दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड में होगी बिहार की नैनी

नोट्रेडेम एकैडमी पटना एवम बीआईटी मेसरा- पटना बी . टेक . की छात्रा नैनी सिंह का राष्ट्रीय सेवा योजना कैडेट में हुआ चयन मुजफ्फरपुर की रहने वाली नैनी सिंह मां बाप की है एकलौती संतान 26 जनवरी को राजपथ नई दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड में होंगी बिहार का चेहरा फुलवारी शरीफ ।। बिहार की होनहार पुत्री बीआईटी मेसरा- पटना केंपस की द्वितीय वर्ष बी . टेक . की छात्रा एवं राष्ट्रीय सेवा योजना की स्वयंसेवक के रूप में चयनित नैनी सिंह अशोक राजपथ पर 26 जनवरी 2022 को राष्ट्रीय ध्वज को सलामी देने के लिए दल में बिहार का चेहरा होंगी. राष्ट्रीय सेवा योजना के बिहार के कार्यक्रम पदाधिकारी एवं गणतंत्र दिवस परेड के बिहार के छात्रों प्रतिनिधियों के संयोजक मुंगेर विश्वविद्यालय के प्रो. मुनेंद्र कुमार सिंह एवं बीआईटी मेसरा पटना के संयोजक प्रोफेसर श्रीधर कुमार ने ये जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि बीआईटी मेसरा कैंपस की द्वितीय वर्ष बी . टेक . की छात्रा एवं राष्ट्रीय सेवा योजना की स्वयंसेवक , सुश्री नैनी सिंह का चयन राष्ट्रीय सेवा योजना के कैडेट के रूप बिहार की एकमात्र छात्र प्रतिनिधि के रूप में अशोक राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड के लिए किया गया. सुश्री नैनी सिंह , बिहार के दाउदपुर कोठी मुजफ्फरपुर जिला निवासी नरेंद्र कुमार एवं श्वेता सिंह की एकमात्र संतान हैं जिन्हें बिहार के प्रतिनिधि के रूप में अपनी पुत्री पर गर्व है. सुश्री नैनी सिंह की शिक्षा बिहार के नोट्रेडेम अकादमी , पटना से हुई है. बीआईटी मेसरा पटना के निदेशक डॉ अरविंद कुमार , राष्ट्रीय

Read more

कई साल से अधूरा पड़ा था ये पुल, अब फिर जगी उम्मीद

पटना।। पिछले कई वर्षो से अधूरे पड़े पटना के मीठापुर फ्लाईओवर की गया रेल गुमटी से पुनपुन लेग की तरफ काम जल्द पूरा होने की उम्मीद बढ़ गई है. कोर्ट केस की वजह से कई वर्षों तक काम पेंडिंग रहा . इसके बाद स्थानीय लोगों के विरोध की वजह से भी काम रोकना पड़ा जिसके कारण मीठापुर फ्लाईओवर अब तक गया रेल गुमटी की तरफ से पूरा नहीं बन पाया है. लेकिन अब जिला प्रशासन ने सख्ती दिखाते हुए पुल निर्माण में बाधा बन रहे मकानों को तोड़ने का काम शुरू कर दिया है. पटना जिला प्रशासन की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक मीठापुर रेलवे ओवर ब्रिज के पुनपुन लेग के लिए भू अर्जन की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है. मार्गरेखन में 27 भू-धारियों के 77 डिसमिल जमीन का अर्जन किया गया है जिसकी प्राक्कलित राशि 21.72 करोड़ रूपये है. इस संबंध में भू- धारियों को तीन बार नोटिस दिया गया. पहला नोटिस 4 अगस्त 2021 को, दूसरा नोटिस 24 नवंबर 2021 को एवं तीसरा नोटिस 17 दिसंबर 2021 को दिया गया, परंतु कुछ लोग नोटिस नहीं लिए तथा कुछ लोग नोटिस लेकर भी भुगतान प्राप्त करने के लिए बैंक खाता आदि काग़ज़ात जमा नहीं किए. कई बार शिविर का आयोजन भी किया गया तथा अंत में 29.12.2021 को दैनिक समाचार पत्रों में भी नोटिस का प्रकाशन किया गया परंतु लोग विरोध स्वरूप संज्ञान नहीं लिये. इसलिए विहित प्रक्रिया के तहत सभी जानकारी देने एवं अपेक्षित कार्रवाई करने के उपरांत एलाइनमेंट में आनेवाले घरों को तोड़ने की

Read more

नहीं मिली कोरोना गाइडलाइन में किसी तरह की छूट

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में की हुई सीएमजी बैठक बढ़ते प्रभाव पर नजर रखने का निर्देश मुख्य सचिव आमिर सुबहानी की अध्यक्षता में बुधवार को पटना में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक हुई। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक बुलाई गयी थी। जिसमें कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गये। क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की आज हुई बैठक में कोरोना गाइडलाइन में किसी तरह की कोई छूट नहीं दी गयी है। कोरोना के बढ़ते प्रभाव पर नजर रखने का निर्देश सभी डीएम, एसपी और सिविल सर्जन को दिया गया है। वही कोरोना के नए मामले, टेस्टिंग और रिकवरी पर ध्यान देने की बात बैठक में कही गयी है। मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने बैठक में कई दिशा निर्देश भी दिए। बिहार में कोरोना के बढ़ते मामले को लेकर सरकार अलर्ट है। कोरोना को लेकर क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की आज हो रही बैठक खत्म हो गयी है। बैठक में कोरोना गाइडलाइन में कोई छूट नहीं दी गयी है। दरअसल बिहार में कोरोना संक्रमण की रफ्तार लगातार नई ऊंचाइयों को छू रहा है। लगातार संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है। बीते सोमवार को मुख्य सचिव की अध्यक्षता में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक हुई थी जिसमें कई तरह के प्रतिबंध लगाने पर सहमति बनी थी। सीएमजी की बैठक के बाद यह फैसला लिया गया था कि हर दो दिन पर क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक बुलाई जाएगी। सोमवार के बाद बुधवार को सीएमजी की बैठक बुलाई गई थी। जिसमें मुख्य सचिव सहित कई अधिकारी मौजूद थे। अब सीएमजी की अगली

Read more

ओमीक्रोन बीए.2 वेरिएंट पटना में मचा रहा है तबाही

डेल्टा प्लस ,डेल्टा और अब नये वेरिएंट के शिकार मुंबई में मिला हई बीए.1 का वेरिएंट पटना में मिला है दक्षिणी अफ्रीकी वेरिएंट ओमीक्रोन बीए.2  सात गुना ज्यादा है इसका संक्रामक दर राजधानी पटना में दक्षिण अफ्रीकी ओमीक्रोन वेरिएंट का जेनेटिक पैटर्न बीए 2 मिला है. वहीं, मुंबई और महाराष्ट्र में बीए1 पैटर्न है. दोनों वेरिएंट संक्रामक हैं और तेजी से लोगों को अपना शिकार बना रहे हैं. दक्षिण अफ्रीका में इसके प्रसार के बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन के वैज्ञानिकों व विशेषज्ञों ने इसे डेल्टा वेरिएंट से सात गुना ज्यादा संक्रामक बताया है. हालांकि राहत की बात यह भी है कि विशेषज्ञों के मुताबिक डेल्टा के मुकाबले यह कम घातक है. आईजीआईएमएस माइक्रोबायोलॉजी विभाग की अध्यक्ष और राज्य में जीनोम सिक्वेंसिंग जांच टीम का नेतृत्व करनेवाली डॉ. नम्रता ने बताया कि ओमीक्रोन नि:संदेह अबतक डेल्टा के मुकाबले बेहद कम घातक है. डेल्टा से जितनी मौतें हो रही थीं, पूरे विश्व में ओमीक्रोन से वैसी मौत नहीं देखी गई हैं, लेकिन संक्रमण क्षमता सात से 10 गुना ज्यादा है. राजधानी में घनी आबादी के कारण इसका संक्रमण बहुत तेजी से फैल रहा है. जिस तेजी से यह संक्रमण फैल रहा है वह एक दिन में संक्रमितों की संख्या मिलने का पिछला सारा रिकॉर्ड तोड़ सकता है. इस लिए जरूरी है कि बचाव के लिए कोरोना मानकों को अपने व्यवहार में शामिल करना होगा अभी फिलहाल यही सबसे अच्छा उपाय है. पीएमसीएच के वरीय श्वसन रोग विशेषज्ञ डॉ. बीके चौधरी ने बताया कि दूसरी लहर के दौरान डेल्टा से संक्रमित होकर अस्पताल

Read more

1.79 लाख नए मामले से कोरोना का कहर जारी

सावधानी से ही बचाव किया जा सकता है अब तक देश में 3 करोड़ 57 लाख कोरोना मामले भारत में कोरोना का कोहराम, 1.79 लाख नए मामले अब तक कुल 4,83,936 लोगों की गई है जान रविवार को हुई 146 लोगों की मौत देश में कोरोना के सक्रिय मामले 7,23,619 कोरोना वायरस के 1,79,723 नए मामले आए हैं और 46,569 लोगों ठीक हुए हैं. वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक इस महामारी ने कल 146 मरीजों की जान ले ली. भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद यानी आईसीएमआर के मुताबिक, भारत में कल कोरोना वायरस के लिए 13,52,717 सैंपल टेस्ट किए गए. इसके साथ ही देश में कल तक कुल 69,15,75,352 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं. केंद्र सरकार की तरफ से जारी आंकड़ों पर नजर डालें तो देश में अब तक कुल मामले 3,57,07,727 हो चुके हैं. फिलहाल सक्रिय मामले 7,23,619 हैं. अब तक इस महामारी को 3,45,00,172 लोगों ने मात दे दी है.  हालांकि, इस वायरस ने देश में अब तक कुल 4,83,936 लोगों की जान ले ली है. आपको बता दें कि इस महामारी को मात देने के लिए बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियान भी चलाए जा रहे हैं. अब देश में वैक्सीन की 1,51,94,05,951 खुराकें दी जा चुकी हैं. आपको बता दें कि इसमें पहली और दूसरी खुराक दोनों के आंकड़े शामिल हैं. बिहार में भी लगातार बढ़ रहे है आंकड़े बिहार: बच्‍चों-युवाओं को तेजी से चपेट में ले रहा कोरोना  20 से 29 साल के सर्वाधिक 26.3 फीसदी संक्रमित बिहार में

Read more

पटना में सुबह-सवेरे हो गया हादसा

पटना बाइपास में जगनपुरा के पास कार और ट्रक में टक्कर कार के उड़े परखच्चे, कार सवार बुरी तरह जख्मी चिंताजनक हालत में घायल कार सवार को भेजा गया अस्पताल फुलवारी शरीफ, अजीत कुमार ।। राजधानी पटना में सुबह-सुबह जगनपुरा के पास बाईपास सड़क में भीषण सड़क हादसा हुआ है.घटना स्थल पर मौजूद लोगों के मुताबिक खड़े ट्रक में कार ने जबरदस्त टक्कर मार दिया जिसमें कार के परखच्चे उड़ गए. इस भीषण हादसे में कार सवार बुरी तरह जख्मी हुआ है. घटनास्थल पर पहुंची पुलिस स्थानीय लोगों की मदद से घायल को अस्पताल ले गई. वहीँ घटनास्थल पर लोगों की भीड़ जमा हो गई .दुर्घटना के बारे में बताया जाता है कि जगनपुरा के पास न्यू बाइपास रोड में सुबह-सुबह तेज रफ्तार कार सड़क किनारे खड़े ट्रक से जोरदार तरीके से टकरा गई भीषण हादसे में कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है. इसी दौरान एक दूसरे ट्रक ने कार में पीछे से टक्कर मार दिया जिसमें कार दोनों तरफ से क्षतिग्रस्त हो गई. वही धक्का मारने वाला ट्रक फरार हो गया. मौके पर मौजूद लोगों ने पुलिस को खबर की घटनास्थल पर पहुंचे पुलिस पदाधिकारी ने स्थानीय लोगों की मदद से एक कार में बैठे दो लोगों को बुरी तरह जख्मी हालत में निकाल कर अस्पताल ले गई. जख्मी के बारे में स्पष्ट नहीं पता चल पाया है. वही घटनास्थल पर मौजूद लोगों ने बताया कि कार की रफ्तार काफी तेज थी और अचानक अनियंत्रित कार खड़े ट्रक में टक्कर मार दिया। इसी दौरान पीछे से आ रहे

Read more

घर में किसी को कोरोना संक्रमण हो, तो क्या करें?

एक दिन में कोविड के 1 लाख 17 हज़ार से ज़्यादा नए मामले सीने में लगातार दर्द महसूस हो थकान महसूस हो तो उसे तुरंत मेडिकल सहायता लें दुनिया के कई देशों में कोरोना संक्रमण के मामलों में एक बार फिर से तेज़ी देखी जा रही है. भारत में 7 जनवरी को कोविड के नए मामलों की संख्या 1 लाख का आंकड़ा पार कर गई. भारत में एक दिन में कोविड के 1 लाख 17 हज़ार से ज़्यादा नए मामले रिपोर्ट किए गए हैं.कोरोना के मामलों में तेज़ी की बड़ी वजह ओमिक्रॉन वेरिएंट को माना जा रहा है. जानकारों के अनुसार, कोविड-19 के इस वेरिएंट के कारण संक्रमण काफी तेज़ी से फैलता है, इसलिए लोगों को अतिरिक्त सावधानी बरतने की ज़रूरत है.ओमिक्रॉन को लेकर तमाम तरह के सवाल लोगों के मन में उठ रहे हैं. सबसे बड़ा सवाल है कि अगर आपके घर का कोई सदस्य कोविड-19 के ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित हो जाए तो क्या करना चाहिए? भारत में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच भारत के स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसी सप्ताह इससे जुड़े संशोधित दिशानिर्देश जारी किए हैं. आइए जानते हैं कि अगर कोई शख़्स कोरोना के ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित हो जाए तो मरीज़ और उसके घर के लोगों को किन बातों का ध्यान रखना चाहिए.बिना लक्षण वाले या मामूली लक्षण वाले ऐसे कोरोना मरीज़ जो 60 साल से कम उम्र के हैं और किसी अन्य बीमारी से ग्रसित नहीं हैं, उन्हें आमतौर पर होम क्वारंटीन में रहने की सलाह दी गई है.हालांकि किसी मरीज़ को होम

Read more

8वीं कक्षा तक पटना के सभी स्कूल बंद

ठंड को देखते हुए जिलाधिकारी का आदेश सभी प्राइवेट एवं सरकारी विद्यालय के वर्ग 8 तक शीतलहर के बढ़ते प्रकोप तथा बच्चों के स्वास्थ्य की सुरक्षा को देखते हुए जिला अंतर्गत सभी प्राइवेट एवं सरकारी विद्यालय के वर्ग 8 तक की शैक्षणिक गतिविधियां 3 जनवरी से 8 जनवरी 2022 तक प्रतिबंधित किया गया हैं. इस आशय का आदेश जिलाधिकारी पटना डॉ चंद्रशेखर सिंह द्वारा निर्गत किया गया है। जिलाधिकारी ने जिला शिक्षा पदाधिकारी, सभी अनुमंडल पदाधिकारी, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी तथा अन्य संबंधित अधिकारियों को इस आदेश का अनुपालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया है. PNCDESK

Read more

रोजगार में मदद देगी बीएसएस मोटर की पहल: शाहनवाज

बीएसएस मोटर्स’ एक सम्पूर्ण स्वदेशी ई बाइक उत्पादन करने वाली कंपनी है जो अपना उत्पादन का पहला उदघाटन बिहार से कर रही है प्रदूषणमुक्त बिहार एवं रोजगार स्थापत्य के लिए वरदान, बिहार में ‘हरित परियोजना के तहत लगेगी प्रदूषणमुक्त वाहनों की फैक्ट्री विश्व भर में ग्लोवल वार्मिंग की रफ्तार जिस तरह से बढ़ रही है वो चिंता जनक है .जिसका एक कारक है वातावरण में बढ़ते प्रदूषण के प्रभाव का स्तर जो महंगे पेट्रोल डीजल से चलने वाले वाहनों से बढ़ रहा है जिससे स्वास्थ्य और पॉकेट पर भारी असर छोड़ता है. ऐसी हालत में ई-वाहन को अपनाना बहुत जरूरी माना जा सकता है. इसी कड़ी में रविवार को पटना में उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने बिहार को प्रदूषणमुक्त मनाने के लिए और बिहारवासियों को प्रदूषण से मुक्ति और महंगे पेट्रोल से छुटकारा देने के लिए ई-बाइक की फैक्ट्री लगाने को लेकर बीएसएस मोटर कंपनी के साथ प्रेस वार्ता कर उसका स्वागत किया. पटना के होटल मौर्या में एक भव्य कार्यक्रम किया गया जिसकी शुरुआत हैदराबाद के प्रसिद्ध व्यवसायी राकेश त्रिपाठी के द्वारा की गयी. कार्यक्रम में कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि ‘बीएसएस मोटर्स’ एक सम्पूर्ण स्वदेशी ई बाइक उत्पादन करने वाली कंपनी है जो अपना उत्पादन का पहला उदघाटन बिहार से करने जा रही है और भविष्य में बिहार में एक मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाने की परिकल्पना और लाइफ टाइम बैटरी की गारंटी के साथ उतारने जा रही है. उन्होंने कहा कि पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमत को देखते हुए कंपनी ने बिहार में ह्यूज सेल की संभावनाएं

Read more

पटना स्वच्छता सर्वे 2022 का आयोजन

फीडबैक के लिए 10 से अधिक सवाल15 वर्ष से 60 वर्ष के उम्र के लोग लेंगे भागराजधानी पटना को बेहतर रैंकिंग मिले, इसके लिए नगर निगम की ओर से कई प्रयास किए गए हैं. यह प्रयास कितना सफल हुआ है, इस पर अपनी राय देने की बारी पटना के लोगों की है. एक जनवरी से 28 फरवरी तक लोग ऑनलाइन फीडबैक दे सकते हैं. वहीं, मार्च महीने में केंद्रीय टीम पटना पहुंचेगी और लोगों से मिलकर प्रत्यक्ष रूप से स्वच्छता के बारे में फीडबैक लेगी.इस बार जनता से फीडबैक लेने की प्रक्रिया में कुछ बदलाव किया गया है. उम्र के हिसाब से फीडबैक का महत्व बढ़ाया गया है. इस बार 15 वर्ष से 60 वर्ष के उम्र के लोग और 60 वर्ष से अधिक के उम्र के लोगों की राय को ज्यादा महत्व दिया जाएगा. पटना शहर में रहने वाले सीनियर सिटीजन अगर ज्यादा फीडबैक देंगे तो शहर की रैंकिंग बेहतर होने में मदद मिलेगी. फीडबैक के लिए 10 से अधिक सवाल होंगे, जिस पर लोगों को अपना फीडबैक देना है. पिछली बार बिहार में पटना में सबसे अधिक लोगों ने अपना फीडबैक दिया था. स्वच्छता सर्वे 2022 के लिए पटना के लोग अपना फीडबैक घर बैठे ही दे सकते हैं. इसके लिए छह माध्यम हैं. इनमें एक हेल्पलाइन नंबर 1969 पर कॉल कर फीडबैक दे सकते हैं. वहीं, दूसरा है स्वच्छता एप, जिस पर सवालों के जवाब दे सकते हैं. इसके अलावा वोट फॉर योर सिटी एप, मेरी सरकार पोर्टल, क्यूआर कोड आधारित फीडबैक दिया जा सकता है. इसके

Read more