निजीकरण के विरोध में बिहार में बैंककर्मियों की हड़ताल शुरू

निजीकरण के विरोध में बिहार में बैंककर्मियों की हड़ताल शुरूसभी ब्रांच बंद, एटीएम में भी नहीं डाले गये पैसेबैंकों के निजीकरण के मुद्दे पर 16 से हड़ताल6608 एटीएम में नहीं डाला कैशएटीएम में कैश न होने परेशान हुए ग्राहकबिहार में बंद हैं 65 सौ शाखाएं बैंकों के निजीकरण के मुद्दे पर नई दिल्ली में बुधवार को एडिशनल चीफ लेबर कमिश्नर के समक्ष इंडियन बैंक एसोसिएशन और यूनाइटेड फोरम आफ बैंक यूनियंस के बीच वार्ता विफल हो गई. इस वजह से बैंकों में 16 दिसंबर से दो दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल शुरू हो गई है. बैंकों को बंद कर सभी कर्मी व अधिकारी प्रदर्शन कर रहे हैं.आल इंडियन बैंक आफिसर्स एसोसिएशन के वरीय उपाध्यक्ष डाक्टर कुमार अरविंद ने कहा है कि इस दौरान एटीएम में भी कैश नहीं डाला जाएगा. उन्‍होंने कहा कि केंद्र सरकार शीतकालीन सत्र में बैंकिंग कंपनी अधिनियम 1970 व 1980 के साथ ही बैंकिंग विनियमन अधिनियम 1949 में संशोधन की घोषणा कर चुकी है. इससे बैंकों के निजीकरण की राह खुल जाएगी. बैंकों का निजीकरण किसी के हित में नहीं है. उन्होंने कहा कि बिहार में 6500 बैंक शाखाएं बंद रहेंगी जिससे 35 हजार करोड़ रुपये का लेनदेन बाधित होगा. बिहार में करीब 35 हजार बैंक कर्मचारी व अधिकारी हड़ताल में शामिल होंगे. 6608 एटीएम में कैश भी नहीं डाला जाएगा. आल इंडिया बैंक आफिसर्स कंफेडरेशन के महासचिव अजीत कुमार मिश्र ने कहा कि बैंकों के निजीकरण से लोगों की गाढ़ी कमाई की सुरक्षा घट जाएगी. सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के पास ही लोगों का 70 प्रतिशत जमा

Read more

तो इस वजह से हो रहा है आपका नुकसान

ॐ की अनबुझ महिमाॐ में ही सृजन, पालन और संहार तीनों है शामिल यहाँ सुने – आपके जीवन में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है तो यकीन मानिए आपके घर में कुछ गलत जरुर हो रहा है .आपको धन-धान्य में लगातार कमी से जूझना पड़ रहा है तो सिर्फ तीन अक्षर अ, ऊ और म् से मिलकर बना ॐ ईश्वर के तीन स्वरूपों ब्रह्मा, विष्णु और महेश का समाहित रूप है. ॐ के सही उच्चारण से ही आपके तमाम कष्ट दूर हो जाएंगे , ॐ में ही सृजन, पालन और संहार छिपा है. ॐ ब्रम्हांड के कण कण में समय हुआ है, ॐ में ही में पूरी सृष्टि समाई हुई है. ओउम् की ध्वनि बिना किसी संयोग या टकराव के पूरे ब्रह्मांण्ड में गूंजती रहती है, इसके उच्चारण से आपके इर्द-गिर्द सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है. ये ध्वनि इंसान की सुनने की क्षमता से बहुत ऊपर है. लेकिन जो लोग ध्यान की गहराइयों को जानते हैं, वो इस चमत्कारी ध्वनि को सुन सकते हैं. ॐ के सही प्रयोग से जीवन की हर समस्या दूर की जा सकती है.ॐ के सही उच्चारण और जाप से ईश्वर को पाया जा सकता है.ॐ की ध्वनि इतनी पवित्र है कि हमारे ऋषि-मुनियों ने हर मंत्र के पहले ॐ जोड़ दिया. कहते हैं कि ॐ के साथ जुड़ते ही मंत्र की शक्ति कई गुना गु बढ़ जाती है, ॐ का सही उच्चारण और आपकी सफलता का राज ॐ का उच्चारण ब्रह्म मुहूर्त में या शाम के समय करें. ॐ का पूरा लाभ पाने

Read more

क्रिप्टो और बिटक्वाइन पर युवाओं को पीएम मोदी की सलाह

#सिडनीडायलाग को संबोधित करते प्रधानमंत्री मोदी 4 बजे से देखें लाइव: प्रधानमंत्री @narendramodi, फार्मास्युटिकल क्षेत्र के प्रथम वैश्विक नवाचार शिखर सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे यूट्यूब: https://youtu.be/SQAVeHbJMhw फेसबुक: https://facebook.com/pibindia सभी लोकतांत्रिक देशों को क्रिप्टोकरेंसी पर एक साथ काम करना होगा गलत हाथों में न जाएं युवा-प्रधानमंत्री डिजिटल युग ने  राजनीति, अर्थव्यवस्था और समाज को फिर से परिभाषित किया पीएम नरेन्द्र मोदी ने #सिडनीडायलाग को संबोधित करते हुए कहा कि डिजिटल युग में हमारे चारों ओर सब कुछ बड़ी तेजी से बदल रहा है। बिटक्वाइन और क्रिप्टो करेंसी पर नरेन्द्र मोदी ने चेतावनी देते हुए कहा कि सभी लोकतांत्रिक देशों को क्रिप्टोकरेंसी पर एक साथ काम करना होगा और यह सुनिश्चित भी करने की जरूरत है कि यह गलत हाथों में न जाए. हम दुनिया की सबसे व्यापक सार्वजनिक सूचना अवसंरचना का निर्माण कर रहे हैं; 1.1 अरब से अधिक वैक्सीन खुराक देने के लिए प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल किया; 5G, 6G जैसी दूरसंचार प्रौद्योगिकी में निवेश हुआ है। प्रधानमन्त्री ने कहा कि भारत के पास दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा और सबसे तेजी से बढ़ने वाला स्टार्ट-अप इकोसिस्टम है. पीएम मोदी ने कहा कि डिजिटल युग ने  राजनीति, अर्थव्यवस्था और समाज को फिर से परिभाषित किया है। यह संप्रभुता, शासन, नैतिकता, कानून, अधिकारों और सुरक्षा पर नए सवाल उठा रहा है। यह अंतरराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा, शक्ति और नेतृत्व को नया आकार दे रहा है। आज Corporates और start-ups जिस स्केल पर आगे आ रहे हैं, वो अभूतपूर्व है। ऐसे में भारत की Aspirations को मजबूत करने का, फंड करने का, उनमें इन्वेस्ट करने का

Read more

बिहार में बढ़ी बेरोजगारी, सर्वे की रिपोर्ट से खुलासा

बिहार में अक्टूबर महीने में बेरोजगारी की दर 13.9 प्रतिशत सेंटर फार मॉनिटरिंग आफ इंडियन इकोनामी की ताजा रिपोर्ट में बताया गया है कि बिहार में अक्टूबर महीने में बेरोजगारी की दर 13.9 प्रतिशत रही. यह अक्टूबर की तुलना में तीन प्रतिशत से अधिक है. इसी अवधि में झारखंड में यह दर 18.1 प्रतिशत आंकी गई है. लेकिन, देश के अन्य राज्यों में इसी अवधि में हुई बेरोजगारी दर में वृद्धि की तुलना करें तो बिहार की स्थिति अधिक निराशाजनक नहीं है. अक्टूबर महीने का अध्ययन बताता है कि बेरोजगारी के मामले में हरियाणा (30.7)और राजस्थान (29.6) पहले और दूसरे नम्बर पर रहे. जम्मू और कश्मीर में बेरोजगारी दर 22.2 प्रतिशत रही. आंध्र प्रदेश, असम, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, गुजरात, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और उत्तराखंड जैसे राज्यों में अक्टूबर महीने में बेरोजगारी दर छह प्रतिशत के नीचे रही. ओडिशा की उपलब्धि उल्लेखनीय है. इस राज्य में बेरोजगारी दर सबसे कम 1.1 प्रतिशत आंकी गई. 1.9 प्रतिशत बेरोजगारी दर के साथ मध्य प्रदेश बेहतर प्रदर्शन करने वाले राज्यों में दूसरे नंबर पर रहा. बिहार के अलावा दिल्ली, गोवा, पंजाब और सिक्किम ऐसे राज्य हैं, जिनमें बेरोजगारी दर 10 से 15 प्रतिशत के बीच रही. यह आश्चर्यजनक है कि मामूली ही सही शहरी क्षेत्रों की तुलना में ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसर अधिक हैं. नवम्बर के पहले सप्ताह में देश का औसत बेरोजगारी दर 7.3 प्रतिशत आंका गया है. इसमें शहरी बेरोजगारी दर 7.4 और ग्रामीण 7.3 प्रतिशत है. बेरोजगारी दर का निर्धारण इस आधार पर होता है कि सौ लोग अगर काम की मांग कर रहे हैं तो उनमें से कितने

Read more

साढ़े तीन लाख शिक्षकों के लिए अच्छी खबर

15 प्रतिशत बढ़ोतरी के साथ मिलेगा वेतन  25 सौ रुपये से 45 सौ रुपये तक बढ़ोतरी होने की उम्मीद साल में 1950 करोड़ रुपये का अतिरिक्त होगा खर्च   बिहार के साढ़े तीन लाख शिक्षकों के लिए नीतीश कुमार की सरकार का बड़ा फैसला आया हहै. अब शिक्षकों को 15 प्रतिशत बढ़ोतरी के साथ अप्रैल 2021 के प्रभाव से वेतन मिलेगा. माना जा रहा है कि यह वेतन वृद्धि 2500 से 4500 रुपये तक होगी.  लंबे समय से वेतन वृद्धि की प्रतीक्षा कर रहे बिहार के साढ़े तीन लाख शिक्षकों के लिए अच्छी खबर है. शिक्षकों को 15 प्रतिशत वृद्धि के साथ जल्द वेतन मिलेगा. इसमें प्रारंभिक, माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों के पंचायती राज एवं नगर निकायों के शिक्षक और पुस्तकालयाध्यक्ष शामिल हैं. मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार के फैसले के बाद शिक्षा विभाग के प्रस्ताव पर वित्त विभाग ने शिक्षकों के मूल वेतन में 15 प्रतिशत की वृद्धि का लाभ एक अप्रैल, 2021 से देने की सहमति दे दी है. इसके लिए सरकार को सालाना 1950 करोड़ रुपये का अतिरिक्त व्यय वहन करना होगा. वित्त विभाग की स्वीकृति के बाद शिक्षा विभाग के स्तर से शिक्षकों का वेतन निर्धारण की प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है. माना जा रहा है कि मूल वेतन में 15 प्रतिशत की वृद्धि से शिक्षकों के 25 सौ रुपये से 45 सौ रुपये तक बढ़ोतरी होने की उम्मीद है. इस वेतन वृद्धि का इंतजार शिक्षकों को कोरोना महामारी से पहले से था. शिक्षकों एवं पुस्तकालयाध्यक्षों को एक अप्रैल, 2021 से मूल वेतन में 15 प्रतिशत की वृद्धि का

Read more

“पेट्रोल डीजल पर मची है लूट, सरकार लूट रही झूठी वाहवाही”

पेट्रोल-डीजल पर जो टैक्स घटाया गया है, वह अपर्याप्त है. कीमत 75 से ऊपर नहीं होना चाहिए। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अभी एक लीटर पेट्रोल पर 57.24 रुपये और डीजल पर 45.57 रुपये टैक्स वसूला जा है, इसमें केंद्र और राज्य दोनों का टैक्स शामिल है. केंद्र को एक्साइज ड्यूटी से 300 प्रतिशत कमाई हो रही है. इसमें से 5 से 10 रुपया घटाना ऊंट के मुंह मे जीरा के बराबर है. बिहार में तो और लूट है. बिहार में पेट्रोलियम पर 19 प्रतिशत वैट है. झारखंड में 22 फीसदी है. फिर भी झारखंड में बिहार से पेट्रोल की कीमत 75 पैसे कम है. यूपी का आंकड़ा तो और हैरान करनेवाला है. वहां 17.48 रुपये वैट है. यानी बिहार से 1.52 प्रतिशत कम. लेकिन पेट्रोल की कीमत बिहार से 9 रुपये प्रति लीटर कम है. पेट्रोलियम डीलर एसोसिएशन राज्य सरकार से लगातार टैक्स का डिटेल मांग रही है, लेकिन उसे नहीं दिया जा रहा क्योंकि इससे सरकार की पोल खुल जाएगी.केंद्र ने अगले साल होनेवाले विधानसभा चुनावों के मद्दे नजर एक्साइज ड्यूटी कम की है. यह हमें समझना चाहिए. यह आंखों में धूल झोंकने जैसा है. मोदी सरकार से ऐसी उम्मीद नहीं थी. सरकारी सेवकों का वेतन बढ़ाकर महंगाई की भरपाई की जा रही है. लेकिन प्राइवेट सेक्टर और छोटे मोटे रोजगार करनेवालों की तो जान सांसत में है.सरकारों को इसपर सहानुभूतिपूर्वक सोचना चाहिए और जनता को राहत देने के ठोस उपाय करने चाहिए. साभार: प्रवीण बागी ,वरिष्ठ पत्रकार

Read more

‘गति शक्ति’ नेशनल मास्टर प्लान’ पीएम मोदी करेंगे लांच

ग्रीनफील्ड रोड, रेल, ऑप्टिकल फाइबर, गैस पाइपलाइन, इलेक्ट्रिफिकेशन के लिए अब एक ही टेंडर 16 मंत्रालयों को एक मंच पर लाया गया गतिशक्ति एक पोर्टल होगा जिससे केंद्र सरकार के 16 विभाग जुड़े होंगे 16 मंत्रालयों के सचिव स्तर के अधिकारी और एक्सपर्ट होंगे. सैटेलाइट से लिए 3D इमेज के जरिये योजनाओं का मूल्यांकन करेंगे. सरकार विकास की गति को फुल स्पीड करने का कर रही है दावा नई दिल्ली :अब देश में कोई भी प्रोजेक्ट नहीं रुकेगा और ना ही अलग-अलग डिपार्टमेंट अलग-अलग टेंडर फिर कभी गैस के लिए सड़क खुदे, कभी पाइप के लिए, कभी बिजली के लिए. अलग-अलग मंत्रालयों के बीच समन्वय की कमी से आम लोगों को होने वाली परेशानी को दूर करने में यह प्लान कारगर होगा. समय पैसे और श्रम की बचत को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लांच करेंगे ‘गति शक्ति नेशनल मास्टर प्लान’ देश में आज स्थिति है कि एक मंत्रालय सड़क बनाता है तो दूसरा पाइप और केबल बिछाने के लिए बनी हुई सड़क को फिर से खोदता है इससे आम लोगों को भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा था .’गति शक्ति नेशनल मास्टर प्लान’ में रेलवे, सड़क राजमार्ग, पेट्रोलियम, टेलीकॉम, नागरिक उड्डयान और इंडस्ट्रियल पार्क बनाने वाले विभागों समेत 16 मंत्रालयों को एक मंच पर लाया गया है.

Read more

सेवानिवृति के दिन ही मिल जाएगी पेंशन

अब पेंशन के लिए नहीं लगाना पड़ेगा चक्कर नई दिल्ली : कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने रिटायर होने वाले लाखों कर्मचार‍ियों को बहुत बड़ी राहत दी है। ईपीएफओ ने ‘प्रयास’ नाम से एक अभियान की शुरुआत की है जिसके तहत अब कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति के दिन ही पेंशन मिल जाएगी। ईपीएफओ के इस पहल से रिटायर कर्मचारियों व परिजनों को कार्यालयों के चक्कर लगाने से छुटकारा मिल जाएगा। इस व्‍यवस्‍था की शुरुआत इसी महीने से शुरू हो गई है. ईपीएफओ ने कर्मचारियों के लिए शुरू की है ‘प्रयास’ योजना कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ने कोरोना महामारी के दौरान कई नीतिगत और डिजिटली पहल की है। इस पहल से कर्मचारियों के बीच दौड़ने की चक्कर से मुक्ति मिलने से खुशी है अब तक सेवानिवृत्ति के बाद कर्मचारियों को पेंशन के लिए कभी महीनों और कभी तो सालो इंतजार करना पड़ता था। प्रयास योजना से अब सैलून दौड़ने वालों को अब निजात मिल गई है। कई पेंशनधारी बताते हैं उन्हें अपने पेंशन के लिए ही बिना चढ़ावा महीनों तक काम अटका होता था। रिटायमेंट के बाद तो कभी पेंशन न मिलने पर कर्ज लेना पड़ता था और बाद में कर्ज का ब्याज भरना। अब सरकार के इस पहल से कुछ लाभ मिलेगा।पेंशनर समाज से जुड़े तारकेश्वर सिन्हा बताते है कि काश पहले ये काम सरकार कर लेती तो आज पेंशनरों के न जाने कितने रुपयों की बचत हो जाती। देर आये दुरूस्त आये अब नए लोगों को फायदा होगा ।

Read more

एप्प बनाएं और जीतें 50 लाख रुपये

नई दिल्ली : दुनिया के लिए मेक इन इंडिया एप्प विकसित करने का एक अभिनव अवसर! AmritMahotsav ऐप इनोवेशन चैलेंज 2021 में भाग लें, और आप जीत सकते हैं 50 लाख की राशि । 16 श्रेणियां के अंतगर्त बनने वाले एप्प को आप my gov पर जाकर या नीचे दिए लिंक पर खुद को रजिस्टर कर सकते हैं । https://innovateindia.mygov.in/app-innovation-challenge/केवल भारतीय उद्यमी और स्टार्ट-अप सूचीबद्ध के रूप में विभिन्न श्रेणियों में अपनी प्रविष्टियां जमा करने के पात्र हैं। हाई स्कूल और कॉलेज के छात्रों को भी भागीदारी के लिए माना जा सकता है क्योंकि इनमें से अधिकांश छात्र, विशेष रूप से जो इंजीनियरिंग के क्षेत्र में हैं, उभरते हुए उद्यमी हैं और प्रौद्योगिकी के आगामी रुझानों के अनुकूल होने वाले पहले व्यक्ति हैं। इसके अलावा, प्रतिभागियों को प्रत्येक टीम में 4 से अधिक प्रतिभागियों वाली टीमों में प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं दी जा सकती है। अंतिम तिथि है 30 सितम्बर 2021 अमृत ​​महोत्सव ऐप इनोवेशन चैलेंज 2021 में निम्नलिखित 16 श्रेणियां शामिल हो सकती हैं: संस्कृति और विरासतस्वास्थ्यशिक्षासामाजिक मीडियाइमर्ज टेककौशलसमाचारखेलमनोरंजनकार्यालयस्वास्थ्य और पोषणकृषिव्यापार और खुदराफिनटेकमार्गदर्शनअन्यइन अनुप्रयोगों की पहचान करने के अलावा, प्रतिभागी इन ऐप्स को अधिक अनुकूलनीय और सभी के लिए उपयुक्त बनाने के लिए अपने विचारों में पिच कर सकते हैं, और प्रौद्योगिकी में प्रगति को बनाए रखने के लिए उभरती हुई तकनीकों को शामिल करने के तरीकों को शामिल कर सकते हैं, जिसके लिए व्यवसायों को अगले कुछ वर्षों के लिए एक दृष्टि की आवश्यकता होती है। प्रतिभागियों को उन ऐप्स की तलाश करने का भी सुझाव दिया

Read more

जारी होगा 125 रुपया का सिक्का

पटना: “इस्कॉन (ISKCON) की स्थापना करने वाले और हरे कृष्ण भक्ति आंदोलन के प्रवर्तक माने जाने वाले श्री भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद जी की 125वीं जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 125 रुपये का विशेष स्मृति सिक्का जारी करेंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस मौके पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए ये सिक्का जारी करेंगे। इसके पहले भी नेता जी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती पर भी 125 रुपये का विशेष स्मृति सिक्का जारी किया गया था ।

Read more