के संयोजक और हाईकोर्ट के एडवोकेट टी एन ठाकुर ने कहा है कि न्याय दिलाने वाले बिहार के 150 न्यायालयों के लगभग 1.5 लाख अधिवक्ताओं, उनके सहयोगियों जैसे मुंशी और अन्य लोगों के समक्ष भुखमरी की समस्या उत्पन्न हो गई है. कोरोना इफेक्ट के कारण जिला व अनुमंडल न्यायालयों में लगभग 18 माह से ठीक ढंग से कार्यवाही नहीं चल पा रही है.दूसरी तरफ पटना उच्च न्यायालय में अभी 53 की जगह 20 जज है, वर्चुयल माध्यम से बहुत कम मामलों की सुनवाई हो पाती है.रेगुलर बेल और एन्टीसेपेट्री बेल के हजारो मामले पेंडिंग है जिनका बेल हो जाने की संभावना है वो भी महीनों महीनों से जेल मे बंद है.सुप्रीम कोर्ट, इलाहाबाद उच्च न्यायालय ,गुजरात उच्च न्यायालय दिल्ली उच्च न्यायालय में है। बिहार में भी सभी सरकारी कार्यालय प्राईवेट संस्थान सभी खुल चुके है करोना के मामले भी एक दम कम हो गये हैं। वैक्सीन भी चार करोड़ लोग ले चुके है।माननीय मुख्य न्यायाधीश पटना हाईकोर्ट संजय कैरोल से हम आग्रह करते हैं कि यथाशीघ्र बिहार के न्यायालयों समेत पटना हाईकोर्ट पटना मे कोविड गाईडलाईन का पालन करते हुए फिजिकल कोर्ट शुरू हो . जिससे लाखों परिवारों राहत मिल सके .

Read more

तीज व्रत पर मेहंदी प्रतियोगिता का आयोजन

हर महीने होगा कार्यक्रम – पल्लवी प्रियदर्शिनी आरा: हरितालिका तीज के शुभ अवसर पर मेहंदी प्रतियोगिता का आयोजन संस्कार भारती के द्वारा पल्लवी ब्यूटी पार्लर मे हुआ। (नवादा चौक) आरा में हुआ। इस कार्यक्रम का आयोजन पल्लवी प्रियदर्शनी के द्वारा किया गया। जिसमे लगभग 20 बच्चियों बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। 1नेहा कुमारी ,2 ज्योति कुमारी,2 अंजली तिवारी, 3 आरोही,सोनम, अराध्या, आकांक्षा प्रियदर्शनी, मौके पर (शाहपुर) लाइब्रेरियन टीचर स्मृति रानी ,उदवंतनगर शिक्षिका पुष्पा शर्मा,बिकी देवी,गीता कुमारी , बच्चियों को सेनेटरी नैपकिन के बारे में बताया गया डेमो देखकर उसके फायदे और नुकसान के बारे मे बताया गया और बच्चियों को डे जॉय सेनेटरी नैपकिन गिफ्ट किया गया। पल्लवी प्रियदर्शिनी ने बताया कि हम अपने पार्लर के माध्यम से हर महीने नई नई प्रतियोगिताओं के साथ आएंगे और सांकृतिक चेतना तीज त्योहारों को लेकर लोगों को जागृत करेंगे। Pnc desk

Read more

प्रमुख ट्रेनों के परिचालन में बदलाव ,कई ट्रेनें रद्द

दरभंगा-समस्तीपुर रेलखंड पर हायाघाट एवं थलवारा स्टेशन के बीच रेल पुल के निकट बढ़ते जलस्तर के कारण ट्रेनों के परिचालन में बदलाव पटना: समस्तीपुर मंडल के समस्तीपुर दरभंगा रेलखंड के मध्य हायाघाट एवं थलवारा स्टेशन के बीच स्थित रेल पुल संख्या 16 (किमी 22/6) पर बढ़ते जलस्तर को देखते हुए यात्री सुरक्षा एवं संरक्षा के मद्देनजर स्पेशल ट्रेनों के परिचालन में निम्नानुसार बदलाव किया गया है: 🔸 परिचालन रद्द की गई स्पेशल ट्रेनें: (Cancellation of trains) (i) दिनांक 04.09.2021 को अपने प्रारंभिक स्टेशन से प्रस्थान करने वाली वैसी ट्रेनें जिनका परिचालन रद्द रहेगा: 05554 जयनगर-भागलपुर स्पेशल ट्रेन 05589 समस्तीपुर-दरभंगा स्पेशल ट्रेन 05590 दरभंगा-समस्तीपुर स्पेशल ट्रेन 05593 समस्तीपुर-जयनगर स्पेशल ट्रेन 05594 जयनगर-समस्तीपुर स्पेशल ट्रेन 05283 मनिहारी-जयनगर स्पेशल ट्रेन 05284 जयनगर-मनिहारी स्पेशल ट्रेन 03225 जयनगर-राजेंद्र नगर टर्मिनल स्पेशल ट्रेन 03226 राजेंद्र नगर टर्मिनल-जयनगर स्पेशल ट्रेन 03227 सहरसा-राजेंद्र नगर टर्मिनल स्पेशल ट्रेन 03228 राजेंद्र नगर टर्मिनल-सहरसा स्पेशल ट्रेन (ii) दिनांक 05.09.2021 को अपने प्रारंभिक स्टेशन से प्रस्थान करने वाली वैसी ट्रेने जिसका परिचालन रद्द रहेगा: 05553 भागलपुर-जयनगर स्पेशल ट्रेन 🔸 ट्रेनों का आंशिक समापन (Short termination of trains) सियालदह से 03.09.2021 को प्रस्थान करने वाली 03185 सियालदह-जयनगर स्पेशल ट्रेन का आंशिक समापन बरौनी में किया जाएगा । अमृतसर से 03.09.2021 को प्रस्थान करने वाली 04674 अमृतसर-जयनगर स्पेशल ट्रेन का आंशिक समापन समस्तीपुर में किया जाएगा । लोकमान्य तिलक टर्मिनस से 03.09.2021 को प्रस्थान करने वाली 01061 लोकमान्य तिलक टर्मिनस-जयनगर स्पेशल ट्रेन का आंशिक समापन मुजफ्फरपुर में किया जाएगा । अमृतसर से 03.09.2021 को प्रस्थान करने वाली 04652 अमृतसर-जयनगर स्पेशल ट्रेन का आंशिक समापन

Read more