रिजल्ट जांच की मांग के बीच बीपीएससी ने जारी किया मुख्य परीक्षा का शेड्यूल

बिहार लोक सेवा आयोग ने 17 नवंबर को 67वीं लोकसेवा परीक्षा का रिजल्ट जारी किया था. उसके बाद से ही इस रिजल्ट के जांच की मांग अभ्यर्थी कर रहे हैं. बिहार लोक सेवा आयोग ने 21 नवंबर से 6 दिसंबर के बीच मुख्य परीक्षा के लिए आवेदन करने का शेड्यूल पहले ही जारी कर दिया था. आज मुख्य परीक्षा का शेड्यूल भी जारी हो गया है. 67वीं प्रारंभिक परीक्षा में सफल 11607 अभ्यर्थियों को 29 दिसंबर से 31 दिसंबर तक होने वाली मुख्य परीक्षा में शामिल होना होगा. 67वीं प्रारंभिक परीक्षा में लगभग 320000 अभ्यर्थी शामिल हुए थे. पीटी परीक्षा का रिजल्ट जारी होने के बाद से ही बीपीएससी अभ्यर्थी रिजल्ट में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए जांच की मांग कर रहे हैं. अभ्यर्थियों ने पिछले दिनों बिहार लोक सेवा आयोग के गेट पर प्रदर्शन भी किया था. क्या मांग कर रहे हैं अभ्यर्थी – 67वीं बीपीएससी प्रारंभिक परीक्षा का संशोधित रिजल्ट जारी किया जाए वर्षों से पद पर जमे आयोग के परीक्षा नियंत्रक को हटाया किया जाए 67वीं पीटी परीक्षा में प्रश्न पत्र लीक की सीबीआई से जांच करायी जाए परीक्षा में इस्तेमाल ओएमआर शीट से छेड़छाड़ की जांच हो पीडीएफ फॉर्मेट में जारी रिजल्ट के साथ छेड़छाड़ की जांच हो pncb

Read more

भारत विश्व का मैन्युफैक्चरिंग पावर हाउस भी बनेगा: पीएम

पीएम मोदी ने 71 हज़ार से ज्यादा नव नियुक्त कर्मियों को नियुक्ति पत्र दिया 10 लाख कर्मियों के लिए भर्ती अभियान ‘‘रोजगार मेला” प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘रोज़गार मेला’ कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हिस्सा लिया.प्रधानमंत्री ने 71 हज़ार से ज्यादा नव नियुक्त कर्मियों को नियुक्ति पत्र वितरित किये. इस अवर पर पीएम मोदी ने कहा कि आज का ये विशाल रोज़गार मेला दिखाता है कि सरकार किस तरह सरकारी नौकरी देने के लिए मिशन मोड में काम कर रही है.पीएम मोदी ने आगे कहा कि भारत जैसे युवा देश में हमारे करोड़ों नौजवान इस राष्ट्र की सबसे बड़ी ताकत हैं. अपने युवाओं की प्रतिभा और ऊर्जा, राष्ट्र निर्माण में ज्यादा से ज्यादा उपयोग में आए, इसे केंद्र सरकार सर्वोच्च प्राथमिकता दे रही है. उन्होंने कहा कि भारत आज सर्विस निर्यात के मामले में विश्व की एक बड़ी शक्ति बन गया है। अब एक्सपर्ट भरोसा जता रहे हैं कि भारत विश्व का मैन्युफैक्चरिंग पावर हाउस भी बनेगा. प्रधानमंत्री ने युवाओं को राष्ट्र की सबसे बड़ी ताकत बताया और कहा कि युवाओं की प्रतिभा और उनकी ऊर्जा राष्ट्र निर्माण में ज्यादा से ज्यादा उपयोग में आये, इसे केंद्र सरकार सर्वोच्च प्राथमिकता देने में जुटी हुई है. यहां चर्चा कर दें कि प्रधानमंत्री ने इससे पहले अक्टूबर महीने में ‘‘रोजगार मेला” की शुरुआत की थी. पिछली बार जिन श्रेणियों में युवाओं को नियुक्ति दी गयी थी, उनके अतिरिक्त इस बार शिक्षक, व्याख्याता, नर्स, नर्सिंग अधिकारी, चिकित्सक, फार्मासिस्ट, रेडियाग्राफर और अन्य तकनीकी और पैरा मेडिकल पदों पर भी युवाओं की नियुक्ति

Read more

3.38 लाख शिक्षकों के पद खाली जल्द होगी बहाली : चंद्रशेखर

हर जिले में खुलेगा सिमुलतला जैसा आवासीय विद्यालय शिक्षा मंत्री ने कहा- सीटीइटी/एसटीइटी पास अभ्यर्थी ही नहीं राज्य में तीन-चार साल से बैठे अभ्यर्थियों को धीरज रखना चाहिए बिहार में शिक्षकों के 3.38 लाख पद खाली हैं इतने पद भरने के लिए समुचित संख्या में सीटीइटी/एसटीइटी पास अभ्यर्थी ही नहीं हैं. इन सब के बाद भी सातवें चरण का शिक्षक नियोजन जल्द शुरू होगा और इसकी तैयारी अंतिम दौर में है. यह बातें शिक्षा मंत्री प्रो चंद्रशेखर ने विकास भवन स्थित सचिवालय में संवाददाताओं से चर्चा कर रहे थे. उन्होंने कहा कि शिक्षक नियोजन की आस में तीन-चार साल से बैठे अभ्यर्थियों को धीरज रखना चाहिए. हमें उनसे सहानुभूति है. उनकी चिंताओं से सरकार सहमत है. नियोजन प्रक्रिया हर हाल में पूरी होगी. उन्होंने बताया कि शिक्षक संगठनों से हुई बातचीत में भी कुछ अहम बातें सामने आयी हैं. उनको शिक्षक नियोजन नियमावली में समाहित किया जायेगा. इससे पारदर्शी नियोजन में सहयोग मिलेगा. शिक्षा मंत्री ने कहा कि शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए प्रयास किये जा रहे हैं. सरकार हर जिले मुख्यालय स्तर पर सिमुलतला आवासीय विद्यालय के तर्ज पर एक स्कूल खोलेगी. इस संबंध में जल्दी ही कवायद शुरू होगी.

Read more

यूके हर साल तीन हजार भारतीयों को देगा वीजा

भारतीय छात्रों की वीजा को लेकर अहम फैसला मोदी से मुलाकात के बाद सुनक का फैसला ब्रिटेन के प्रधामंत्री ऋषि सुनक ने भारतीय छात्रों की वीजा को लेकर अहम फैसला लिया है. सुनक ने भारतीय युवाओं को यूके में काम करने के लिए हर साल तीन हजार वीजा देने का एलान किया है. ब्रिटिश सरकार का कहना है कि इस तरह की योजना से लाभान्वित होने वाला भारत पहला देश है. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने कहा कि आज यूके-भारत प्रोफेशनल्स स्कीम की पुष्टि की गई है. 18-30 साल तक के भारतीय डिग्री धारक युवाओं को यूके में आने और दो साल तक काम करने के लिए तीन हजार वीजा की पेशकश की गई.सुनक सरकार ने ये फैसला बाली में पीएम मोदी से मुलाकात के बाद लिया है. गौरतलब है कि पीएम मोदी जी20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए इंडोनेशिया के बाली में हैं. ब्रिटिश पीएम ऋषि सुनक ने पीएम मोदी से मुलाकात की थी. भारतीय मूल के सुनक की पीएम बनने के बाद ये मोदी से पहली मुलाकात थी. डाउनिंग स्ट्रीट ने एक बयान में कहा कि भारत के साथ इस योजना का शुभारंभ हुआ है. ये हमारे द्विपक्षीय संबंधों और हमारी दोनों अर्थव्यवस्थाओं को मजबूत करने के लिए, भारत-प्रशांत क्षेत्र के साथ मजबूत संबंध बनाने के लिए यूके की व्यापक प्रतिबद्धता दोनों के लिए एक महत्वपूर्ण क्षण है. भारत-प्रशांत क्षेत्र में किसी अन्य देश के मुकाबले यूके का भारत से ज्यादा संबंध है. यूके में सभी अंतरराष्ट्रीय छात्रों में से लगभग एक चौथाई भारत से हैं. यूके

Read more

नवनियुक्त शिक्षकों को छठ बाद मिलने लगेगा प्रमाण पत्र

इस वर्ष फरवरी से मई के बीच नियुक्त प्राथमिक शिक्षकों को छठ पर्व के बाद अपने अपने नियोजन इकाई के जरिए ओरिजिनल सर्टिफिकेट देने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. जिलों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक जिला शिक्षा पदाधिकारी के निर्देश के अनुसार प्रखंड और पंचायत नियोजन इकाई में छठे चरण के तहत चयनित शिक्षकों के ओरिजिनल सर्टिफिकेट कैंप लगाकर वापस किए जाएंगे. हाल ही में शिक्षा विभाग ने इस बाबत दिशा निर्देश जारी किया है. दरअसल, लगभग 43000 नवनियुक्त प्राथमिक शिक्षकों के शिक्षण प्रशिक्षण यानी b.ed और d.el.ed के अलावा टीईटी के ओरिजिनल सर्टिफिकेट नियोजन इकाई के पास जमा हैं. शिक्षा विभाग के निर्देश के मुताबिक सभी नवनियुक्त शिक्षकों के सर्टिफिकेट को पोर्टल पर अपलोड करना है और उसके बाद जिला शिक्षा पदाधिकारी के निर्देशानुसार कैंप लगाकर 15 नवंबर से पहले सभी शिक्षकों को उनके ओरिजिनल सर्टिफिकेट वापस करने हैं. क्या है शिक्षा विभाग का आदेश वैसे नव नियुक्त शिक्षक, जिनका वेतन भुगतान किया जा रहा है, उनका प्रशैक्षणिक प्रमाण पत्र एवं शिक्षक पात्रता परीक्षा प्रमाण पत्र को विभाग द्वारा निर्धारित पोर्टल पर अपलोड कराते हुए उसकी सत्यापित छायाप्रति अन्य सत्यापित प्रमाण पत्रों के साथ संरक्षित रखकर, मूल प्रमाण पत्र संबंधित अभ्यर्थी को जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय के स्तर से ही वापस करने की कार्रवाई की जायेगी. इस हेतु जिला शिक्षा पदाधिकारी द्वारा नियोजन इकाईवार अर्थात प्रखंड नियोजन इकाईयों एवं पंचायत नियोजन इकाईयों के लिए अलग-अलग तिथि, समय एवं स्थल निर्धारित करते हुए इसकी सूचना सभी संबंधितों को दी जायेगी. प्रमाण पत्र वापस करने की कार्रवाई कार्यदिवस एवं कार्यावधि के

Read more

ऑडिटर मुख्य परीक्षा के लिए 28 तक करें आवेदन

बिहार लोक सेवा आयोग की असिस्टेंट ऑडिट अफसर पीटी प्रतियोगिता परीक्षा में कुल 1696 कैंडिडेट्स को सफलता मिली हैं. उम्मीदवार BPSC की ऑफिशियल वेबसाइट bpsc.bih.nic.in पर जाकर परीक्षा की परिणाम देख सकते हैं और सफल अभ्यर्थी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. बिहार लोक सेवा आयोग ने 18 अक्टूबर से 28 अक्टूबर तक ऑनलाइन आवेदन करने का समय दिया है. आवेदन करने के बाद अभ्यर्थी इसमें सुधार भी कर सकते हैं. इस परीक्षा का आयोजन 20 अगस्त 2022 को 53 केंद्रों पर आयोजित किया गया था जिसमें कुल 11531 उम्मीदवार शामिल हुए थे. बता दें कि इस परीक्षा में अनारक्षित कोटि के अन्तर्गत 819, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के 19, अनुसूचित जाति के 259, अनुसूचित जनजाति के 21, अत्यंत वर्ग के 325, पिछड़ा वर्ग के 220 एवं पिछड़े वर्गों की महिला के 53 उम्मीदवार सफल घोषित हुए हैं. मुख्य परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को 28 अक्टूबर तक ऑनलाइन आवेदन करना होगा. मुख्य परीक्षा में शामिल विषयों की जानकारी ऊपर दी गई है. जो अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा में सफल होंगे उन्हें 120 अंकों के साक्षात्कार में शामिल होना होगा. pncb

Read more

JD वीमेन्स में छात्राओं ने सीखे फाइनेंशियल लिटरेसी के फायदे

फाइनेंसियल लिटरेसी और अन्य कौशल विकास के लिए जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन पटना ।। जे. डी वीमेन्स कॉलेज,पटना में मनोविज्ञान विभाग और आईसीआईसी के संयुक्त तत्वाधान में फाइनेंसियल लिटरेसी और अन्य कौशल के विकास के लिए जागरूकता कार्यक्रम चलाया गया. इस कार्यक्रम में छात्रों ने सेलिंग स्किल्स, ऑफिस अड्मिनिस्ट्रेशन स्किल्स, प्रोफेशनल स्किल्स आदि के बारे में विस्तार से जाना. कार्यक्रम में बलवंत कुमार ने फाइनेंसियल लिटरेसी प्रोग्राम के तहत सेविंग एकाउंट, करंट एकाउंट, फाइनेंस के बारे में जागरूक किया. प्रणव कुमार ने बताया कि आईसीआईसी अकादमी द्वारा कार्यक्रम के तहत इन कोशलों का तीन महीने का निःशुल्क प्रशिक्षण अकादमी द्वारा आशियाना रोड स्थित परिसर में नियमित रूप से दिया जाता है. इसकी जानकारी मीडिया प्रभारी डॉ. पूनम कुमारी ने देते हुये बताया है कि कोर्स पूरा करने के उपरांत ,प्रशिक्षण पाने वालों को बैंकिंग, फाइनेंसियल ऑटोमोबाइल के क्षेत्र में प्लेसमेंट के लिए सहयोग दिया जाता है. कार्यक्रम का संचालन मनोविज्ञान विभाग की अध्यक्षा डॉ. ब्रजवाला ने किया. इस में कॉउन्सिल मेंबर ने भी अपना सहयोग दिया. Ajeet

Read more

CDPO PT में 883 को सफलता

BPSC ने जारी किया CDPO पीटी का रिजल्ट CDPO का रिजल्ट आ गया है. BPSC ने CDPO 2021 का रिजल्ट सोमवार को देर शाम जारी कर दिया. 15 मई को हुई पीटी परीक्षा में 96840 अभ्यर्थी शामिल हुए थे जिनमें से 883 अभ्यर्थी सफल हुए हैं. इसमें अनारक्षित कोटि के अंतर्गत 336, आर्थिक रुप से कमजोर वर्ग कोटि के अंतर्गत 112, अनुसूचित जाति कोटि के अंतर्गत 158, अत्यंत पिछड़ा वर्ग कोटि के अंतर्गत 135, पिछड़ा वर्ग कोर्ट के अंतर्गत 120 और पिछड़े वर्गों की महिला कोटि के अंतर्गत 22 को सफलता मिली है. कट ऑफ पर एक नजर परीक्षा में शामिल हुए 321 उम्मीदवारों के ओएमआर उत्तर पत्रकों को रद्द कर दिया गया है. आयोग के संयुक्त सचिव सह परीक्षा नियंत्रक अमरेन्द्र कुमार ने बताया कि मेंस परीक्षा के लिए सूचना बाद में प्रकाशित की जाएगी. पीटी में पास अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा के लिए आवेदन करना होगा जिसकी सूचना https://bpsc.bih.nic.in/ पर दी जाएगी. प्रारंभिक परीक्षा में शामिल अभ्यर्थियों के अंक पत्र आयोग की वेबसाइट पर Marksheet कॉलम के अंतर्गत प्रकाशित किए जाएंगे. pncb

Read more

BPSC: 30 तक कर सकते हैं इस पद के लिए आवेदन

BPSC ने सरकारी नौकरी पाने का एक बेहतरीन अवसर दिया है. बिहार लोक सेवा आयोग की वेबसाइट पर जारी विज्ञप्ति के मुताबिक सहायक पद के लिए विज्ञापन जारी किया गया है. बीपीएससी ने कुल 44 पदों के लिए आवेदन मांगे हैं. बिहार लोक सेवा आयोग की यह नियुक्ति आयोग के कार्यालय के लिए होनेवाली है. ऑनलाइन आवेदन 7 सितंबर 2022 से 30 सितंबर 2022 तक किया जा सकता है. एडिट करने के लिए आवेदन भरने की निर्धारित अंतिम तिथि के बाद एक सप्ताह यानी 7 अक्टूबर 2022 तक का समय दिया जाएगा. आयोग ने कहा है कि उम्मीदवार नाम, जन्म तिथि, परीक्षा शुल्क आदि से संतुष्ट होने के बाद ही ऑनलाइन परीक्षा शुल्क जमा करेंगे. सामान्य कोटि अभ्यर्थियों के लिए 600 रुपए परीक्षा शुल्क है. केवल बिहार राज्य के एससी- एसटी के लिए 150 रुपए , बिहार राज्य के स्थानीय निवासी सभी (आरक्षित या अनारक्षित वर्ग) महिला उम्मीदवारों के लिए 150 रुपए, दिव्यांग अभ्यर्थियों (40 फीसदी या उससे अधिक) के लिए 150 रुपए लिए जाएंगे. शैक्षणिक योग्यता इसके लिए शैक्षणिक योग्यता किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक डिग्री चाहिए. आवेदन प्राप्ति के लिए निर्धारित अंतिम तिथि तक आवेदक को स्नातक का डिग्रीधारक होना अनिवार्य है. उम्र सीमा 1 अगस्त 2022 को न्यूनतम 21 वर्ष, अधिकतम अनारक्षित (पुरुष) 37 वर्ष, पिछड़ा वर्ग एवं अत्यंगत पिछड़ा वर्ग (पुरुष एवं महिला)- 40 वर्ष, अनारक्षित महिला- 40 वर्ष और अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति (पुरुष और महिला)- 42 वर्ष निर्धारित की गई है.  वेतन क्या मिलेगाइसके लिए वेतनमान 44900- 142400 रुपए निर्धारित है. इसकी परीक्षा

Read more

सातवें चरण की बहाली पर ये है लेटेस्ट अपडेट

बिहार में सातवें चरण के शिक्षक बहाली का इंतजार कर रहे हजारों शिक्षक अभ्यर्थियों का सब्र जवाब दे रहा है. हालांकि उन्हें फिलहाल कुछ और वक्त इंतजार करना पड़ सकता है. अब तक के अनुभव से सीख लेते हुए शिक्षा विभाग इस बार सातवें चरण में कोई कमी नहीं छोड़ना चाहता और यही वजह है कि लगातार खामियों को दूर करने की कोशिश चल रही है. पटना नाउ को शिक्षा विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक सातवें चरण की बहाली को लेकर लगातार तैयारियां चल रही हैं. इस बारे में विभिन्न विभागों से क्लीयरेंस भी लिया जा रहा है जिनमें प्रमुख तौर पर नगर विकास विभाग, पंचायती राज विभाग और कार्मिक एवं अन्य विभाग शामिल हैं. इसके बाद बहाली प्रक्रिया में हुए बदलाव को जब तक कैबिनेट का अप्रूवल नहीं मिल जाता तब तक इसके संभावित डेट के बारे में आ रही तमाम तरह की खबरों पर भरोसा नहीं किया जा सकता. कैबिनेट से अप्रूवल मिलने के बाद ही शिक्षा विभाग की तरफ से बहाली प्रक्रिया का नोटिफिकेशन जारी होगा. पटना नाउ को मिली जानकारी के मुताबिक प्राथमिक और माध्यमिक उच्च माध्यमिक विद्यालयों में एक साथ सातवें चरण की बहाली प्रक्रिया शुरू होगी. इस बारे में एक और बात महत्वपूर्ण है कि वाणिज्य विषय से होने वाले एसटीइटी परीक्षा के अभ्यर्थियों को सातवें चरण के लिए अलग से मौका मिल सकता है क्योंकि अब तक इस विषय में एसटीईटी परीक्षा का आयोजन नहीं हुआ है जबकि पटना हाई कोर्ट का इस बारे में स्पष्ट आदेश है कि शिक्षा विभाग को

Read more