भ्रष्टाचार जनित “पटना के जल जमाव” से राहत के लिए एक हेलिकॉप्टर नहीं, “मानव शृंखला” वास्ते 15 हेलिकॉप्टर

पटना (ब्युरो रिपोर्ट) | बिहार सरकार द्वारा किए जा रहे मानव शृंखला के विरोध में आरजेडी ने मुखर विरोध किया है. जहां सदन में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने इसे गरीब राज्य के पैसे को पानी की तरह बहाना कहा है तो वहीं राबड़ी देवी ने कहा कि इससे कुछ हासिल होने वाला नहीं है. आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने भी इस पर हमला बोला. तेजस्वी ने अपने ट्वीट में लिखा कि “याद किजीए विगत वर्ष दो बार बिहार में आयी बाढ़ और भ्रष्टाचार जनित पटना के जल जमाव को. लोग त्राहिमाम कर रहे थे. राहत के लिए एक हेलिकॉप्टर तक नीतीश सरकार के पास नहीं था लेकिन करोड़ों रुपए वाली सरकारी फ़ेयर एंड लवली से सामाजिक और राजनीतिक भ्रष्टाचार के भीष्म पितामह के दाग़दार चेहरे पर हाई-रेज़लूशन फ़िल्टर लगाकर फ़ेस चमकाने वास्ते 15 हेलिकॉप्टरों में मुंबई से फ़ोटोग्राफ़र बुलाए जा रहे है.सिपाही परीक्षा रद्द की गयी, युवाओं को रोज़गार नहीं, शिक्षकों को वेतन नहीं, नियोजित कर्मियों को उचित मानदेय नहीं लेकिन मानव शृंखला की नौटंकी पर ग़रीब राज्य का पैसा पानी की तरह बहाया जा रहा है. वहीं राबड़ी देवी ने ट्वीट किया – “CM नीतीश जी ने शराबबंदी पर श्रृंखला की थी हमने समर्थन भी किया था. लेकिन क्या उससे शराब बंद हुई? नहीं ना?‬बाल विवाह और दहेज पर भी करोड़ों खर्च कर मानव शृंखला बनाई? क्या हुआ? अब सीएम ने इनका ज़िक्र करना भी छोड़ दिया है. अब एक और श्रृंखला की नौटंकी? क्यों ग़रीबों का हक़ खा रहे है?‬” आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने

Read more

मानव श्रृंखला में युवा जदयू के बूथ स्तर तक के कार्यकर्ता दमखम के साथ होंगे खड़े – कुशवाहा

पटना (ब्युरो रिपोर्ट)| युवा जनता दल यू के द्वारा पार्टी कार्यालय में शुक्रवार को एक संवाददाता सम्मेलन आयोजित किया गया. इस संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए युवा जदयू के प्रदेश अध्यक्ष एवं टेकारी के विधायक अभय कुशवाहा ने कहा कि युवा जनता दल यू सांगठनिक स्तर पर जहां बूथ तक अपनी उपस्थिति पूरी दमखम से दर्शा रही है, वही मुख्यमंत्री के स्वप्नदर्शी सोच जल-जीवन- हरियाली अभियान के मकसद को पूरी निष्ठा के साथ न केवल जन-जन तक पहुंचाने का कार्य कर रही है बल्कि 19 जनवरी को आयोजित होने वाले मानव श्रृंखला में युवा जदयू के बूथ स्तर तक के कार्यकर्ता दमखम के साथ खड़े होंगे. उन्होंने कहा कि जदयू विगत चंद महीनों में सांगठनिक स्तर पर जिस तरह से कार्य किया है उसके लिए नवगठित कमेटी के तमाम साथी बधाई के पात्र हैं. पार्टी द्वारा आयोजित विधानसभा स्तर के सम्मेलन हो या फिर वृक्षारोपण का अभियान हो, युवा जदयू के समस्त साथियों ने निश्चित समय सीमा के अंदर हर कार्यक्रम में उत्साह एवं जोश के साथ हिस्सा लिया है.संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कुशवाहा ने कहा कि माननीय राज्यसभा सांसद सह संगठन प्रभारी रामचंद्र प्रसाद सिंह के निर्देशानुसार युवा जदयू बूथ स्तर तक अपने संगठन को और धारदार बनाने के लिए संकल्पित है ताकि विपक्ष के द्वारा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में किए जा रहे विकास कार्यों के खिलाफ भ्रमात्मक दुष्प्रचार को नाकाम किया जा सके. उन्होंने जोर देकर कहा कि पिछली मानव श्रृंखला के मुकाबले इस बार का मानव श्रृंखला और बड़ा इतिहास रचेगा. मानव

Read more

कुम्हरार विधानसभा के पूर्व निर्दलीय प्रत्याशी शत्रुघ्न प्रसाद ने जदयू की सदस्यता ग्रहण की

पटना (ब्युरो रिपोर्ट) | मंगलवार दिनांक 14/01/2020 को कंकड़बाग पोस्टल पार्क निवासी समाजसेवी व कुम्हरार विधान सभा के पूर्व निर्दलीय प्रत्याशी शत्रुघ्न प्रसाद व उनके सैकड़ों समर्थकों को जनता दल (यू०)की सदस्यता दिलाई गई. जद (यू०) समाज सुधार सेनानी के प्रदेश अध्यक्ष जितेंद्र नीरज ,प्रवक्ता राजीव रंजन सहित कई प्रदेश नेताओ ने पोस्टल पार्क स्थित शुत्रुघ्न प्रसाद के आवास पर आयोजित सदस्यता कार्यक्रम में शामिल होकर जद (यू०) की सदस्यता दिलाई. इस अवसर पर जितेंद्र नीरज ने कहा कि शत्रुघ्न प्रसाद के आने से पार्टी और मजबूत होगी. जद (यू०) समाज सुधार सेनानी के प्रकोष्ठ प्रवक्ता राजीव रंजन ने शत्रुघ्न प्रसाद का स्वागत किया और कहा की शत्रुघ्न प्रसाद व उनके समर्थक पहले भी सामाजिक कार्यक्रमों में सक्रिय थे और आगे भी रहेंगे. इस अवसर पर शत्रुघ्न प्रसाद ने माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार में आस्था जताते हुए तन- मन -धन से पार्टी की सेवा करने का संकल्प लिया. इस अवसर पर मकर संक्रांति के उपलक्ष्य में दही- चुरा का भी कार्यक्रम आयोजित किया गया. उक्त कार्यक्रम का संचालन में मोहम्मद शकील यूवा जद (यू०) के संग़ठन सचिव सह किशनगंज प्रभारी ने किया. आयोजित कार्यक्रम में मुख्य रूप से टीम सेननी के उपाध्यक्ष अमित सिंह, अजित सिंह, संजय कुमार,शशि क्षत्रिय, प्रो0 बी० के० सिंह ,पीयूष पांडेय ,वरिष्ठ समाज सेवी राजन सिन्हा, प्रमोद कुमार ,राजीव पटेल ,कृष्णा वर्मा ,अपूर्व, अमन , मनोज सिन्हा, संजय वर्मा, मनीष यादव ,पवन कुमार, शम्भू कुमार सिंह सहित कई नेता उपस्थित थे. JDU सदस्यता अभियान में धीरज चौरसिया, शशि रंजन ,परमानंद प्रसाद ,राजेश कुमार ,सुबोध कुमार, शर्वानन्द

Read more

सीएए और एनआरसी पर जदयू में दो फाड़ की स्थिति

पटना (ब्युरो रिपोर्ट) | बिहार में नागरिकता कानून यानी सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर जनता दल (यू) में दो गुटों जैसी स्थिति बन गई है. JDU के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर (पीके) एक ओर जहां सीएए और एनआरसी का विरोध कर रहे हैं, वहीं इसी पार्टी के दूसरे नेता सीएए के पक्ष में हैं.ज्ञातव्य है, रविवार को प्रशांत किशोर ने ट्वीट कर कहा था कि बिहार में सीएए और एनआरसी लागू नहीं होगा. जबकि जदयू के महासचिव आरसीपी सिंह ने इसके उलट कहा कि लोगों को सीएए और एनआरसी से डरने की जरूरत नहीं है. सिंह से कहा कि सीएए को लेकर देश में कुछ लोग भ्रम फैला रहे हैं. उन्होंने बताया कि सीएए कानून नागरिकता देने वाला है, न की किसी का अधिकार छीनने वाला. आरसीपी सिंह ने एनआरसी पर यह भी कहा कि जो अभी अस्तित्व में आया ही नहीं उसका विरोध कैसे हो रहा है, ये समझ से परे है.

Read more

मानव श्रृंखला को लेकर सरकार और शिक्षक आमने-सामने

19 जनवरी को बिहार में बनने वाली मानव श्रृंखला को लेकर सरकार की मुसीबत बढ़ सकती है. शिक्षकों ने मानव श्रृंखला के खिलाफ पटना हाई कोर्ट में पीआईएल दायर किया है. मानव श्रृंखला के अवसर पर रविवार (19-01-2020) को सूबे के सभी विद्यालयों को खोलकर शिक्षक और छात्रों को उपस्थित रहने का आदेश देने वाले अपर मुख्य सचिव आर के महाजन के पत्रांक 42 दिनांक 06-01-2020 के खिलाफ शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष आनंद कौशल सिंह ने हाई कोर्ट में अपने जनहित याचिका दायर कर दिया है. आनंद कौशल सिंह ने साफ कर दिया है कि बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के द्वारा सरकार को सौंपे गए मांग-पत्र में अंकित समान वेतनमान सहित सभी मांगों को 15-01-2020 तक नहीं पूरा किया गया तो मानव श्रृंखला का बहिष्कार हर हाल में करेंगे और फरवरी 2020 से सम्पूर्ण हड़ताल प्रारंभ करने के लिए भी लाखों शिक्षक तैयार हैं. आनंद कौशल ने कहा है कि मानव श्रृंखला के खिलाफ जनहित याचिका दायर हुई है और मानव श्रृंखला के बहिष्कार का ऐलान किया गया है तो कुछ लोगों से सूचना मिल रही है कि सरकार वार्ता करना चाहती है तो नीतीश सरकार सबसे पहले बिना शर्त नवप्रशिक्षित शिक्षक के वेतनमान निर्धारण वाले त्रुटिपूर्ण पत्र में संशोधन करे और 05 सितंबर के हड़ताल अवधि का सामंजन करे. तभी समझा जा सकता है कि सरकार समान वेतनमान, राज्य कर्मी का दर्जा आदि जैसे मांगो पर वार्ता करने के लिए सच में तैयार है. उन्होंने कहा कि 8-01-2020 को जनहित याचिका दायर होते ही टोकन नम्बर

Read more

लुभाते मशाल और रंगोली…अब बनेगी डॉक्यूमेंट्री भी..

मानव श्रृंखला के लिए आकर्षिक करते मशाल और रंगोली, बनेगी डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म भी जिले की गतिविधियों को कैप्चर करेगी डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म की 10 टीमें कहीं जुलूस तो कहीं रंगोली के सहारे फैलाई जा रही है जागरूकता आरा, 8 जनवरी. आजकल प्रखंडो और गांव में मशाल और रंगोली अपना जलवा बिखेर रहे हैं. अब आप यह सोच रहे होंगे कि मशाल से कौन सा जलवा? तो बता दें कि इस ठिठुरती ठंड में मशाल की आग 19 जनवरी को बनने वाले मानव श्रृंखला के लिए लोगो को अपनी ओर आकर्षिक कर रही है. वही महिलाएं सुंदर रंगोली से मानव श्रृंखला के जागरूक तो कर ही रही हैं जल-जीवन और हरियाली का सन्देश भी दे रही हैं.मानव श्रृंखला को ले जिलाधिकारी भोजपुर के नेतृत्व में लगातार बैठकों का दौर चालू है. बेहतर श्रृंखला के साथ लोगो को मानसिक तौर पर जोड़ने के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे है. इसी क्रम में आज पटना की टीम ने भोजपुर का दौरा किया तथा जिलाधिकारी से भेंट कर संपूर्ण गतिविधियों की जानकारी प्राप्त की. सूचना एवं जनसंपर्क विभाग,पटना द्वारा सूचीबद्ध एजेंसी इनफोकस एडवरटाइजर, मानव श्रृंखला की संपूर्ण गतिविधियों पर आधारित इस डॉक्यूमेंट्री फिल्म बनाएगी. उन्होंने बतलाया कि ड्रोन कैमरा से श्रृंखला निर्माण का फोटो कैप्चर किया जाएगा तथा श्रृंखला निर्माण के महत्वपूर्ण रूटलाइन पर 10 टीमों के द्वारा गतिविधियों की शूटिंग की जाएगी. इस दौरान जिला की महत्वपूर्ण जागरूकता कार्यक्रमों को कैमरे में कैद किया जाएगा तथा उसे फिल्म में जगह दी जाएगी. इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक एवं अन्य गणमान्य व्यक्तियों का साक्षात्कार

Read more

जनगणना को जातिगत बनाने पर लालू का फिर से जोर

रांची (ब्युरो रिपोर्ट) | पर देशभर में NRC – NPR पर जारी बहस के बीच बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने शनिवार को ट्वीट कर इसे जातिगत जनगणना बनाने पर फिर से जोर दिया। राजद नेता लालू प्रसाद ने कहा कि जातिगत जनगणना में आखिर केंद्र सरकार को क्या दिक्कत है? लालू ने अपने ट्वीट में ये लिखा है –“कथित NPR, NRC और 2021 की भारतीय जनगणना पर लाखों करोड़ खर्च होंगे। सुना है NPR में अनेकों अलग-2 कॉलम जोड़ रहे है लेकिन इसमें जातिगत जनगणना का एक कॉलम और जोड़ने में क्या दिक्कत है?‬ ‪क्या 5000 से अधिक जातियों वाले 60% अनगिनत पिछड़े-अतिपिछड़े हिंदू नहीं है जो आप उनकी गणना नहीं चाहते?‬ अगर पिछड़ों-अतिपिछड़ों की जातीय जनगणना नहीं होगी तो उन वर्गों के शैक्षणिक, आर्थिक और सामाजिक उत्थान एवं कल्याण के लिए योजनाएँ कैसे बनेगी? बजट का प्रावधान कैसे होगा?आप जनगणना में कुत्ता-बिल्ली, हाथी-घोड़ा, सुअर-चीता सब गिनते है। सभी धर्मों के लोगों को गिनते है लेकिन पिछड़े-अतिपिछड़े हिंदुओं को नहीं गिनते? क्यों? क्योंकि पिछड़े-अतिपिछड़े हिंदू संख्याबल में सबसे ज़्यादा है। उन्हें डर है कि अगर पिछड़े हिंदुओं की आबादी के सही आँकड़े आ गए तो लोग उन आँकड़ों के आधार पर जागरुक होकर अपना हक़ माँगने लगेंगे। बहुसंख्यक हिंदुओं को पता लग जाएगा कि आरएसएस का नागपुरिया गैंग उन बहुसंख्यक हिंदुओं के सभी हक़-अधिकारों का हनन कर पिछड़े हिंदुओं का सारा हिस्सा खा रहा है। साथियों, मुस्लिम तो बहाना है, दलित-पिछड़ा असल निशाना है। हमने तत्कालीन मनमोहन सरकार से 2010 में जातीय जनगणना को

Read more

मुख्यमंत्री ने भेड़री में बाँटा 26 करोड़ 52 लाख का चेक

आरा,28 दिसम्बर. जल-जीवन-हरियाली कार्यक्रम के तहत शुक्रवार को गड़हनी के भेड़री गांव में लाव लश्कर के साथ पहुँचे सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार. जहाँ उन्होंने कृषि के लिए प्राकृतिक तरीको के साथ जीर्णोद्धार किये गए तालाबों का भी अवलोकन किया. इस दौरान स्थल पर ही जीविका द्वारा विभिन्न स्टॉलों के माध्यम से ग्रामीण बाजार व ग्राहक सेवा केंद्र, सतत जीविकोपार्जन योजना, सोलर लैंप एवं कृषि योजना की प्रदर्शनी प्रदर्शित की गई. हालांकि इस दौरान मुख्यमंत्री से मिलने के सपने लेकर आये ग्रामीणों के साथ दिव्यांग लड़की को भी मायूस होकर लौटना पड़ा. लेकिन मुख्यमंत्री ने जीरो बजट कृषि क्रियाकलापों के इस प्रदर्शनी का खुद से अवलोकन किया और 975 सहायता समूहों में 25 करोड़ राशि का चेक बांटा. वही 445 सतत जीविकोपार्जन के लाभार्थियों को एक करोड़ 52 लाख रुपए का चेक वितरण किया. जीविका और कृषि विभाग के समन्वय के साथ चार संकुल स्तरीय संघो को कृषि बैंक यंत्र दिए गये. इस दौरान ग्रामीण विकास विभाग के प्रधान सचिव एवं अन्य विभाग के सचिवों ने भी स्टॉल का भ्रमण किया. प्रधान सचिव अरविंद कुमार चौधरी ने जीविका दीदी एवं जिला परियोजना प्रबंधक संजय पासवान ने ग्रामीण योजना एवं सतत जीविकोपार्जन योजना के बारे में जानकारी ली और जीविका द्वारा किये जा रहे कार्यो की सराहना की. आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट

Read more

जनता के नहीं, अफसरों के मुख्यमंत्री हैं नीतीश कुमार

लोगो मे मायूसी, मुख्यमंत्री से नही मिल पाए ग्रामीण प्रशासन ने CM तक आम जनता को पहुँचने ही नही दिया गड़हनी. अपने सुशासन के लिए जनता के बीच चर्चित मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जब जनता की आवाज ही नही सुन पाए तो इसे क्या माना जाए? क्या जनता के बीच खुद नही गए या किसी ने गुमराह किया? जनता के लिए दरबार लगाने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जनता के बीच कैसे चूक गए कि मुख्यमंत्री को तीन बार से सत्ता में लाकर अपनी आँखों पर बसाने वाले मुख्यमंत्री को जनता ने यह कह किया कि नीतीश कुमार अब जनता के नही अफसरों के मुख्यमंत्री हो गये हैं. क्योंकि अफसरशाही इस कदर है कि क्या कहा जाए. जनता अपने कामों के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट परेशान है और सरकारी अफसरों और बाबुओं का ये हाल है कि न तो पेंशन की राशि का कोई भुगतान कर रहा है और न ही आवास और अन्य योजनाओं की कोई सुध लेने को तैयार है. दरअसल हम बात कर रहे है भोजपुर दौरे पर आए मुख्यमंत्री की. मुख्यमंत्री कार्यक्रम को ले जहाँ भेडरी वासियो समेत आसपास के सभी लोगो के मन मे उत्सुकता थी कि मुख्यमंत्री से अपनी बात रखूंगा या मिल कर अफसरशाही के शिकायत करूँगा. वही इस उत्सुकता पर जिला प्रसाशन ने पानी फेर डाला. मुख्यमंत्री के हेलीकॉप्टर उड़ जाने के बाद आम लोगो को आने की अनुमति दी गई. मुख्यमंत्री से मिलने आई भेडरी निवासी नीलम कुँवर,लखपतो कुँवर,सिमा देवी,मिना देवी बताती हैं कि पेंशन के लिए रोजाना प्रखण्ड कर्यालय व

Read more

CM ने भी नहीं सुनी लाचार बिटिया की शिकायत, 8 किमी दूर से आयी थी दिव्यांग

पेंशन की शिकायत लेकर बड़े बैनर के साथ पहुंची विकलांग बच्ची की CM ने नही सुनी शिकायत DM ने कहा फ़ोन से सूचना दिया जयेगा फिर आना गड़हनी. मुख्यमंत्री आगमन को सुन कई वर्षों से पेंशन की ताक में आस लगाई बच्ची कल भेडरी के मैदान में पहुंच गईं हालांकि मुख्यमंत्री की नजर उस बच्ची पर गई तो उन्होंने कहा कि डीएम साहब समझ लेंगे. बता दें कि गड़हनी शांति नगर निवासी अक्षय लाल साह के 12 वर्षीय पुत्री अन्नी कुमारी के पिता बचपन से प्रयासरत हैं कि बच्ची को विकलांगता का पेंशन मिले लेकिन जब बच्ची 4 वर्ष की हुई तो उसे विकलांगता का सर्टिफिकेट मिला. सारी प्रक्रिया से गुजरने पर वर्ष 2016-17 में पेंशन की भी स्वीकृति मिल गई लेकिन आज तक उसे कोई सरकारी लाभ नसीब नही हुआ. पिता ने सोचा कि महज 6-7 किलोमीटर की दूरी पर मुख्यमंत्री आ रहे हैं ये मौका अच्छा हैं अफ़सरशाही का शिकायत करने का. उन्होंने बड़े बैनर दो-चार नारे के साथ बनवाया और कार्यक्रम स्थल पर पहुंच गए. वहां पहुंचते ही लोगो की हुजूम देखने के लिए उमड़ पड़ा. लोगो मे चर्चा का विषय बन गया,वही मुख्यमंत्री के जाने के बाद पिता अक्षयलाल डीएम रौशन कुशवाहा से मिल इसकी शिकायत की तो डीएम ने बोला कि कल आपको फोन कर बुलाया जाएगा और जो उचित लाभ होगा दिलवाया जाएगा. गड़हनी से मुरली मनोहर जोशी की रिपोर्ट

Read more