गलियां-सड़क चकाचक पर ‘नल’ से नहीं टपक रहा ‘जल’

गड़हनी,22 अप्रैल. भोजपुर जिले का गड़हनी प्रखंड के लगभग 6 किलोमीटर पर स्थित बलिगांव पंचायत है.बलिगांव पंचायत की पहचान अंग्रेजों द्वारा स्थापित कोठी से जाना जाता हैं. बताया जाता है कि इस कोठी में अंग्रेजों ने इस क्षेत्र का अपना ऑफिस बनाया था. इस कोठी में छह रूम, कुआँ सहित कई चीजें हैं जो आज जीर्ण-शीर्ण अवस्था में हैं. जब-तब लोग इसे देखने जाते हैं या बाहर से आये लोगो को दिखाने ले जाते हैं. यह कोठी इस पंचायत की खास पहचान है. वही दूसरी पहचान बाबू कुँवर सिंह 1857 के लड़ाई में बलिगांव रुक कर पोखरा में स्नान ध्यान किए थे, जो आज उसी पोखरा के किनारे बाबा बलीश्वर नाथ का शिव मंदिर बनाया गया हैं. पोखरा के सौन्दर्यीकरण नही होने से छठ पूजा के दौरान छठव्रतियों की भी परेशानी होती हैं. पंचायत सरकार भवन पिछले साल 2020 में बन कर तैयार है लेकिन अभी तक पंचायत के मुखिया सुनील कुमार को हैंड ओवर नही हुआ हैं. पंचायत के सात निश्चय योजना, पंचम वित्त आयोग चौदहवीं एवं पन्द्रहवीं योजना के अंतर्गत लगभग ढाई करोड रूपये का काम किया गया गया है.मुखिया ने बताया कि पंचायत में राशि भरपूर नही मिला हैं जिससे बलिगांव पंचायत का भरपूर विकास नही हुआ हैं, जिसका आरोप प्रशासनिक अधिकारी पर लगाया है. पंचायत में कुल गांव बलिगांव , श्रीनगर , अजनाप, रौशनटोला, ललित के बथान, खेलाड़ी टोला, लालगंज, छोटकी तेंदुनी, डिहरी, महथिनटोला, डीह पर , भगवान टोला शामिल हैं. पांच वर्षो में पंचायत में काफी कम फंड मिलने के बावजूद भी संभवत सभी 16

Read more

रेमडेसिविर को अब बिहार सरकार ने भी नकारा

रेमडेसिविर इंजेक्शन को लेकर मची हाय तौबा के बीच 21 अप्रैल को नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (NMCH)ने एक पत्र जारी करते हुए स्पष्ट कर दिया है कि कोरोना मरीजों के इलाज में इस इंजेक्शन से कोई फायदा नहीं होता. इसलिए कोई भी डॉक्टर इस इंजेक्शन को प्रिसक्राइब ना करे. नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल के अधीक्षक ने एक पत्र जारी किया है इसमें लिखा है कि डब्ल्यूएचओ ने भी इस दवा को नकार दिया है क्योंकि कोविड-19 के इलाज में इस दवा की कोई उपयोगिता नहीं है. इसलिए चिकित्सकों से अपील की जाती है कि वह कोविड-19 इलाज के दौरान मरीजों के परिजन से रेमडेशिविर इंजेक्शन लाने के लिए ना कहें. pncb

Read more

बैंकों का बदला समय, देखिए नयी टाइमिंग

22 अप्रैल से बैंकों का समय 10 से 2 बजे कोरोना संक्रमण से उपजे हालात को देखते हुए बैंकों के समय में बदलाव किया गया है. बिहार राज्य स्तरीय बैंकर्स कमेटी एसएलबीसी की बैठक में मंगलवार को अहम निर्णय लिया गया. इसके तहत अब प्रदेश भर के बैंकों का समय सुबह 10 से दोपहर 2 बजे तक ही रहेगा. कोरोना काल के दौरान रोजाना महज 4 घंटे के लिए ही लोगों को बैंकिंग सुविधाएं मुहैया हो सकेगी. यह आदेश 22 अप्रैल से लागू होगा और 15 मई तक प्रभावी रहेगा. राजेश तिवारी

Read more

नही रही भोजपुरी की इनसाइक्लोपीडिया रेखा तिवारी !

एक हफ्ते से थी सांस में तकलीफ, बुधवार को लिया अंतिम साँस पटना,21 अप्रैल(ओ पी पांडेय). भोजपुरी की इनसाइक्लोपीडिया के नाम से विख्यात 48 वर्षीय लोक गायिका रेखा तिवारी ने आज बोकारो में अंतिम सांस लिया. वे पिछले 14 अप्रैल से अस्पताल में इलाजरत थीं. कोरोना की वजह से साँस लेने में तकलीफ के कारण वे अस्पताल में ऑक्सीजन पर थीं. उनका स्वास्थ्य सुधर भी रहा था लेकिन मंगलवार से उनका बीपी लो होने लगा और लगातार ऑक्सीजन लेवल भी कम होने के कारण बुधवार की अहले सुबह लभगग 5.30 बजे उनका देहावसान हो गया. लोकसंगीत की बात हो और रेखा तिवारी का नाम न आये ये संभव नही है. शायद ही कोई भोजपुरी का लोकोत्सव हो या लोकपर्व जो उनसे अछूता रह गया हो. हमेशा चेहरे पर मुस्कान और आवाज में भोजपुरी की सोंधी खुश्बू के साथ जब उनकी टांस सुनने को जिसे मिकता वो उनका मुरीद हो जाता था. उनकी आवाज का जादू सबके सिर चढ़कर बोलता था. किसी बात की जब चर्चा होती उनके पास उसके लिए गीत मौजूद होता था. ऐसी त्वरित डिमांड पेश करने वाली बहुचर्चित लोकगायिका रेखा तिवारी का निधन बुधवार को कोरोना की वजह से हो गया. उनकी तबियत पिछले एक हफ्ते से खराब चल रही थी. उन्हें साँस लेने में तकलीफ थी. यह सांस की तकलीफ भोजपुरी के सुरों की सांस छीन लेगा ये कोई नही जानता था. रेखा तिवारी सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव थीं. उन्होंने अभी हाल के चैत नवरात्रि का पूजन भी लोगों से शेयर किया था इसके पहले

Read more

आज नहींं रिलीज होगा आरण्य चालीसा

आरण्य चालीसा पर कोरोना का कहर! चैत नवमी को रिलीज होने वाली आरण्य चालीसा स्थगित आरा की अधिष्ठात्री आरण्य देवी की आरती और चालीसा की हुई थी शूटिंग आरा,21 अप्रैल. कोरोना ने आम जन जीवन मेंं इस कदर तबाही ला दी है कि लोग अपनी दिनचर्या तक भी ठीक नहींं कर पा रहे हैं. मनुष्य का सामाजिक से धार्मिक परिवेश बदल चुका है. यहाँ तक कि अब देवी-देवताओं से जुड़े कार्यों पर भी संकट के बादल मंडरा रहे हैं. मंदिर में भगवान तो पहले ही कैद हो चुके हैं. अब इनके भजन,चालीसा और आरती पर भी संकट के मेघ उमड़ रहे हैं. जी हाँ सुनने में आश्चर्य जरूर लग रहा होगा लेकिन यह यथार्थ है. शाहाबाद जनपद की अधिष्ठात्री,आरण्य देवी का चालीसा और आरती पिछले दिनों शूट किया गया था जिसका वीडियो नवमी को रिलीज होना तय हुआ था. लेकिन कोरोना की वजह से अब यह चालीसा और आरती अधर में लटक गया है. चैत नवमी को शक्ति की देवी का दिन माना जाता है और हिन्दू नववर्ष की शुरुआत भी मानी जाती है. इसी पावन दिवस को ध्यान में रखकर निर्माता ने यह आरती माँ को समर्पित करने का प्लान किया था लेकिन वह फिलहाल कोरोना के कहर से स्थगित हो गया है. कोरोना से जबतक स्थिति सामान्य नहींं होती रिलीज की अगली डेट का अनुमान निर्माता नही बता पा रहे हैं. बता दें कि माँ आरण्य क्रिएशन के बैनर तले आरा की अधिष्ठात्री देवी माँ आरण्य का चालीसा और आरती के ऑडियो का निर्माण पिछले वर्ष ही जारी

Read more

रिकॉर्डतोड़ कोविड-19 संक्रमण के बीच क्या बोलेंगे पीएम मोदी!

लंबे समय के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज एक बार फिर देश के लोगों से रूबरू हो रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रात 8:45 पर कोविड-19 संक्रमण को लेकर देश को संबोधित करेंगे. Pm Modi Live on Covid19 Courtesy Rajyasabha Tv pncb

Read more

लालू की जमानत पर कोरोना का ग्रहण!

अभी एक हफ्ते तक नही होगी लालू की जमानत पटना,20अप्रैल. झारखण्ड हाई कोर्ट द्वारा राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को जमानत मिलने के बाद भी उनकी रिहाई पर ग्रहण लग गया है. महामारी कोरोना के कारण राजद समर्थकों को फिलहाल कुछ दिन इंतजार करना पड़ेगा. शनिवार को कोर्ट द्वारा जमानत मिल जाने के बाद उम्मीद थी कि सोमवार या मंगलवार को बेल बांड भरा जायेगा लेकिन कोरोना के बढ़ते संक्रमण की वजह से झारखंड बार काउंसिल ने अगले 7 दिनों तक कोर्ट में वकीलों को किसी भी तरह के कार्य में करने की मनाही है. काउंसिल के इस निर्णय के बाद 25 अप्रैल तक कोई भी कार्य कोर्ट में संपादित नही होगा. ऐसी स्थिति में सोमवार यानी 26 अप्रैल को लालू प्रसाद यादव की रिहाई के लिए बेल बांड भरा जाएगा. उधर सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बेल की प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद भी राजद सुप्रीमो फिलहाल दिल्ली में ही रहेंगे. कल देर शाम दिल्ली पहुंचने के बाद तेजस्वी यादव ने अपने परिवार के सदस्यों के साथ बातचीत की. परिवार का यह मानना है कि लालू प्रसाद के स्वास्थ्य लिए दिल्ली एम्स ही सबसे परफेक्ट जगह है. लालू यादव का दिल्ली से पटना आना सिर्फ परिवार नहीं बल्कि दिल्ली एम्स में उनका इलाज करने वाले डॉक्टरों के सुझाव के बाद तय होगा.लालू यादव को जमानत दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामले में मिली है. लेकिन कोरोना की वजह से अभी उनके समर्थकों को लगता है हफ्ते भर ही नही बल्कि लम्बा इंतजार करना पड़ेगा. ब्यूरो रिपोर्ट

Read more

झारखंड में तो लग गया लॉकडाउन, अब बिहार की बारी!

कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर आखिरकार झारखंड सरकार ने वहां लॉकडाउन की घोषणा कर दी है. मंगलवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने खुद इस बात की जानकारी लोगों को दी है. उन्होंने कहा कि 22 अप्रैल की सुबह 6:00 से 29 अप्रैल की सुबह 6:00 बजे तक झारखंड में स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के नाम से तमाम गैर जरूरी गतिविधियां बंद रहेंगी. इधर बिहार में बेहिसाब बढ़ते संक्रमण के बावजूद सरकार ने अब तक लॉकडाउन को लेकर कोई फैसला नहीं किया है. हालांकि सूत्रों के मुताबिक बिहार में भी जल्द ही ऐसी ही कोई घोषणा हो सकती है. pncb

Read more

पटना में किस दिन खुलेगी कौन सी दुकान!

कोरोना महामारी ने आम लोगों के साथ-साथ सरकार को भी सोचने पर मजबूर कर दिया है. बिहार में आज 7487 नए कोरोना मरीज मिले हैं, इनमें से 2672 मरीज सिर्फ पटना के हैं. पटना में जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह ने संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए राजधानी में दुकानों के खुलने के लिए नया प्रतिबंध लागू किया है. इसमें विभिन्न कैटेगरी तय की गई है और सप्ताह के दिन तय किए गए हैं कि किस दिन कौन सी दुकान खुलेगी. इसलिए यह खबर आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है हम आपको बता रहे हैं किस दिन कौन सी दुकान खुलेगी और कौन सी बंद रहेगी. सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को शाम 6 बजे तक खुलने वाली दुकानें- मोबाइल, कंप्यूटर, लैपटॉप, यूपीएस और बैट्री (विक्रय और मरम्मत) सैलून, पार्लर , फर्नीचर की दुकान, सोना चांदी की दुकान, पंखा कूलर एयर कंडीशनर( विक्रय और मरम्मत). मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को शाम 6 बजे तक खुलने वाली दुकानें- कपड़ा और रेडीमेड वस्त्र की दुकान, बर्तन की दुकान, जूता- चप्पल की दुकान, ड्राई क्लीनर्स, स्पोर्ट्स/खेलकूद सामग्री की दुकान, कृषि कार्य यंत्र से जुड़े सभी प्रतिष्ठान और अन्य सभी दुकानें जो किसी सूची में नहीं हों. अब ऐसी दुकानों/प्रतिष्ठान की सूची जो हर दिन खुलेंगे- दवा दुकान, किराना दुकान, डेयरी/ मिल्क बूथ, सभी अस्पताल, निजी क्लिनिक, रेस्टोरेंट आदि की होम डिलीवरी सेवा, अनाज मंडी, मीट मछली की दुकानें, हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट (HSRP)की दुकान, पेट्रोल पंप, गैस एजेंसी और अन्य आवश्यक सेवाएं, ई-कॉमर्स सेवा, फल सब्जी की दुकान, पशु चारा की दुकान, ऑटोमोबाइल, वर्कशॉप, गैरेज, सर्विसिंग

Read more

बाहर से आने वालों से सीएम ने कर दी है अपील

बिहार में शिक्षण संस्थान 15 मई तक बंद रहेंगे. बिहार में तमाम सरकारी और निजी कार्यालय शाम 5:00 बजे बंद हो जाएंगे. सरकार ने फिलहाल लॉक डाउन की घोषणा नहीं की है लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यह संकेत दे दिया है कि जल्द ही बिहार में लॉक डाउन लग सकता है इसलिए जो लोग बाहर से आने वाले हैं उन्हें तुरंत अपने घर पहुंच जाना चाहिए. रात 9:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक बिहार में नाइट कर्फ्यू की घोषणा हो गई है. इसके अलावा मांस मछली फल सब्जी की सभी दुकानें शाम 6:00 बजे तक ही खुली रहेंगी. सभी धार्मिक स्थल 15 मई तक बंद रहेंगे. सार्वजनिक जगहों पर कोई भी निजी या सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं होगा. सिनेमा हॉल स्विमिंग पूल पार्क उद्यान जिम स्पोर्ट्स कंपलेक्स भी 15 मई तक बंद कर दिए गए. होटल रेस्टोरेंट और ढाबा में बैठकर खाना प्रतिबंधित कर दिया गया है हालांकि टेक अवे और होम डिलीवरी सर्विस नियत समय रात नौ बजे तक जारी रहेगा. सुनिए क्या कहा सीएम नीतीश कुमार ने शादी समारोह में 100 से ज्यादा लोग उपस्थित नहीं रह पाएंगे जबकि अंतिम संस्कार में महज 25 लोगों को शामिल होने की अनुमति दी गई है . बैंक, डाकघर, परिवहन और निर्माण कार्यों समेत किसी भी आवश्यक सेवा पर प्रतिबंध नहीं लगाया गया है. राजेश तिवारी

Read more