गला दबाकर विवाहिता की ह’त्या, शव छोड़कर ससुराल वाले फरार

मायके वालों ने लगाया दहेज के लिए हत्या का आरोप फुलवारी शरीफ।। राजधानी पटना के फुलवारी शरीफ थाना अंतर्गत फुलिया टोला गांव में एक राजमिस्त्री सुजीत राय ने अपनी 28 वर्षीया पत्नी रिंकू देवी की गला दबाकर हत्या करने के बाद आत्महत्या का रूप देने का प्रयास किया. इतना ही नहीं इस वारदात में मृतका के पति के अलावा ससुराल के कई लोग शामिल थे जो पुलिस के पहुंचने से पहले ही फरार हो गए. मृतका के मायके वाले और गांव वालों की सूचना पाकर पहुंची फुलवारी शरीफ थाना पुलिस ने मृतका के शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. पुलिस का कहना है कि मृतका की लाश को ससुराल वाले ठिकाने लगाने का प्रयास कर रहे थे. वहीं आसपास के लोगों से पुलिस टीम पूछताछ कर रही है. इस मामले में मृतका के मायके वालों ने दहेज के लिए प्रताड़ना देकर ससुराल वालों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया है. बहरहाल पुलिस टीम हर पहलू पर तहकीकात कर रही है. वहीं मृतका के मायके नासरीगंज में वारदात की जानकारी मिलते ही परिवार वालों में कोहराम मच गया। रोते बिलखते परिजन पुलिया टोला पहुंचे और विलाप करने लगे. Ajeet

Read more

बिहार में बड़ा सियासी उलटफेर, राजद ने कर दिया बड़ा खेल

Rjd, jagdanand singh, pc,

तेजस्वी यादव ने बिहार की सियासत में एक बड़ा दांव चलते हुए ए आई एम आई एम के 4 विधायकों को अपनी पार्टी में मिला लिया है. इसके साथ ही आरजेडी बिहार विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी हो गई है. अब आरजेडी के पास कुल 80 विधायक हैं. जबकि भाजपा के 77, जदयू के 45 और कांग्रेस के 19 विधायक हैं. AIMIM के 5 में से 4 विधायक RJD में शामिल हुए हैं. कोचाधामन सीट से विधायक मोहम्मद इज़हार अस्फ़ी, जोकीहाट से विधायक शाहनवाज़ आलम, बायसी से विधायक रूकनुद्दीन अहमद और बहादुरगंज से विधायक अनज़ार नईमी ने राजद की सदस्यता ग्रहण की. बिहार की सियासत में इसे बड़ा दांव माना जा रहा है क्योंकि विधानसभा के आंकड़े के मुताबिक महागठबंधन और एनडीए के बीच संख्या बल का फासला बहुत ज्यादा नहीं है. विशेष रूप से भाजपा और जदयू के बीच चल रही खींचतान को लेकर सियासी जानकार मानते हैं कि राजद का यह दांव किसी बड़े बदलाव का संकेत हो सकता है. राजद ने इस बार एक तीर से कई शिकार किए हैं. ना सिर्फ अपने पूर्व सहयोगी कांग्रेस को आइना दिखाया है बल्कि भाजपा को भी आंकड़ों के हिसाब से पटखनी दी है. इधर हिना शहाब की राजद से दूरी का भी हिसाब बराबर कर दिया है. राजद के इस मास्टरस्ट्रोक ने खास तौर पर भाजपा की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. क्या कहते हैं भाजपा नेता pncb

Read more

राजधानी में बारिश के बाद मौसम हुआ सुहावना

24 घंटे में पूरे प्रदेश में तेज हवा, वज्रपात और मेघ गर्जन के साथ बारिश की संभावना कई जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट राजधानी पटना सुबह 8:00 बजे से लगातार तेज झमाझम बारिश होने से मौसम का मिजाज बदला हुआ है और लोगों को उमस भरी गर्मी से काफी राहत मिली है. सुबह से बारिश शुरू होने की वजह से राजधानी पटना में अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस बना हुआ है. मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में पूरे प्रदेश में तेज हवा, वज्रपात और मेघ गर्जन के साथ बारिश की संभावना व्यक्त की है. साथ ही लोगों से अपील की है कि इस मौसम को देखते हुए सतर्क रहें और बारिश की स्थिति उत्पन्न होने पर किसी पक्के मकान की शरण में जाएं और ऊंचे पेड़ और बिजली के खंभों से दूर रहें. आज प्रदेश के अधिकांश जिलों में सुबह से झमाझम बारिश हो रही है. जिसमें पटना, समस्तीपुर, वैशाली, बक्सर, नालंदा, नवादा, सिवान, सारण, अरवल, जहानाबाद और गया समेत कई जिले शामिल हैं. मौसम विज्ञान केंद्र पटना  के मुताबिक 15 दिनों के बाद बिहार में एक साथ दो हवाएं सक्रिय हुई हैं. जिस वजह से पूरे प्रदेश में बारिश का सिस्टम सक्रिय हो गया है और इसके परिणाम स्वरुप तेज हवा वज्रपात मेघ गर्जन के साथ बारिश अगले 24 घंटे के दौरान देखने को मिलेगा. मौसम विज्ञान केंद्र के बुधवार सुबह जारी ताजा अलर्ट के मुताबिक पटना, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, वैशाली, बक्सर, नालंदा, नवादा, शेखपुरा, बेगूसराय, खगड़िया, सहरसा, दरभंगा, मधुबनी, सीवान, सारण, भोजपुर, औरंगाबाद, अरवल, जहानाबाद और गया जिले

Read more

बिहार में ठनका गिरने से 17 लोगों की मौत

मृतक आश्रितों को 4-4 लाख मुआवजे की घोषणा मौसम विभाग ने बिहार के 18 जिलों में ऑरेंज अलर्ट बिहार के मौसम खराब होने के बाद आकाशीय बिजली गिरने से सात जिलों के 16 लोगों की मौत हुई है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मृतकों के आश्रित को चार-चार लाख रुपये सहायता राशि के रूप में देना का ऐलान कर दिया है. मिली रही जानकारी के अनुसार वज्रपात से पूर्वी चम्पारण में चार, भोजपुर में तीन, पश्चिम चम्पारण में दो, अररिया में एक, बांका में एक, मुजफ्फरपुर में एक और सारण में एक व्यक्ति की मौत होने की पुष्टि हुई है. मौसम विभाग ने राज्य 18 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. जिला के अलग अलग प्रखंडों में आसमानी कहर टूटा है. आसमानी बिजली के चपेट में आने से एक महिला और दो बच्चा समेत चार लोगों की मौत हो गई है. जबकि एक वृद्ध समेत चार लोग गंभीर रुप से झुलस गए हैं. मृतकों में भाई-बहन भी शामिल हैं. घटना छौड़ादानो, सुगौली और रामगढ़वा प्रखंडों में घटी है. घटना की पुष्टि करते हुए आपदा विभाग के अपर समाहर्ता अनिल कुमार ने बताया कि मृतकों के परिजन को आपदा राहत कोष से जल्द हीं मुआवजा राशि दी जाएगी.भोजपुर में आसमान से टूटा कहर: वहीं भोजपुर जिले में तीन लोगों की मौत वज्रपात के चपेट में आने से हुई है. जानकारी के अनुसार नगर थाना क्षेत्र के अहिरपुरवा में दो लोग की मौत वज्रपात से हुई है. इसके अलावा एक और मौत की सूचना है. वहीं आपदा विभाग ने पश्चिम चम्पारण में

Read more

356 व्याख्याताओं को मिला नियुक्ति पत्र

बिहार लोक सेवा आयोग की अनुशंसा के बाद विभिन्न शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालयों में नवनियुक्त 356 व्याख्यताओं को एक समारोह में नियुक्ति पत्र वितरित किया गया. इन व्याख्यताओं को फाउण्डेशन कोर्स ( 53 ), समावेशी शिक्षा ( 32 ) शैक्षिक प्रौद्यागिकी (18), योजना एवं शोध ( 31 ), हिन्दी (20), अंग्रेजी (17), उर्दू (11). संस्कृत (6) गणित ( 21 ) भौतिकी ( 23 ) रसायन शास्त्र ( 22 ) वनस्पति विज्ञान ( 19 ). प्राणि विज्ञान ( 22 ), सामाजिक विज्ञान (61) के नियुक्ति पत्र वितरित किये गये. आपको बता दें कि बिहार में कुल 4 प्रकार के शिक्षक प्रशिक्षण संस्थान हैं. कुल 06 अध्यापक शिक्षण महाविद्यालय (CTE). 33 जिला शिक्षक एवं प्रशिक्षण संस्थान ( DIET ), 23 प्राथमिक शिक्षक शिक्षा महाविद्यालय (PTEC ) एवं 04 प्रखण्ड शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (BIET) हैं. इनमें कुल 993 पद स्वीकृत है एवं पूर्व से 456 व्याख्याता कार्यरत हैं. 356 नये व्याख्याताओं के पदस्थापन एवं नियुक्ति पत्र वितरण के बाद मात्र 181 रिक्तियां रह जायेंगी, जिसे शीघ्र भरने का शिक्षा विभाग द्वारा प्रयास किया जा रहा है. शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने नव नियुक्त व्याख्याताओं को सम्बोधित करते हुये कहा कि शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के दो प्रमुख उपाय हैं प्रशिक्षण एवं निरीक्षण. इस दृष्टिकोण से नव नियुक्त व्याख्याताओं की राज्य की शिक्षा व्यवस्था की गुणवत्ता सुधार में अत्यंत महत्वपूर्ण भूमिका है. उन्होंने कहा कि विभाग नव नियुक्त व्याख्याताओं की सभी सुविधाओं का ख्याल रखेगी एवं उनसे अनुरोध किया कि वे अपना शत्-प्रतिशत योगदान अपने निर्धारित भूमिका को निभाने में दें. उन्होंने

Read more

माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालयों के शारीरिक शिक्षा शिक्षकों का विशेष प्रशिक्षण 6 जुलाई से पटना में

पटना।। बिहार शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा यूनिसेफ के सहयोग से राज्य के माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत चयनित शारीरिक शिक्षा शिक्षकों का तीन दिवसीय आवासीय प्रशिक्षण कार्यक्रम आगामी 6 से 23 जुलाई तक पटना के पाटलिपुत्र खेल परिसर में आयोजित किया जायेगा. इस संबंध में बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के राज्य परियोजना निदेशक असंगबा चुबा आओ ने राज्य के सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी व जिला कार्यक्रम पदाधिकारियों को पत्र लिखा विस्तृत सूचना एवं आवश्यक निर्देश दिया है. इन शारीरिक शिक्षा शिक्षकों को विभिन्न खेलों के विशेषज्ञ प्रशिक्षण देंगे. शारीरिक शिक्षा शिक्षकों के प्रथम बैच में राज्य से चयनित सभी 50 आदर्श माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालयों के शारीरिक शिक्षक ही भाग लेंगे. शेष पांच बैचों में राज्य के 38 जिलों के माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालयों के चयनित शारीरिक शिक्षा शिक्षकों को अलग-अलग तिथियों में प्रशिक्षण दिया जायेगा. इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में कुल 300 शारीरिक शिक्षा शिक्षकों को ट्रेनिंग दी जायेगी.सभी प्रतिभागियों के आवासन व भोजन की व्यवस्था पाटलिपुत्र खेल परिषर के छात्रावास में की गई है. सभी प्रतिभागियों को प्रशिक्षण दिवस के एक दिन पूर्व प्रशिक्षण स्थल पर रिपोर्ट करना होगा.प्रशिक्षण सत्र प्रतिदिन सुबह सात बजे से योगाभ्यास सत्र के संचालन से शुरू होगा। सभी प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण अनुरूप पोशाक लेकर आने का निर्देश दिया गया है. यह है कार्यक्रम6 से 8 जुलाई : सभी जिलों के चयनित अनुकरनीय विद्यालय11 से 13 जुलाई : अररिया, अरवल, औरंगाबाद, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर व मधुबनी जिला14 से 16 जुलाई : दरभंगा, पूर्वी चंपारण, गया, गोपालगंज, सारण।18 से 20जुलाई :

Read more

AIM का फेयरवेल,नौनिहालों का टैलेंट !

एक महीने में लगभग 200 बच्चों ने पेंटिंग,craft, म्यूजिक और डांस सीखा आरा,28 जून. AIM(आर्ट इन मोशन) डांस अकादमी ने एक महीने चलने वाले समर कैम्प की समाप्ति के बाद ग्रैंड फेयरवेल कार्यक्रम का आयोजन रविवार को आरा स्थानीय नागरी प्रचारिणी सभागार में संपन्न किया. कार्यक्रम की शुरुआत उद्धाटनकर्ता मेयर आरा रूबी तिवारी, विशिष्ठ अतिथि उप मेयर प्रत्याशी व सामाजिक कार्यकर्ता विष्णु सिंह और आरा रंगमंच के वरिष्ठ कलाकार सह ऑल इंडिया थियेटर असोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक मानव ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया. इस मौके पर मेयर रूबी तिवारी ने AIM अकादमी द्वारा बच्चों को बहुमुखी प्रतिभावान बनाने के लिए धन्यवाद देते हुए कहा कि भोजपुर के किसी बच्चे में यदि पैसे की कमी के कारण कोई अड़चन आता है तो वे हमेशा उसके लिए तैयार हैं. वही विष्णु सिंह ने सभी प्रतिभावान बच्चों के अभिभावकों को बधाई दिया कि बिना उनके समर्पण के बच्चों का ये टैलेंट देखने को नहीं मिलता. वही अशोक मानव ने बच्चों को शुभकामना देते हुए कहा कि आरा कला की भूमि है और यहां की मिट्टी ने एक से एक कलाकार दिए हैं. उन्होंने पिछले साल भोजपुरी पेंटिंग के लिए आंदोलन के दौरान आज की तारीख को अपनी गिरफ्तारी का दिन याद करते हुए कहा कि कलाकारों के हित के लिए उन्हें अगर फिर से जेल जाना पडे तो वे भविष्य में भी तैयार हैं. आगत अतिथियों को अंग वस्त्र और सम्मान पत्र के साथ क्रमशः श्वेता पांडे,ओ पी पाण्डेय और मनोज श्रीवास्तव ने किया. कार्यक्रम का मंच संचालन पप्पू

Read more

अग्निपथ योजना के विरोध में सत्याग्रह

पूर्व सैनिक और फौज की तैयारी करने वाले युवाओं के दल ने जतायी अपनी पीड़ा बक्सर, 28 जून. अग्निपथ योजना के विरोध में बक्सर सदर विधायक मुन्ना तिवारी के नेतृत्व में सोमवार को कमलदह तालाब परिसर में महात्मा गांधी स्मारक के पास एक दिवसीय शांतिपूर्ण सत्याग्रह कांग्रेस पार्टी द्वारा किया गया. कार्यक्रम की अध्यक्षता कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष बजरंगी मिश्रा ने की तथा संचालन वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजा रमण पांडेय ने की. कांग्रेस के विधायक संजय कुमार तिवारी ने कहा कि हाल ही में अग्निपथ योजना से सशस्त्र बलों की लंबे समय से चली आ रही परंपराओं एवं लोकाचार को नष्ट करने और उनके मनोबल का अवमूल्यन करने के कारण पूरे देश में इसका विरोध हो रहा है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा बिना किसी व्यापक परामर्श के इस नीति को थोपने की वजह से बड़ी संख्या में युवा नाराज है, जो सशस्त्र बल में शामिल होने का सपना देख रहे थे. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय कांग्रेस ने हमारे राष्ट्रीय हितों की रक्षा के लिए लड़ने की अपनी गौरवपूर्ण विरासत को लेकर पहले दिन से ही इस योजना का विरोध किया है. पार्टी ने इसके विरोध में 20 जून को दिल्ली के जंतर मंतर और विभिन्न राज्यों में भी शांतिपूर्ण सत्याग्रह किया है. गांधी के वंशज हैं जो झुकते नहीं इस दौरान लोगों को संबोधित करते हुए जिला उपाध्यक्ष बजरंगी मिश्रा ने कहा कि हम गांधी के वंशज हैं गोडसे के नहीं जो झुक जायेंगे. यह सत्याग्रह चलता रहेगा. इंटक के जिलाध्यक्ष गौरव राय ने कहा कि केंद्र सरकार

Read more

अंतर जिला ऐच्छिक तबादला की मांग तेज, दो साल से टाल रही सरकार

तबादले की मांग लेकर शिक्षकों का अनिश्चितकालीन धरना जारी बिहार के नियोजित शिक्षकों की ऐच्छिक अंतर जिला स्थानांतरण करने की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन जारी है. स्थानांतरण संघर्ष मंच के बैनर तले शुरू किए गए धरना को संबोधित करते हुए टीईटी शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष अमित विक्रम ने कहा कि पंचायती राज संस्थान शिक्षक नियमावली 2020 के तहत महिलाओं एवं दिव्यांगों को तो ऐच्छिक स्थानांतरण का लाभ तो दिया गया है, जबकि पुरुष शिक्षकों को वंचित कर दिया गया है. पुरूष शिक्षकों को सिर्फ पारस्परिक स्थानांतरण का लाभ दिया गया है, जिससे सभी पुरूष शिक्षक ऐच्छिक स्थानांतरण से वंचित रह जाएंगे. महिलाओं को भी जो ऐच्छिक स्थानांतरण देने की बात है वह भी नियमावली बनने के दो साल बीत जाने के बावजूद अब तक शुरू नहीं किया गया है. उन्होंने सरकार से महिला एवं दिव्यांग शिक्षकों के साथ ही पुरुष शिक्षकों का भी विना किसी शर्त के ऐच्छिक अंतर जिला स्थानांतरण करने की मांग की है. बता दें कि ऐच्छिक स्थानांतरण ना मिल पाने की वजह से लाखों की संख्या में शिक्षक अपने घर परिवार से दूर नौकरी करने को विवश हैं. सैकड़ों महिलाओं को तो अपना घर परिवार वचाने के लिए अपनी नौकरी तक छोड़नी पड़ी. हजारों ऐसी महिलाएं हैं जो शादी के बाद भी अपने मायके में रहने को मजबूर हैं क्योंकि उन्हें स्थानांतरण नहीं दिया जा रहा है. सरकार ने दो वर्ष पहले विधानसभा चुनाव से पहले नियोजित शिक्षकों के लिए सेवा नियमावली बनाई जिसमें ऐच्छिक स्थानांतरण की सुविधा देने की बात थी लेकिन

Read more

स्कूली बच्चों को स्वास्थ्य और पोषण की मिलेगी पूरी जानकारी

विद्यालय स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत 6-12 तक के सभी विद्यालय के शिक्षक शिक्षिकाओं को स्वास्थ्य एवं आरोग्य राजदूत के रूप में पांच दिवसीय गैर आवासीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन प्रखंड संसाधन केंद्र गायघाट में किया गया. इस अवसर पर प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, प्रखंड प्रमुख ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया इस अवसर पर प्रखंड के शिक्षकों ने इस कार्यक्रम में शिरकत की. इस अवसर पर प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी ने कहा कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य बच्चों में एक सकारात्मक संसाधन का संचार होगा साथ ही स्वास्थ्य व्यवहारों को विकसित करने के लिए उनके ज्ञान को बढ़ाया जा सकता है. उन्होंने कहा कि आज का युवा पीढ़ी को हम कैसे स्वस्थ रखें और उन्हें कैसे सुरक्षित रखें, ये जरूरी है. वहीं गायघाट के प्रखंड प्रमुख ने भी अपना विचार व्यक्त किया. कार्यक्रम का उद्देश्य:-1 स्कूलों में बच्चों को स्वास्थ्य और पोषण के बारे में उचित जानकारी प्रदान करें.2 बच्चों के जीवन में स्वस्थ व्यवहार को बढ़ावा देने के लिए प्रेरित करना.3 बच्चों और किशोरों में शुरुआत में ही बीमारियों का पता लगाना और उनका इलाज करना जिनमें कुपोषित और एनीमिक बच्चों की पहचान कर कार्मिक स्वास्थ्य केंद्रों और अस्पतालों ने रेफरल करना भी शामिल है.4 स्कूलों में सुरक्षित पेयजल के उपयोग को बढ़ावा देना .5 लड़कियों में सुरक्षित मासिक यह धर्म हेतु सुरक्षित प्रथाओं को बढ़ावा देना.6 बच्चों के लिए स्वास्थ्य कल्याण और पोषण पर अनुसंधान को प्रोत्साहित करना . pncb

Read more