सरकारी गाड़ियों के ड्राइवरों को दी जाएगी सड़क सुरक्षा की ट्रेनिंग

– विभागीय मंत्री से लेकर अधिकारियोें व पदाधिकारियों के ड्राइवरों को मिलेगी ट्रेनिंग – ड्राइवर यातायात नियमों को जानें इस बारे में विशेष तौर से किया जाएगा प्रशिक्षित – नियमों का उल्लंघन करने पर क्या-क्या हो सकती है कार्रवाई और किन किन कागजातों को साथ  रखना है अनिवार्य इस बारे में दी जाएगी जानकारी – परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि ट्रेनिंग के बाद नियमों का उल्लंघन करने वाले  ड्राइवरों पर की जाएगी कार्रवाई – मुख्य सचिवालय से लेकर सभी विभागीय मंत्री व पदाधिकारियों के ड्राइवरों को ट्रेनिंग किया गया है अनिवार्य सरकारी गाड़ियां चलाने वाले सभी ड्राइवरों को सड़क सुरक्षा नियमों से अवगत कराते हुए उन्हें प्रशिक्षित किया जाएगा। गाड़ी चलाते समय किन किन नियमों का पालन करना है. गाड़ी चलाने के दौरान कौन-कौन से कागजात साथ में रखना अनिवार्य है तथा किस नियम के उल्लंघन करने पर क्या कार्रवाई की जा सकती है. इन तमाम बातों की जानकारी उन्हें ट्रेनिंग देकर बताई जाएगी. इसके लिए जागरुकता सह प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. परिवहन विभाग सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि सरकारी गाड़ियां चलाने वाले सरकारी व प्राइवेट सभी तरह के ड्राइवरों को नए मोटर व्हीकल (संशोधन) अधिनियम 2019 की जानकारी दी जाएगी साथ ही उन्हें सड़क सुरक्षा नियमों की जानकारी के लिए एक दिवसीय विशेष ट्रेनिंग दी जाएगी. यह ट्रेनिंग हर ड्राइवर के लिए अनिवार्य होगा. ट्रेनिंग के बाद भी यातायात नियमों का उल्लंघन किये जाने पर वैसे ड्राइवरों से जुर्माना वसूला जाएगा. प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरुआत सोमवार से की जा रही है.

Read more

आर ब्लाॅक-दीघा रोड : कार्य अवधि 36 माह|अब 15 माह में ही पूरा करने का है लक्ष्य

सड़क निर्माण के साथ तीन जगहों पर फ्लाईओवर निर्माण का तेजी से चल रहा कामसड़क कार्य की गुणवता सुनिश्चित कराने के लिए 10 एक्सपर्ट्स कर रहे हैं निगरानीएमडी स्तर से हर सप्ताह की जा रही माॅनिटरिंग31 मार्च 2020 तक बेली रोड के पास बन जाएगा केबल स्टेज ब्रिजकेबल स्टेज ब्रिज बनाने के लिए चल रहा है फाउंडेशन का कामबनाए जा रहे हैं एकस्ट्रा डोज ब्रिज (केबल स्टेज ब्रिज)लोगों को मिलेगा सिग्नल फ्री ट्रैफिक पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा 1 मार्च 2019 को आर ब्लाॅक से दीघा (जेपी सेतु) तक एक नयी छह लेन सड़क, जो पटना का लाइफ लाइन सिद्ध होगा, बनाने की योजना का शिलान्यास किया था. इस योजना को बीएसआरडीसी ( बिहार राज्य रोड डेवलपमेंट कारपोरेशन ) के द्वारा तीन साल (36 माह) में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया था. परन्तु परिवहन सचिव सह बीएसआरडीसी के एमडी संजय कुमार अग्रवाल ने बृहस्पतिवार को इस रोड के निर्माण कार्य का निरीक्षण करने के बाद बताया कि इसे जून 2020 से पहले यानि 15 महीनों के रिकार्ड टाइम में ही पूरा कर लिया जाएगा.बिहार राज्य रोड डेवलपमेंट कारपोरेशन के एमडी संजय कुमार अग्रवाल ने निरीक्षण के दौरान प्रोजेक्ट पर काम कर रहे पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि पुरे काम को तय समय सीमा के अंदर पूरा करें. उन्होंने हड़ताली मोड़ के पास आर ब्लाॅक-दीघा रोड में दोनों तरफ बाउंड्री वाॅल निर्माण का कार्य शुरु करने का निर्देश दिया। इस सड़क पर बन रहे एक्सट्रा डोज ब्रिज (केबल स्टेज ब्रिज) के निर्माण में तेजी लाने को

Read more

नहीं रहे बिहार के पूर्व CM जगन्नाथ मिश्रा | मुख्यमंत्री ने जताया शोक

पटना, 19 अगस्त. लंबे समय से बीमार चल रहे बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा का आज दिल्ली में निधन हो गया. वे 82 वर्ष के थे. वे बिहार के तीन बार मुख्यमंत्री रहे. अपने राजनीतिक जीवन मे पहली बार 1975 में मुख्यमंत्री बने और अप्रैल 1977 तक रहे. उसके बाद 1980 में उन्होंने तीन साल के लिए मुख्यमंत्री पद की कमान संभाली. फिर 1989 में तीन महीने के लिए सीएम रहे. उनपर चारा घोटाले का भी दाग रहा जिसकी वजह से कई महीने उन्हें जेल में बितानी पड़ी. जगन्नाथ मिश्रा लंबे समय तक कांग्रेस में रहे. भाई एलएन मिश्रा की हत्या के बाद 80 के दशक में वह राजनीति के केंद्र में आए थे. उनका पुत्र नीतीश मिश्रा अब भारतीय जनता पार्टी में शामिल है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जताया शोकडॉ मिश्रा के निधन पर नीतीश कुमार ने गहरा शोक व्यक्त किया है. मुख्यमंत्री ने अपने शोक-संदेश में कहा है कि डाॅ जगन्नाथ मिश्रा एक प्रख्यात राजनेता एव शिक्षाविद् थे. बिहार के साथ-साथ देश की राजनीति में उनका बहुमूल्य योगदान रहा है. उनके निधन से न केवल बिहार बल्कि पूरे देश की राजनीतिक, सामाजिक एव शिक्षा के क्षेत्र में अपूरणीय क्षति हुई है. मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की चिर-शान्ति तथा उनके परिजनों एव प्रशंसकों को दुःख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है. डाॅ जगन्नाथ मिश्रा के निधन पर राज्य में तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की गयी है. उनका अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ

Read more

नेशनल यूथ कांफ्रेंस 2019 में जुटे देशभर के 700 डॉक्टर

700 से अधिक डॉक्‍टरों ने कांफ्रेंस में युवाओं के साथ साझा किये अपने अनुभव यंग टाइलेंट प्रमोशन कमेटी (FOGSI) और एडोलेसेंट हेल्‍थ कमेटी (FOGSI) द्वारा युवा प्रतिभा को निखारने वाला दो दिवसीय FOGSI नेशनल यूथ कांफ्रेंस NYCON 2019 राजधानी के होटल  मौर्या में सफलतापूर्वक संपन्‍न हो गया. इस कांफ्रेंस की होस्टिंग पटना अब्‍सट्रेक्टिव एंड गायनोकोलॉजिकल सोसइटी (POGS) ने की, जिसमें देशभर से तकरीबन 700 से अधिक डॉक्‍टरों ने शिरकत करते हुए अपने अनुभव साझा किये. इस बारे मेंNYCON 2019 की ऑर्गनाइजिंग सेक्रेटरी डॉ विनीता सिंह ने बताया किNYCON 2019 बेहद खास रहा है, जहां कई महत्‍वपूर्ण टॉक और ओरियंटेशन के जरिये युवाओं को भविष्‍य में आने वाली चुनौतियों और समाधान से अवगत कराया गया.  वहीं, NYCON 2019  के समापन समारोह के दौरान बिहार पुलिस अकादमी के डीजी आलोक राज ने रेप और सेक्‍सुअल ह्रासमेंट जैसे मामलों में पुलिस और मीडिया की भूमिका को लेकर अपने विचार रखे. वहीं, दूरदर्शन की वरिष्ठ अधिकारी रत्ना पुराकास्था और ज्योत्स्ना रंजन ने बच्‍चों के बीच यौन शिक्षा विषय पर अपने महत्‍वपूर्ण वक्‍तव्‍य दिये और इसके लिए बच्‍चों के बीच जागरूकता पर बल दिया.   इससे पहले कांफ्रेंस के अंतिम दिन आज पांच महत्‍वपूर्ण सत्र हुए, जिनमें डॉक्‍टरों ने अपने – अपने विषयों पर विस्‍तार से चर्चा की. इनमें ऑब्‍सटेट्रिक डायलमा, यूनिसेफ सेशन, पास्‍को एक्‍ट, एडोलेसेंट प्रोब्‍लेम, रीले कांफ्रेंस ओरियेशन के बारे में बताया गया. इसके अलावा एडोलेसेंट पीएसओ, वायरल इंफेक्‍शन इन प्रेगनेंसी, इंडोमेट्रीओसिस – एन एनजाइम, ब्रेड कंसर्न और उसके सॉल्‍यूशन पर पैनल डिस्‍कशन के जरिये डॉक्‍टरों ने महत्‍वपूर्ण वक्‍तव्‍य दिये. इस बारे में डॉ विनीता सिंह ने बताया कि कांफ्रेंस का दूसरा दिन भी बेहद

Read more

प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों पर होगी कार्रवाई

पटना में लगातार वाहनों के प्रदूषण और फिटनेस की जांच चल रही है. रविवार को भी बड़ी संख्या में ऐसे वाहनों की जांच की गई. पटना जिला परिवहन पदाधिकारी अजय कुमार ठाकुर ने बताया कि रविवार को कुल 65 वाहनों की जांच की गई जिनमें 8 वाहनों को प्रदूषण फैलाते पाया गया. वहीं 4 वाहनों के फिटनेस फेल थे. कुल 7 वाहनों को जब्त किया गया जबकि 13,400 रू फाइन के रुप में वसूले गए. बता दें कि पटना में अब डीजल से चलने वाले ऑटो को परमिट नहीं मिलेगा. उपमुख्यमंत्री सह पर्यावरण एवं वन मंत्री सुशील मोदी ने ये घोषणा की है. साथ ही काला धुआं उड़ाने वाले वाहनों पर भी सख्ती होगी.   शनिवार को राजधानी के बोरिंग कनाल रोड में एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि ज्यादा धुआं उत्सर्जित करने वाले वाहनों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. साथ ही अब पटना में डीजल चालित थ्री व्हीलर (ऑटो) को नया परमिट नहीं दिया जायेगा. डीजल से सीएनजी में थ्री व्हीलर को परिवर्तित कराने वालों को सरकार प्रोत्साहित करेगी. प्रधानमंत्री की घोषणा के अनुरूप आगामी 2 अक्तूबर से सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त भारत बनाने की दिश में प्लास्टिक कैरी बैग के उपयोग पर सख्ती बरती जायेगी तथा थर्मोकोल से बने सामानों पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया जायेगा.  उन्‍होंने कहा कि पटना और पूरे बिहार को वायु, जल व ध्वनि प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए अभियान चलाया जायेगा. पहले चरण में सरकारी ड्राइवरों को ट्रेनिंग देकर हॉर्न का उपयोग कम से कम करने की

Read more

सबसे बड़ी इकोफ्रेंडली रंगोली का प्रमाण पत्र पटना डीएम को

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | जिलाधिकारी कुमार रवि को India Book of Records के द्वारा Biggest Eco-Friendly Rangoli (सबसे बड़ी इकोफ्रेंडली रंगोली) का प्रमाण पत्र मिला. बृहस्पतिवार दिनांक 08 अगस्त को बिहार के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के द्वारा पटना जिला में लोक सभा आम निर्वाचन, 2019 के दौरान बनाई गई Biggest Eco-Friendly Rangoli (सबसे बड़ी इकोफ्रेंडली रंगोली) का India Book of Records द्वारा प्रमाण-पत्र पटना के डीएम कुमार रवि को प्रदान किया गया. जैसा कि मालूम है, गत लोकसभा चुनाव के दौरान स्वीप गतिविधि के तहत् मतदाताओं को जागरूक करने के उद्देश्य से पटना के गाँधी मैदान में विश्व की सबसे बड़ी रंगोली बनाई गई थी जिसका आकार लम्बाई में 260 मीटर तथा चौड़ाई में 160 मीटर (कुल क्षेत्रफल 41600 वर्ग मीटर) था. इस कार्य में जिला प्रशासन के कई विभागों का समन्वय एवं सहयोग रहा था. इस कार्य में मुख्य रूप से पटना के आर्ट्स काॅलेज के छात्र-छात्राओं एवं आँगनवाड़ी सेविकाओं ने अपना श्रमदान किया था तथा इसे बनाने में लगभग 15 दिनों का समय लगा था.पटना के जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी के अनुसार पटना डीएम के मार्गदर्शन में प्रतिदिन लगभग 150 की संख्या में छात्रों एवं सेविकाओं ने उपस्थित होकर समर्पित भावना से कार्य किया, जिसके कारण उक्त इकोफ्रेंडली महारंगोली बनाना सम्भव हो सका. उपरोक्त रंगोली को इंडिया बुक ऑफ़ रिकार्ड में सबसे बड़े इकोफ्रेंडली रंगोली के रूप में दर्ज किया गया है. उक्त रिकार्ड जिला पदाधिकारी-सह-जिला निर्वाचन पदाधिकारी, पटना कुमार रवि तथा जिला प्रशासन, पटना की टीम के नाम दर्ज करते हुए उन्हें निम्न सर्टिफिकेट से नवाजा गया

Read more

डॉ. डी.वाई.पाटिल कुछ तकनीकी शिक्षा संस्थानों की स्थापना करेंगे बिहार में

डॉ. डी. वाई. पाटिल पुष्पलता पाटिल इंटरनेशनल स्कूल में डॉ. पाटिल का भव्य स्वागतपुलवामा के शहीद संजय कुमार के पुत्र अमरनाथ को डी० वाई० पाटिल मेडिकल कालेज नवी मुंबई में निशुल्क नामांकन एवम् सम्पूर्ण पढाई – लिखाई एवम भोजनादि की नि:शुल्क व्यवस्थामिडियाकर्मियों के बच्चों के लिए डी० वाई० पाटिल संस्थाओ में नामांकन शुल्क सौ प्रतिशत मुफ्त होगा पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | मंगलवार दिनांक 6 अगस्त 2019 को डॉ. डी. वाई. पाटिल पुष्पलता पाटिल इंटरनेशनल स्कूल में डॉ. डी. वाई. पाटिल का भव्य स्वागत किया गया. ज्ञातव्य है कि यह विद्यालय उनकी स्वर्गीय पत्नी पुष्पलता पाटिल जी की अंतिम इच्छा के रूप में उन्हीं की स्मृति में बनाया गया है. अतः उन्होंने सर्वप्रथम उनकी मूर्ति पर माल्यार्पण कर उन्हें अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि दी.कार्यक्रम का प्रारंभ डॉ. डी. वाई. पाटिल, विद्यालय के अध्यक्ष प्रेमरंजन सिंह, उपाध्यक्ष अमरेंद्र मोहन, निदेशक डॉ. सी. बी. सिंह तथा प्राचार्या राधिका के. ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया. कार्यक्रम का शुभारम्भ बच्चों द्वारा प्रस्तुत स्वागत-गान के साथ हुआ. महाराष्ट्र का प्रसिद्ध नृत्य ‘लावणी’ कार्यक्रम का आकर्षण केंद्र रहा. इसके अलावा ‘बूंद- बूंद, लहर- लहर…. ‘, ‘तू है, तेरा यह संसार…….. जैसे गीतों पर बच्चों ने मनोहारी नृत्य प्रस्तुत किए.बच्चों के प्रदर्शन तथा विद्यालय के अनुशासन की डॉ. पाटिल ने मुक्त कंठ से प्रशंसा की. उन्होंने विद्यालय की गुणवत्ता एवं उपलब्धियों पर प्रसन्नता जाहिर की. बच्चों को प्रोत्साहित करते हुए उन्होंने कहा कि वे कठिन परिस्थितियों में भी सदा जीवन -पथ पर अग्रसर होते रहें. कठिनाइयाँ मनुष्य को मजबूत बनाती हैं, उन से डरे नहीं, डट

Read more

बिहटा ईएसआईसी अस्पताल की ग्राउंड रिपोर्ट|सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल लेकिन सुविधा नदारद

500 बेड वाले 630 करोड़ की लागत से निर्मित ईएसआईसी अस्पताल की ग्राउंड रिपोर्ट13 माह पहले 50 बेड का हुआ था उद्घाटन पर अभी डिस्पेंसरी की तरह मिल रही ओपीडी सेवाएंबिहटा/पटना | सूबे में स्वास्थ्य सेवाओं का आज भी क्या हाल है ये किसी से छिपी हुई बात नहीं है. 10 वर्ष पूर्व के हालात का सहज अंदाजा लगाया जा सकता है. अच्छे अस्पताल व इलाज की व्यवस्था नहीं होने के कारण भारी संख्या में लोग दिल्ली सहित अन्य राज्यों में जाने को मजबूर थे. इसमें बीमित श्रमिक भी शामिल थे. इन परेशानियों के मद्देनजर वर्ष 09 में बिहार के बीमित श्रमिकों के लिये केंद्र की सरकार ने 500 बेड का अस्पताल बनाने की बड़ी घोषणा कर दी. केंद्र के इस फैसले से श्रमिकों में खुशी की लहर दौड़ गई. राज्य की सरकार ने भी इसका स्वागत किया और अस्पताल के लिये बिहटा के सिकदंरपुर में 25 एकड़ जमीन उपलब्ध करा दिए. तत्कालीन लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसका शिलान्यास किया. अस्पताल निर्माण कराने वाली कंपनी को 2 साल में निर्माण की जवाबदेही दी गई थी. श्रमिकों को लगा कि अब उनके दिन बहुरेंगे. स्वास्थ्य संबंधी सभी तरह की परेशानी एक छत के नीचे हल हो जाएंगे. लेकिन 2साल में पूरा होने वाला उनका ये सपना 10 साल बाद भी हकीकत नहीं बन सकी. अस्पताल भवन निर्माण में विलंब का ठीकरा एक दूसरे पर फोड़कर सभी अपने जिम्मेदारी से बचते रहे. लोगों की लगातार मिल रही शिकायतों पर चुनाव में जाने के पूर्व केंद्रीय श्रम एवं

Read more

कौन है संविधान का हत्यारा, और किसने कहा सोमवार को काला दिन

BJP संविधान का हत्यारा-गुलाम नबी आजाद आज़ाद भारत के लिए आज का दिन “काला दिन”- HAM पटना, 5 अगस्त. धारा 370 संशोधन विधेयक पर तरह तरह की प्रतिक्रियाये मिल रही हैं. जहाँ आम जनता में खुशी की लहर है वही विपक्षियों के चेहरे गुस्से से लाल है. राजनीति से जुड़े विपक्षियों में खासा नाराजगी है इस विधेयक को लेकर. कोई आज के दिन को ही काला दिवस घोषित कर रहा है तो कोई बीजेपी को कानून का हत्यारा.  राज्यसभा में गुलाम नबी आजाद ने कहा कि अनुच्छेद 370 के तहत ही जम्मू कश्मीर को भारत के साथ जोड़ा गया था और इसके पीछे लाखों लोगों ने कुर्बानियां दी है. उन्होंने कहा कि हजारों नेताओं ने अपने नेता और कार्यकर्ता खो दिए हैं. आजाद ने कहा कि 1947 से हजारों आम नागरिकों की जान गई हैं. जम्मू कश्मीर को भारत के साथ रखने के लिए हजारों बलिदान हुए हैं. उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोग हर हालत में भारत के साथ खड़े रहे. आजाद ने कहा कि यह ऐतिहासिक दिन है और यह कोई आम बात नहीं है. उन्होंने कहा कि मैं इस कानून का कड़े शब्दों में विरोध करता हूं और हम भारत के संविधान की रक्षा के लिए अपनी जान की बाजी लगा देंगे लेकिन हम उस एक्ट का विरोध करते हैं जो हिन्दुस्तान के संविधान को जलाते हैं. बीजेपी ने इसी संविधान की हत्या की है. वही इस विधेयक पर हिन्दूस्तानी आवाम मोर्चा के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा कि आज़ाद भारत के लिए आज

Read more

कानून को हाथ न लें, पुलिस को सूचना दें: DGP

पटना में हुए मॉबलीचिंग मामले में डीजीपी ने लोगों से अपील – अफवाहों पर ध्यान ना दें पटना, 4 अगस्त. बिहार में इन दिनों मोबाइल पर बच्चे चोरी करने के मैसेज वायरल हो रहा है जो लोगों को दशक में डाल रहा है यह मैसेज जिसको भी मिल रहा है वे अपने जानने वालों तक इसे फैला रहे हैं हरीश का परिणाम है या हुआ है विगत कुछ दिनों में चोर का खौफ इस तरह लोगों में समा गया है गांव मोहल्ले और घरों तक पहुंचने वाला कोई भी शख्स लोगों को बच्चा चोर ही दिखता है और इसी चक्कर कई जगह बेवजह मारपीट और मॉब लिंचिंग की घटनाएं सामने आई है बच्चे चोरों का दहशत इस कदर लोगों के दिमाग में घर कर गया है कि रात के अंधेरे में भी उन्हें बच्चा चोर ही नजर आता है और मोहल्ले में इसकी भनक होते हैं अफरा-तफरी का माहौल हो जाता है. इस घटना का आलम यह है मॉब लिंचिंग की घटनाएं पूरे प्रदेश में बढ़ गए अभी हाल में पटना के रूपसपुर थाना क्षेत्र में बच्चा चोरी के आरोप में एक ऐसे ही बेगुनाह की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी. पटना के रूपसपुर थाना क्षेत्र में हुए मॉबलीचिंग के मामले की आग डीजीपी मुख्यालय तक पहुंच गई है. अफवाह की वजह से बिहार में बढ़ते मॉबलीचिंग की घटनाओं से चिंतित डीजीपी ने लोगों से अपील की है. बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने लोगों से अपील की है. आप कानून हाथ में ना ले. पुलिस को जानकारी दें,पुलिस

Read more