वर्ल्ड का सबसे एडवांस लड़ाकू विमान बी-21 रेडर अमेरिका में लॉन्च

राफेल से भी 2 पीढ़ी आगे का है विमान,किसी भी रडार की पकड़ से है बाहरविश्व में किसी भी देश तक पहुँच सकता है यह लड़ाकू विमान दुनिया का सबसे एडवांस लड़ाकू एयरक्राफ्ट बी-21 रेडर लॉन्च हो गया है. ये अमेरिकी एयरफोर्स के बेड़े में शामिल हुआ. नए साल की शुरुआत में ये तबाही मचाने के लिए तैनात हो जाएगा.बी -21 रेडर फ्रांस के राफेल से भी 2 जनरेशन एडवांस है. राफेल 4.5 जनरेशन का है, जबकि बी-21 6ठवें जनरेशन का एयरक्राफ्ट है. अमेरिकी एयरफोर्स में शामिल होते ही दुनिया भर में इसके स्पेसिफिकेशन की चर्चा हो रही है. अमेरिकी एयरक्राफ्ट बी -1, बी -2 ग्रुप के अपडेटेड बॉम्बर एयरक्राफ्ट होने की वजह से इसका नाम ‘बी’ से शुरू हुआ है. ‘नॉर्थ्रॉप ग्रूमैन’ कंपनी के मुताबिक एयरक्राफ्ट के नाम में ‘रेडर’ जोड़े जाने का सेकंड वर्ल्ड वॉर से कनेक्शन है. दरअसल, 18 अप्रैल 1942 को अमेरिकी एयरफोर्स के कर्नल जिमी डूलटिटल ने 80 साथियों के साथ जापानी द्वीप पर हमला किया था. पर्ल हार्बर में किए गए हमले का बदला लेने के लिए अमेरिका ने अब तक का सबसे बड़ा और खतरनाक हवाई हमला किया था. हमला करने वाले इस जत्थे को ‘डूलटिटल रेडर्स’ के नाम से जाना गया. एयरक्राफ्ट बनाने वाली कंपनी ने इन लड़ाकों को सम्मान देते हुए इसका नाम बी-21 रेडर रखा है. PNCDESK

Read more

सीएम नीतीश की कुढ़नी चुनावी सभा में बवाल और मारपीट

सीटीईटी और एसटीईटी का पोस्टर लेकर कर रहे थे प्रदर्शन महिलाओं की शिक्षा से प्रजनन दर में कमी टूटे चावल, मक्का और गन्ना से बनेगा एथनाल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इधर मंच से भाषण देते रहे; उधर चुनावी सभा में उन्हें सुनने आए युवाओं के बीच जमकर मारपीट होती रही और खूब कुर्सियां भी चलीं। शुक्रवार को कुढ़नी विधानसभा उपचुनाव को लेकर जदयू उम्मीदवार के समर्थन और प्रचार के लिए आयोजित रैली का है। इस घटना के कई वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। चूंकि रैली मुख्यमंत्री की थी तो इस हंगामे और अफरा-तफरी की इस स्थिति को संभालने के लिए पुलिस कर्मियों ने भी तुरंत मोर्चा संभाला। सीएम नीतीश शुक्रवार को कुढ़नी विधानसभा उपचुनाव में जदयू के उम्मीदवार मनोज कुशवाहा के समर्थन में रैली करने के लिए केरमा पहुंचे थे। यहां के हाईस्कूल के खेल मैदान में उनकी रैली आयोजित की गई थी। सीएम नीतीश जनसभा को संबोधित करते हुए रोजगार देने को लेकर अपनी बात कह रहे थे। इसी दौरान हंगामे की स्थिति बनी; जो धीरे-धीरे बढ़कर हाथापाई और फिर कुर्सियां चलाए जाने तक पहुंच गई। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपना भाषण शुरू करते हुए कहा कि बिहार के विकास का क्रम जारी रहेगा। कुर्सी संभालने के बाद से समाज के सभी तबके का उत्थान किया है। आगे भी करता रहूंगा।  उन्होंने कहा कि 10 लाख युवाओं को नौकरी और 10 लाख को रोजगार के साधन सरकार उपलब्ध करा रही है। दूसरी ओर केंद्र सरकार बस प्रचार कर रही है, कोई काम नहीं हो रहा था;

Read more

4 गोल्ड मेडल वाली ये है मुस्कान

पटना, 1 दिसंबर. भारत की बेटी मुस्कान शेख ने अंतर्राष्ट्रीय वेट लिफ्टिंग चैम्पियनशिप में चार गोल्ड मैडल जीतकर भारत का परचम न सिर्फ विदेश की धरती पर रौशन किया है बल्कि एक नया इतिहास ही रच दिया है. मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले की रहने वाली मुस्कान पर पूरा देश गर्व कर रहा है. शिवपुर के मझेरा जैसे छोटे गांव में रहने वाली मुस्कान के ट्रेनर कोई और नही बल्कि उसके पिता दारा मोहम्मद हैं. वे एक पोल्ट्री फार्म चलाते हैं. वे अपनी 18 वर्षीय पुत्री के साथ ट्रेनर के रूप में हर जगह जाते हैं. मुस्कान ने 64 kg सब-जूनियर ग्रुप में न्यूजीलैंड में चल रहे अंतर्राष्ट्रीय वेट लिफ्टिंग चैम्पियनशिप अलग-अलग कैटेगरी में खेलते हुए वेट लिफ्टिंग किया और अपने नाम चार गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रचा है. मुस्कान की जीत पर पूरा भारत जश्न मना रहा है. सभी यही कह रहे हैं बेटी हो तो ऐसी. मुस्कान की जीत पर मुख्यमंत्री शिवराज चौहान, ज्योतिरादित्य सिंधिया और मध्यप्रदेश के राज्यपाल मन्गुभाई पटेल सहित कई बड़े नेताओं ने गर्व महसूस किया है. सभी ने मुस्कान को बधाई दिया है.मुस्कान इस अंतराष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए 25 नवम्बर को भारत से रवाना हुई थी जो 2 दिसम्बर को भारत लौटने वाली है. उसकी गर्मजोशी से स्वागत में सभी भारतवासी तैयार हैं. PNCB

Read more

दरभंगा में हिंदी पत्रकारिता और ‘मिथिलावासी’

गौरवपूर्ण अध्याय जोड़ा इस अखबार ने संसद में लहराई गईं साप्ताहिक अखबार मिथिलावासी की प्रतियां क्षेत्रीय आकांक्षा को दी वाणी  संजय मिश्र,दरभंगा मिथिला की आकांक्षा का प्रतीक है दरभंगा. सांस्कृतिक और बौद्धिक विमर्श का केंद्र. जाहिर ही क्षेत्रीय पत्रकारिता के लिए ये धरा उर्वर साबित हुई. विभिन्न भाषाओं में एक से बढ़कर एक प्रयास हुए. मोटे तौर पर एक या कुछ लोगों की सामूहिक जिद की बदौलत समय समय पर पत्रकारिता समृद्ध होती रही.मिथिला का केंद्र होने के कारण इस नगर ने मैथिली पत्रकारिता के क्षेत्र में अनेक मनीषियों के भागीरथ प्रयास देखे. लेकिन मैथिली की भावभूमि के बीच ही यहां हिंदी पत्रकारिता पुष्पित पल्लवित होती रही. ऐसा ही स्तुत्य प्रयास ‘मिथिलावासी’ के रूप में सामने आया. आपको बता दें कि दरभंगा ट्विन सिटी है. इसका एक हिस्सा दरभंगा तो दूसरा हिस्सा लहेरियासराय कहलाता है. लहेरियासराय में ही पुस्तक भंडार नामक प्रकाशन संस्था थी. देश के प्रसिद्ध साहित्यकार राम लोचन शरण इसे चलाते थे. उन्होंने यहीं से हिंदी में इंडिया की मशहूर बाल पत्रिका – बालक – का प्रकाशन साल 1926 में शुरू किया. साल 1950 के बाद इस पत्रिका का प्रकाशन पटना से होने लगा.शिक्षाविद उमाकांत चौधरी ने भी प्रशंसनीय कोशिश की. लहेरियासराय से उन्होंने हिंदी साप्ताहिक अखबार मिथिलावासी शुरू किया. यह वो दौर था जब इसके प्रकाशन काल में देश में इमरजेंसी लागू हुई और रही. ऐसे समय पत्रकारिता का अलख जगाए रखना जोखिम भरा काम था. इसके लिए साहस की आवश्यकता थी. वो दौर जब देश के तमाम मेन स्ट्रीम अखबारों के संपादकों से झुकने को कहा

Read more

मधुमेह टाइप 1 की दवा की हुई खोज !

शोधकर्ता ने टाइप 1 मधुमेह के उपचार के लिए एक नई संभावित दवा की खोज की “Tyk2 inhibitor” करेगा मधुमेह टाइप 1 का इलाज Special Report आरा, 29 नवंबर. मधुमेह रोगियों के लिए एक खुशख़बरी है. जी हाँ टाइप 1 मधुमेह के उपचार के लिए भारत के एक वैज्ञानिक ने अपने सालों के शोध के बाद एक ऐसी दवा विकसित की है जो मधुमेह के टाइप 1 रोगियों के लिए वरदान साबित होने वाला है. ये शोधकर्ता कोई और नही बल्कि आरा के रहने वाले हैं, जिन्होंने अपने इस शोध के बादविश्व पटल पर भोजपुर जिले का परचम लहराया है. हमें पता है कि अब आपके अंदर वैज्ञानिक का नाम सुनने की हलचल मची है तो चलिए बता ही दें कि शोधकर्ता कोई और नही बल्कि मशहूर वैज्ञानिक विकास चंद्र हैं. वे एम पी बाग आरा, (भोजपुर) के रहने वाले राजेंद्र प्रसाद के पुत्र हैं. प्रारंभिक शिक्षा एचपीडी जैन स्कूल से और फिर एचपीडी जैन कॉलेज से स्नातक की पढ़ाई पूरी की है. उन्होंने नेशनल सेंटर फॉर सेल साइंस, पुणे, भारत से जैव प्रौद्योगिकी में पीएचडी पूरी की और फिर अपने पोस्टडॉक्टरल प्रशिक्षण के लिए पेरिस, फ्रांस (आईएनएसईआरएम, नेकर अस्पताल) गए. वर्तमान में वे हेलसिंकी विश्वविद्यालय, फिनलैंड के चिकित्सा संकाय में एक सहायक प्रोफेसर (डोसेंट इन एक्सपेरिमेंटल एंडोक्रिनोलॉजी) हैं और स्टेम सेल और मधुमेह चिकित्सा पर शोध कर रहे हैं. उनके नवीनतम शोध के अनुसार, टाइप 1 मधुमेह के उपचार के लिए एक संभावित दवा को पाया गया है. उनके इस नए शोध से निकले परिणाम को प्रतिष्ठित पत्रिका नेचर

Read more

मतदान नहीं करने पर लगता है 51रुपए का जुर्माना

राजनीतिक पार्टियां गांव में आएगी तो जातिवाद होगा गांव में 1983 के बाद से पार्टियों के प्रचार पर है बैन वोटिंग को लेकर बनाये गए हैं सख्त नियम राजनीतिक दलों के गांव में प्रवेश और प्रचार पर रोक गांव को राष्ट्रपति पुरस्कार भी मिला कूड़ा फैलाने, हवा या पानी प्रदूषित करने, डीजे बजाने पर 51 रुपए का जुर्माना इन दिनों गुजरात में विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर पार्टियां चुनाव प्रचार में जुटी हैं, लेकिन राजकोट जिले में एक ऐसा गांव हैं जहां राजनीतिक पार्टियों के चुनाव प्रचार पर रोक है. किसी पार्टी के नेता हो या कार्यकर्ता इस गाँव की तरफ रुख नहीं करते .राज समाधियाला गांव के लोगों ने राजनीतिक दलों के गांव में प्रवेश और प्रचार पर रोक लगा दी है. समाधियाला गांव में अगर कोई मतदान नहीं करता है तो उस पर  51रुपए का जुर्माना है. यह गांव अपने नियम-कायदों के लिए आदर्श गांव का तमगा हासिल कर चुका है. गांव के सरपंच बताते हैं कि राजनीतिक पार्टियां गांव में आएगी तो जातिवाद होगा. इसलिए साल 1983 से ही यहां राजनीतक पार्टियों के आने पर पाबंदी है. लेकिन मतदान लगभग सभी गांव वाले करते हैं. साल 1983 में अपने अलग नियम कायदों को बनाने के चलते आज गांव बेहद साफ सुथरा दिखता है. सारी सडकें सीमेंट की बनी हुई है. गांव में सीसीटीवी कैमरे भी लगे हैं. साथ ही इस गांव को राष्ट्रपति पुरस्कार भी मिला है. गांव में जातिवाद की सख्त मनाही है. कूड़ा फैलाने, हवा या पानी प्रदूषित करने, डीजे बजाने पर 51 रुपए का

Read more

अब पिता की हत्या कर फ्रिज में रखी बॉडी

अवैध संबंध में हुआ अंजन का मर्डर,मां-बेटे फेंकते रहते थे टुकड़ेबहू पर रखता था गलत नजरबेटे के साथ मिल पति के 10 टुकड़े किएदिल्ली के पांडव नगर में क्राइम ब्रांच ने पति की हत्या के आरोप में एक महिला को उसके बेटे के साथ गिरफ्तार किया है. दोनों ने मृतक के शरीर को टुकड़ों में काटकर रेफ्रिजरेटर में रखा हुआ था और रोज गुपचुप तरीके से पास के मैदान में एक टुकड़ा फेंक आते थे. अवैध संबंध के चलते इस वारदात को अंजाम दिया गया था.   दिल्ली पुलिस ने बताया कि कत्ल की इस ख़ौफ़नाक वारदात को पूनम और उसके बेटे दीपक ने अंजाम दिया था. महिला ने अपने पति अंजन दास को नशे की गोलियां खिलाईं और फिर बेटे दीपक की मदद से उसकी हत्या कर दी. दोनों आरोपियों ने हत्या के बाद अपने घर में अंजन दास के शव के टुकड़े करके फ्रीज में छिपाकर रख लिए थे और फिर उन टुकड़ों को मौका पाकर अक्षरधाम समेत पांडव नगर इलाके में फेंक दिया करते थे. दिल्ली पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज की मदद से इस मामले में महिला समेत दो आरोपियों को गिरफ्तार करने के अलावा फ्रीज भी बरामद कर लिया गया है. दिल्ली पुलिस को कुछ महीने पहले पूर्वी इलाके के पांडव नगर से कुछ मानव अंग मिले थे. इस मामले की तहकीकात के दौरान आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाले गए तो एक महिला और युवक संदिग्ध अवस्था में मैदान के पास दिखाई दिए. पुलिस ने छानबीन कर दोनों को हिरासत में लेकर

Read more

एक फैमिली के संतान हैं इंसान और ऑक्टोपस

ऑक्टोपस और इंसानों के पूर्वज एक ही ताजा रिसर्च में खुला बड़ा राजरिसर्च के मुताबिक इंसान और ऑक्टोपस एक प्राचीन जीव के वंशजजीव की पहचान वैज्ञानिकों ने फेसिवर्मिस युन्नानिकस के रूप में की ऐसे जीव जो 518 लाख साल पहले रहा करते थे एक नई रिसर्च पर अगर यकीन करें तो समंदर में रहने वाले आठ हाथों वाले जीव ऑक्टोपस और इंसानों के पूर्वज एक ही थे. इस रिसर्च के मुताबिक इंसान प्राचीन जीव के वंशज हैं जो 518 लाख साल पहले रहा करते थे. रिसर्चर्स की मानें तो यही वजह हो सकती है कि आठ अंगों वाला ऑक्टोपस बहुत ज्यादा बुद्धिमान होता है. इस जीव की पहचान वैज्ञानिकों ने फेसिवर्मिस युन्नानिकस के रूप में की है. वैज्ञानिकों के मुताबिक जैसे-जैसे इस जीव का विकास होता गया, इसने अपने उन अंगों को गंवाना शुरू कर दिया जिसकी इसे जरूरत नहीं थी. वैज्ञानिकों के मुताबिक इस जीव की बुद्धि भी बहुत कम थी. जर्मनी की राजधानी बर्लिन स्थित मैक्स डेलब्रुक सेंटर की तरफ से एक स्टडी हुई है. इस स्टडी में पता लगा है कि ऑक्टोपस का दिमाग मनुष्यों के समान होता है क्योंकि समुद्री जानवरों में विभिन्न प्रकार के जीन नियामक होते हैं जिन्हें उनके तंत्रिका ऊतक में माइक्रो आरएनए कहा जाता है जो दिमाग में मौजूद कोशिकाओं की संख्या के बराबर होता है. इस स्‍टडी की फाइंडिंग्स के मुताबिक माइक्रो आरएनए, एक प्रकार का आरएनए  जीन है जो कि मस्तिष्क के विकास में एक मौलिक भूमिका निभाता है. मस्‍तिष्‍क इंसान का सबसे जटिल हिस्सा होता है. उनकी मानें तो यही

Read more

बिहार की झोली में 13 संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार

संगीत नाटक अकादमी अवार्ड में हृषिकेश सुलभ, सुमन झा, रंजना कुमारी झा, मैथिली ठाकुर और सुदीपा घोष प्रमुख दिसंबर में  राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों ये पुरस्कार दिल्ली में दिए जाएंगे विशेष अलंकरण समारोह: छत्तीसगढ़ की तीजन बाई व ममता चंद्राकर को संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार, राष्ट्रपति करेंगी सम्मानित संगीत, नाटक और नृत्य के क्षेत्र में पिछलेतीन साल के लिए घोषित संगीत नाटक अकादमी अवार्ड में बिहार के 13 कलाकारों का चयन हुआ है. इनमें चर्चित नाटककार और रंगकर्मी हृषीकेश सुलभ, ठुमरी गायिका कुमुद झा दीवान, लोकगायिका रंजना झा और मैथिली ठाकुर भी शामिल हैं. संगीत नाटक अकादमी (दिल्ली) के सचिव अनीश पी राजन ने शुक्रवार शाम साल 2019, 2020 और 2021 के अवार्ड की अधिसूचना जारी की. हृषीकेश सुलभ को नाट्य लेखन, नीलेश्वर मिश्र को अभिनय, मिथिलेश राय को निर्देशन के लिए अकादमी अवार्ड मिलेगा. 13 कलाकारों में पांच बेटियां हैं. वरीय पुरस्कारों में कुमुद झा दीवान और रंजना झा और बिस्मिल्लाह खान युवा पुरस्कार की सूची में भरतनाट्यम की कलाकार सुदीपा घोष, लोकनृत्य के सुपरिचित नाम जितेन्द्र चौरसिया, मैथिली ठाकुर व अभिनेत्री रूबी खातून शामिल हैं. 90 वर्षीय अभिनेता, निर्देशक गणेश प्रसाद सिन्हा, 75 वर्षके अभिनेता-निर्देशक सुमन कुमार, लोकगीतों के जाने-मानेनाम भरत सिंह भारती और ध्रुपद गायक रघुवीर मलिक का चयन अमृत अवार्ड के लिए किया गया है. युवा पुरस्कार के लिए 25 हजार जबकि संगीत नाटक अकादमी और अमृत अवार्ड धारियों को एक-एक लाख रुपये, ताम्र पत्र और अंगवस्त्र दिए जाएंगे. संगीत नाटक अकादमी ने 86 कलाकारों के लिए भारत की आजादी के

Read more

भारत में पहली बार गंगा और बाढ़ का पानी, पीने के लिए होगा इस्तेमाल

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 27 नवम्बर 2022 को राजगीर में परियोजना का उद्घाटन करेंगे गया और बोधगया का उद्घाटन 28 नवंबर 2022  पीने के लिए शुद्ध गंगा जल प्राप्त करने के लिए दक्षिण बिहार के प्रमुख जल संकट से जूझ रहे शहर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हर घर गंगाजल का अपना वादा पूरा किया  हर साल लगभग 7.5 मिलियन लोग और तीर्थयात्री, पर्यटक लाभान्वित होंगे  राजगीर, गया और बोधगया को पहले चरण में पर्याप्त मात्रा में स्वच्छ पेयजल मिलने की तैयारी  सरप्लस नदी के पानी को 365 दिनों तक स्टोर, ट्रीट और सप्लाई किया जाएगा मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (एमईआईएल) एक और अद्भुत परियोजना की ओर आकर्षित प्राकृतिक सौंदर्य से परिपूर्ण आध्यात्मिक पर्यटन के केंद्र बोधगया, गया और राजगीर के लोगों को पीने के लिए स्वच्छ, शुद्ध और संसाधित गंगा जल मिलने वाला है. राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इन स्थानों के लिए बाढ़ के पानी को पीने के पानी में बदलने की पहल की क्योंकि उनकी भौगोलिक स्थिति के कारण गंगा के पानी तक उनकी पहुंच नहीं है. बिहार सरकार ने मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट ‘हर घर गंगाजल’ को सफलतापूर्वक लागू किया, जो बिहार के लाखों निवासियों और राज्य के पर्यटकों के चेहरों पर खुशी लाएगा. इस कार्य के लिए सीएम के साथ-साथ जल संसाधन विकास मंत्री संजय झा और इंजीनियरिंग की दिग्गज कंपनी मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड की भी सराहना होनी चाहिए. भले ही गंगा इस क्षेत्र से होकर बहती है, लेकिन कुछ क्षेत्रों में पानी की अनुपलब्धता के कारण साल भर गंभीर पेयजल समस्या का

Read more