उपेन्द्र कुशवाहा का अगला कदम क्या – एक आकलन

मांग नहीं मानी गई तो कुशवाहा ने आरोप लगाकर एनडीए छोड़ा महागठबंधन को मजबूत करेंगे या खुद कमजोर होंगे , पार्टी में फूट की सम्भावना से यह सवाल मौजूं  पटना (वरिष्ठ पत्रकार अनुभव सिन्हा की कलम से) | राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन से रिश्ता तोड़ लिया. रिश्ता तोड़ने का पहला कारण अपमानित किया जाना बताया और यह भी जोड़ा कि उन्हें काम नहीं करने दिया जा रहा था. उन्होंने बिहार की आवाज को सदन के माध्यम से उठाने की हर सम्भव कोशिश की, बिहार में शिक्षा की स्थिति में सुधार करने की चेष्टा की लेकिन बिहार सरकार ने उनके साथ कदमताल करने के बजाय उनकी पार्टी को ही कमजोर करने की साजिश कर डाली. एनडीए से अलग होने का उन्होंने ऐसे कारण गिनाए. लेकिन विश्वस्त सूत्रों के अनुसार कुशवाहा ने यह निर्णय अपने लिए सीटों की संख्या न बढ़ाए जाने के कारण खीज कर लिया है. अपनी बात कहने के बाद मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए दिल्ली में उन्होंने यह खुलासा किया कि अब इसकी चर्चा वह पार्टी में करेंगे और जो सर्वानुमति बनेगी, उसी आधार पर निर्णय लिया जायेगा. अपने तीन आॅप्शन बताते हुए उन्होंने यह कहकर कि शरद यादव की पार्टी अभी इममैच्योर है , इशारा कर दिया कि वह तीसरा फ्रंट बनाने के मूड में नहीं हैं. लेकिन यदि महागठबंधन में शामिल हुए तो किसी के करीब रहेंगे या रालोसपा के स्वतंत्र अस्तित्व के साथ जायेंगे यह अभी तय नहीं हुआ है परंतु सोमवार की शाम होने वाले

Read more

बुनियादी शिक्षा और नारी शिक्षा आज की जरूरत – कृष्ण नंदन प्रसाद वर्मा

पटना / जहानाबाद (ब्यूरो रिपोर्ट) | शिक्षा, विधि और समाज कल्याण मंत्री कृष्ण नंदन प्रसाद वर्मा ने बृहस्पतिवार 6 दिसंबर को अपने विधानसभा क्षेत्र घोसी के दो स्थानों पर दो बड़ी योजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन किया. मंत्री ने मोदनगंज प्रखंड के बंधु गंज बाजार स्थित देवनंदन प्लस टू उच्च विद्यालय में शिक्षा विभाग के अंतर्गत बिहार शैक्षणिक आधारभूत संरचना निगम द्वारा स्वीकृत प्लस टू विद्यालय भवन का आधारशिला रखी. इस भवन में क्लासरूम, ऑफिस, शौचालय, वाचनालय के साथ अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध होगी. साथ ही मंत्री द्वारा घोसी प्रखंड के सैदपुर गांव के समीप घोसी हुलासगंज मार्ग पर बृहत यात्री सेठ का उद्घाटन भी किया गया. इन दोनों स्थानों पर आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए शिक्षा मंत्री ने शिक्षा पर जोर देते हुए कहा कि बुनियादी शिक्षा और नारी शिक्षा आज की जरूरत बन गई है जिस पर सरकार काफी गंभीरता पूर्वक काम कर रही है. उन्होंने कहा कि नारी शिक्षा के लिए सरकार कई कार्यक्रम चला रही है जिसमें मुख्यमंत्री छात्रवृति योजना, मुख्यमंत्री बालिका पोशाक योजना एवं मुख्यमंत्री साइकिल योजना ने नारी शिक्षा के क्षेत्र में क्रांति लाया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में शराबबंदी जैसे अद्भुत पहल और निर्णय की भी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चर्चा और प्रशंसा हो रही है. शराबबंदी से सर्वाधिक लाभ महिलाओं और बेटियों को ही मिल रहा है. उन्होंने बुनियादी शिक्षा पर जोर देते हुए इसे और विकसित करने पर बल दिया और कहा कि शीघ्र ही बिहार के 21 बुनियादी विद्यालय जो गांधी जी के सपनों को दर्शाता है, उसका

Read more

बाबरी विध्वंस की 26 वर्षगांठ पर भगवा मार्च | यूनाइटेड हिन्दू फ्रंट ने विजय दिवस मनाया

दिल्ली / जंतर मंतर (आशुतोष श्रीवास्तव की रिपोर्ट) | जैसा कि ज्ञातव्य है कि 6 दिसंबर 1992 को ही बाबरी मस्जिद विध्वंस हुआ था, जिसकी जिम्मेदारी सर्वप्रथम जय भगवान गोयल ने ली थी. बृहस्पतिवार को 6 दिसंबर 2018 को जय भगवान गोयल ने मोदी सरकार से आग्रह किया कि अयोध्या में राम मंदिर बनाओ नहीं तो जिस तरह मस्जिद गिराया था, उसी तरह मंदिर भी बनाएंगे. उन्होंने कहा, अयोध्या आंदोलन ने बीजेपी के कई नेताओं को देश की राजनीति में एक पहचान दी, लेकिन राम मंदिर के लिए सबसे बड़ी कुर्बानी पार्टी नेता कल्याण सिंह ने दी. वे बीजेपी के इकलौते नेता थे, जिन्होंने 6 दिसंबर 1992 में अयोध्या में बाबरी विध्वंस के बाद अपनी सत्ता को बलि चढ़ा दिया था. राम मंदिर के लिए सत्ता ही नहीं गंवाई, बल्कि इस मामले में सजा पाने वाले वे एकमात्र शख्स हैं. गोयल के अनुसार मोदी सरकार भी मंदिर बनाने के लिए आयी थी लेकिन अभी तक उनकी तरफ से कोई सुगबुगाहट नही दिखाई दी हैं.         देखिये क्या बोला जय भगवान गोयल ने

Read more

चौथी औद्योगिक क्रांति से प्राप्त अवसरों व चुनौतियों का रखना होगा ध्यान – पोद्दार

चौथी औद्योगिक क्रांति से प्राप्त अवसरों व चुनौतियों का रखना होगा ध्यान : महेश पोद्दार पोद्दार ने चौथी आद्योगिक क्रांति विषयक समूह चर्चा का विषय प्रवेश कराया ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज प्लस डायलॉग में भाजपा के प्रतिनिधि हैं पोद्दार रांची (ब्यूरो रिपोर्ट) |  झारखण्ड से राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार ने कहा है कि चौथी आद्योगिक क्रान्ति का समुचित लाभ लेने के लिए सरकारों को यथासंभव भविष्य की समझ विकसित करने की आवश्यकता है. उन्हें पता होना चाहिए कि यह महत्वपूर्ण तकनीकी परिवर्तन उन्हें कौन से अवसर उपलब्ध करा रहा है और इसकी चुनौतियां क्या है. पोद्दार दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया में आयोजित ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज डायलॉग के तहत ग्रुप डिस्कसन कार्यक्रम में चौथी औद्योगिक क्रांति पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे. पोद्दार दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया में आयोजित ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज प्लस डायलॉग में भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधि के रूप में शामिल हैं. ग्रुप डिस्कसन का विषय प्रवेश कराते हुए पोद्दार ने कहा कि चौथी औद्योगिक क्रांति की वजह से होनेवाले तकनीकी परिवर्तन का लाभ उठाने के लिए सभी देशों को मजबूत बुनियादी ढांचे की आवश्यकता है. उन्हें भविष्य में सरकार की भूमिका, नागरिकों,कंपनियों और अन्य संगठनों के बीच संबंधों के परिवर्तन के संभावित प्रभाव की समझ विकसित करनी होगी. सरकारों को श्रम बाजार में अस्थिरता और धन वितरण में असमानता का ध्यान भी रखना होगा तथा सामाजिक एकजुटता बनाए रखने की आवश्यकता है. यह ध्यान भी रखना होगा कि प्रौद्योगिकी हमारे जीवन को कैसे प्रभावित कर रही है. साथ ही, आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक वातावरण के बारे में एक व्यापक

Read more

विकास के पारंपरिक चरणों से छलांग लगाते हुए विकसित देशों की श्रेणी की ओर तेजी से बढ़ रहा है भारत

सामूहिक प्रगति के लिए वरदान हो सकती है चौथी औद्योगिक क्रांति : महेश पोद्दार दक्षिण अफ्रीका में ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज प्लस डायलॉग को किया संबोधित तकनीक आधारित ‘सबका साथ – सबका विकास’ है पीएम मोदी का मन्त्र : महेश पोद्दार रांची (ब्यूरो रिपोर्ट) | झारखण्ड से राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार ने कहा कि चौथी औद्योगिक क्रांति भारत के लिए ढेर सारी संभावनाएं लेकर आई है. प्रधानमंत्री मोदी ने भी कहा है कि चौथी औद्योगिक क्रांति से प्राप्त तकनीक का लाभ लेकर गरीबी कम करने, किसानों के जीवन में सुधार लाने और दिव्यांगों के जीवन को आसान बनाने में सफलता पायी जा सकती है. पोद्दार दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया में आयोजित ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज प्लस डायलॉग को भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधि के रूप में संबोधित कर रहे थे. ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज प्लस डायलॉग के वर्तमान संस्करण का विषय ‘चौथी औद्योगिक क्रांति’है. अपने संबोधन में पोद्दार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में संचालित मेक इन इंडिया अभियान और इसमें हो रहे आधुनिकतम तकनीक के कुशलतापूर्वक प्रयोग का जिक्र किया. उन्होंने बताया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस महत्वकांक्षी अभियान के माध्यम से वर्ष 2022 तक 100 मिलियन अतिरिक्त रोजगार सृजित करने का लक्ष्य निर्धारित किया है. पोद्दार ने दक्षिण अफ्रीका में महात्मा गांधी द्वारा नागरिक अधिकारों की रक्षा के लिए किये गए अहिंसक सत्याग्रह का विशेष तौर पर जिक्र किया और इसके माध्यम से भारत और दक्षिण अफ्रीका के मजबूत संबंधों का महत्व निरुपित किया. उन्होंने बताया कि विविधता में एकता भारत की सबसे बड़ी शक्ति है और मानवता हमारे लिए सबसे बड़ी

Read more

युवाओं को बनो उद्यमी अभियान के तहत किया गया प्रशिक्षित

मोहनिया / कैमूर। शहर के स्टुवरगंज बाजार में शहर के युवाओं को बिहार सरकार के उद्योग विभाग के महाप्रबंधक नागेंद्र शर्मा की ओर से “बनो उद्यमी अभियान” के तहत प्रशिक्षित किया गया. प्रशिक्षण में उन्हें स्वरोजगार हेतु पीएमईजीपी के तहत लघु उद्योगों की स्थापना कर अपनी आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ करने पर बल दिया गया. इसके तहत योजनाओं की रूपरेखा तैयार कर शहरी क्षेत्रों में स्थानीय बैंकों की मदद से रोजगार सृजन के क्षेत्र में सहभागिता की जानकारी दी गई. यह भी बताया गया कि इसके तहत सरकार द्वारा परियोजनाओं पर 15% से लेकर 35% तक की वित्तीय सहायता दी जाएगी. इसके अलावा बिहार स्टार्टअप नीति 2017 के तहत 10 वर्षों के लिए 10 लाख रुपए की ब्याज मुक्त ऋण की वित्तीय सहायता भी देने की जानकारी दी गई. प्रशिक्षण में इसलाहे मोआसरा समाज सेवी कमेटी के अध्यक्ष इलियास अंसारी,माशूक खां, रामविलास पासवान मीर नसीमुद्दीन,शाहरुख नवाज मीर इमरान, इरफान शेख,गुड्डू कुमार,सैफुद्दीन हाजी मुजिब,मिरर अराजू,अलाउ सुलेमानी सुग्रीव मुखिया सहित अनगिनत लोग मौजूद रहे.

Read more

कुशवाहा है गरीबों के असली मसीहा – इंद्रजीत

मोहनिया / कैमूर। राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के दलित एवं महादलित प्रकोष्ठ के प्रदेश उपाध्यक्ष इंद्रजीत राम ने कहा की उपेंद्र कुशवाहा असली में गरीबों का मसीहा हैं. उन्होंने कभी भी सत्ता का मोह नहीं किया और सिर्फ जनता की भलाई के बारे में ही सोचा है. संवैधानिक पद पर रहते हुए भी उन्होंने बिहार के अति पिछड़े तबकों के स्कूलों के बच्चों के उज्जवल भविष्य एवं विद्यालय के पुनर्निर्माण केतु भिक्षाटन द्वारा राशि एकत्रित कर बच्चों का भविष्य सुरक्षित बनाया था. वर्तमान परिवेश में जिस तरह से सभी दलों के नेताओं में जनता के मूल समस्याओं को दरकिनार कर उल्टी-सीधी बयानबाजी हो रही है, उसमें उपेंद्र कुशवाहा का कहीं नाम नहीं है. वह शुरू से ही सिर्फ जनता के लिए ही काम करते आ रहे हैं. आने वाले समय में वह गरीबों के मसीहा बन उनकी मूलभूत समस्याओं के लिए जमीनी स्तर से संघर्ष कर उन्हें न्याय दिलाते रहेंगे.  इंद्रजीत ने आगे कहा कि गरीबों एवं मजलुमों की आवाज बन चुके उपेंद्र कुशवाहा पर जिस तरह कई पार्टियों के नेता व्यंग्य बाण कस रहे हैं जनता सब देख रही है आने वाले चुनावों में इसका माकूल जवाब भी जनता के पास ही होगा.

Read more

ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज प्लस डायलॉग में शामिल होंगे राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार

सांसद महेश पोद्दार दक्षिण अफ्रीका में, ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज डायलॉग में देंगे वक्तव्य, झारखण्ड के लिए गौरव का विषय, पोद्दार भाजपा के पहले व एकमात्र प्रतिनिधि रांची (ब्यूरो रिपोर्ट) | झारखण्ड से राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया में आयोजित ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज प्लस डायलॉग में शामिल होंगे. पोद्दार दक्षिण अफ्रीका पहुंच चुके हैं जहां वे 4 से 6 दिसंबर तक अफ्रीकन नेशनल कांग्रेस द्वारा आयोजित इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम में सहभागिता करेंगे और अपने विचार रखेंगे. दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया शहर में आयोजित ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज प्लस डायलॉग के वर्तमान संस्करण का विषय ‘चौथी औद्योगिक क्रांति’है. दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया में आयोजित ब्रिक्स पोलिटिकल पार्टीज प्लस डायलॉग का वर्तमान संस्करण कई मायने में महत्वपूर्ण है. यह पहला अवसर है जब अफ्रीकन नेशनल कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी को आमंत्रित किया है. इस कार्यक्रम में पोद्दार की सहभागिता झारखण्ड के लिए भी गौरव का विषय है क्योंकि भाजपा का इस कार्यक्रम में प्रतिनिधित्व करनेवाले वे पहले और अकेले वक्ता हैं. दक्षिण अफ्रीका इस वर्ष ब्रिक्स देशों की राजनीतिक पार्टयों के एक विमर्श की मेजबानी कर रहा है जिसमें ब्रिक्स देशों के 200 से ज्यादा राजनीतिक दलों के नेता व प्रतिनिधि शामिल हो रहे हैं. ब्रिक्स दुनिया की पांच उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं का एक समूह है जिसके सदस्य ब्राजील,रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका हैं. भारत के गोवा में हुए ब्रिक्स सम्मलेन में यह निर्णय लिया गया था कि 2018 से ब्रिक्स सम्मलेन की मेजबानी करनेवाले देश में ब्रिक्स देशों के राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों का एक सघन विमर्श कार्यक्रम

Read more

रालोसपा अलग मोर्चा पर विचार कर सकता है – नागमणि

पटना (वरिष्ठ पत्रकार अनुभव सिन्हा की रिपोर्ट) | लोकसभा चुनावों को लेकर एनडीए के घटक दलों के बीच सीटों का बंटवारा 11 दिसम्बर के बाद ही होने की उम्मीद जताई जा रही है जब पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव परिणाम आ चुके रहेंगे. लेकिन तबतक मगजमारी हो रही है और नए समीकरण बनने के संकेत भी मिल रहे हैं. यह नया समीकरण आकार ले ले तो बिहार में लोकसभा चुनाव त्रिकोणीय हो सकते हैं. इस सम्भावना पर खासकर खटास के साथ एनडीए से अलग हो सकने वाले रालोसपा अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ज्यादा सक्रिय हैं. इस सम्भावना की कई वजहें हैं. यह नया समीकरण उपेन्द्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ए रालोसपा से कुछ समय पूर्व अलग गुट बनाने वाले जहानाबाद के सीटिंग सांसद डा0 अरूण सिंह और वरिष्ठ समाजवादी शरद यादव की लोकतांत्रिक जनता दल से मिलकर तैयार हो सकता है. पिछले चार नवम्बर को गांधी मैदान को भर देने का दावा करने वाले मुकेश सहनी की विकासशील इंसान पार्टी यानि वीआईपी भी शामिल हो सकती है. मुकेश सहनी ने अपना जनाधार दिखाया था और उसी के आधार पर वह एनडीए और महागठबंधन दोनो से सम्मानजनक सीट मिलने पर साथ देने की घोषणा की थी. एनडीए में सीटों के बंटवारे के मसले पर पिछले दिनों उपेन्द्र कुशवाहा ने मजाक में एक बात कही थी. उनके तेवर थोड़े तल्ख भी थे. उन्होंने कहा था कि बराबर-बराबर सीटों पर लड़ने की बात अगर है तब भाजपा-जदयू पांच-पांच सीटों पर लड़ लें और उनकी तथा रामविलास पासवान जी की लोजपा 15-15 सीटों पर

Read more

तलाक लेने के फैसले पर अडिग | तबियत हुई ख़राब

पटना / रांची (ब्यूरो रिपोर्ट) / 3  नवंबर | अभी अभी रांची से खबर आ रही है कि तेज़ प्रताप यादव की तबियत अचानक से खराब हो गई है. वे रांची के सिरोमटोली चौक स्थित मैपलवुड होटल में ठहरे हुए हैं. प्राप्त जानकारी के अनुसार उन्हें तेज बुखार है. डॉक्टर्स उनकी तबियत की जाँच कर रहे हैं. इसे भी पढ़ें     ऐश्वर्या राय लेंगी डाइवोर्स ! तेज प्रताप ने फाइल किया पटना सिविल कोर्ट में आवेदन ज्ञातव्य है कि तेज़ प्रताप अपने पिता व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से शनिवार दोपहर रिम्स में मिलने गए थे. जैसा विदित है कि तेज़ प्रताप के ऐश्वर्या से तलाक लेने के फैसले से लालू को बड़ा सदमा लगा है. इस कारण पहले से रिम्स में भर्ती लालू की तबीयत और ख़राब हो गई है. शनिवार दोपहर तेज़ प्रताप लालू से मिलें. वहां लालू की तेज़ प्रताप से उनके और ऐश्वर्या के बारे में बात हुई. लालू से मिलने के बाद तेज़ प्रताप काफी भावुक लग रहे थे. उनके चेहरे से तनाव भी झलक रहा था. लेकिन लालू से मिलकर रिम्स से निकलते वक्त तेज़ प्रताप ने पत्रकारों के सवालों का चलते चलते जवाब दिया कि वे कोर्ट में बताएंगे कि उन्हें क्या करना है या नहीं करना है. तेज़ ने यहां तक कह डाला कि वे किसी के बंधन में नहीं रहते हैं. उनके हाव भाव से लग रहा था कि वे ऐश्वर्या से तलाक लेने के फैसले पर अडिग हैं. इसे भी पढ़ें    अब घुट घुट कर नहीं जी सकता – तेज प्रताप

Read more