CBI ने खंगाले पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के ठिकाने

पटना समेत कई जगहों पर शुक्रवार को मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन उत्पीड़न कांड में सीबीआई ने छापेमारी की. मंजू वर्मा के पटना स्थित सरकारी आवास 6 स्टैंड रोड सहित बेगूसराय स्थित कुल पांच ठिकानों पर CBI ने छापेमारी की. पटना के अलावा सीबीआई की टीम मंजू वर्मा के कुल 5 ठिकानों पर छापेमारी की. जिसमें बेगूसराय स्थित चेरिया बरियारपुर विधानसभा क्षेत्र के अंदर आने वाला उनके पैतृक गांव श्रीपुर का घर भी शामिल है. माना जा रहा है कि CBI को मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड में मंजू वर्मा के खिलाफ ठोस इनपुट मिला है, जिसके बाद तकरीबन दर्जनभर CBI अधिकारियों की टीम छापेमारी में लगी थी. CBI की इस कार्रवाई से यह बात साफ है ब्रजेश ठाकुर के साथ संबंधों को लेकर मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा CBI के रडार पर है. इधर, ब्रजेश ठाकुर के अखबार प्रातः कमल के पटना और मुजफ्फरपुर स्थित कार्यालय में भी सीबीआई ने छापेमारी की. पटना स्थित प्रात:कमल के दफ्तर से सीबीआई ने भारी मात्रा में आपत्तिजनक सामग्री बरामद की है.

Read more

‘मनीषा’ यू हीं नही बनी ‘मनीषा दयाल’

‘आसरा शेल्टर होम’ की संवासिनियों को किया ‘बेआसरा’ बिहार में शेल्टर होम्स में स्कैंडल थमने का नाम ही नहीं ले रहे. इस बार शर्मसार होने की बारी राजधानी पटना की थी जहाँ ‘आसरा होम’ में बीते शुक्रवार दो इनमेट महिलाओं की मौत के बाद कुछ ऐसी सनसनी मची कि शेल्टर होम के  संचालक चिरन्तन कुमार और मनीषा दयाल को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश करना पड़ा. मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड के मुख्य अभियुक्त ब्रजेश ठाकुर की तरह मनीषा दयाल के बारे में सनसनीखेज खुलासे सामने आ रहे हैं. मनीषा दयाल के नेताओं के साथ फोटो लगातार वायरल हो रहे हैं जिससे एक बार फिर सियासी हलकों में बेचैनी देखी जा रही है.   संवासिनियों की मौत ने खड़े किये कई सवाल इन दो मौतों के मामले में पीएमसीएच के डॉक्टर का कहना है कि लड़कियों की अस्पताल लाए जाने से पहले ही मौत हो चुकी थी. यह सवाल भी उठ रहा है कि पोस्टमार्टम के बाद शव का डिस्पोजल क्यों नहीं हुआ और इस पूरे प्रकरण में  कौन-कौन से लोग शामिल हैं? 10 अगस्त से जांच चलने के बावजूद किसी के बीमार होने की बात सामने क्यों नहीं आई? राजीवनगर थाना के नेपाली नगर में स्थित इस शेल्टर होम का मामला सामने आने के बाद समाज कल्याण विभाग और जिला प्रशासन ने इसकी जांच शुरू कर दी है.  कौन है ग्लैमरस ‘समाजसेवी’ मनीषा ‘आसरा शेल्टर होम’ की सचिव बेहद खूबसूरत मनीषा समाजसेवी के तौर पर राजधानी के सोशल और पोलिटिकल लॉबी में पिछले कुछ सालों से चर्चा में थी. हालांकि

Read more

किसने लहराया आज़ादी की पहली सुबह तिरंगा

15 अगस्त,1947 को गांधी मैदान में किसने लहराया राष्ट्रीय ध्वज आज़ादी के समय बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री के रूप में श्रीकृष्ण सिंह सत्ता में थे और कांग्रेस के अध्यक्ष महामाया प्रसाद सिन्हा थे. स्वाधीनता की पहली सुबह झंडा कौन फहराये इस पर जोरदार बहस उस वक़्त के बिहार के राजनीतिक हलकों में हुई. उस समय के बिहार प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष महामाया प्रसाद सिन्हा ने रात़ो रात गांधी मैदान मे झंडा चबूतरे का निर्माण कराया.उनका तर्क था कि आजादी कांग्रेस ने दिलाई इसलिए आजादी के पहले झंडोत्तोलन का अधिकार कांग्रेस अध्यक्ष को है,और हुआ भी वही. उनके द्वारा निर्मित चबूतरे पर ही आज तक झंडा फहराया जा रहा है और उसी स्थल से नेतागण भाषण भी देते रहे हैं. गांधी मैदान के दक्षिणी गेट के पास हीं एक बोर्ड पर गांधी मैदान का संक्षिप्त इतिहास लिखा था जिसमें मुख्य रूप से इस पूरे प्रक्रम का जिक्र था, पता नहीं अब वो बोर्ड है भी की नहीं? कहते हैं कि उस समय के मुख्यमंत्री डा. श्रीकृष्ण सिहं ने दानापुर कैंटोनमेंट में झंडा फहराया. दोनो मे विवाद चरम सीमा पर पहुँच गया. बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अगले चुनाव मे डा. सिंह ने महामाया बाबू का भारी विरोध किया, और महामाया बाबू अध्यक्ष नहीं चुने जा सके. इसी कारण जब जय प्रकाश बाबू ने सोशलिस्ट पार्टी बनाई त़ो वे उनकी पार्टी मे चले गये. बाद में महामाया बाबू 1967 में मुख्यमंत्री भी हुए. उन्हें जायंट किलर भी कहा जाता था. अपने प्रतिद्वंद्वी कई राजनीतिक दिग्गजो को उन्होंने चुनौती देकर हराया. आरा

Read more

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन; मुख्यमंत्री ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की

नई दिल्ली 16 अगस्त, 2018 (ब्यूरो रिपोर्ट) | बीजेपी नेता, भारत रत्न और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का गुरुवार को निधन हो गया. वाजपेयी ने दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में गुरुवार शाम 5:05 बजे अंतिम सांस ली. 93 वर्षीय वाजपेयी बीते 11 जून से एम्स में भर्ती थे. उन्हें गुर्दा (किडनी) की नली में संक्रमण, छाती में जकड़न, मूत्रनली में संक्रमण आदि के बाद 11 जून को एम्स में भर्ती कराया गया था. एम्स के अनुभवी डॉक्टर लगातार उनकी देखरेख में लगे हुए थे. इसी बीच कल दोपहर बाद से ही प्रधानमंत्री मोदी समेत देश के तमाम नेता उनका हाल जानने के लिए एम्स पहुंचे. आज एम्स पहुंचने वालों में केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान, राधा मोहन सिंह और जगत प्रकाश नड्डा भी शामिल हैं. इनके अलावा नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल भी एम्स पहुंचे. जैसी ही अटलजी की तबीयत बिगड़ने की खबर मीडिया पर फैली देश भर में उनके चाहने वाले और प्रशंसकों ने उनके स्वस्थ व दीर्घायु होने की कामना शुरू कर दी थी. बुधवार को उनकी हालत गंभीर हो गई थी और उन्हें जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा गया था. एम्स ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी ने गुरुवार की शाम पाँच बजकर पाँच मिनट पर अंतिम सांस ली. उनका शव शुक्रवार को नई दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी के हेडक्वार्टर में श्रद्धांजलि के लिए रखा जाएगा. उनकी अंतिम क्रिया विजयघाट पर शुक्रवार को शाम 5 बजे की जाएगी. भारत के राष्ट्रपति

Read more

अच्छी खबर: निविदाकर्मियों की बहुप्रतीक्षित मांग हुई पूरी

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना के गांधी मैदान में 72वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर झंडोत्तोलन किया. मुख्यमंत्री ने झंडोत्तोलन के बाद समस्त बिहारवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दीं. उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि सदियों की गुलामी के बाद आज ही के दिन हमारा देश आजाद हुआ था. इसके लिए हमारे राष्ट्रभक्तों को अनेक कुर्बानियां देनी पड़ी. आज के दिन हम मातृभूमि के उन सपूतों का स्मरण करते हैं, उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं और उनके सपनों को साकार करने का संकल्प लेते हैं. उन्होंने कहा कि मैं उन वीर जवानों को भी नमन करता हूं जो बहादुरी से देश की सरहदों की सुरक्षा कर रहे हैं. उनके बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है. देश के थल, जल और नभ की रक्षा करने वाले भारतीय सेना का हम अभिनन्दन करते हैं, जिनकी सजगता और सतर्कता से देश की सीमाओं की रक्षा होती है. मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार सरकार के लिए ये सौभाग्य का विषय था कि उसे गांधी जी के चंपारण सत्याग्रह के सौ वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में शताब्दी समारोह के सफल आयोजन का अवसर मिला. इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य उस समय की स्मृतियों को पुनर्जीवित करते हुए गांधी जी के विचारों एवं आदर्शों को जन-जन तक पहुंचाना रहा. उन्होंने कहा कि बापू की जयंती के 150 वें वर्ष को भी हम हर्षोल्लास से मनाएंगे और उनके आदर्श एवं विचारों को जन जन तक पहुंचाने की मुहिम को आगे बढ़ाएंगे. भारत के स्वतंत्रता  संग्राम में बिहार का अग्रणी योगदान रहा है.

Read more

ज‍नहित और जनसरोकार के मुद्दे पर सत्‍ता और विपक्ष दोनों मौन

दारोगा अ‍भ्‍यर्थियों के आंदोलन के साथ है जापलो: पप्‍पू यादव ज‍नहित और जनसरोकार के मुद्दे पर सत्‍ता और विपक्ष दोनों मौन जापलो के आंदोलन के कारण मुजफ्फरपुर कांड का हुआ खुलासा पटना (ब्यूरो रिपोर्ट)। जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने कहा है कि पार्टी दारोगा अ‍भ्‍यर्थियों के साथ है और उनके आंदोलन को नैतिक समर्थन करती है. शनिवार को गर्दनीबाग में दारोगा अभ्‍यर्थियों के धरना को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि देशभर में रोजगार के अवसर कम हो रहे हैं और जिन पदों के लिए बहाली हो रही है, वहां भी भ्रष्‍टाचार का बोलबाला है, भाई-भतीजावाद है. इसका खामियाजा मध्‍यमवर्गीय छात्रों को भुगतना पड़ रहा है. सांसद ने कहा कि दारोगा की नियुक्ति में महाघोटाला हुआ है और पार्टी दारोगा अभ्‍यर्थियों के आंदोलन के साथ है. यादव ने कहा कि ज‍नहित और जनसरोकार के मुद्दे पर सत्‍ता और विपक्ष दोनों मौन हैं. कोई अपनी कुर्सी बचाने की कोशिश में जुटा है तो कोई अपना परिवार बचाने में जुटा है. जनता के हितों की चिंता किसी को नहीं है. उन्‍होंने कहा कि जन अधिकार पार्टी ही प्रदेश में असली प्रतिपक्ष की भूमिका का निर्वाह कर रही है और जनता के मुद्दों पर संघर्ष कर रही है. सांसद ने कहा कि मुजफ्फरपुर बलात्‍कार कांड जैसी जघन्‍य घटना के खिलाफ जन अधिकार पार्टी ने मजबूत लड़ाई लड़ी. सड़क से संसद तक इस मुद्दे को उठाया और पीडि़तों को न्‍याय दिलाने के लिए संघर्ष किया जिसका परिणाम है कि राज्‍य सरकार मामले की सीबीआई जांच

Read more

कौन बना गड़हनी प्रमुख?

गड़हनी प्रमुख पद पर अनिता व उपप्रमुख पद पर नजरा खातून काबिज गड़हनी,9 अगस्त. गड़हनी प्रखंड में कुछ दिनों से खाली पड़ी प्रमुख व उप प्रमुख पद पर राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा 8 अगस्त को चुनाव सम्पन्न हुआ. आरा सदर SDO अरुण प्रकाश व ADM सुरेन्द्र कुमार के देख-रेख में सम्पन्न हुआ. चुनाव में प्रमुख पद के लिए अनिता देवी ने नामांकन कर निर्विरोध जीत दर्ज की, वही उप प्रमुख के पद के लिए गड़हनी खास से नजरा खातून व बराप से रंजन सिंह ने नामांकन किया, जिसमे नजरा खातून के पक्ष में कुल आठ मत हासिल हुई वही रंजन सिंह के पक्ष में महज तीन मत प्राप्त हुआ. नजरा खातून को उप प्रमुख चुना गया. वही पूरे चुनाव के दौरान पूर्व प्रमुख मंजू देवी व पूर्व उप प्रमुख श्याम कुमार मिश्रा अनुपस्थिति रहे. बता दे की प्रखंड के बँगवा पंचायत समिति सदस्या अनिता देवी के नेतृत्व में पिछले दिनों प्रखंड विकास पदाधिकारी सह कार्यपालक पदाधिकारी तेजबहादुर सुमन को दस सदस्यीय हस्ताक्षर रहित ज्ञापन सौंपकर प्रमुख व उप प्रमुख के खिलाफ पद का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया गया था. सदस्यों ने प्रखंड प्रमुख पर जनवितरण प्रणाली दुकानदारों से पैसे की उगाही,कार्यवाही पुस्तिका में पारित प्रस्तावों से छेड़ छाड़ सहित विकास कार्यो में कमीशन खोरी को बढ़ावा देने,समय पर पंचयात समिति की बैठक नही बुलाना,अपने मनमानी तरीक़े से प्रखंड के कार्यो कोणीजी स्वार्थ से संचालित करने आरोप लगाया था. अविश्वास प्रस्ताव के लिए बँगवा पंचायत समिति सदस्या अनिता देवी के नेतृत्व में बराप पंचयात समिति सदस्य रंजन सिंह,हरेन्द्र कुमार सिंह,काउप पंचयात समिति

Read more

उपसभापति हरिवंश पर खूब बोले प्रधानमंत्री

बिहार में जदयू कोटे से राज्यसभा सांसद हरिवंश आज राज्यसभा के उपसभापति चुन लिए गए. हरिवंश के सामने मुकाबले में थे बी के हरिप्रसाद. वोटिंग में हरिवंश को 125 मत मिले जबकि बी के हरिप्रसाद को 105. हरिवंश वर्ष 2014 से ही राज्यसभा सांसद हैं. हरिवंश के राज्यसभा के उप-सभापति निर्वाचित होने पर प्रधानमंत्री की टिप्पणी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज हरिवंश को राज्य सभा का उप-सभापति निर्वाचित होने पर बधाई दी. चुनाव के कुछ ही समय बाद राज्य सभा में बोलते हुये प्रधानमंत्री ने सदन के नेता अरुण जेटली के बीमारी से उबर कर सदन में वापस आने पर भी अपनी प्रसन्नता व्यक्त की. प्रधानमंत्री ने इस बात का जिक्र किया कि हम लोग आज भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ मना रहे हैं.  उन्होंने कहा कि हरिवंश जी बलिया से आते हैं जो कि 1857 के स्वतंत्रता संग्राम के समय से ही स्वतंत्रता आंदोलन से जुड़ी रहा है. प्रधानमंत्री ने कहा कि हरिवंश ने लोकनायक जय प्रकाश नारायण से प्रेरणा ग्रहण की है. प्रधानमंत्री ने इस बात का भी स्मरण दिलाया कि हरिवंश जी ने पूर्व प्रधानमंत्री चंद्र शेखर जी के साथ भी काम किया था. प्रधानमंत्री ने कहा कि चंद्र शेखर जी के साथ काम करने की वजह से हरिवंश जी को पहले से ही इस बात का पता था कि चंद्र शेखर जी पद त्याग देंगे. प्रधानमंत्री ने कहा कि लेकिन इस बात की खबर उन्होंने अपने समाचार पत्र को भी नहीं लगने दी जो कि सरकारी सेवा और नैतिकता के प्रति उनकी प्रतिबद्धता को दर्शाता है. प्रधानमंत्री ने

Read more

भारतीय राजनीतिक ‘कलाकार’ करुणानिधि का निधन; मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जताई शोक संवेदना

चेन्नई / पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) |  डीएमके चीफ और पूर्व सीएम करूणानिधि का मंगलवार शाम निधन हो गया. लंबे समय से बीमार चल रहे करूणानिधि चेन्नई के कावेरी अस्पताल में शाम 6 बजकर 10 मिनट पर आखिरी सांस ली. इसके बाद पूरे तमिलनाडु सहित पूरे देश में शोक की लहर छा गई है. अस्पताल के कार्यकारी निदेशक डॉक्टर अरविन्दन सेल्वाराज की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार, ‘हमें बड़े दुख के साथ बताना पड़ रहा है कि हमारे प्रिय कलैंग्नर एम. करुणानिधि का सात अगस्त, 2018 को शाम छह बजकर दस मिनट पर निधन हो गया. डॉक्टरों और नर्सों की हमारी टीम के सर्वश्रेष्ठ प्रयासों के बावजूद उन्हें बचाया नहीं जा सका.’  विज्ञप्ति के अनुसार, ‘हम भारत के कद्दावर नेताओं में से एक के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हैं और परिवार के सदस्यों तथा दुनिया भर में बसे तमिलवासियों का दुख साझा करते हैं.‘ करूणानिधि के निधन पर प्रधानमंत्री मोदी ने शोक जताया है. एम करूणानिधि के निधन पर साउथ फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत शोक व्यक्त करते हुए कहा कि यह मेरे जीवन का स्याह दिन है,क्योंकि मैं यह कभी नहीं भूलूंगा कि मैंने आज अपने कलईनार(कला का विद्वान) को खो दिया. मैं उनकी आत्मा की शांति के लिए कामना करता हूं. नीतीश कुमार ने एम० करूणानिधि के निधन पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रख्यात राजनीतिज्ञ, डीएमके प्रमुख एवं तमिलनाडू के पूर्व मुख्यमंत्री एम० करूणानिधि के निधन पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है. अपने शोक-संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि

Read more

नई दिल्ली में किसका हुआ जोरदार स्वागत?

नई दिल्ली, 6 अगस्त. रविवार को देश की राजधानी नई दिल्ली में युवा जदयू के राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक जंतर-मंतर स्थिति जनता दल यूनाइटेड के प्रधान कार्यालय मे आयोजित की गई जिसमें युवा जदयू के राष्ट्रीय सचिव prince बजरंगी ने हिस्सा लिया. जिसमें देश भर युवा जदयू के सभी प्रदेश अध्यक्ष सहित राष्ट्रीय पदाधिकारियों के हिस्सा लिया. राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय कुमार राज्यसभा के संसद kc त्यागीं ‘ वशिष्ठ नारायण सिंह , हरिवंश नारायण सिंह ईत्यादि लोग मौजूद थ. बैठक में आये लोगों के माथे पर तिलक लगा कर गमछा, बैग ओर मोमेंटो से ज़ोरदार स्वागत किया गया. पटना नाउ ब्यूरो रिपोर्ट

Read more