ककोलत जलप्रपात बिहार का लोकप्रिय स्थल –सीएम नीतीश

जलप्रपात तक जाने के लिए एक्सीलेटर लगाने की व्यवस्था करें भ्रमण के बाद अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा-निर्देश जलप्रपात आने वाले जल की सफाई की सफाई भी जरुरी परिसर में लोगों के खाने-पीने, रहने एवं शौचालय की व्यवस्था मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नवादा जिला में अवस्थित ककोलत जलप्रपात का भ्रमण किया. भ्रमण के दौरान वन विभाग के अधिकारियों से वहां की व्यवस्थाओं के संबंध में जानकारी ली. भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि यह पवित्र और रमणिक स्थल है. यहां बड़ी संख्या में लोग आते हैं और उन्हें यहां अच्छा महसूस होता है. उन्होंने यहां के सौंदर्यीकरण के संबंध में अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि नीचे ऊपर जलप्रपात तक जाने के लिए एक्सीलेटर लगाने की व्यवस्था करें. इसके नीचे वाले परिसर में लोगों के खाने-पीने, रहने एवं शौचालय की व्यवस्था एक ही जगह पर करें. साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दें. जलप्रपात आने वाले जल की सफाई की भी आकर्षक बनाए रखने के लिए सभी जरूरी कार्य करें व्यवस्था रखें. भ्रमण के पश्चात् मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि ककोलत जलप्रपात के विकास कार्य को देखने हम आए हैं. पहले भी हम निर्देश देकर गए थे, आज उसी की प्रगति को देखने आए हैं. रास्ते में कोई दुकान वगैरह नहीं रहेगा. परिसर के अंदर ही रहने, खाने और शौचालय की व्यवस्था रहेगी ताकि पर्यटकों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो. जब पिछली बार आए थे तो इन सब कामों के लिए लोगों से भी राय ली गई थी. यह बहुत ही पवित्र स्थल है.

Read more

साहित्यकार गीतांजलि श्री को ‘रेत की समाधि’ के लिए मिला बुकर पुरस्कार

हिंदी भाषा की पहली रचना को मिला यह सम्मान बुकर पुरस्कार पाने वाली पहली हिंदी पुस्तक टॉम्ब ऑफ सैंड रेत की समाधि उपन्यास का अंग्रेजी में अनुवाद डेजी रॉकवेल ने किया कथानक की मार्मिकता से निर्णायक मंडल मोहित उषा किरण खान ,हृषिकेश सुलभ ने बताया महान उपलब्धि टॉम्ब ऑफ सैंड प्रतिष्ठित अंतरराष्ट्रीय बुकर पुरस्कार जीतने वाली किसी भी भारतीय भाषा की पहली किताब बन गई है. गुरुवार को लंदन में एक समारोह में लेखिका ने कहा कि वह ‘बोल्ट फ्रॉम द ब्लू’ से पूरी तरह से अभिभूत थीं.सुप्रसिद्ध लेखिका गीतांजलि श्री को अंतरराष्ट्रीय बुकर पुरस्कार से नवाजा गया है. उन्हें यह पुरस्कार टॉम्ब ऑफ सैंड (रेत की समाधि) के लिए दिया गया है. रेत की समाधि हिंदी की पहली किताब है जिसे यह सम्मान हासिल हुआ है. रेत की समाधि उपन्यास का अंग्रेजी में अनुवाद डेजी रॉकवेल ने किया है. यह पुस्तक दुनिया की 13 रचनाओं में शामिल थी, जिसे अंतरराष्ट्रीय बुकर पुरस्कार की सूची में शामिल किया गया था. मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, टॉम्ब ऑफ सैंड प्रतिष्ठित अंतरराष्ट्रीय बुकर पुरस्कार जीतने वाली किसी भी भारतीय भाषा की पहली किताब बन गई है. गुरुवार को लंदन में एक समारोह में लेखिका ने कहा कि वह ‘बोल्ट फ्रॉम द ब्लू’ से पूरी तरह से अभिभूत थीं. उन्होंने 50,000 जीबीपी का अपना पुरस्कार लिया और पुस्तक के अंग्रेजी अनुवादक डेजी रॉकवेल के साथ इसे साझा किया. गीतांजलि श्री ने कहा कि मैंने कभी बुकर का सपना नहीं देखा था. मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं ऐसा कर सकती हूं. कितनी

Read more

भारत में ग्लोबल ड्रोन हब बनने की क्षमता- पीएम मोदी

दो दिवसीय ड्रोन महोत्सव की शुरुआत पहले लोगों में तकनीक को लेकर डर पैदा किया जाता था आज यही लाखों गरीबों का सहारा बनी दिल्ली के प्रगति मैदान में देश के सबसे बड़े ड्रोन महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत ड्रोन महोत्सव 2022 का उद्घाटन किया. इस दौरान पीएम ने कहा कि पिछली सरकारों ने लोगों में तकनीक को लेकर डर पैदा किया, आज यही तकनीक लाखों गरीबों का सहारा बन रही है. ड्रोन तकनीक को लेकर भारत में जो उत्साह देखने को मिल रहा है, वह अद्भुत है. जो ऊर्जा नजर आ रही है, वह भारत में ड्रोन सर्विस और ड्रोन आधारित इंडस्ट्री की लंबी छलांग का को दर्शाता है. यह भारत में रोजगार के एक उभरते हुए बड़े सेक्टर की संभावनाएं दिखाती है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजधानी में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि भारत में वैश्विक ड्रोन हब बनने की क्षमता है. पीएम मोदी ने प्रगति मैदान में दो दिवसीय ‘भारत ड्रोन महोत्सव 2022’ का उद्घाटन किया है. इस दौरान प्रधानमंत्री ने किसान ड्रोन पायलटों के साथ भी बातचीत की. इसके साथ ही उन्होंने खुले में ड्रोन प्रदर्शन भी देखा और ड्रोन प्रदर्शनी केंद्र में स्टार्टअप्स पर भी उन्होंने नजर बनाई. पीएम मोदी ने कहा कि आप सभी को भारत ड्रोन महोत्सव के आयोजन के लिए मैं बहुत-बहुत बधाई देता हूं. आज इस ड्रोन प्रदर्शनी से मैं काफी प्रभावित हुआ हूं. मेरे लिए आज बहुत सुखद अनुभव रहा. जिन-जिन स्टॉल में मैं आज गया, वहां सभी लोग बहुत

Read more

अमेजन के जंगल में मिले पिरामिड और मध्य युग की विशाल बस्तियां

1500 साल पुराने 22 मीटर ऊंचे पिरामिड मिले पिरामिडों की ऊंचाई करीब आठ मंजिल ऊंची अमेजन में छोटे-छोटे कबीले नहीं बल्कि शहर थे एक एक उन्नत सभ्यता के मिले निशान बोलीविया में अमेजन के जंगल में शोधकर्ताओं ने प्राचीन बस्तियों का पता लगाया है. इन बस्तियों में पिरामिड भी मिले हैं. बस्तियों के सड़कों के नेटवर्क से जुड़े होने के सबूत भी मिले हैं. जानकारी के मुताबिक ये शहर करीब 1500 साल पुराने हैं. लेजर मैपिंग के जरिए इन शहरों का पता चला है. अमेजन के जंगल दुनिया में मौजूद सबसे घने जंगलों में से एक हैं. ये जंगल अपने अंदर कई राज छिपाए हुए हैं. कहा जाता है कि यहां सोने का शहर भी है, जिसे खोजने कई लोग गए और वापस नहीं लौटे. वैज्ञानिकों को रिसर्च के दौरान यहां पिरामिड और मध्य युग की विशाल बस्तियां मिली हैं. इन पिरामिडों की ऊंचाई करीब आठ मंजिल ऊंची है. नेचर जर्नल में यह रिसर्च पब्लिश की गई है. घने जंगलों में इस तरह की खोज करना बेहद मुश्किल है, लेकिन नई टेक्नोलॉजी के जरिए इसके बारे में पता लग सका है. लेजर मैपिंग की तकनीक से ये हैरान कर देने वाले रिजल्ट मिले हैं. हेलीकॉप्टर पर लेज़र मैपिंग डिवाइस लगाया गया और इसे जंगल के कई हिस्सों के ऊपर से ले जाया गया. इस डिवाइस से एक थ्री-डी इमेज मिली, जिसमें पेड़ नहीं थे और जमीन की सही आकृति का अनुमान लग सका. इस नई खोज से वह धारणा भी कमजोर हुई है, जिसके मुताबिक 16 शताब्दी में यूरोपीय उपनिवेश

Read more

आईएएस बनने तक करेंगे सोनू की मदद : आर के सिन्हा

भाजपा के संस्थापक सदस्य और पूर्व सांसद आर के सिन्हा के घर पहुंचा सोनू मामा और चाचा के साथ आया पटना अब सोनू जाएगा इंडियन पब्लिक स्कूल देहरादून पांचवी कक्षा में होगा नामांकन छात्रवृति के साथ मिलेगी आवासीय सुविधा नालंदा जिले के नीमा कोल के रहने वाले रणविजय यादव का 11 वर्षीय पुत्र सोनू आजकल सुर्खियों में है. सोनू का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पढ़ाई करने के लिए मदद की गुहार लगाने वाला वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. टीशर्ट पैंट और हवाई चप्पल पहने सोनू सोमवार को पटना पहुंच कर भाजपा के संस्थापक सदस्य और पूर्व सांसद आर के सिन्हा के घर अन्नपूर्णा में उनसे मिला. सोनू के चेहरे पर एक सुकून दिखा जो अमूमन नालंदा या टीवी चैनलों में नहीं दिख रहा था. सोनू आर के सिन्हा का प्यार पा कर उनके गले से लिपट कर भावुक हो गया. पूर्व सांसद आरके सिन्हा भी सोनू से मिल कर और उससे बातें कर खुश दिखे. उन्होंने सोनू को इन्डियन पब्लिक स्कूल देहरादून में पांचवी कक्षा में पढ़ने और छात्रवृति के पढ़ने और आवासीय सुविधा भी देने की बात कहीं है. इस विद्यालय में एक वर्ष में न्यूनतम खर्च 6 लाख रुपया आता हैं. सोनू ने जब उनसे आईएएस बनने की बात की तो उन्होंने कहा कि आईएएस बनने तक वो उसकी मदद करेंगे.पूर्व सांसद ने कहा कि आज सोनू मेरे पटना आवास पर अपने चाचा और मामा के साथ पहुंचा. बच्चा तो बच्चा ही होता है. वह मेरे पास आकर प्यार पाकर एक सामान्य

Read more

कान्स में नवाजुद्दीन सिद्दीकी को मिला एक्सिलेंस इन सिनेमा अवॉर्ड

नवजुद्दीन ने कहा –अभिनय का संबंध अवार्ड से है विदेशी सिलेब्स संग नजर आए नवाज कई विदेशी सिलेब्स संग दिखे नवाज कान्स फिल्म फेस्टिवल 2022 में बॉलिवुड के बेहतरीन ऐक्टर माने जाने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी को सम्मानित किया गया है। कान्स में नवाजुद्दीन को एक्सिलेंस इन सिनेमा के अवॉर्ड से नवाजा गया है. अपनी ऐक्टिंग के लिए नवाजुद्दीन सिद्दीकी  अब भारत ही नहीं बल्कि विदेशों तक मशहूर हो चुके हैं. उन्हें नेशनल और इंटरनैशनल लेवल पर कई बार सम्मानित किया जा चुका है. अब नवाजुद्दीन कान फिल्म फेस्टिवल में नजर आए हैं. नवाज की फ्रेंच रिवेरा में मौजूदगी केवल भारतीय ही नहीं बल्कि विदेशी सिलेब्स को भी भा गई है. इस मौके पर नवाज को सम्मानित भी किया गया है. नवाजुद्दीन को कान्स 2022 में सिनेमा के क्षेत्र में बेहतरीन काम करने के लिए अवॉर्ड फॉर एक्सिलेंस से सम्मानित किया गया है. नवाज को यह अवॉर्ड 2 बार एमी अवॉर्ड जीत चुके अमेरिकन ऐक्टर और प्रड्यूसर विंसेंट डे पॉल ने दिया. यह पहली बार नहीं है कि नवाज को ऐसा अवॉर्ड मिला हो. इससे पहले नवाज को भारत की तरफ से कान्स फिल्म फेस्टिवल में अवॉर्ड रिसीव करने वाले डेलिगेट्स में भी शामिल किया गया था. अवॉर्ड में नवाज को तुर्की के ऐक्टर कैंसल एलचिन, ‘सेक्स इन द सिटी’ स्टार गिल्स मैरिनी, निकोल मुज, निगेल डैली और जारोस्लॉ मार्जेव्सकी जैसे विदेशी सिलेब्स के साथ भी देखा गया. वर्क फ्रंट की बात करें तो नवाज पिछली बार टाइगर श्रॉफ के साथ फिल्म ‘हीरोपंती 2’ में नजर आए थे. अब जल्द ही

Read more

केदारनाथ में बनेगा सुशांत राजपूत फोटोग्राफी प्वाइंट

फोटोग्राफी प्वाइंट बनाकर हम उन्हें श्रद्धांजलि देंगें – मंत्री उत्तराखंड आनेवाले लोग ले सकेंगे सेल्फी फिल्म ‘केदारनाथ’ में मुख्य भूमिका निभाने वाले दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की याद में उत्तराखंड सरकार केदारनाथ धाम में एक ‘फोटोग्राफी प्वाइंट’ तैयार करेगी. केदारनाथ आने वाले श्रद्धालु और पर्यटक, खासतौर पर सुशांत के प्रशंसक उनके नाम से बनने वाले इस ‘फोटोग्राफी प्वाइंट’ पर फोटो खिंचवा सकेंगे. उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने बताया कि राज्य के पर्यटन विभाग को इस संबंध में एक कार्ययोजना तैयार करने का निर्देश दिया गया है. महाराज ने कहा कि मैंने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर केदारनाथ में एक फोटोग्राफी प्वाइंट बनाने का प्रस्ताव किया है. सुशांत ने यहां एक अच्छी फिल्म केदारनाथ बनाई थी. हम चाहते हैं कि केदारनाथ में उनके नाम का फोटोग्राफी प्वाइंट बनाकर हम उन्हें श्रद्धांजलि दें. मंत्री ने कहा कि उन्होंने पर्यटन विभाग को बॉलीवुड को उत्तराखंड की तरफ आकर्षित करने के निर्देश दिए हैं.  PNCDESK

Read more

जापान से हमारा रिश्ता बुद्ध,बोध,ज्ञान,ध्यान का : नरेंद्र मोदी

आर्थिक वृद्धि का इंजन बनेगा हिंद-प्रशांत अमेरिका की पहल पर ‘आईपीईएफ’ में साथ आये 12 देश अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के पीएम फुमियो किशिदा की मौजूदगी में 12 हिंद-प्रशांत देशों के साथ नये व्यापार समझौते की शुरुआत की. इंडो-पैसिफिक इकोनॉमिक फ्रेमवर्क फॉर प्रॉस्पेरिटी (आईपीईएफ) के अन्य भागीदार देशों, ऑस्ट्रेलिया, ब्रुनेई, इंडोनेशिया, दक्षिण कोरिया, मलेशिया, न्यूजीलैंड, फिलीपींस, सिंगापुर, थाईलैंड और वियतनाम के नेताओं की वर्चुअल उपस्थिति रही। अमेरिका के साथ इन देशों की वैश्विक जीडीपी में 40 फीसदी हिस्सेदारी है. आईपीईएफ का मकसद समान विचार वाले देशों के बीच स्वच्छ ऊर्जा, आपूर्ति शृंखला और डिजिटल कारोबार जैसे क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाना है. प्रधानमंत्री मोदी ने खुले, मुक्त एवं समावेशी हिंद-प्रशांत की प्रतिबद्धता व्यक्त करते हुए सहयोगी देशों के साथ आर्थिक सहयोग गहरा बनाने पर जोर दिया. उन्होंने कहा, हिंद-प्रशांत आर्थिक ढांचा इस क्षेत्र को वैश्विक आर्थिक वृद्धि का इंजन बनाने की हमारी सामूहिक इच्छाशक्ति की घोषणा है. हिंद-प्रशांत विनिर्माण, आर्थिक गतिविधि, वैश्विक व्यापार और निवेश का केंद्र है. हिंद-प्रशांत क्षेत्र के कारोबार प्रवाह में भारत सदियों से एक प्रमुख केंद्र रहा है. मोदी ने कहा कि विश्व का सबसे प्राचीन वाणिज्यिक बंदरगाह मेरे गृह राज्य गुजरात के लोथल में है. प्रधानमंत्री मोदी ने सॉफ्टबैंक के मासायोशी सोन और सुजुकी मोटर कॉर्पोरेशन के ओसामु सुजुकी सहित जापान के कारोबारी दिग्गजों से मुलाकात की और उन्हें भारत में निवेश का न्योता दिया. मोदी ने टोक्यो में प्रवासी भारतीयों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत की विकास यात्रा एवं क्षमता निर्माण में जापान की महत्वपूर्ण भूमिका

Read more

कांस में छा गई विश्व सुन्दरी ऐश्वर्या

ऐश्वर्या ने ‘कस्टम-मेड क्वीन पिंक स्कल्प्टेड क्रिएशन’ पहनी कान फिल्म महोत्सव में ऐश्वर्या के 20 साल पूरे फैशन डिजाइनर गौरव गुप्ता ने तैयार किये ड्रेस गाउन को बनाने में 20 दिन और 100 से अधिक कारीगर फ्रांस में कान फिल्म महोत्सव के तीसरे दिन अभिनेत्री ऐश्वर्या राय बच्चन ने ‘आर्मगेडन टाइम’ के प्रीमियर के लिए ‘कस्टम-मेड क्वीन पिंक स्कल्प्टेड क्रिएशन’ पहनी. फैशन डिजाइनर गौरव गुप्ता द्वारा डिजाइन किए गए इस गाउन को बनाने में 20 दिन और 100 से अधिक कारीगर लगे. अभिनेत्री खुद भी इसे बनाने की प्रक्रिया में शामिल रहीं. गौरव गुप्ता का कहना है कि वह कान फिल्म महोत्सव में ऐश्वर्या के 20 साल पूरे होने के मौके को एक खास यादगार लम्हा बनाना चाहते थे और इसने उन्हें पूर्व विश्व सुदरी को एक नयी अवधारणा के साथ ‘सौंदर्य की देवी’ के रूप में पेश करने के लिए प्रेरित किया. ऐश्वर्या ने पहली बार 2002 में अपनी फिल्म ‘देवदास’ के प्रीमियर के लिए कान फिल्म समारोह में भाग लिया था. वह पिछले दो दशक से हर साल कान का हिस्सा बनती रही हैं. PNCDESK

Read more

क्वाड समिट में हिस्सा लेने के लिए जापान पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन, जापान के प्रधानमंत्री फूमियो किशिदा और ऑस्ट्रेलिया के नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज से करेंगे मुलाकात इस कार्यकर्म के अलावे वह 23 बैठकों में हिस्सा लेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार रात क्वाड समिट में हिस्सा लेने के लिए जापान रवाना हुए. वे सोमवार सुबह टोक्यो पहुंचे. यहां भारतीय मूल के लोगों ने उनका जोरदार स्वागत किया और मोदी-मोदी के नारे लगाए. प्रधानमंत्री मोदी यहां मंगलवार शाम तक रुकेंगे. अपनी 40 घंटे की जापान यात्रा के दौरान पीएम अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन, जापान के प्रधानमंत्री फूमियो किशिदा और ऑस्ट्रेलिया के नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज से मुलाकात करेंगे. 40 घंटे के टोक्यो प्रवास पर पीएम  जापान के 35 बिजनेस लीडर्स और सीईओ से भी मुलाकात करेंगे. इस दौरान वह 23 बैठकों में हिस्सा लेंगे. जापान में पीएम मोदी का भव्य स्वागत टोक्यो में भारतीय प्रवासी पीएम मोदी को भारत मां का शेर कहते हुए स्वागत किया.प्रवासी भारतीय अपने हाथ में तख्तियां लिए थे, जिसमें मंत्र लिखे थे.पीएम मोदी के साथ बातचीत के बाद पारंपरिक पोशाक में बच्चों ने कहा- उन्होंने हमें अपना आशीर्वाद और ऑटोग्राफ दिया. एक बच्चे ने कहा- पीएम ने मुझसे पूछा कि क्या मैं हिंदी बोल सकता हूं… मैंने उनसे कहा कि मैं नहीं कर सकता. मंत्रोच्चार के बीच, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी का टोक्यो, जापान में भारतीय प्रवासियों का गर्मजोशी से स्वागत किया गया. टोक्यो एयरपोर्ट पर पहुंचने पर भारतीय मूल के लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जापानी पीएम फुमियो किशिदा के बुलावे पर जापान पहुंचे

Read more