“छोटी फ़िल्म” के लिए ‘बड़ी भीड़’ से गुलजार हुआ सिनेमा हॉल

अम्बा की फ़िल्म ने जगाई उम्मीद की एक किरण पटना से आरा तक लोगों की एक ही डिमांड ” फ़िल्म लंबी बने”…. आरा 17सितंबर. आमतौर पर सिनेमा हॉल में दर्शकों की भीड़ इन दिनों ना के बराबर होती है इसका एक मात्र कारण होता है भोजपुरी के अश्लील एवं फूहड़ फिल्मों का हॉल में प्रदर्शन लेकिन रविवार को दोपहर 3:00 बजे के शो में दर्शकों की संख्या जब बढ़ी तो लोगों के बीच यह चर्चा का विषय बन गया. मौका था अंबा द्वारा बनाई गई लघु फिल्म human bomb का मोहन सिनेमा में प्रदर्शन. अंबा ने शहरवासियों को खुले तौर पर अखबार, टेलीविजन और सोशल मीडिया के माध्यम फिल्म देखने के लिए आमंत्रित किया था. अम्बा के कार्यो से प्रभावित और उसके प्रशंसको की भीड़ परिवार के संग हॉल में फ़िल्म देखने उपस्थित हुई और फ़िल्म देखने के बाद लोगों का कॉमेंट मिला- छोटी फ़िल्म नही बड़ी फिल्म चाहिए…बधाई पूरी टीम को… फ़िल्म की स्क्रीनिंग भोजपुर वासियों के लिए नि:शुल्क किया गया. पहली बार किसी शॉर्ट फिल्म की स्क्रीनिंग बड़े पर्दे पर पर आरा जैसे शहर में की गई. पटकथा व निर्देशन बॉलीवुड अभिनेता सत्यकाम आनंद की है. सत्यकाम की यह पहली निर्देशित फिल्म है. फिल्म संवेदनशील मुद्दे पर बनी हुई है जो बताती है की धर्म ग्रंथों को पहचानना टेढ़ी खीर है लेकिन जो मां हमें बताती है धर्म ग्रंथों के बारे में, वही सच्ची होती है क्योंकि मां कभी भी गलत बता ही नहीं सकती. फिल्म में सत्यकाम खुद ही अभिनय करते हुए दिखे,जिन्हें देखकर दर्शक उत्साह से

Read more

तो….”Human bomb” के लिए….जुटेगी भीड़ !

आज ‘आरा’ में “ह्यूमन बम” को देखने जुटेगी सैकड़ो की आवाम आरा 16 सितंबर. Human bomb का नाम सुनते ही मन में आतंकियों की एक छवि बनती है जो आए दिन देश में कई घटनाओं को अंजाम देते हैं. घबराइए नहीं आरा में कोई Human bomb नहीं आया बल्कि यह एक फिल्म का नाम है जिसकी स्क्रीनिंग भोजपुर वासियों के लिए नि:शुल्क किया जा रहा है. दरअसल स्क्रीनिंग कई मामलों में खास है क्योंकि पहली बार किसी शॉर्ट फिल्म की स्क्रीनिंग बड़े पर्दे पर आरा जैसे शहर में की जा रही है. बताते चलें की यह शार्ट फिल्म amba (अश्लीलता मुक्त भोजपुरी एसोसिएशन) द्वारा बनाई गई है जिसकी पटकथा व निर्देशन बॉलीवुड अभिनेता सत्यकाम आनंद की है. सत्यकाम की यह पहली निर्देशित फिल्म है फिल्म संवेदनशील मुद्दे पर बनी हुई है जो बताती है की धर्म ग्रंथों को पहचानना टेढ़ी खीर है लेकिन जो मां हमें बताती है धर्म ग्रंथों के बारे में, वही सच्ची होती है क्योंकि मां कभी भी गलत बता ही नहीं सकती. फिल्म में सत्यकाम खुद ही अभिनय करते हुए दिखेंगे, वही नवोदित चेहरों में आरा शहर के राहुल बदलानी और पटना रंगमंच की चर्चित युवा अभिनेत्री अदिति सिंह मुख्य किरदारों में नजर आएंगे. सहयोगी कलाकार में पटना के नीतीश,रौशन व वाराणसी की वीणा सहाय नजर आएंगी. फिल्म का फिल्मांकन व एडिटिंग पटना के फेमस सिनेमाटोग्राफर अभिनव झा ने किया है. फिल्म का बैकग्राउंड संगीत आशीष मोहंती ने दिया है वही डबिंग विष्णु शंकर बेलु ने किया है. फिल्म का DI शीनू मोहंती ने किया है जबकि

Read more

जे एन यू से जापान तक जन्माष्टमी की रही धूम

जब जे एन यू पहली बार हरिनाम पर झूम उठा राजधानी दिल्ली का प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय जे एन यू हमेशा से सुर्ख़ियों में रहता आया है. इस बार चर्चा का केंद्र रहा पहली बार जे एन यू कैंपस में जन्माष्टमी का भव्य आयोजन. जन्माष्टमी के मौके पर अंतर्राष्ट्रीय कृष्ण भावनामृत संघ (इस्कॉन) के सदस्यों ने कैंपस में हरिनाम संकीर्तन का आयोजन किया और अरावली की गोद में बसे हरे-भरे कैंपस में छात्र ‘हरे राम,हरे कृष्ण’ की धुन पर झूम उठे. इस कार्यक्रम में कैंपस में स्थित विभिन्न होस्टलों के लगभग 800 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया और यूनिवर्सिटी के कई प्रोफेसरों को ‘भगवद्गीता यथारूप’ की प्रति भी भेंट की गई. इस्कॉन के स्थानीय केंद्र की तरफ से अरविन्दाक्ष माधव दास, पादसेवन भक्त दास, सरोज मुख श्याम दास, अरिंदम दास और अविनाश दास प्रमुख थे. ज्ञात हो की जे एन यू को छात्र राजनीति में ‘लाल किला’ यानी वामपंथ का गढ़ माना जाता है और बीते दिनों से अन्यान्य कारणों और अपने आंदोलनों को लेकर जे एन यू समाचारों की सुर्ख़ियों में छाया हुआ था पर जन्माष्टमी के भव्य आयोजन में सभी छात्र संगठनों ने शिरकत की और कार्यक्रम को यादगार बनाया. जापान के छोटे से शहर फुकुओका में कुछ यूँ मनी जन्माष्टमी  हमारे ब्यूरो को विदेशों से भी श्री कृष्ण जन्माष्टमी मनाए जाने के समाचार अभी तक मिल रहे हैं. जापान के फुकुओका शहर में भी वहाँ रहने वाले भारतीय छात्रों और भारतीय समुदाय के लोगों ने जन्माष्टमी का आयोजन परम्परागत तरीके से किया और सभी को प्रसाद बांटे.

Read more

अच्छी खबर: बिहार के फुलौत में बनेगा 4 लेन का नया पुल

concept image केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने दी हरी झंडी बिहार के फुलौत में कोसी नदी पर 4-लेन के एक नये पुल के निर्माण को मंजूरी प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने बिहार के फुलौत में 6.930 किलोमीटर लंबे 4-लेन वाले पुल के निर्माण के लिए परियोजना को मंजूरी दी है. CCEA ने बिहार में राष्‍ट्रीय राजमार्ग-106 के मौजूदा बीरपुर-बिहपुर खंड पर 106 किलोमीटर से 136 किलोमीटर तक ‘पेव्‍ड शोल्‍डर के साथ 2-लेन’ के उन्‍नयन एवं पुनर्वास के लिए 1478.40 करोड़ रुपये की लागत से डेक को भी मंजूरी दी है. इस परियोजना के लिए निर्माण अवधि 3 वर्ष है और इसे जून 2022 तक पूरी होने की उम्‍मीद है. प्रभाव : राष्‍ट्रीय राजमार्ग 106 पर फुलौत और बिहपुर के बीच 10 किलोमीटर लंबा लिंक नादारद है और वह कोसी नदी के कटाव क्षेत्र में आता है. वर्तमान में फुलौत से बिहपुर जाने के लिए लगभग 72 किलोमीटर का सफर करना पड़ता है. इस परियोजना के तहत कोसी नदी पर 4-लेन वाले इस नये पुल के निर्माण होने पर फुलौत और बिहपुर के बीच की दूरी घटकर महज 12 किलोमीटर रह जाएगी. इस नये पुल से निर्माण अ‍वधि के दौरान करीब 2.19 लाख श्रम दिवस के लिए प्रत्‍यक्ष रोजगार सृजित होंगे. इस नये पुल के निर्माण से बिहार में राष्‍ट्रीय राजमार्ग 106 पर उदाकिशुनगंज और बिहपुर के बीच मौजूदा 30 किलोमीटर लम्‍बी खाई दूर हो जाएगी जो नेपाल/‍उत्‍तर बिहार/पूर्व-पश्चिम गलियारा (एनएच-57 से होते हुए) और दक्षिण बिहार/झारखंड/स्‍वर्ण चतुभुर्ज (एनएच-2 से होते हुए) के बीच संपर्क मुहैया कराएगी।

Read more

यात्रियों से भरी बस पलटी, 30 यात्री बाल-बाल बचे

कोईलवर. स्थानीय थाना क्षेत्र के काजीचक गांव के समीप सकडडी-जमालपुर पथ पर मरीज यात्रियों से भरी बस अनियंत्रित होकर गड्ढे में पलट गई. जिसमें सवार 30 महिला पुरुष मरीज बाल बाल बच गए. जिनमे कुछ मरीजो को हल्की खरोच आयी है. मिली जानकारी के अनुसार छपरा के अखण्ड ज्योति अस्पताल छपरा से आरा-छपरा फोरलेन के रास्ते बस से 30 मरीजो को लेकर दिलदारनगर, गाजीपुर वापस जा रहे थे. इसी बीच कोइलवर में जाम के मद्देनजर बस चालक ने जमालपुर-सकड्डी पथ की ओर मोड़ लिया. जिस पथ की चौड़ाई कम है और बारिश का पानी जमा होने के कारण काजीचक गांव के समीप ईट भट्ठा के समीप बस सड़क किनारे बने गड्ढे में पलट गई. जिस गड्ढे में बस गिरी उसमे लगभग तीन फीट पानी जमा था. बस के पलटते ही आस पास के स्थानीय लोग दौड़ पड़े. व बस में फंसे वृद्ध मरीजो को निकालने लगे. जिसमे सभी मरीजो को सुरक्षित निकाल लिया गया. मरीजो ने बताया वो उत्तर प्रदेश के गाजीपुर, दिलदारनगर के जो छपरा अखण्ड ज्योति ट्रस्ट में आँख का ऑपरेशन कराने गए थे वे बस से अपने घर लौट रहे थे.   कोईलवर से अमोद कुमार की रिपोर्ट

Read more

2 अगस्त को अमेरिकी लोक कलाकार आरा में गायेंगी ‘भोजपुरी’

आगामी 2 अगस्त को होगा भोजपुरी संस्कार गीत गायन सन्ध्या का आयोजन भोजपुरी साहित्य को समर्पित संस्था आखर और सर्जना के संयुक्त तत्वाधान में आगामी 2 अगस्त को नागरी प्रचारिणी सभागार,आरा में भोजपुरी संस्कार-गीत गायन सन्ध्या का आयोजन होने वाला है. इस कार्यक्रम में संयुक्त राज्य अमेरिका से आई भोजपुरी कलाकार स्वस्ति पांडेय प्रस्तुत करेगी. स्वस्ति पांडेय मूल रूप से आरा की निवासी हैं तथा 2003 ई से कैलिफोर्निया, अमेरिका में सपरिवार रह रही हैं. स्वस्ति जी अमेरिका में भोजपुरी माटी की सुगंध अपने गायन के जरिये बिखेरने के लिए चर्चित हैं वे सोमवार को दिल्ली में अपने पति और बच्चों के साथ आ चुकी हैं. फिलहाल वे दिल्ली में हैं. वे 28 जुलाई को दिल्ली में भी भोजपुरी में कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगी. उक्त बातें आखर के वरिष्ठ सदस्य सुनील पांडेय ने पत्रकारों को आयोजन समिति की बैठक में दी. सर्जना के अध्यक्ष संजीव सिन्हा ने बताया कि ऐसे कार्यक्रमों से भोजपुरी संस्कृति का सम्मान बढ़ेगा तथा अश्लील गीतों के विरोध में चल रहे आंदोलन को बल मिलेगा. कार्यक्रम के पूर्व स्वस्ति पांडेय प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिये मीडियाकर्मियों से भी रूबरू होंगी. आयोजन समिति की बैठक आज सुंदर सदन,पकड़ी में हुई जिसमें आखर के वरिष्ठ सदस्य मनोज दूबे, आलोक सिंह, चन्द्रभूषण पांडेय,आशुतोष पांडेय एवं रवि प्रकाश सूरज थे. सर्जना की ओर से ओम प्रकाश पांडेय,अमन श्रीवास्तव,अरविंद, संजय सिंह एवं रोहित ने अपने विचार रखे. सभी उपस्थित सदस्यों ने कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए स्थानीय नागरिकों,मीडियाकर्मियों एवं प्रशासन से सहयोग की अपील की. आरा से राहुल बदलानी की रिपोर्ट

Read more

फुटबॉल का नया विश्व विजेता- फ्रांस

फ्रांस बना फुटबॉल का वर्ल्ड चैंपियन फाइनल में क्रोएशिया को 4-2 से हराया 20 साल बाद फ्रांस ने जीता फीफा वर्ल्ड कप पहली बार विश्व कप फाइनल में पहुंचे क्रोएशिया पर भारी पड़ा फ्रांस. 20 साल बाद फ्रांस ने फिर से हासिल किया विश्व विजेता का खिताब

Read more

“आरा” के “कुमार राका” हुए लिम्का बुक में शामिल

वर्ल्ड रिकॉर्ड-1 घंटे में सबसे बड़ा आपदा प्रबंधन ड्रिल विद्यालयों में ‘सबसे बड़े भूकम्प निकासी की कवायद का बनाया रिकॉर्ड 110 स्कुलो के 80 हजार छात्र हुए थे शामिल Patna Now Exclusive आरा, 15 जुलाई. दुनिया मे कुछ अनोखा करने वालों का नाम सदियों के लिए इतिहास के पन्नो में दर्ज हो जाता है. इतिहास में दर्ज यह अनोखा पहल और भी खास तब बन जाता है जब किसी कस्बाई क्षेत्र का रहने वाला व्यक्ति इसे अंजाम देता है. इतिहास में दर्ज यह नाम और कारनामा फिर पढ़ने वालों के लिए कुछ कर गुजरने का प्रेरणा श्रोत बन जाता है. जी हां कुछ ऐसा ही प्रेरणादायक बन चुके हैं लिम्का में अपना नाम दर्ज करा आरा के रहने वाले कुमार राका. कुमार राका का नाम लिम्का बुक में एक अनोखे कवायद के लिए दर्ज किया गया है. कुमार राका की देखरेख में नोएडा में 27 अप्रैल 2017 को 110 स्कूलों में 11 बजे सुबह से 12 बजे दोपहर के बीच 80,000 छात्रों ने सबसे बड़े भूकम्प निकासी की ड्रिल में भाग लिया. एक दिन  में इतनी बड़ी संख्या में आपदा प्रबंधन का इससे पहले किसी ने ऐसा ड्रिल नही किया था. भूकम्प के समय लोगों को सुरक्षित निकालने के तरीकों को इस ड्रिल के माध्यम से प्रदर्शित किया गया था. छात्रों के साथ स्कूल प्रबंधक से जुड़े लोग, आपदा प्रबंधन की टीम और शिक्षक भी शामिल हुए थे. कुमार राका नोएडा आपदा प्रबंधन ऑथरिटी के हेड है. जिनके स्थानीय प्रबंधन में NDRF, NDMA और NIDM का दल भी शामिल था.

Read more

27-28 जुलाई को शताब्‍दी का सबसे लंबा संपूर्ण चन्‍द्रग्रहण

27-28 जुलाई, 2018 को 1 घंटा 43 मिनट की कुल अवधि का संपूर्ण चन्‍द्रग्रहण होगा. इतने समय वाला यह इस शताब्‍दी (2001AD से 2100AD) का सबसे लंबा संपूर्ण चंद्रग्रहण होगा. 27 जुलाई को लाल ग्रह मंगल भी सामने होगा, जिसका अभिप्राय है सूर्य तथा मंगल एक दूसरे के आमने-सामने होंगे और पृथ्‍वी बीच में होगी. इसके परिणामस्‍वरूप मंगल पृथ्‍वी के निकट आयेगा जिसके कारण यह सामान्‍य से अधिक चमकीला दिखाई देगा तथा इसे जुलाई के अंत में सांय से सुबह तक देखा जा सकेगा. 27-28 जुलाई को आकाश में चम‍कदार मंगल ग्रह ग्रहण वाले चंद्रमा के बहुत निकट पहुंच जाएगा और इसे नंगी आंखों से भी बड़ी आसानी से देखा जा सकेगा. परंतु लाल ग्रह 31 जुलाई, 2018 को पृथ्‍वी के अत्‍याधिक निकट पहुंच जाएगा. मंगल ग्रह 2 वर्ष तथा 2 महीने के अंतराल पर सामने आता है जब यह ग्रह पृथ्‍वी के निकट पहुंच जाता है और अपेक्षाकृत अधिक चमकीला हो जाता है. मंगल की यह विपरीत स्थिति अगस्‍त 2003 में देखने में आई थी जिस समय लगभग 60,000 सालों में दो ग्रह निकटतम दूरी पर आ गए थे. मंगल का 31 जुलाई, 2018 को निकटतम आगमन 2 ग्रहों को अत्‍याधिक करीब ले आएगा और मंगल ग्रह 2003 के उपरांत अत्‍याधिक चमकीला दिखाई देगा. 27 जुलाई को भारतीय मानक समय के अुनसार 23 बजकर 54 मिनट पर चंद्रमा का आंशिक ग्रहण शुरू होगा. चंद्रमा धीरे-धीरे पृथ्‍वी की छाया से ढंक जाएगा और 28 जुलाई को भारतीय समयानुसार 1 बजे पूर्ण रूप से ग्रहण की स्थिति में आ जाएगा. 28 जुलाई को पूर्ण ग्रहण

Read more

गोल्डन ग्लोब रेस 2018

नई दिल्ली (ब्यूरो रिपोर्ट) | भारतीय नौसेना के कमांडर अभिलाष टोमी एक अनूठी समुद्री यात्रा करने के लिए तैयार हैं. यह अधिकारी गोल्डन सम्मानित ग्लोब रेस (जीजीआर) में भाग लेने के लिए आमंत्रित एकमात्र एशियाई है जो यात्रा रविवार 1 जुलाई को फ्रांस में लेस सैबल्स डी ओलोन हार्बर से आरंभ हुई. गोल्डन ग्लोब रेस का परिचालन ब्रिटेन के सर रॉबिन नॉक्स जॉनसन द्वारा 1968 में आरंभ किए गए विश्व के पहले नॉन स्टॉप सरकमनेविगेशन की याद में किया जा गया. कमांडर अभिलाष टोमी भारत के सर्वाधिक प्रमुख नाविकों में से एक हैं.  उन्होंने सेल के भीतर 2012-13 में ग्लोब की सोलो नॉन स्टॉप सरकमनेविगेशन समेत 53,000 नॉटिकल माइल कवर किया है. वह कीर्ति चक्र, मैक ग्रेगर एवं तेनजिंग नॉर्गे पुरस्कारों के विजेता भी हैं. कमांडर अभिलाष टोमी सहैली की प्र्रतिकृति पर यात्रा करते हुए भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. इस रेस के अप्रैल 2019 में लेस सैबल्स डी ओलोन में संपन्न हो जाने की उम्मीद है. रेस की प्रगति को जीजीआर की आधिकारिक वेबसाइट  (http://www.goldengloberace.com) पर देखा जा सकता है.

Read more