आर के सिंह ने किया आचार संहिता का उलंघन, क्या दर्ज होगा केस ?

आरा,23 मई. आचार संहिता उलंघन को लेकर आरा के भाजपा प्रत्याशी राजकुमार सिंह, एवं राघवेंद्र प्रताप सिंह को अनुमंडल पदाधिकारी सदर, आरा ने एक नोटिस जारी कर 24 घण्टे के भीतर जवाब मांगा. यह जवाब 19 मई को संध्या को किये गए एक आम सभा को लेकर मांगा गया है. जिला प्रशासन के अनुसार मुफ्फसिल थाना,आरा के नजदीक स्थित भाजपा नेता राघवेन्द्र प्रताप सिंह के आवास पर संध्या 6 बजे एक आम सभा का आयोजन किया गया जिसमें लगभग 200 लोग शामिल हुए. इस आम सभा को भाजपा प्रतायशी राज कुमार सिंह ने संबोधित भी किया जिसे प्रशासन ने आचार संहिता का उलंघन माना है. जिला दंडाधिकारी भोजपुर द्वारा भेजे गए ज्ञापांक 224(10/5/19)के अनुसार उस दिन संपूर्ण भोजपुर जिले में दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 लागू की गई थी. साथ ही आदेश की कंडिका एक में स्पष्ट रूप से उल्लिखित है कि किसी भी व्यक्ति, राजनीतिक दल, संगठन, के द्वारा राजनीतिक प्रयोजन से संबंधित किसी भी प्रकार की सभा ,जुलूस ,धरना ,प्रदर्शन तथा ध्वनि विस्तारक यंत्र का प्रयोग बिना किसी सक्षम पदाधिकारी के पूर्व अनुमति के आयोजित नहीं किया जाएगा तथा अनुमति की शर्तो के प्रतिकूल कोई भी कार्य नहीं किया जाएगा. इसके बावजूद भी राजकुमार सिंह एवं राघवेंद्र प्रताप सिंह द्वारा सभा का आयोजन किया गया तथा आदर्श आचार संहिता के साथ- साथ दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 का भी उल्लंघन किया गया. फलस्वरूप उक्त दोनों व्यक्तियों से 24 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण की मांग की गई है. पत्र में कहा गया है कि क्यों नहीं लोकसभा

Read more

मतदानयुक्त ईवीएम स्ट्रांगरूम में पूरी तरह सुरक्षित – निर्वाचन आयोग

नई दिल्ली / पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | मीडिया के एक वर्ग में ऐसी शिकायतें आ रही हैं जिनमें कहा गया है कि स्ट्रांगरूम में रखी हुई मतदानयुक्त ईवीएम को कथित रूप से बदलने का प्रयास किया गया है. भारत के निर्वाचन आयुक्त ने स्पष्ट किया है कि ऐसी सभी खबरें और आरोप पूरी तरह झूठे सच्चाई से परे है. मीडिया पर वायरल हो रहे दृश्यों का चुनाव के दौरान इस्तेमाल ईवीएम से कोई लेना-देना नहीं है. निर्वाचन आयोग की तरफ से प्रेस विज्ञप्ति में निम्नलिखित बातें कही गई हैं – मतदान समाप्त होने के बाद मतदानयुक्त सभी ईवीएम और वीवीपैट को कड़ी सुरक्षा में निर्धारित स्ट्रांगरूम में लाया गया है, जिन्हें उम्मीदवारों और निर्वाचन आयोग के पर्यवेक्षकों की मौजूदगी में दोहरे तालों से सील किया गया है. स्ट्रांगरूम के स्टोरेज और सीलिंग की पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी की गई है. मतगणना पूरी होने तक लगातार सीसीटीवी कवरेज की जाएगी. प्रत्येक स्ट्रांगरूम की केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) द्वारा 24 घंटे पहरेदारी की जा रही है. साथ ही उम्मीदवार अथवा उनके मनोनीत एजेंट 24 घंटे स्ट्रांगरूम में मौजूद हैं.मतगणना के दिन उम्मीदवारों/एजेंटों और पर्यवेक्षकों की मौजूदगी में वीडियोग्राफी के साथ स्ट्रांगरूमों को खोला जाएगा. ईवीएम की गणना करने से पहले मतगणना एजेंटों को पतों के टैग, सीलें और ईवीएम की क्रम संख्या दिखाई जाएगी ताकि उनके समक्ष वास्तविक मतदान में इस्तेमाल मशीन की सत्यता और प्रामाणिकता साबित की जा सके.चुनाव की घोषणा होने के बाद से आयोग के साथ हुई 93 बैठकों में से अनेक में कई मौकों पर राजनीतिक दलों

Read more

उपेन्द्र कुशवाहा के गीदड़ भभकी से जनता डरने वाली नहीं – मोर्चा

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | राष्ट्रीय सामाजिक न्याय मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह वरिष्ठ भाजपा नेता उपेन्द्र चैहान, उपाध्यक्ष अमिताभ कुमार सिंह एंव राष्ट्रीय प्रवक्ता नीलमणि पटेल ने आज एक बयान जारी कर रालोसपा सुप्रीमो उपेन्द्र कुशवाहा द्धारा एग्जिट पोल से सम्बंधित परिणाम आने पर खून खराबे की धमकी दिये जाने वाले बयान की कड़ी शब्दों मेंनिन्दा करते हुए कहा कि “संगत से गुण होत है,संगत से गुण जाए, बास-फास मिश्री एक भाव बिकाए”. रालोसपा प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा जब एनडीए के पार्ट थे तो उनकी मनोस्थिति ठीक-ठाक थी किन्तु जैसे ही राजद के पाले मे गये कि लालू प्रसाद की भाषा बोलने लगे. बिहार की जनता उपेन्द्र कुशवाहा के इस गीदड़ भभकी से डरने वाली नही है. स्वयं और महागठबंधन की करारी हार देखकर उपेन्द्र कुशवाहा बौखला गये है. मोर्चा के नेताओ ने अपने बयान मे कहा कि लोकसभा चुनाव मे जनता का मनोभाव शायद उपेन्द्र कुशवाहा पढ नही सके. यही कारण है कि आज चुनाव परिणाम आने से पूर्व एनडीए की जीत सामने देखकर वे पूरी तरह से घबड़ाये हुए है. उन्होंने रालोसपा प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा को किसी के झासे मे नहीं रहने को कहा क्योंकि जिस महागठबंधन का दामन उन्होंने थामा है उसका इस चुनाव मे बुरा हस्न होने वाला है. राजद, कांग्रेस जैसे दलो का जब इस चुनाव मे कोई वजूद नही रहा तो रालोसपा किस खेत की मूली है. इसलिए महागठबंधन मे जाकर लालू जी की भाषा बोलने से कुशवाहा जी को कोई लाभ मिलने वाला नही है उल्टा जनता के बीच हास्य का पात्र बनेंगे वो.

Read more

महागठबंधन को Exit Poll की आड़ में बड़ी धांधली की आशंका

गलत Exit poll की आड़ में है बड़ी धांधली की आशंका : महागठबंधनदेश में भारी बहुमत के साथ बनेगी UPA की सरकारबिहार की सारी सीटों पर महागठबंधन की होगी रिकार्ड जीतपटना (ब्यूरो रिपोर्ट)। लोकसभा चुनाव 2019 के मतदान के बाद आये Exit Poll को महागठबंधन के सभी दलों ने सरासर गलत बताते हुए कहा कि इस झूठे Exit Poll की आड़ में बड़ी धांधली की आशंका है. होटल मौर्या में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में मंगलवार को राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा, विकासशील इंसान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सन ऑफ मल्लाह मुकेश सहनी, राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष रामचन्द्र पूर्वे, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा और हम पार्टी के प्रदेश अध्‍यक्ष बीएल वैश्‍यंत्री ने संयुक्त रूप से कहा कि आज देश में जो माहौल बनाया जा रहा है वो खतरनाक है. देश के कई हिस्सों से EVM पकड़े जाने की खबरें आ रही है. इसमें 20 लाख EVM गायब है, जिसका ब्‍यौरा चुनाव आयोग के पास नहीं है. यह देश के लोकतंत्र के लिए खतरनाक है. उन्‍होंने मतगणना के दौरान होने वाली गड़बड़ी को लेकर महागठबंधन के कार्यकर्ताओं और आम जनता से सतर्क रहने की अपील की. उन्‍होंने कहा कि चुनाव खत्म होने के बाद जिस तरह Exit Poll आये और सोशल मीडिया से लेकर मीडिया के हर माध्यम में EVM मशीन को लेकर देश भर से आ रही खबरें इस बात की ओर इशारा करती है कि इस बार एनडीए की जमीन खिसक चुकी है. इसलिए चुनाव जीतने के लिये उनकी ओर

Read more

वो कौन है जिसने रात के अंधेरे में बांटा “भाजपा हटाएं” का पर्चा

आचार संहिता का हुआ उलंघन, चुनाव से 8 घँटे पहले बंटे पर्चे आरा,18 मई. 19 मई 2019 को होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर जहां 24 घण्टे पहले सभी पार्टियों का चुनाव-प्रचार थम चुका है वैसे में आरा में आज रात लगभग 11 बजे रात में चुनाव से महज 8 घण्टे पूर्व जसवा(जनमुक्ति संघर्ष वाहिनी) के कार्यकर्ता को एक पार्टी विशेष के विरोध में पर्चे बांटते देखा गया. चुनाव में कड़े नियमों और सख्ती के बाद भी यह दुःसाहस भरा कार्य कानून के विरोध है. वोटरों को रातों रात अपने पक्ष में मोड़ने के उद्देश्य से ऐसे कार्य किये जाते है. अब दिलचस्प सवाल यह कि जनमुक्ति संघर्ष वाहिनी किसी पार्टी विशेष का विरोध खुद कर रही है या किसी के कहने पर? मध्यरात्रि के समय गोला मुहल्ले के पास खड़े युवकों ने जब पर्चे लेने से इनकार करते हुए इसे चुनाव आचार संहिता का उलंघन बताया तो ‘जसवा’ के कार्यकर्ता ने यह कहते हुए पर्चा थमा दिया कि आपको जो मन करे इस पर्चे के साथ कीजिये. मेरा काम है पर्चा बाँटना अब आप इसे पढ़िए या फेंक दीजिये. मेरा काम है पर्चा बाँटना अब आप इसे पढ़िए या फेंक दीजिये. हालांकि पर्चा बांटने वाले संगठन से कोई उम्मीदवार चुनाव मैदान में खड़ा तो नही है लेकिन एक पार्टी विशेष का विरोध पुरजोर तरीके से पर्चे पर किया गया है. अब देखना यह होगा कि इसपर चुनाव आयोग क्या करवाई करती है. आरा से ओ पी पांडेय व सत्य प्रकाश सिंह की रिपोर्ट

Read more

ऐसा कोई सगा नही,पलटु चाचा ने जिसको ठगा नही : तेजस्वी

संविधान बचाने व बेरोजगारी भगाने वाला है यह चुनाव अंतिम चुनावी सभा में महागठबंधन ने निकाली भड़ास भोजपुर के गड़हनी में केन्द्र व बिहार सरकार पर जमकर बरसे तेजस्वी गड़हनी. वर्तनान चुनाव में बेरोजगारी, शिक्षा, किसानों व गरीबों की समस्या सबसे बड़ा मुद्दा है. लेकिन भाजपा के लोग असल मुद्दे को इस चुनाव से दुर रखे हैं. इसी आरा में प्रधानमंत्री मोदी ने बिहार की बोली लगायी थी. आज तक एक भी वादे पुरे नहीं किये. पल्टू चाचा बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने का वादा किये थे. यह पहला चुनाव है कि आपके नेता हमारे पिता लालू यादव हमारे बीच नहीं हैं. लेकिन उनके विचार हमारे और आपके साथ हैं. हमलोगों का कर्तव्य बनता है कि लालू जी के विचार को आगे बढाना है. उक्त बातें भोजपुर के गड़हनी स्थित खेल मैदान में माले के प्रत्याशी राजू यादव के समर्थन में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित करते हुये बिहार के नेता प्रतिपक्ष व पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कही. तेजस्वी ने कहा कि भाजपा वाले हमारे पिता और आपके नेता लालू यादव से डरता था अब तो हमसे भी डरने लगा है. आरक्षण को खत्म करने की तैयारी कर ली गयी है. संविधान के साथ ये लोग खिलवाड़ कर रहे हैं. देश की जांच एजेंसियों का गलत तरीके से इस्तेमाल किया जा रहा है. नीतीश कुमार पर चुटकी लेते हुये कहा कि बचपन में फिल्म देखते थे चाची 420 लेकिन अब हकिकत में चाचा 420 बन गये हैं हमारे पल्टू चाचा. भाजपा में जाते ही सारे पाप

Read more

मुख्यमंत्री ने की बोधि वृक्ष की पूजा अर्चना

पटना (पोलिटिकल रिपोर्टर) | भगवान बुद्ध की 2563 वीं जयंती के अवसर पर 01 अण्णे मार्ग स्थित में स्थापित बोधि वृक्ष की बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को पूजा अर्चना की. बौद्ध भिक्षुओं द्वारा मुख्यमंत्री को बोधि वृक्ष की पूजा अर्चना भी कराई गई. नीतीश कुमार ने इस मौके पर समस्त बिहारवासियों को बुद्ध पूर्णिमा की बधाई एवं शुभकामनाएं दी.

Read more

मतदाताओं की सुविधा के लिए मतदान के दिन भी चलेंगी सिटी बसें

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | मतदाताओं की सुविधा के लिए 19 मई, रविवार को भी बिहार राज्य पथ परिवहन निगम की सिटी बसों का परिचालन जारी रहेगा. शहर में एक जगह से दूसरे जगह मतदान के लिए जाने वाले मतदाताओं को असुविधा न हो इसके लिए सिटी बसों को विभिन्न रूटों पर पूर्व की तरह चलाने का निर्णय लिया गया है. परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि मतदान के दिन वाहनों के कम परिचालन की वजह से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है. विगत वर्षों में बस और अन्य वाहनों का परिचालन बंद रहता था. इस बार मतदाताओं कि सुविधा का ख्याल रखते हुए सभी रूटों पर सिटी बसों का परिचालन किए जाने का निर्णय लिया गया है. निर्धारित किराया देकर सिटी बस सेवा के किसी भी रूट पर सफर कर सकते हैं.बतातें चलें कि पटना साहिब व पाटलिपुत्र लोकसभा का मतदान रविवार 19 मई को है. मतदान के दिन सिटी बसों का परिचालन होने से मतदाताओं को काफी राहत मिलेगी. मतदान या अन्य इमरजेंसी सेवा के लिए बस द्वारा एक जगह से दूसरी जगह आराम से जा सकते हैं. लोकतंत्र के महापर्व में मतदाताओं की अधिक से अधिक भागीदारी हो और वोटिंग का प्रतिशत बढ़े इसके लिए नगर बस सेवा के माध्यम से बिहार राज्य पथ परिवहन निगम मतदाताओं को जागरूक भी कर रहा है. शहरवासियों को जागरुक बनाने के लिए नगर बस सेवा के सभी बसों में मतदाता जागरुकता संबंधित एक से एक आकर्षक पोस्टर चस्पाया गया है. “है यह सबकी जिम्मेदारी डालें वोट सभी

Read more

आर के सिंह का कोइलवर में रोड शो

कोइलवर/भोजपुर (आमोद कुमार) | केंद्रीय मंत्री सह आरा लोकसभा सभा क्षेत्र के एनडीए प्रत्याशी आरके सिंह ने गुरुवार शाम छः बजे नगर पंचायत कोईलवर में रोड शो किया. इस दौरान उन्होंने आरा-पटना नेशनल हाइवे 30 पर अवस्थित शहीद कपिलदेव राम की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर रोड शो प्रारम्भ किया. जिसके बाद सिंह सैकड़ो कार्यकर्ताओ का काफिला कोईलवर हॉस्पिटल रोड, कोईलवर चौक, होते नगर के मुख्य सड़क होते हुए मिश्रटोला पहुँचा. जहाँ से दलित टोला, पैठान टोली होते हुए संकीर्ण सड़को व गलियों होते हुए रोड शो वार्ड एक कटकैरा पहुँचा. रोड शो में एक सौ बाइक सवार के साथ पांच सौ ज्यादा लोग जनसम्पर्क में मौजूद थे. जनसंपर्क अभियान में एक बार मोदी सरकार बनाने के लिए कमल पर बटम दबाने की अपील की. मौके पर सिंह ने आरा में विकास कार्यो को याद दिलाया और कहा विकास की यह एक मात्र बानगी है. साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी जी के उपलब्धियों को भी बताया. कहा कि नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश का शान व सम्मान काफी बढ़ा है. भारत को दुनिया का महाशक्ति व विश्वगुरु बनाने के लिए फिर एक बार मोदी सरकार की जरूरत है. इसलिए सारे काम काज छोड़ सबसे पहले मतदान करें इस रोड शो के दौरान रास्ते मे पड़ने वाले मंदिरों में मत्था भी टेका. नगर भ्रमण के दौरान कार्यकर्ताओं ने सिंह के समर्थन में भारत माता की जय, वन्देमातरम का उदघोष भी किया. इधर नगरवासियो ने अपने चहेते प्रत्याशी आरके सिंह के रोड शो में शामिल लोगों के लिये पेयजल, शर्बत, मिठाई की

Read more

लोकपाल की वेबसाइट का उद्घाटन

नई दिल्ली (ब्यूरो रिपोर्ट) | लोकपाल के अध्यक्ष न्यायमूर्ति पिनाकी चंद्र घोष ने बृहस्पतिवार को लोकपाल के सभी सदस्यो की उपस्थिति में लोकपाल की वेबसाइट का उद्घाटन किया. इस अवसर पर एनआईसी की महानिदेशक श्रीमती नीता वर्मा भी उपस्थित थीं.इस वेबसाइट का निर्माण राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र(एनआईसी) ने किया है और इसमें लोकपाल के संचालन और कार्यपद्धति संबधी आधारभूत जानकारी प्रदान की गई है. यह वेबसाइट http:// lokpal.gov.in पर देखी जा सकती है.लोकपाल स्वतंत्र भारत में अपनी प्रकार का पहला संस्थान था, जिसकी स्थापना लोकपाल और लोकायुक्त अधिनियम 2013 के अंतर्गत की गई है. यह इस अधिनियम के कार्यक्षेत्र और सीमा में आने वाले लोक सेवको के विरूद्ध भष्ट्राचार के आरोपो की जांच और विवेचना करेगा.केंद्र सरकार ने न्यायमूर्ति पिनाकी चंद्र घोष को लोकपाल का पहला अध्यक्ष नियुक्त किया था, जिन्हें 23 मार्च 2019 को राष्ट्रपति ने पद की शपथ दिलाई. सरकार ने इसके साथ ही चार न्यायिक और गैर-न्यायिक सदस्यो की नियुक्ति भी की. लोकपाल का अस्थायी कार्यालय वर्तमान में नई दिल्ली स्थित होटल अशोक से कार्यरत है. लोकपाल के संदर्भ में नियमो को अधिसूचित करने और शिकायत स्वीकार करने के लिए नियमावली की प्रक्रिया तैयार की जा रही है. 16 अप्रैल, 2019 तक प्राप्त सभी शिकायतो का लोकपाल कार्यालय द्वारा निरीक्षण किया गया और इन्हें निपटाया गया. इस अवधि के पश्चात मिली शिकायतो का परीक्षण किया जा रहा है.

Read more