मुख्यमंत्री नीतीश कुमार live …

प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन पर बिहार में मेगा वैक्सीन ड्राइव की शुरुआत

Read more

कांग्रेस नेता तारिक अनवर के खिलाफ पटना सीजेएम कोर्ट में केस दर्ज

कांग्रेस के महासचिव तारिक अनवर के खिलाफ पटना सीजेएम कोर्ट में मुकदमा दर्ज हुआ है. उनपर यह मुकदमा जानेमाने गीतकार और शायर जावेद अख्तर के उस बयान के समर्थन करने के खिलाफ किया गया है, जिसमें जावेद ने आरएसएस की तुलना तालिबान से की थी. पटना के शिवपुरी मुहल्ले में रहने वाले अखौरी सुबीर कुमार सिन्हा ने मंगलवार 7 सितंबर को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी, पटना के कोर्ट में तारिक अनवर के खिलाफ एक परिवाद पत्र दायर किया है. इस परिवाद-पत्र की संख्या है – 3934 (C) 2021 (अखौरी सुबीर कुमार सिन्हा वनाम तारिक अनवर एवं अन्य). इस मुकदमे में परिवादी ने कहा है कि 5 सितंबर को अखिल भारतीय कांग्रेस के महासचिव तारिक अनवर ने जावेद अख्तर के बयान का समर्थन करते हुए ट्वीट किया, “देश के जाने माने लेखक एवं कवि जावेद अख्तर जी की बात तर्क संगत है. तालिबान और भाजपा-RSS के विचारधारा में कोई अंतर नहीं है-तालिबान इस्लामिक स्टेट चाहता है और भाजपा-RSS हिन्दु राष्ट्र”. परिवादी के मुताबिक, तारिक अनवर का यह सोशल मीडिया में व्यक्तव्य बिलकुल गैर जिम्मेदाराना है एवं इसके द्वारा भाजपा–आरएसएस के साथ ही हिन्दू मानसिकता को ठेस पहुचाने एवं देश के सौहार्द को बिगाड़ने का कार्य किया गया है. बता दें, हाल ही में जानेमाने शायर जावेद अख्तर ने तालिबान की तुलना आरएसएस और विहिप जैसे संगठनों से की थी. उन्होंने बीते हफ्ते तालिबान को लेकर कहा था कि तालिबान एक बर्बर संगठन हैं और उनकी हरकतें निंदनीय हैं, इसको कोई नहीं नकार सकता है. लेकिन हमारे देश के आरएसएस, विहिप और बजरंग

Read more

कार्यपालक सहायक अभ्यर्थियों ने किया हंगामा

भाजपा के प्रदेश कार्यालय में सोमवार को कार्यपालक सहायक अभ्यर्थियों ने पंचायती राज मंत्री के सामने जमकर विरोध प्रदर्शन किया. ये अभ्यर्थी बहाली निजी एजेंसी से कराने का विरोध कर रहे थे. अभ्यर्थियों का कहना है कि बेल्ट्रॉन के जरिए की बहाली की जा रही है. पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी से मुलाकात के बाद भी कार्यपालक सहायकों यह नाराजगी कम नहीं हुई. उनका कहना था कि सरकार हमें बेल्ट्रॉन के जरिए फिर से परीक्षा देने और आउटसोर्सिंग पर रखने को मजबूर कर रही है जो कहीं से उचित नहीं है. राजेश तिवारी

Read more

तेजस में चड्डी बनियान में घूम रहे जदयू विधायक गोपाल मण्डल

विधायक की प्रतिक्रिया हां मैं ही था फांसी पर चढ़ा दोगे क्या पहले भी कह चुके हैं सारे पुलिस अधिकारी शराब पीते है और प्रशासनिक अधिकारी भ्रस्ट है पटना: अब कोई चड्डी बनियान में भी नई ट्रेन तेजस राजधानी एक्सप्रेस में घूम सकता तो आप कहेंगे नहीं.. लेकिन ऐसा किया जदयू के विधायक गोपाल मंडल ने । वे आईआरसीटीसी की तेजस राजधानी एक्सप्रेस में चड्ढी-बनियान में घूमते दिखे । नीतीश कुमार के MLA ट्रेन के अन्य यात्री के विरोध पर गालियां देने लगे। यह मामला दिलदारनगर के पास का है।विधायक गोपाल मंडल सिर्फ चड्ढी-बनियान पहनकर बाहर निकले । जिसके बाद ट्रेन में मौजूद दूसरे यात्री ने विरोध किया और उन्हें कपड़े पहनने के लिए कहा लेकिन जेडीयू विधायक नहीं माने और यात्री के साथ गाली-गलौज करने लगे। बिहार की सत्तारूढ़ पार्टी जनता दल यूनाइटेड (JDU) के विधायक गोपाल मंडल का विवादों की एक लम्बी फेहरिस्त है । उन्होंने एक बार फिर एक बेहद शर्मनाक हरकत जिसके बाद वे एक बार फिर विवादों में आ गए हैं। राजेन्द्र नगर (पटना) से नई दिल्ली को जाने वाली 02309 तेजस राजधानी एक्सप्रेस में गोपाल मंडल यात्रा कर रहे थे। इस दौरान वे कपड़े उतारकर चड्ढी-बनियान में ट्रेन में घूमते दिखे। उनके केबिन में यात्रा कर रहे अन्य यात्री जो परिवार के साथ सफर कर रहे थे उसके विरोध करने पर गालियां देने लगे। वहां मौजूद आरपीएफ की टीम ने मामले को शांत करने की कोशिश की। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आरपीएफ़ जवान ने बताया कि यह घटना दिलदारनगर स्टेशन को पास हुई।गोपाल मंडल

Read more

जनता को चूस रही है बिहार की सरकार -तेजस्वी

तब तक चूसते रहेंगे जब तक जनता की जान ना निकल जाए बेखौफ अफसरों के लिए बाये हाथ का खेल हो गया है भ्रष्टाचार पटना : बिहार की निरंकुश अफसरशाही और BJP-JDU की भ्रष्ट सरकार बिहार राज्य को अपने एक निजी उपनिवेश की भाँति चूस रहे हैं, और तब तक चूसते रहेंगे जब तक जान ना निकल जाए! भू, शिक्षा, परीक्षा, शराब, बालू, सरकारी दलाल इत्यादि माफियाओं को शह दे देकर बिहारवासियों का ये लोग कतरा कतरा चूस रहे हैं! ये बातें राजद की ओर से ट्वीट कर दी गई है ।ट्वीट में तेजस्वी ने कहा है कि नीतीश कुमार की सुशासन की सरकार अब माफियाओं की सरकार हो गई है । बेखौफ अफसरों के लिए भ्रष्टाचार बाएं हाथ का खेल हो गया है तेजस्वी ने आरोप लगाया है कि राज्य में अफसरशाही चरम पर है । जनप्रतिनिधि जनता के प्रति उत्तरदायी होते हैं, अफसर नहीं। उन्हें जनता चुनती है अधिकारी नहीं । पर इस राज में अधिकारी सीना तान सरकारी काम में लापरवाही कर भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी को बढ़ावा दे रहे है। वो जनप्रतिनिधियों को अपमानित करते हैं और नागरिकों को कुछ भी नहीं समझते। राज्य की इस एनडीए सरकार में सत्तारूढ़ दल और बेखौफ अफसरों के लिए भ्रष्टाचार बाएं हाथ का खेल है। नागरिक घूस, सरकारी बेपरवाही, परेशानी व भ्रष्टाचार के दुष्चक्र में पिस रहे हैं। उन्होंने पूछा कि अगर अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों की अनदेखी करने का निर्देश ऊपर से मिलेगा तो जनता की कौन सुनेगा ? इससे सत्ता का अनावश्यक केंद्रीकरण होगा, भ्रष्टाचार बढ़ेगा और लोकतंत्र नाम

Read more

समाज के अंतिम पायदान की हकीकत से रूबरू कराती है ‘हाशिए पर हसरत’-हरिवंश

बहुत से विकास के कार्य हो रहे हैं लेकिन यह सच्चाई है कि लगभग सारी चीजें अंतिम पायदान के लोगों तक नहीं पहुंच पाई है -हरिवंश हरिवंश ने कहा कि नीतीश कुमार ने मुसहर जाति से आने वाले जीतन राम मांझी को भी सीएम बनाया। यह भी समाज का एक यथार्थ है। सभी की यह मांग होती है कि समाज के अंतिम पंक्ति के लोगों का उद्धार हो लेकिन दुर्भाग्यवश ऐसा संभव नहीं हो पाता है -अवधेश नारायण सिंह समाज के मार्मिक दृश्य की दस्तावेज और जीवंत कृति है यह पुस्तक भीम सिंह भवेश की पुस्तक का विधान परिषद सभागार में लोकार्पण प्रख्यात लेखक सह पत्रकार भीम सिंह भवेश की पुस्तक “हाशिए पर हसरत” का लोकार्पण सोमवार को बिहार विधान परिषद के सभागार में किया गया। प्रभात प्रकाशन द्वारा आयोजित कार्यक्रम का पुस्तक का लोकार्पण राज्यसभा के उप सभापति हरिवंश, बिहार सरकार के कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह और बिहार विधान परिषद के सभापति अवधेश नारायण सिंह ने संयुक्त रूप से किया। इस अवसर पर हरिवंश ने कहा कि हाशिए पर हसरत अपने आप में ही पूरी किताब के बारे में बता रहा है। उन्होंने कहा कि यह पुस्तक समाज के मार्मिक दृश्य की दस्तावेज और जीवंत कृति है। बिना संवेदना के कोई कुछ नहीं लिख सकता है लेकिन मुसहर जाति से आने वाले लोगों के लिए लेखक ने जो कुछ लिखा है वह अद्भुत है। यह किताब सामूहिक जीवन के प्रयास का सत्य है, जिसे हम गागर में सागर भी कह सकते हैं। किताब का उल्लेख करते हुए हरिवंश

Read more

क्या अब भी मुख्यमंत्री दिला पाएंगे इंसाफ ?

–पंडारक के पूर्व जेडीयू अध्यक्ष की पत्नी ने लगाई बेटी के हत्यारों की गिरफ्तारी की गुहार, सीएम नीतीश कुमार से मिलकर मांगा इंसाफ पंडारक: आराधना की मां सेवान्ति देवी ने सीएम नीतीश कुमार से आक मिलकर अपनी बेटी के हत्या के बाद इंसाफ मांगा है। आज पंडारक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात कर आराधना की मां सेवान्ती देवी ने इंसाफ की मांग की। आराधना पंडारक के पूर्व जेडीयू अध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा की छोटी बेटी थी। बेगूसराय टाउन थाने के पोखरिया में 2015 मेंआराधना की शादी। 31 अक्टूबर 2020 को हुई थी, आराधना की हत्या दहेज के लिए पति और उसकी तीन बहनों ने मिल कर कर दिया था। आराधना की हत्या उन्होंने 4 साल की मासूम बेटी के सामने गला घोंटकर कर दिया था। मुकदमें के दस माह बाद सेे तीनों बहनें फरार हैं । इस घटना के बााद बेगूसराय पुलिस पर आरोपियों से मिलीभगत का आरोप लगा है।कोर्ट ने 3 आरोपी ननदों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी है। अब तक बेगूसराय पुलिस किसी भी नतीजे पर नहीं पहुंची है।जबकि बेगूसराय टाउन थाना – एफआईआर नंबर – 601-2020 सेवान्ती देवी ही केस में आवेदिका हैं । पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में भी हत्या की पुष्टि हो चुकी है । इसमें साफ तौर पर गला घोंटकर हत्या करने का जिक्र है बावजूद अभी तक किसी की गिरफ्तारी होना और ना ही कोई सुराग पाने में बिहार पुलिस नाकामयाब रही है।आराधना पटना जिले पंडारक की रहने वाली थी। दहेज प्रताड़ना की वजह से अगस्त 2020 में मायके पंडारक आ गई थी। 30

Read more

जेलों में बंद 60 फीसदी लोग बेकसूर -पूर्व डीजीपी

भगवान राम और कृष्ण को भी लोगों ने जातीय आधार पर बांट लिया मन ही दूषित हो गया है बिहार में आदमी देखकर देश का कानून काम करता है अब सिस्टम आम लोगों के लिए नहीं रह गया है बिहार में औरंगाबाद: बिहार के डीजीपी रहे कथावाचक गुप्तेश्वर पांडेय औरंगाबाद के देवकुंड मठ में कई सामाजिक-वैचारिक और पारिवारिक मुद्दों पर लोगों से बातें की । उन्होंने कहा कि सिस्टम आमलोगों के लिए अब नहीं रह गया है। आदमी देखकर देश का कानून काम करता है। जेलों में 60 फीसदी से अधिक निर्दोष लोग बंद हैं उनके मुकदमें आज भी चल रहे हैं। पूर्व डीजीपी ने कहा कि एक थानाक्षेत्र में 10 ईमानदार सामाजिक कार्यकर्ता पूरी हुकूमत को झुका सकता है। यह देश ना तो हिंदुओं का है और ना मुसलमानों समेत अन्य पंथों का। भारत की सनातन संस्कृति वसुधैव कुटुम्बकम की है। आश्चर्य है कि आज भगवान राम और कृष्ण को भी लोगों ने जातीय आधार पर बांट लिया है।अब कौन से देवता को कौन पूजेगा ये परम्परा जो शुरू हुई है उससे सामाजिक वैमनस्य पैदा हो रहा है और साथ ही लोगों में कटुता की भावना बढ़ गई है।उन्होंने कहा कि चेतना का स्तर लगातार गिरता जा रहा है। बीमार मन का इलाज अध्यात्म में ही संभव है। कोरोना काल में तड़प कर जो मौतें हो रही थी या जिस लेबल पर भ्रटाचार की जड़ें गहरी हो गई है उससे क्या लगता है कि किसका दोष है सारा दोष सिस्टम और सरकार का है। मन ही बीमार है तो

Read more

प्रधानमंत्री मान लेंगे बिहार के डेलिगेशन की मांग या…!

जातीय जनगणना की मांग पर प्रधानमंत्री से बिहार के शीर्ष नेता 23 अगस्त को मिलने वाले हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है की जातीय जनगणना पर बिहार में सत्ता और विपक्ष एक साथ है सभी दल चाहते हैं कि वर्ष 2021 की जनगणना जाति आधार पर हो. उन्होंने कहा कि मेरे साथ 10 पार्टियों के नेता दिल्ली जा रहे हैं और हम सभी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मिलकर इस बार जातीय जनगणना कराने की मांग करेंगे. लेकिन बड़ा सवाल यह है कि क्या भारतीय जनता पार्टी बिहार के तमाम दलों की इस मांग को पूरा कर पाएगी. क्योंकि बीजेपी का जातीय जनगणना पर स्टैंड स्पष्ट रहा है और वे जातीय जनगणना कराने के पक्ष में बिल्कुल नहीं हैं. ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनके साथ जाने वाले डेलिगेशन को क्या आश्वासन मिलता है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ 11 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल 23 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने वाला है. इन 11 सदस्यों में शामिल हैं- राष्ट्रीय जनता दल से तेजस्वी यादव, कांग्रेस के अजीत शर्मा, हम के जीतन राम मांझी, वीआईपी के मुकेश साहनी, सीपीआईएमएल से महबूब आलम, ए आई एम आई एम के अख्तरुल इमान, सीपीएम के अजय कुमार और सीपीआई के सूर्यकांत पासवान. इनके अलावा भाजपा से जनक राम और जदयू से विजय कुमार चौधरी भी इस प्रतिनिधिमंडल में शामिल होंगे. आपको याद दिलाने की पटना यूनिवर्सिटी को केंद्रीय यूनिवर्सिटी बनाने की मांग बिहार कई वर्षों से कर रहा है. जब प्रधानमंत्री पटना

Read more

पटना-बक्सर फोरलेन सड़क पर होगा स्कूल आंदोलन

कोइलवर/भोजपुरइंक़लाबी नौजवान सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह अगिआंव विधायक कॉमरेड मनोज मंज़िल और आइसा के जिला अध्यक्ष पप्पु कुमार राम भाकपा माले आइसा-इनौस की टीम के साथ तारामणि उच्चतर विद्यालय कोइलवर का निरीक्षण करने पहुंचे. इस दौरान विधायक मनोज मंजिल ने कहा कि तारामणि भगवान साव उच्चतर विद्यालय कोइलवर के 1600 बच्चों का भविष्य बर्बाद कर रही है सरकार. लगभग ढाई साल से बच्चों की पढ़ाई बंद है. उन्होंने इस संदर्भ में जिला पदाधिकारी और जिला शिक्षा पदाधिकारी से बात करने की बात कही और कहा कि इस बाबत मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री को भी पत्र लिखूंगा. बताते चलें कि कोइलवर में सोन नदी पर नये पुल और पटना-बक्सर फोरलेन निर्माण के लिए नगर पंचायत कोइलवर के चर्चित, प्रतिष्ठित तारामणि भगवान साव उच्चतर विद्यालय कोइलवर को तोड़ दिया गया था. भवन का अधिग्रहण कर ,जनवरी 2019 में विद्यालय को जमींदोज कर दिया गया था, जिसके बाद जल्द ही विद्यालय के लिए भूमि अधिग्रहण कर नए भवन बनाने की बात कही गयी थी. लेकिन ढाई वर्ष के बाद भी अभी तक विद्यालय के लिए जमीन उपलब्ध नहीं कराया जा सका है,जिससे विद्यालय में पढ़ने वाले 1600 बच्चों का भविष्य अंधकार में है. सदस्यों ने कहा कि 1600 बच्चों के भविष्य के सपनों को तोड़ दिया गया,इस स्कूल से पढ़कर अनेकों लोग अच्छे अच्छे पदों पर हैं. ये इस क्षेत्र का काफी प्रतिष्ठित विद्यालय है,जिसे तोड़ कर बच्चों का भविष्य बर्बाद कर दिया गया.यथा शीघ्र जमीन उपलब्ध करा कर भवन निर्माण शुरू नहीं कराया गया तो जिस पटना-बक्सर फोरलेन के लिए इस

Read more