“छोटी फ़िल्म” के लिए ‘बड़ी भीड़’ से गुलजार हुआ सिनेमा हॉल

अम्बा की फ़िल्म ने जगाई उम्मीद की एक किरण पटना से आरा तक लोगों की एक ही डिमांड ” फ़िल्म लंबी बने”…. आरा 17सितंबर. आमतौर पर सिनेमा हॉल में दर्शकों की भीड़ इन दिनों ना के बराबर होती है इसका एक मात्र कारण होता है भोजपुरी के अश्लील एवं फूहड़ फिल्मों का हॉल में प्रदर्शन लेकिन रविवार को दोपहर 3:00 बजे के शो में दर्शकों की संख्या जब बढ़ी तो लोगों के बीच यह चर्चा का विषय बन गया. मौका था अंबा द्वारा बनाई गई लघु फिल्म human bomb का मोहन सिनेमा में प्रदर्शन. अंबा ने शहरवासियों को खुले तौर पर अखबार, टेलीविजन और सोशल मीडिया के माध्यम फिल्म देखने के लिए आमंत्रित किया था. अम्बा के कार्यो से प्रभावित और उसके प्रशंसको की भीड़ परिवार के संग हॉल में फ़िल्म देखने उपस्थित हुई और फ़िल्म देखने के बाद लोगों का कॉमेंट मिला- छोटी फ़िल्म नही बड़ी फिल्म चाहिए…बधाई पूरी टीम को… फ़िल्म की स्क्रीनिंग भोजपुर वासियों के लिए नि:शुल्क किया गया. पहली बार किसी शॉर्ट फिल्म की स्क्रीनिंग बड़े पर्दे पर पर आरा जैसे शहर में की गई. पटकथा व निर्देशन बॉलीवुड अभिनेता सत्यकाम आनंद की है. सत्यकाम की यह पहली निर्देशित फिल्म है. फिल्म संवेदनशील मुद्दे पर बनी हुई है जो बताती है की धर्म ग्रंथों को पहचानना टेढ़ी खीर है लेकिन जो मां हमें बताती है धर्म ग्रंथों के बारे में, वही सच्ची होती है क्योंकि मां कभी भी गलत बता ही नहीं सकती. फिल्म में सत्यकाम खुद ही अभिनय करते हुए दिखे,जिन्हें देखकर दर्शक उत्साह से

Read more

कैलाश खेर आ रहे हैं पटना

आगामी 6 अक्‍टूबर को राजधानी पटना स्थित बापू सभागार में ग्रामीण स्‍नेह फाउंडेशन द्वारा कैंसर पीडि़तों की मदद के लिए पद्मश्री कैलाश खेर का एक म्‍यूजिकल कंसर्ट आयोजित किया जा रहा है. इस कंसर्ट का मकसद कैंसर मरीजों के लिए फंड जमा करना है. यही वजह है कि इस कंसर्ट का नाम फंड राइजिंग कंसर्ट रखा गया है. इसलिए लोगों से अपील है कि कैंसर पीडि़तों की मदद के लिए आगे आयें। उक्‍त बातें पटना के बीआईए हॉल में आयोजित संवाददाता सम्‍मेलन में ग्रामीण स्नेह फाउण्डेशन के सचिव सह आईएएस अधिकारी गंगा कुमार ने दी. उन्‍होंने कहा कि इस कंसर्ट द्वारा इकट्ठा होने वाले फंड की आधी राशि कैंसर मरीजों के दवा में खर्च की जानी है और आधी राशि से कैंसर जागरुकता अभियान के तहत बिहार ग्रामीण क्षेत्रों में मेडिकल कैम्प लगाने में की जायेगी. गंगा कुमार ने कहा कि हमने इस कंसर्ट के लिए डोनेशन सिस्‍टम बनाया है. कैंसर के प्रति समाज में जागरूकता लाने के लिए कार्यरत ग्रामीण स्‍नेह फाउंडेशन का प्रयास है कि कंसर्ट से ज्‍यादा से ज्‍यादा फंड इकठ्ठा हो सके, ताकि कैंसर पीडि़त मरीजों की मदद की जा  सके. इसलिए डोनेशन की मिनिमम राशि 600 और 1000 रूपए रखी गई है. लेकिन कैंसर के मरीजों के लिए अगर कोई ज्‍यादा भी मदद करना चाहते हैं, तो हम उनका स्‍वागत करेंगे. उन्‍होंने कहा कि कई ऐसे लोगों हैं, जो खुलकर इसमें मदद देंगे. ग्रामीण स्‍नेह फाउंडेशन अपने कैंसर जागरूकता के अलावा कई सामाजिक कार्य में अग्रणीय भूमिका निभाता है.

Read more

तो….”Human bomb” के लिए….जुटेगी भीड़ !

आज ‘आरा’ में “ह्यूमन बम” को देखने जुटेगी सैकड़ो की आवाम आरा 16 सितंबर. Human bomb का नाम सुनते ही मन में आतंकियों की एक छवि बनती है जो आए दिन देश में कई घटनाओं को अंजाम देते हैं. घबराइए नहीं आरा में कोई Human bomb नहीं आया बल्कि यह एक फिल्म का नाम है जिसकी स्क्रीनिंग भोजपुर वासियों के लिए नि:शुल्क किया जा रहा है. दरअसल स्क्रीनिंग कई मामलों में खास है क्योंकि पहली बार किसी शॉर्ट फिल्म की स्क्रीनिंग बड़े पर्दे पर आरा जैसे शहर में की जा रही है. बताते चलें की यह शार्ट फिल्म amba (अश्लीलता मुक्त भोजपुरी एसोसिएशन) द्वारा बनाई गई है जिसकी पटकथा व निर्देशन बॉलीवुड अभिनेता सत्यकाम आनंद की है. सत्यकाम की यह पहली निर्देशित फिल्म है फिल्म संवेदनशील मुद्दे पर बनी हुई है जो बताती है की धर्म ग्रंथों को पहचानना टेढ़ी खीर है लेकिन जो मां हमें बताती है धर्म ग्रंथों के बारे में, वही सच्ची होती है क्योंकि मां कभी भी गलत बता ही नहीं सकती. फिल्म में सत्यकाम खुद ही अभिनय करते हुए दिखेंगे, वही नवोदित चेहरों में आरा शहर के राहुल बदलानी और पटना रंगमंच की चर्चित युवा अभिनेत्री अदिति सिंह मुख्य किरदारों में नजर आएंगे. सहयोगी कलाकार में पटना के नीतीश,रौशन व वाराणसी की वीणा सहाय नजर आएंगी. फिल्म का फिल्मांकन व एडिटिंग पटना के फेमस सिनेमाटोग्राफर अभिनव झा ने किया है. फिल्म का बैकग्राउंड संगीत आशीष मोहंती ने दिया है वही डबिंग विष्णु शंकर बेलु ने किया है. फिल्म का DI शीनू मोहंती ने किया है जबकि

Read more

कौन है अश्लील….कलाकार या पब्लिक ?

जब गायक ही अश्लील गाने से भागे… ‘पियवा से पहिले’ और ‘भतार अइहें’ की मांग पर उतरी देवघर की पब्लिक पटना नाउ की खास रिपोर्ट पटना. भोजपुरी में फैली अश्लीलता और उसकी आड़ में स्टार का तमगा लेने वालों की इन दिनों फजीहत जारी है. सोशल मीडिया से लेकर भोजपुरी कलाकारों के स्टेज प्रोग्राम तक आम लोग जमकर विरोध कर रहे हैं. विरोध के स्वरूप से गायक और कलाकार थोड़े सहमे जरूर हैं लेकिन अश्लीलता पर अभी पूरी तरह लगाम नहीं लग पायी है. भोजपुरी में अश्लीलता को लेकर विरोध की इसी कड़ी में बुधवार को बिग मैजिक गंगा चैनल द्वारा भोलेनाथ की नगरी देवघर में आयोजित प्रोग्राम को रद्द करना पड़ा और इस आयोजन में आये भोजपुरी के कई नामचीन कलाकारों को जान बचाकर भागना पड़ा. घटना के बारे में चर्चा है कि अश्लीलता फैलाने वाले कलाकारों को बाबा नगरी में भोजपुरी जनमानस ने सबक सिखाया. इस बात को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा सरेआम हो रही है वहीं YouTube पर भी एक वीडियो में यह बात सामने आई है. इस संदर्भ में जब हमने कार्यक्रम के आयोजक चैनल के प्रोग्रामिंग हेड राजीव मिश्रा से बात की तो उन्होंने बताया सोशल मीडिया पर उक्त चर्चा गलत है. उन्होंने बताया कि चैनल द्वारा भोलेनाथ पर भक्ति प्रोग्राम शूट किया जा रहा था, जो कई वर्षों से लगातार हो रहा है. ऐसे कार्यक्रम में अश्लीलता का कोई प्रश्न ही नहीं उठता है. उन्होंने कहा कि कलाकारों द्वारा भक्ति गाने पर उनकी प्रस्तुति के दौरान ही के दौरान ही दर्शकों द्वारा अश्लील गानों

Read more

लगोरी यानि पिट्टो प्रतियोगिता का शुभारम्भ

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) : हमारे समाज का एक मृतप्राय लेकिन अति प्राचीन खेल है लगोरी जिसे हम स्थानीय भाषा में पिट्टो भी कहते हैं. बिहार के इतिहास में पहली बार “लगोरी प्रतियोगिता” का आयोजन Enovation के बैनर तले पटना के गर्दनीबाग स्थित संजय गाँधी स्टेडियम में शुक्रवार को आरंभ हुआ. कुछ दिनों पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस प्राचीन व् मृतप्राय खेल लगोरी पर अपने मनप्रसिद्ध प्रोग्राम “मन की बात” में चर्चा की थी. उन्होंने इस खेल को पुनः जीवित करने की बात की थी. गौरतलब है कि लगोरी अर्थात पिट्टो एक रोमांचक और स्वास्थ्यबर्धक खेल है जिसे हर हाल में पुनर्जीवित करने कि आवश्यकता है – इसी सकारात्मक सन्देश के साथ शुक्रवार दिनांक 27 जुलाई को “लगोरी प्रतियोगिता” का सफल शुभारम्भ हो गया. यह प्रतियोगिता करीब एक महीने तक चलेगा. Enovation के निदेशक राहुल वर्मा ने बताया कि इस खेल में पटना व आसपास के करीब 200 स्कूल भाग ले रहे हैं तथा इस प्रतियोगिता के ब्रांड-अम्बेसडर आकाश सुलभ हैं. Enovation ने बिहार पब्लिक स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ० डी के सिंह को आज ही अपना चेयरमैन घोषित किया. इस कार्यक्रम का उद्घाटन बिहार पब्लिक स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ० डी के सिंह, ने किया. इस मौके पर प्रतियोगिता के ब्रांड अम्बेसडर आकाश सुलभ, शैलजा वर्मा, डॉ राकेश राजहंस, सुनील कुमार झा (अधिवक्ता, पटना उच्च न्यायालय), हरेश कुमार सिंह, रणजीत कुमार श्रीवास्तव आदि मौजूद रहें. सबों ने इस प्रतियोगिता की मुक्त कंठ से प्रशंसा की तथा इस प्राचीन खेल लगोरी अर्थात पिट्टो

Read more

बिहार में सारे धर्मों के संदेश समाहित

बिहार में सारे धर्मों के संदेश समाहित हैं सुरेंद्र पाल बिहार टूरिज्म लाइफ टाइम एचीवमेंट पुरस्कार IFBA-2018 से सम्मानित बहुत घूमे संसार में, एक बार ठहरे बिहार में – पर्यटन मंत्री, बिहार कुआलालाम्पुर (मलेशिया) | 21 जुलाई को यहाँ आयोजित ‘भोजपुरी फिल्म फेस्टिवल सह महोत्सव 2018‘ में बिहार के पर्यटन मंत्री प्रमोद कुमार शामिल हुए. उनका इस महोत्सव में शामिल होने का उद्देश्य मलेशिया और बिहार की सांस्कृतिक एकता को प्रदर्शित करने एवं राज्य के पर्यटन स्थलों को बढ़ावा देना रहा. गौरतलब है कि मलेशिया भारत का विश्वसनीय पड़ोसी देशों में से एक है. मलेशिया और भारतीय संस्कृति एक दूसरे से काफी जुड़ाव रखती है. यहां काफी संख्या में भारतीय रहते हैं. भारत से बड़े पैमाने पर मलेशिया में पर्यटन का लुत्फ उठाने के लिए लोग जाते हैं. इस फेस्टिवल सह महोत्सव के माध्यम से बिहार के विभिन्न पर्यटन स्थलों की जानकारी पर्यटकों को मिली. पर्यटन मंत्री ने इस महोत्सव में भाग लेने वाले लोगों को बिहार में टूरिस्ट सर्किट से जुड़े कई स्थलों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियाँ दी. उन्होंने हिंदुओं के पवित्र तीर्थ स्थल के रुप में मोक्ष की भूमि गया का उल्लेख करते हुए कहा कि विष्णुपद मंदिर का दर्शन करने और पिंडदान करने के लिए लोग दुनिया भर से यहां आते हैं. जैनियों के लिए नालंदा का पावापुरी और लछुआर भगवान महावीर के बारे में बहुत कुछ संदेश देता है. बोधगया भगवान बुद्ध की ज्ञानस्थली है तो मनेरशरीफ, अजमेर शरीफ से भी पुराना सुफियों का प्रमुख केंद्र रहा है. सिक्खों के 10 वें गुरु गुरुगोविंद सिंह

Read more

कहाँ है आज,भोजपुरी के दो बड़े आयोजन ?

इंडिया और मलेशिया में भोजपुरी के दो बड़े आयोजन एक साथ भोजपुरी फिल्मों से जुड़े सितारों को लेकर आज दो बड़े आयोजन हो रहे हैं. एक आयोजन जहां देश की राजधानी दिल्ली में हो रही है वही दूसरा आयोजन मलेशिया में हो रहा है. मलेशिया में याशी फिल्म्स प्राईवेट द्वारा इंटरनेशनल भोजपुरी फिल्म समारोह का आयोजन किया गया है,जहाँ भोजपुरी फ़िल्म जगत की कई नामी हस्तियाँ मनोज तिवारी,रविकिशन, दिनेशलाल यादव निरहुआ, पवन सिंह,आम्रपाली दुबे मधु शर्मा समीर आफताब, वितरक निशांत, पंकज तिवारी, अवधेश मिश्रा,अनंजय रघुराज,राघव नैय्यर आदि पहुंचे हैं. वही दिल्ली में होने वाले भोजपुरी नाईट में खेसारीलाल यादव,राखी सावंत,अक्षरा सिंह, काजल राघवानी,पूनम दुबे और अन्य लोग भी शामिल हो रहे हैं. दिल्ली में होने वाले कार्यक्रम के प्रायोजक हैं विकास सिंह विरप्पन. वैसे तो हर आयोजन पर दर्शकों की निगाहें रहती है पर पूरी इंडस्ट्रीज की नजर याशी फिल्म्स के अभय सिन्हा द्वारा आयोजित मलेशिया के अवार्ड समारोह पर टिकी है. सभी आयोजन के शानदार आगाज के इंतजार में हैं. बताते चलें कि अभय सिन्हा ने इसके पहले यह अवार्ड समारोह दुबई, मारीशस और लंदन में आयोजित कर इसे अंतर्राष्ट्रीय पटल पर रख चुके हैं. इस बार मलेशिया में यह आयोजन कैसा प्रेजेंटेशन देता है इसपर सबकी निगाहें टिकी हैं. पटना नाउ के ओ पी पांडेय की रिपोर्ट

Read more

एक्शन में आये भोजपुरिया, गायक “राकेश मिश्रा” पर हुआ केस दर्ज

अश्लील गायको पर अब कानूनी कार्रवाई शुरू Patna now Exclusive आरा/ बक्सर, 7 जुलाई. भोजपुरी भाषा में अश्लीलता को अपना आधार बना स्टार बनने की परंपरा वाले गायकों और अभिनेताओं पर अब शामत आने वाली है. भोजपुरी भाषा को अश्लीलता की बदबूदार और नरकीय वातावरण में ला खड़ा करने से त्रस्त भोजपुरी भाषियों में गुस्सा चरम पर है. भोजपुरी गायकों की हद्द पर करतीं अश्लीलता से त्रस्त भोजपुरिया लोगों ने गायक राकेश मिश्रा पर मुकदमा दायर किया है. बक्सर के सामाजिक कार्यकर्ता आशुतोष दुबे ने राकेश के 2018 के सावन एलबम “दरदिया भईल बा ए भोला” के लिए बक्सर कोर्ट में मुकदमा दायर किया है. वही आरा में भी सामाजिक संगठनों से जुड़े लोगों और कलाकार और पत्रकारों ने एकजुट हो इसके लिए मोर्चा खोला है. अम्बा सदस्य और कलाकार पप्पू दुबे ने भी राकेश मिश्रा सहित एक और गायक पर मुकदमे की तैयारी की है जो सम्भवतः आज पुरा हो जाएगा. सालों से इस अश्लीलता को बर्दाश्त कर रहे भोजपुरी समाज के लोग का कहना है कि अब पानी नाक से ऊपर आ गया है. ऐसे में भोजपुरी को बेंच कर कमाने वाले अश्लील लोगों पर कार्रवाई बहुत ही जरूरी है. इनपर कानून का शिकंजा तो चलेगा ही अगर ऐसे लोग नही सुधरे तो जनता का जवाब भी कुछ अलग अंदाज में कहीं और कभी भी देखने को मिल सकता है. बताते चलें कि राकेश मिश्रा ने अभी हाल ही में सावन के लिए “दरदिया भईल बा ए भोला” नामक एक एलबम SRK म्यूजिक कम्पनी से you tube पर

Read more

निरहुआ की बढ़ी मुश्किलें, होगी गिरफ्तारी ?

NUJ सहित तीन संगठनों ने की निरहुआ को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग भोजपुरी के स्वघोषित सुपरस्टार दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ द्वारा पत्रकार शशिकान्त सिंह को घर में घुसकर जान से मारने की धमकी के बाद बढ़ा बवाल थमने का नाम नही ले रहा है. मामले को ले शशिकान्त सिंह ने जहाँ पुलिस में शिकायत दर्ज कराया वहीं वसई और नालासोपाड़ा में बॉर्डर के प्रदर्शन पर भी विराम लग गया है. सामाजिक संगठनों ने इस निरहुआ के इस आचरण का विरोध करते हुए पुतला और पोस्टर तक फाड़ अपना विरोध जता चुके हैं वही ताजा मामले में नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट(NUJ) की महाराष्ट्र महासचिव शीतल करदेकर ने भोजपुरी स्टार दिनेशलाल यादव निरहुआ द्वारा पत्रकार शशिकांत सिंह को घर में घुसकर काट डालने की धमकी की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए तत्काल निरहुआ की गिरफ्तारी की मांग की है. शीतल करदेकर ने कहा है कि सेलिब्रेटी के चाहने वालो की संख्या लाखो में होती है जबकि पत्रकारों की ब्यक्तिगत टी आर पी नही होती. लोगो मे डर पैदा करने के लिए पत्रकारों से वाद-विवाद,गाली- गलौज करना और जान से मारने की धमकी देना शोभनीय नही है. उन्होंने महाराष्ट्र सरकार से तत्काल निरहुआ को गिरफ्तार करने की मांग की है. शीतल करदेकर ने कहा है कि पहले कपिल शर्मा ने इस तरीके की पत्रकार को गाली देते हुए धमकी दी. अब निरहुआ ने फिर वही किया. आने वाले समय मे हमारे साथ भी ऐसा हो सकता है. उन्होंने कहा कि हम सभी पत्रकार शशिकांत सिंह के साथ हैं. सरकार ने

Read more

महाराष्ट्र में बॉर्डर का फटा पोस्टर, हुआ शो बंद

निरहुआ का पुतला और पोस्टर भी जलाया पत्रकारो ने कहा माफी मांगे निरहुआ वरना पूरे महाराष्ट्र में फ़िल्म के प्रदर्शन पर लगेगी रोक भोजपुरी के स्वघोषित सुपर स्टार दिनेश लाल निरहुआ द्वारा पत्रकार शशिकांत सिंह को जान से मारने और माँ की भद्दी गालियां देने के बाद भी माफी नही माँगने पर विवाद रुकने का नाम नही ले रहा है. पत्रकार के साथ एक सेलिब्रिटी के इस बेहूदगी के बाद गुस्साए लोगों ने ठाणे के नालासोपाड़ा में सिनेमाघरों में लगे बॉर्डर फ़िल्म का पोस्टर फाड़ डाला और फ़िल्म का प्रदर्शन भी होने नही दिया. वही इस घटना पर गुस्साए पत्रकारों और CFJ के सदस्यों ने बॉर्डर फ़िल्म का पोस्टर और निरहुआ का पुतला भी दहन किया. पत्रकार मनीष जोशी ने  तीखे तेवर दिखाते हुए कहा कि अभी नालासोपाड़ा में शो बन्द हुआ है अगर निरहुआ ने माफी नही मांगी तो पूरे महाराष्ट्र में फ़िल्म का प्रदर्शन बन्द करा देंगे. यही नही उन्होंने निरहुआ को चैलेंज करते हुए कहा कि अगर वह अपनी नीचता से बाज नही आया तो उसका घर से निकलना बंद करा देंगे. निरहुआ सोशल मीडिया पर भी इस घटना को लेकर काफी धींगा-मुश्ती चल रही है. एक तरफ जहाँ निरहुआ के इस धमकी के बाद उसे लोग गुंडा और सड़क छाप टपोरी तक कह कह रहे हैं वही निरहुआ के लिए एक जाति विशेष वर्ग जमकर समर्थन कर रहा है और शशिकांत सिंह के फेसबुक वॉल पर जमकर गालियां और धमकी दे रहे हैं. अब देखना यह होगा कि इस बढ़ते बवाल पर पुलिस क्या रुख अपनाती

Read more