बिहार के सभी उच्च शिक्षण संस्थान नैक से मूल्यांकित होंगे

बिहार के सभी उच्च शिक्षण संस्थानों को नैक से मूल्यांकित होना चाहिए. इसके लिए राज्य सरकार कृत संकल्पित है. नैक से शिक्षण संस्थानों को काफी फायदा मिलता है. इसके लिए राज्य स्तर पर कार्यशालाएं आयोजित की जा रही है. चरणबद्ध तरीके से काम किया जा रहा है. ई लाइब्रेरी के लिए इनफ्लिबनेट के साथ समझौता ज्ञापन किया जा रहा है. सुधार के उपाय पर लगातार प्रयास किया जा रहा है. इसके लिए नैक बेंगलुरु की टीम के साथ भी एक बैठक बुलाए जाने की योजना बनाई जा रही है. राज्य सरकार द्वारा नैक से मूल्यांकन हेतु एक कार्य योजना भी बनाई गई है. सभी संस्थानों को मिलकर प्रयास करना चाहिए कि अधिक से अधिक संस्थान मूल्यांकित हो सके. ये बातें आज उच्च शिक्षा के मदन मोहन झा सभागार में आयोजित कुलपतियों की नैक कराए जाने हेतु वीडियो कांफ्रेंसिंग में शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह ने कही. आज अपर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में बिहार के सभी उच्च शिक्षण संस्थानों के प्रमुख के साथ एक बैठक आयोजित की गई थी.कार्यक्रम में शिक्षा सचिव ने नैक करवाने हेतु चरणबद्ध तरीके से काम करने की आवश्यकता पर बल दिया. अल्पकालिक, मध्यकालिक, दीर्घकालिक योजना बनाकर कार्य करने को कहा. नैक के समन्वयक / नोडल अधिकारी को पूर्ण सक्रिय भूमिका निभाने की बात कही.शिक्षा सलाहकार प्रो एन के अग्रवाल ने पावर प्वाइंट के माध्यम से नैक से मूल्यांकन हेतु रोडमैप की प्रस्तुति दी. मूल्यांकन हेतु किए जाने वाले उपायों को बताया. कुलपति पाटलीपुत्र विश्वविद्यालय प्रो आर के सिंह ने भी अपने

Read more

‘सुबह पूजा-पाठ से पहले पति को समझाइये यह बात…’

कृषि मंत्री ने महिलाओं से की अपील पटना जिला के कुरकुरी पंचायत से किसान चौपाल का शुभारम्भ कृषि मंत्री सर्वजीत ने मंगलवार को पटना जिला के फुलवारीशरीफ प्रखंड अंतर्गत कुरकुरी पंचायत के पंचायत भवन से रबी मौसम में किसान चौपाल का शुभारम्भ किया. साथ ही, उन्होंने बामेती द्वारा प्रकाशित फसल अवशेष प्रबंधन, जल-जीवन-हरियाली, जैविक खेती, जल की एक-एक बूँद से अधिक उत्पादन, प्राकृतिक खेती, बिहार कृषि निवेश प्रोत्साहन नीति, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से संबंधित सूचना आदि से संबंधित पुस्तिका का विमोचन किया. इस अवसर पर कृषि मंत्री ने कहा कि आजकल फसल अवशेष जलाने की प्रवृत्ति बढ़ रही है, यह चिन्ता की बात है. उन्होंने खासकर महिला किसानों से अपील की है कि जिस तरह सुबह में थाली सजाकर देवी-देवताओं की आप पूजा करती हैं, उसी तरह से अपने पति को फसल अवशेष नहीं जलाने के लिए प्रेरित करें. फसल अवशेष जलाने से मिट्टी में पोषक तत्वों एवं मिट्टी में कार्बनिक पदार्थ की क्षति होती है. जमीन में पाये जाने वाले लाभकारी सूक्ष्म जीवाणु मर जाते हैं. फसल अवशेष जलाने से हानिकारक गैसों का उत्सर्जन होता है. इसके जलाने से एरोसाॅल के कण निकलते हैं जो हवा को प्रदूषित करते हैं. उन्होंने फसल अवशेष को न जलाने तथा इसके प्रबंधन से संबंधित कृषि यंत्रों के प्रयोग के बारे में किसानों को जानकारी देने हेतु विभागीय पदाधिकारियों को निदेशित किया. उन्होंने कहा कि आज जलवायु परिवत्र्तन बहुत बड़ी समस्या का रूप लेते जा रहा है. जिसके कारण असमय वर्षापात एवं सुखाड़ की घटना बढ़ती जा रही है. इसका एक

Read more

अठारह लाख में खरीदे मकान से किया बेदखल

बेचने वाले ने फिर से किया कब्जा थाने में दिया आवेदन, पर नहीं हुई सुनवाई एसपी को दिया आवेदन तो थानेदार ने आवेदक पर ही कर दी एफआईआर दरभंगा जिले में सिस्टम की निष्ठुरता का अजीब सा वाकया सामने आया है। एक पीड़ित न्याय की आस में थाने की शरण में गया पर उसकी सुनवाई नहीं हुई। थक हार कर एसपी को दिया आवेदन तो थानेदार ने आवेदक पर ही कर दी एफआईआर ये वाकया जिले के सिंहवाड़ा थाने का है. पीड़ित हैं रमीज शाबरी। थाना क्षेत्र के चकदरगाह निवासी। बचत से पैसे जमा हुए तो जमीन खरीदने के सपने देखने लगे। पड़ोस के गांव पनसल्ला में एक जमीन पसंद आई जिस पर दो कमरे का घर बना था. संयोग बना और 18 लाख रुपए देकर उन्होंने ये संपत्ति खरीद ली। संपत्ति के स्वामी अकबर और अनवर थे। अकबर ने अपने हिस्से के लिए सेल डिड भर दिया और अनवर ने अपने हिस्से की जमीन की रजिस्ट्री कर दी। समाज के कई लोगों के सामने रमीज को कब्जा दिया गया. खरीदार मकान में ताला लगाकर अपने गांव चकदरगाह में निश्चिंत हो रहने लगे। पीड़ित ने बताया कि जमीन बेचकर अकबर अपनी पत्नी कसीना खातून के साथ दिल्ली चले गए। कुछ समय बाद पति पत्नी पनसल्ला आए और रमीज की जमीन को अपना बताने लगे रमीज को आशंका हुई तो उन्होंने 15 अक्टूबर को उन्होंने थाने में आवेदन दिया। ठीक उसी दिन अकबर ने कुछ अवांक्षित लोगों की मदद से रमीज के खरीदे घर का ताला तोड़ उसमे घुस गए. पीड़ित

Read more

दिवाली छठ से पहले ही मिलेगा राज्यकर्मियों को वेतन

दिवाली और छठ महापर्व को देखते हुए बिहार में राज्य कर्मियों को 20 तारीख से राज्य कर्मियों को वेतन भुगतान करने का फैसला लिया है. वित्त मंत्री विजय चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बात करके वित्त विभाग ने लिया फैसला लिया है. इस महीने समय से दस दिन पहले दिया राज्य कर्मियों को जाएगा. वित्त मंत्री विजय चौधरी ने कहा कि त्योहारों को देखते हुए ये फैसला लिया गया है. दो साल से कोरोना की वजह से सही तरीके से त्योहार नहीं मनाया जा रहा था. pncb

Read more

वर्ल्ड हैंड वाशिंग डे अधिकारियों ने पढ़ाया हाथ धोने का पाठ

वर्ल्ड हैंड वाशिंग डे पर डीएम और डीडीसी ने दिया साफ सफाई का संदेश डीएम राजीव रौशन ने इस अवसर पर मानव जीवन में हाथ की साफ-सफाई के महत्व को रेखांकित किया बोले -सभी परिवारों में ये आहट सुनाई दे दरभंगा समाहरणालय परिसर में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण)/लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान की ओर से विश्व हाथ धुलाई दिवस का आयोजन किया गया.जिला जल एवं स्वच्छता समिति के इस कार्यक्रम में जिला समन्वयक श्याम कुमार सिंह ने कहा कि इस अभियान का मकसद हाथ को स्वच्छ रखने के लिए लोगों को जागरूक बनाना है. अभियान में हाथ को साबुन से अच्छी तरीके से धोने की विधि बताई जा रही है. उन्होंने कहा कि हाथ धोने के लिए हैंडवाश/साबुन लगाकर पहले दोनों हाथों को रगड़े फिर हथेलियों को पलट कर रगड़े, उसके बाद उंगलियों के बीच में रगड़े फिर उंगलियों के सतह के पीछे साफ करें, अंगूठे की सतह को रगड़े एवं नाखूनों को साफ करें. इस प्रक्रिया में कम से कम 20 सेकंड तक हाथ पर हैंडवाश/साबुन का झाग रहना चाहिए, इसके बाद पानी से अच्छी तरह हाथ को धोएं. कार्यक्रम में शरीक हुए डीएम राजीव रौशन ने इस अवसर पर मानव जीवन में हाथ की साफ-सफाई के महत्व को रेखांकित किया. उन्होंने कहा कि वर्ल्ड हैंड वाशिंग डे (विश्व हाथ धुलाई दिवस) केवल एक दिवस नहीं बल्कि सही प्रकार से सही जीवन जीने की कला को दोहराने का समय है. डीएम ने जोर दिया कि ये सरकारी कार्यक्रम बन कर न रह जाए. बल्कि सभी परिवारों में ये आहट सुनाई

Read more

राज्य में स्थानीय निकाय चुनाव स्थगित

बिहार में स्थानीय निकाय चुनाव स्थगित कर दिया गया है. इसी महीने की 10 और 20 अक्टूबर को दो चरणों में यह चुनाव होने थे लेकिन आज जिस तरह से पटना हाईकोर्ट ने राज्य निर्वाचन आयोग को आदेश जारी किया और सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवहेलना को लेकर फटकार लगाई उसके बाद ही यह स्पष्ट हो गया था कि चुनाव स्थगित कर दिए जाएंगे. आखिरकार राज्य निर्वाचन आयोग ने अधिसूचना जारी कर दी है और अगले आदेश तक स्थानीय निकाय के चुनाव को स्थगित कर दिया है. बता दें कि बिहार में इस महीने होने वाले नगर निकाय चुनाव को लेकर पटना हाईकोर्ट ने आज महत्वपूर्ण आदेश जारी किया. हाईकोर्ट ने पिछड़ी और अति पिछड़ी जातियों के लिए आरक्षित सीटों पर चुनाव कराने से फिलहाल रोक लगाने के आदेश दिए हैं. पूरी खबर पढ़ें http://bit.ly/3RAHKLx pncb

Read more

हरजोत कौर ने विवादित बोल पर जताया खेद

महिला विकास निगम की अध्यक्ष सह एमडी हरजोत कौर के बयान को लेकर बवाल मचा है. बुधवार को एक कार्यक्रम के दौरान हरजोत कौर ने स्कूल की छात्राओं के सवालों के जवाब कुछ इस तरह दिए कि हंगामा शुरू हो गया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी मामले को गंभीरता से लिया है. इन सबके बीच हरजोत कौर ने अपने विवादित बयान को लेकर खेद जताया है. आईएएस हरजोत कौर ने पत्र जारी कर कहा कि अगर मेरे बयान से किसी को ठेस पहुंची है तो इसके लिए खेद व्यक्त करती हूं. विवादित बयान पर मचे बवाल के बाद हरजोत कौर बुमराह ने खेद प्रकट किया है. उन्होंने लिखा है कि ” कुछ शब्दों के कारण अगर किसी बालिका या प्रतिभागी की भावनाओं को ठेस पहुंची है तो इसके लिए मैं हरजोत कौर बुमराह्, अध्यक्ष सह प्रबंधक निदेशक खेद व्यक्त करती हूं. इसका उद्देश्य किसी को नीचा दिखाने या किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का नहीं था बल्कि उन्हें आगे बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित करना था.” pncb

Read more

BRC और CRC को लेकर बड़ा आदेश जारी

शिक्षा विभाग ने राज्य के बीआरसी और सीआरसी के नियंत्रण से संबंधित एक महत्वपूर्ण आदेश जारी किया है. ये आदेश बीआरसी और सीआरसी के अकादमिक और प्रशासनिक नियंत्रण को लेकर है. इस बारे में बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के राज्य परियोजना निदेशक असंगबा चुबा आओ ने आदेश जारी करते हुए स्पष्ट किया है कि प्रखंड संसाधन केन्द्र (BRC) एवं कॉम्पलेक्स रिसोर्स सेन्टर (CRC) / शहरी कॉम्पलेक्स रिसोर्स सेन्टर (UCRC) का अकादमिक नियंत्रण जिला स्तर पर जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान ( DIET ) एवं राज्य स्तर पर राज्य शिक्षा शोध एवं प्रशिक्षण परिषद (SCERT) बिहार के अधीन होगा. जबकि प्रखंड संसाधन केन्द्र (BRC) एवं कॉम्पलेक्स रिसोर्स सेन्टर (CRC)/ शहरी कॉम्पलेक्स रिसोर्स सेन्टर (UCRC) का प्रशासनिक नियंत्रण जिला स्तर पर जिला शिक्षा पदाधिकारी / जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (EE & SSA) एवं राज्य स्तर पर बिहार शिक्षा परियोजना परिषद् के अधीन होगा. इसके साथ ही बीआरसी और सीआरसी के संचालन, समन्वयन और खाता संचालन को लेकर भी बिहार शिक्षा परियोजना ने स्पष्ट आदेश जारी किया है. आदेश में कहा गया है कि कॉम्पलेक्स रिसोर्स सेंटर (CRC)/ शहरी कॉम्पलेक्स रिसोर्स सेंटर (UCRC) के रूप में अधिसूचित माध्यमिक/ उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक / प्राचार्य उक्त कॉम्पलेक्स रिसोर्स सेंटर (CRC)/ शहरी कॉम्पलेक्स रिसोर्स सेंटर (UCRC) के पदेन संचालक होंगे. साथ ही कॉम्पलेक्स रिसोर्स सेंटर (CRC)/ शहरी कॉम्प्लेक्स रिसोर्स सेंटर (UCRC) के साथ सम्बद्ध मध्य विद्यालय के वरीयतम प्रधानाध्याक / विद्यालय प्रधान उक्त कॉम्पलेक्स रिसोर्स सेंटर (CRC) / शहरी कॉम्पलेक्स रिसोर्स सेंटर (UCRC) के पदेन समन्वयक होंगे. कॉम्प्लेक्स विद्यालय के प्रधानाध्याक / प्राचार्य तथा कॉम्पलेक्स

Read more

तरंग मेधा उत्सव में राज्य भर से चयनित बच्चों के बीच होगी प्रतियोगिता

राज्यभर के सरकारी स्कूलों के बच्चों के बीच हर साल आयोजित होने वाले तरंग मेधा उत्सव के फाइनल राउंड का रंगारंग शुभारंभ गुरुवार को पटना के पाटलिपुत्र स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में होगा. तीन दिवसीय उत्सव के शुभारंभ में बिहार के शिक्षा मंत्री के साथ कला संस्कृति मंत्री भी शामिल होंगे. बता दें कि बिहार में शिक्षा विभाग के द्वारा आठ साल से बिहार शिक्षा परियोजना परिषद् के माध्यम से “तरंग स्पोर्टस मीट का आयोजन किया जा रहा है. इस वर्ष तरंग को “दो चरणों में आयोजित करने का निर्णय लिया गया है, जिसके तहत प्रथम चरण में सांस्कृतिक एवं अकादमिक तथा द्वितीय चरण में खेल-कूद से संबंधित प्रतियोगिता आयोजित होगी. प्रथम चरण अन्तर्गत “तरंग मेधा उत्सव-2022 के तहत सांस्कृतिक एवं अकादमिक प्रतियोगिताएँ विद्यालय स्तर से प्रारम्भ होकर राज्य स्तर तक आयोजित करायी जा रही है, जिसके तहत कुल 6 तरह की प्रतियोगिता यथा- पेंटिंग, सामान्य ज्ञान विचज प्रतियोगिता, कासवर्ड प्रतियोगिता, निबंध प्रतियोगिता, आशु भाषण एवं स्पेलिंग बी आयोजित करायी जा रही है. यह प्रतियोगिता जूनियर वर्ग (कक्षा VI से VII ) एवं सीनियर वर्ग (कक्षा IX से XII) के लिए अलग-अलग आयोजित हो रही है. विद्यालय स्तर पर 01 सितम्बर 2022 से प्रतियोगिता का आयोजन प्रारम्भ किया गया, जो प्रखण्ड स्तर जिला स्तर, प्रमंडल स्तर पर आयोजित होते हुए दिनांक 22-24 सितम्बर 2022 को राज्य स्तर पर सम्पन्न हो रहा है. सभी प्रमंडल से लगभग 432 चयनित बच्चे राज्य स्तर पर इस प्रतियोगिता में भाग ले रहे है. जूनियर वर्ग में कुल 216 प्रतिभागी बच्चों में से 109 बालक एवं 107

Read more

60 दिन में सुनिश्चित हो सफाई, दवाई और सुनवाई नहीं तो होगी कार्रवाई

बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर उपमुख्यमंत्री सह स्वास्थ्य मंत्री तेजस्वी यादव ने अधिकारियों और डॉक्टरों को अल्टीमेटम दे दिया है. कल देर रात पीएमसीएच और अन्य अस्पतालों के निरीक्षण के दौरान कई बड़ी खामियां तेजस्वी यादव ने पकड़ी थीं. इस दौरान उन्होंने गैर जिम्मेदार लोगों को फटकार भी लगाई थी और आज उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और संबंधित पदाधिकारियों को अल्टीमेटम भी दे दिया है. उन्हें 60 दिन में सारी व्यवस्था दुरुस्त करने या कार्रवाई के लिए तैयार रहना को कह दिया गया है. तेजस्वी यादव ने बिहार के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, जिला सदर अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों में स्वास्थ्य सेवा में सुधार का 60 दिनों का लक्ष्य दिया है. जिसमें सफ़ाई, दवाई, सुनवाई और कारवाई सुनिश्चित करना शामिल है. उन्होंने स्पष्ट किया कि किसी भी प्रकार की कोई कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. जिला, सदर एवं बड़े अस्पतालों में 24 घंटे उचित स्टाफ़ के साथ Help Desk और Complaint Desk स्थापित करने का आदेश दिया गया है जिसमें मरीज़ों के भर्ती होने से लेकर, Ambulence, शव वाहन, रेफ़रल की सहज व सरल सुविधा प्रदान करने साथ-साथ मृत्यु प्रमाण पत्र निर्गत करने की प्रक्रिया को भी सुगम बनाने का निर्देश दिया है. जिला अस्पतालों को रेफ़रल पॉलिसी का SOP फ़ॉलो करने एवं सभी आवश्यक दवाओं की उपलब्धता व मेडिकल उपकरणों को चालू अवस्था में रखने का भी निर्देश है. उन्होंने कहा कि जहां मानव संसाधन की कमी है उसकी तत्काल पूर्ति की जाए और रिक्त पदों को भरने की प्रक्रिया में तेज़ी लाया जाए. हमने सभी को

Read more