भोजपुरिया बेटी ने बढ़ाया माटी का मान

लोकगायिका चंदन तिवारी को मिला संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार संगीत नाटक अकादमी दिल्ली द्वारा उस्ताद बिस्मिल्लाह खान युवा पुरस्कार 2018 की घोषणा जब हुई तो भोजपुर जिले के लोगों की खुशी का ठिकाना ना रहा क्योंकि मूल रूप से भोजपुर के बड़कागांव की निवासी लोक गायिका चंदन तिवारी को लोकगायन के क्षेत्र में यह पुरस्कार दिया गया है. चंदन तिवारी महज 3 साल की उम्र से भोजपुरी गीतों को आवाज दे रही हैं, मगर इनकी ख्याति किशोरावस्था में महुआ टीवी चैनल के जरिए हुई बाद में इन्होंने कई और टीवी चैनल, आकाशवाणी पर प्रस्तुति दी. उसके बाद से उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा. भोजपुरी गीतकारों और गायकों के बीच गैप को भरा चन्दन की गायकी ने आज से करीब 4 साल पहले इन्होंने ‘लोकराग’ और ‘पुरबियातान’ के बैनर से लोक गायकी शुरू की और अभी तक इन्होंने करीब 40 गीतकारों के के गीतों को सुरों से संवारा है जिनमें चर्चित गीतकार भिखारी ठाकुर, महेंद्र मिसिर से लेकर वैसे गीतकार भी शामिल है जिन्हें लगभग भुला दिया गया है या चर्चा में नहीं है जैसे कैलाश गौतम, विश्वनाथ शैदा, रसूल मियां आदि. भोजपुरी के अलावा इन्होंने मैथिली गीतकार स्नेहलता और मगही गीतकार मथुरा जी के गीतों को भी गाया है. चंदन ने बहुत कम उम्र में भोजपुरी लोकगायन को एक ऊंचाई दी है और विंध्यवासिनी देवी,शारदा सिन्हा की परंपरा को आगे बढ़ाया है. जब भोजपुरी गायकी एक संक्रमण के दौर से गुजर रही है और अश्लीलता से संघर्ष कर रही है उस वक्त चंदन ने सस्ती लोकप्रियता और बाजार की मांग

Read more

संगीत से किया भब्य स्वागत

गुरु शिष्य परंपरा आज भी कायम आरा. पकड़ी रोड स्थित म्यूजिक एंड आर्ट पॉइंट (संगीत एवं कला विद्यालय) में संगीत एवं नृत्य के छात्र-छात्राओं द्वारा गुरु पूर्णिमा के पावन अवसर पर संस्था के निर्देशक सह संगीत गुरु वेद प्रकाश ‘सागर’ का भव्य सम्मान समारोह आयोजित किया गया. इस अवसर पर छात्र-छात्राओं द्वारा अनेको प्रस्तुतियां कलात्मक ढंग से प्रस्तुत की गई. गायन में जहां एक ओर अदिति , गौरव विशाल सिंह , रोशन प्रताप कुमार , जितेंद्र , आयुष पटेल (तबला) , मंगल ओझा (नाल) , मोहित (गिटार) , सागर कुमार (कीबोर्ड) , मंगलम (तबला) , अभिषेक ,अंजली आर्य , प्रिया , कुमारी प्रगति , कुमार वैभव (तबला) , प्रियांशु रंजन , सोनू कुमार , पंकज कुमार पाठक , राजनंदन सिंह , रामाकांत राम , याचना , हिमान्द्री , प्रशांत सिंह ,राजा बाबू , राजा भाई , शशि कपूर , अमित कुमार , पांडे जी , मिंटू यादव , लवली सिन्हा , अनिकेत कुमार , रतन सिंह , वहीं नृत्य में नृत्य निर्देशक मनु राज के नेतृत्व में नैंसी , मानया , आरव , आरूष , चारू आनंद , आशना ,वेदांन्शी , आशी , नव्या , रिद्धि , प्राची ,अंशी सिंह ,रोहित , प्रिया , सोनाली , निशा , सृष्टि , सौम्या , आकृति , हर्षिता , श्रुति , कशिश , सहित अन्य छात्राओं ने अपनी कला का प्रदर्शन किया इस अवसर पर राष्ट्रपति पुरस्कार सम्मानित शंभू नाथ मिश्र , प्रोफेसर डॉक्टर रणविजय कुमार सहित कई अभिभावक इस उत्सव का हिस्सा बने. सभा का संचालन गौरव विशाल सिंह गोलू ने किया

Read more

लीजिए बिहार में टैक्स फ्री हुआ “सुपर 30”

पटना,15 जुलाई (पटना नाउ ब्यूरो रिपोर्ट) | लंबे समय से प्रतीक्षित बिहार की पृष्ठभूमि पर बनी फिल्म सुपर-30 रिलीज होते ही चर्चा में है. 3 दिन पूर्व रिलीज हुई इस फ़िल्म ने जहां कलेक्शन में 50 करोड़ का आंकड़ा पर कर लिया है वही इस फ़िल्म को बिहार में सभी देख सकें इसके लिए सरकार ने टैक्स में रियायत बरतने की है. गणितज्ञ आनन्द कुमार की संस्था सुपर-30 पर केंद्रित हिंदी फिल्म “सुपर-30,”को लेकर बिहार सरकार ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है. उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने जानकारी दी कि सरकार ने 16 जुलाई 2019 से पूरे बिहार में इस फ़िल्म को टैक्स फ्री करने का निर्णय लिया है. बताते चलें कि 16 जुलाई को फिल्म अभिनेता ऋतिक रौशन और सुपर 30 के आनंद कुमार का होटल मौर्य में 3 बजे एक पीसी भी रखा गया है.

Read more

भोजपुरी हीरोइन का अपहरण या प्रताड़ना ?

प्रताड़ना से भागी पत्नी ने जारी किया FB पर वीडियो कहा- अपहरण नही हुआ प्रताड़ित होने पर घर छोड़ा है पत्नी ने जब फेसबुक अकाउंट पर जारी किया वीडियो तो पति के झूठे अपहरण की खुल गई पोल पटना,6 जुलाई. बिग मेंम साहब 2018 की विनर नीलम सिंह का पिछले 24 घण्टे से अपहरण की खबर से बिहार में मचे हलचल को उस वक्त विराम मिल गया जब सिने कलाकार नीलम सिंह ने खुद के फेसबुक एकाउंट पर अपने अपहरण के खबर को सिरे से नकारते हुए एक वीडियो अपने दोस्तों को शेयर कर दिया. अपने शेयर किए गए वीडियो में भोजपुरी हीरोइन नीलम ने कहा कि उनका किसी ने अपहरण नही किया बल्कि वे खुद अपनी मर्जी से  अपनी दो बेटियों के साथ मुम्बई आयी हैं. उन्होंने वीडियो में खुद की प्रताड़ना की बात कही है. उनके अनुसार उनका पति हर रोज शराब पीकर उसे प्रताड़ित करता था. इस प्रताड़ना में सास और ससुर भी शामिल थे. 11 वर्षो तक शादी के बाद इस प्रताड़ना को झेलना बहुत ही मुश्किल कार्य था. बर्दाश्त की सीमा का जब बांध टूट गया तो नीलम घर छोड़कर अपनी नई जिंदगी शुरू करने  मुम्बई पहुंच गई. पत्नी द्वारा घर छोड़ने के बाद पति ने  बदनामी से बचने के लिए अगमकुंवा थेन में एक FIR दर्ज किया जिसमें अपनी के अपहरण की बात कही. जब पति द्वारा अपहरण की खबर का नीलम को पता चला तो उसने तुरंत ही अपने FB अकाउंट से एक वीडियो जारी कर सच्चाई सामने ला दी. नीलम ने अपनी

Read more

“मल्लिका-ए-जायका” बनीं अमृता सोनी

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | रविवार 30 जून को बोलो ज़िन्दगी फाउंडेशन ने ‘मल्लिका-ए-जायका’ के नाम से रेसिपी कॉन्टेस्ट का आयोजन किया जिसमे पटना की 10 चयनित महिलाओं ने हिस्सा लिया. इस प्रतियोगिता में मल्लिका-ए-जायका बनीं अमृता सोनी, फर्स्ट रनरअप रही रूपम झा तो सेकेंड रनरअप रहीं मोनिका प्रसाद. यह कॉन्टेस्ट मोतीमहल डिलक्स रेस्टोरेंट, ईस्ट बोरिंग केनाल रोड में आयोजित हुआ. इस कार्यक्रम का स्पेशल मोमेंट था जब तीन गरीब कुक महिलाओं उर्मिला देवी, सुमित्रा देवी एवं सुमन देवी को विशेष तौर पर बोलो ज़िन्दगी द्वारा सम्मानित किया गया. इन तीनों ही कुक महिलाओं को मौके पर 500 रुपये की सहयोग राशि प्रदान किया स्कॉलर्स एबोड की मैनेजर स्मृति रावत ने. इस कार्यक्रम को सफल बनाने में स्कॉलर्स एबोड की ऑनर डॉ. बी. प्रियम, रामनगरी आशियाना, माँ वैष्णवी ज्वेलर्स के ऑनर पप्पू जी का भी सपोर्ट रहा. इस अवसर पर बोलो ज़िन्दगी के निदेशक राकेश सिंह ‘सोनू’ ने कहा कि “जिन महिलाओं के हाथों में स्वाद का जादू है, जिनके रसोई में जाने से खाने की खुशबू बढ़ जाती है और नए-नए रेसिपी बनाना जिनका शौक है, उन्हें बोलो ज़िन्दगी फाउंडेशन ने मौका दिया “मल्लिका-ए-जायका” बनने का. उनके हुनर के लिए पहली शर्त थी हेल्दी फूड यानी रेसिपी कम स्पाइसी और कम ऑयली हो.” मल्लिका-ए-जायका रेसिपी कॉन्टेस्ट की जज बनी थीं वैसी 4 महिलाएं जिनका वास्ता खाने-पकाने से है. 1) वे निम्नलिखित हैं- स्वाति शिखा- मास्टर सेफ सीज़न -1 (स्टार प्लस) की फाइनलिस्ट एन्ड कूकरी ऑथर, 2) जनक किशोरी – ऑनर, मनाची फूड प्रोडक्ट, 3) किरण उपाध्याय – ऑनर, किरण उपाध्याय

Read more

समर डिलाइट में नन्हे बच्चों ने सबको किया डिलाइट

आर्ट एंड मोशन के समर कैंप का हुआ समापन आरा. आर्ट एंड मोशन डांस इंस्टिट्यूट द्वारा आयोजित समर तिलाइट समर कैंप 2019 का समापन समारोह स्थानीय नागरी प्रचारिणी में संपन्न हुआ संपन्न हुआ. कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलन कर वन स्टेप के निर्देशक प्रेम सिंह, पत्रकार व वरिष्ठ रंगकर्मी शमशाद प्रेम एवं यज्ञ नारायण तिवारी ने संयुक्त रूप से किया. आगत अतिथियों का स्वागत वरिष्ठ रंगकर्मी निर्देशक ओ पी कश्यप औरओ नीरज सोनी ने माल्यार्पण और स्मृति चिन्ह प्रदान कर किया. कार्यक्रम का आगाज स्वागत नृत्य से बच्चों ने किया. उसके बाद एक के बाद एक कई प्रस्तुतियो ने उपस्थित दर्शको का समा बांध दिया. 1 महीने के इस समर कैंप में प्रशिक्षण के उपरांत जो प्रस्तुतियां बच्चों ने प्रस्तुत की उसे देखकर लोग अवाक थे कि इतने कम समय मे बच्चों ने कैसे इतनी अच्छी प्रस्तुतियां दी? समर कैंप में बच्चों द्वारा तैयार फैशन शो की भी प्रस्तुति हुई जिसमें अलग-अलग वेश-भूषा में उन्होंने अपनी अदाओं से सबका मन मोह लिया. समर कैंप बच्चों ने पेंटिंग का भी प्रशिक्षण दिया गया था जिसके विजेताओं को पुरस्कार एस बी गर्ल्स स्कूल की प्राचार्या शीला पांडेय और रंगकर्मी, निर्देशक ओ पी पांडेय ने दिया. पेंटिग में प्रथम आकृति द्वितीय प्रिया और भूमि तृतीय स्थान प्राप्त किया. समर डिलाइट, समर कैंप 2019 में महीने दिन चलने वाले डांस का प्रशिक्षण रौनक शाह,अविनाश कुमार और ध्रुव सिंह ने दिया, वही अमन श्रीवास्तव पेंटिंग तथा मनीष वर्मा ने स्मार्ट लुक(मॉडलिंग) के लिए प्रशिक्षण दिया,जिन्होंने फैशन शो में अपना जलवा बिखेरा. कार्यक्रम का संचालन शहर

Read more

क्या आपने दी है जन्मदिन पर ये सौगात?

जब भाई ने लिख दी बहन पर ही फ़िल्म पटना,20 जून. आमतौर पर किसी का जन्मदिन केक काटकर या बधाईयाँ देकर मनाया जाता है. कुछ लोग दुनिया के महंगे से महंगे वस्तुओं को देकर भी जन्मदिन को यादगार मनाते हैं. यही नही किसी को सरप्राइज गिफ्ट के तौर पर अनोखे चीजो को देना या किसी खास व्यक्ति का उस मौके पर शामिल करना अनोखी यादगार होती है. कभी-कभी तो बॉलीवुड के सितारे को भी जन्मदिन के मौके पर शामिल कर कई लोगों ने इसे यादगार बनाया है. अब आप यह सोच रहे होंगे कि यह किसका जन्मदिन है या कौन है वह बहन जिसके जन्मदिन पर भाई ने इतना बेहतरीन तोहफा दे दिया. हम बात कर रहे बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा नीतू चंद्रा की. आज नीतू का जन्मदिन है और इस मौके पर उनके भाई नितिन चंद्रा ने सोशल मीडिया पर बहुत ही शानदार पोस्ट लिखा है जिसमे उन्होंने लिखा है कि उनकी बहन न सिर्फ एक अच्छी कलाकार बल्कि इंटरनेशनल खिलाड़ी भी रह चुकी हैं. उनके लिए नीतू एक आदर्श हैं और उन्होंने उनके जीवन पर एक फ़िल्म तक लिख दी है. नितिन ने लिखा है- “वैसे तो नीतू मेरी बहन है लेकिन कई बार अपने आपको detach करके भी देखा और सोचा है नीतू के बारे में | नीतू की अभी तक की जिंदगी गजब की रही है | Sir Einestien ने गांधी जी के बारे में कहा था “Generations to come will scarce believe that such a one as this ever in flesh and blood walked upon

Read more

दो दिवसीय मलिका फैशन एंड लाइफ स्टाइल एग्जीबिशन लोगों के आकर्षण का केंद्र बना

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | नागपुर की कंपनी मलिका फैशन एंड लाइफ स्टाइल एग्ज़ीबिशन द्वारा पटना के होटल लेमन ट्री में देश के विख्यात परिधान के निर्माताओं के डिजाइनर कपडे और आकषर्क ज्वैलरी के रेंज के साथ दो दिवसीय प्रदर्शनी की विधिवत शुरुआत की गई. यह प्रदर्शनी पूरी तरह निःशुल्क है जो दिन में बारह बजे से रात्रि नौ बजे तक चलेगा. इस प्रदर्शनी में 40 स्टाइलिश स्टॉल लगाए गए है जिसमें इन उत्पादों के विभिन्न रेंज पटनावासियों के लिए आकषर्ण का केंद्र बने हुए हैं.इस प्रदर्शनी का लोकार्पण करते हुए पटना की प्रसिद्ध स्त्री-रोग विशेषज्ञ डॉ0 सारिका राय ने कहा कि मलिका एग्ज़ीबिशन पटनावासियों के लिए एक सुखद अहसास के रूप है जहां एक उपभोक्ता अपनी क्रयशक्ति के अनुसार एक उच्चस्तरीय आइटम के रेंज से खरीदारी कर सकता है. विभिन्न ब्रांड के आकर्षक रेंज के बारे में मीडिया को जानकारी देते हुए आयोजकों ने बताया कि मलिका फैशन एंड लाइफ स्टाइल एग्जीबिशन द्वारा अबतक देशव्यापी स्तर पर अपने 13वें एग्जीबिशन संस्करण का सफल प्रदशर्न किया जा चुका है. सराहनीय प्रयास एवं रेंज के कारण उपभोक्ताओं के लिए यह प्रदर्शनी मील का पत्थर साबित हो रही है. उपभोक्ताओं के लिए विभिन्न आइटम के रेंज रखे गये हैं ताकि लोगों को खरीदने में आसानी हो. आयोजिका प्रतिमा सबलोक ने बताया कि वर्तमान समय में उपभोक्ताओं के पसंद की व्यापकता को देखते हुए हम हमेशा तैयार रहते हैं क्योंकि हमारे लिए आधुनिक तकनीक के जमाने में उपभोक्ताओं की पसंद का खास महत्व है. ज्वेलरी रेंज के बारे में बताते हुए आयोजिका प्रतिमा सबलोक

Read more

150 साल बाद अपने वतन लौटेगी इस फ़िल्म से ‘भोजपुरी’

भोजपुरी का ट्रेंड ही नही टेस्ट भी बदलेगा “पपीहरा” Patna now special पटना, 2 जून. पोर्न का हब बने भोजपुरी फिल्मों से दूर हुए पारिवारिक दर्शकों के लिए एक अच्छी ख़बर है. अगर आप भोजपुरी फिल्मों को देखने से हाय-तौबा कर चुके हैं, अश्लीलता की वजह से उसे थियेटर में परिवार के साथ देखना नही पसंद करते हैं लेकिन आपके दिल में आज भी भोजपुरी के प्रति लगाव है तो घबराइए नही इस साल अपने पूरे परिवार को थियेटर में भोजपुरी फ़िल्म पपीहरा दिखाने के लिए ले जा सकते हैं. हमारा 100 प्रतिशत दावा है कि आप फ़िल्म देखने के बाद दूसरे परिवारों को भी पूरे परिवार के साथ देखने का सुझाव देंगे. भोजपुरी को पुनः घर-घर तक सम्मान दिलाने के उद्देश्य से युवा निर्माता देवेंद्र सिंह और निर्देशक शीनू मोहंती ने एक टीम बनाई और रच डाली फ़िल्म निर्माण की पटकथा. देवेंद्र भोजपुर के रहने वाले हैं जबकि शीनू जमशेदपुर के रहने वाले हैं और मुम्बई में फिलहाल रहते हैं. प्रचार तंत्र से दूर पहले फ़िल्म को शूट किया और फिर एडिट ताकि काम बोले और उसे देखने के बाद लोग गर्व करें. एक माह पूर्व भोजपुरी फीचर फिल्म पपीहरा की पोस्टर रिलीज़ विश्व भोजपुरी सम्मलेन दिल्ली में की गई. फ़िल्म का पोस्टर जिसने देखा टकटकी निगाहों से देखते रह गए. पपीहरा भोजपुरी फिल्मों की भीड़ से कुछ अलग प्रयास है. पपीहरा एक पूर्ण पारिवारिक कहानी पर बनी फिल्म है. इस फिल्म में भारतीय कलाकारों के आलावा विदेशी कलाकारों ने भी काम किया है. फिल्म में अभिनेत्री इरिना ब्लांच

Read more

क्या है राम का अर्थ जानिये आशुतोष राणा की जुबानी

पटना. 13 अप्रैल. रामनवमी पर बधाइयों का तांता देने का सिलसिला कल के ही जारी है जिसे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से सभी ने एक दूसरे के साथ शेयर किया है. सोशल मीडिया का हर कोने में श्रीराम की गूंज है और पारम्परिक पूजन के साथ शुरू होने वाले हिन्दू नव वर्ष को बड़े धूम धाम से मनाया जा रहा है. ऐसे में बॉलीवुड के दमदार अभिनेता आशुतोष राणा ने भी लोगो को रामनवमी की बधाई अपने अंदाज में दिया है जिसे लोगो ने काफी पसंद किया है. मजेदार बात तो यह है कि ज्ञानपरक बातें जहां इन्होंने शेयर किया है वही उन्होंने जय श्रीराम के नाम के पहले उन्होंने माता सीता का नाम जोड़कर भारतीय परंपरा को कायम रखा है जहां पहले मातृ-पूजा का रिवाज है. आमतौर पर अपने मैसेज में जय श्रीराम ही सबने लिख है ये एक दुसरे को को सम्बोधिक किया है लेकिन आशुतोष राणा की यह बात ही उन्हें अलग बनती है…पढ़िए क्या लिखा है उन्होंने.. ईश्वर जब रागयुक्त होते हैं तब वे मनुष्य कहलाते हैं, और मनुष्य जब रागमुक्त होता है तो वो ईश्वर हो जाता है। ईश्वर का आसक्तिमय होना मनुष्यत्व है, तो मनुष्य का अनासक्त होना ईश्वरत्व। ईश्वर का नीचे आना ( अवतरण ) उनके मनुष्य होने की व्यवस्था है, तो मनुष्य का ऊपर उठना ( आरोहण ) उसके ईश्वर होने की प्रक्रिया। विश्व के प्रत्येक अणु में प्रकाशित होने वाली चेतना को ही विष्णु कहा जाता है। आज रामनवमी है, आज के ही दिन वह परम चेतना निराकार से साकार की

Read more