अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस विशेष : मातृभाषा जोड़ती है, तोड़ती नहीं

आज स्नातकोत्तर भोजपुरी विभाग, वीर कुँवर सिंह विश्वविद्यालय आरा में अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस के उपलक्ष्य में एक समारोह का आयोजन किया जिसकी अध्यक्षता भोजपुरी के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ नीरज सिंह ने की. मुख्य अतिथि के रूप में डी के कॉलेज, डुमराँव की हिंदी विभागाध्यक्ष डॉ उषा रानी एवं एस बी कॉलेज, आरा की हिंदी विभागाध्यक्ष डॉ पूनम कुमारी उपस्थित थी. भोजपुरिया माई के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन के पश्चात कार्यक्रम का प्रारंभ हुआ. सबसे पहले छात्रों ने अपनी बातें रखी. अंग्रेजी विभाग की छात्रा ज्योति ने मातृभाषा के प्रेम पर प्रकाश डाला. वहीं अंग्रेजी विभाग के ही छात्र हरीश ने कहा कि आज कुछ लोग भोजपुरी बोलने में हीन भावना के बोध से ग्रस्त हो जाते हैं, यह गलत बात है. छात्र उत्सव राज ने मातृभाषा भोजपुरी में घुस रही अश्लीलता की समस्या पर अंकुश लगाने की चर्चा की. दर्शनशास्त्र के विभागाध्यक्ष डॉ किस्मत कुमार सिंह ने भोजपुरी में व्याकरण निर्माण की आवश्यकता जताई. अल-हफ़ीज़ कॉलेज के हिंदी विभाग के शिक्षक डॉ जवाहर पांडेय ने कहा कि मातृभाषा भोजपुरी को लोग बोली का दर्जा देकर इसकी सीमा को सीमित कर रहे हैं, जो अच्छी बात नहीं. शोध छात्र रवि प्रकाश सूरज ने मातृभाषा के महत्त्व पर चर्चा करते हुए याद दिलाया कि 22 फरवरी को ही भोजपुरी की पहली फ़िल्म ‘गंगा मईया तोहे पियरी चढ़इबो’ आई थी. अध्यक्षता कर रहे डॉ नीरज सिंह ने मातृभाषा को संकीर्ण दायरे से बाहर निकालकर उसके महत्त्व को स्थापित करने की बात की. उपस्थित लोगों में डॉ चन्द्रशेखर सिंह, सुभाष चन्द्र सिंह,

Read more

जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय का घेराव महाशिवरात्रि को भी जारी रहा

पटना (ब्युरो रिपोर्ट) | राजधानी पटना में शुक्रवार 21 फरवरी को बर्खास्त शिक्षकों की बर्खास्तगी वापस लेने, जिन शिक्षकों पर FIR हुआ है, FIR वापस लेने एवं शो कॉज का पत्र निरस्त करने तथा पुराने शिक्षकों की तरह नियोजित शिक्षकों को वेतनमान पुराना सेवा शर्त लागू करने राज्य कर्मी का दर्जा देने की मांग सहित सात सूत्री मांगों को लेकर शुक्रवार को भी जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय का घेराव सुबह 10 बजे से संध्या 5 बजे तक किया गया. इसमें हजारों शिक्षक धरने पर बैठे रहे एवं अपनी मांगों के समर्थन में नारा लगाते रहे. शुक्रवार के विशेष कार्यक्रम में शिवरात्रि होने के नाते घेराव में आए सभी शिक्षकों ने अपना शिवरात्रि पर्व वही मनाया और मांगे पूरी होने की मंशा को लेकर हवन पूजा भी किया. कार्यक्रम में उपस्थित प्रमुख रूप से बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के संयोजक श्री ब्रजनंदन शर्मा ने संबोधित करते हुए कहां की हमारी मांगे कोई नई नहीं है. हमारा मात्र इतना कहना है कि जो शिक्षकों को 30 वर्ष पहले वेतनमान दिया गया था, वही वेतनमान एवं पुराना जो सेवा शर्त बना हुआ है वहीं सेवा शर्त और सारी सुविधाएं हमारे नए शिक्षकों को भी दिया जाए हमारी लड़ाई इसकी है. और जब तक यह मिल नहीं जाएगा, पुरानी पेंशन योजना या अनुकंपा के आधार पर शिक्षकों के नियुक्ति का रास्ता साफ नहीं हो जाता, तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा. हम अब पीछे हटने वाले नहीं हैं और सरकार के बर्खास्तगी और शो कॉज और एफ आई आर जैसे विभागीय कुकृत्य

Read more

10th के छात्र-छात्राओं को स्कूल ने दिया फेयरवेल

आरा. परीक्षा ऐसा शब्द है जिसका नाम सुनते ही दिमाग तनाव से घिर जाता है. लाख तैयारियों के बाद भी एकाग्रता चंचलता में बदल जाती है और ऐसा लगता है जैसे जल्दी से बस यह परीक्षा खत्म हो जाये. अंदर की घबराहट और इस डर को खत्म करने के साथ विद्यार्थियों को बुस्ट-अप करने के उद्देश्य से एक फेयरवेल का आयोजन सम्भावना स्कूल ने किया. संभावना आवासीय उच्च विद्यालय ने इसमें केन्द्रीय माध्यमिक परीक्षा-2020 में शामिल होने वाले छात्र-छात्राओं को आमंत्रित किया और फेयरवेल के साथ-साथ उनकी काउंसिलिंग भी की. यह कार्यक्रम मझौवाँ स्थित विद्यालय प्रांगण में किया गया. काउंसिलिंग सह फेयरवेल कार्यक्रम में बोर्ड परीक्षा 2020 के परीक्षार्थियों को सम्बोधित करते हुए विद्यालय की प्राचार्या डॉ. अर्चना सिंह ने कहा कि यह परीक्षा विद्यार्थियों को अपने भविष्य को सफल बनाने का पहला एवं अहम पड़ाव है. यहीं से तय होता है कि भविष्य में हमें क्या बनना है या क्या करना है. उन्होंने कहा कि हमारे विद्यार्थी विद्यालय की परम्पराओं का निर्वहन करते हुए अपने लक्ष्य के प्रति गंभीर होकर उस पड़ाव को सफलतापूर्वक पार करेंगें. डॉ. अर्चना ने परीक्षार्थियों को इस परीक्षा को लेकर अनेको सुझाव दिये तथा परीक्षार्थियों को उनके भावी जीवन के लिए अनेको शुभकामनायें भी दी. इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विद्यालय के प्रबंध निदेशक डॉ. द्विजेन्द्र ने बोर्ड परीक्षा 2020 में शामिल होने वाले सभी छात्र – छात्राओं को परीक्षा की तैयारी के लिए तथा परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए कई महत्वपूर्ण सुझाव दिए. उन्होंने छात्र-छात्राओं को समय

Read more

महिला दिवस पर इस बार रंगों के साथ बहेगी सांस्कृतिक धारा

आरा ,19 फरवरी. महिला दिवस पर इस बार रंगों के साथ सांस्कृतिक रंग की छँटा देखने को मिलेगी. नेशनल साइंटिफ़िक रिसर्च एंड सोशल एनालिसिस ट्रस्ट विश्व महिला दिवस के अवसर पर हस्त शिल्प प्रदर्शनी व होली मिलन समारोह का आयोजन करेगा. ट्रस्ट ने पिछले दिनों एक बैठक कर यह फैसला लिया. यह कार्यक्रम नेशनल साइंटिफ़िक रिसर्च एंड सोशल एनालिसिस ट्रस्ट और श्री हनुमत संगीत के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किया जाएगा. बैठक में ट्रस्ट की कार्यालय प्रभारी विभूति कुमारी(युवा हस्तशिल्पी),ट्रस्ट कोषाध्यक्ष बीना कुमारी, ट्रस्ट के अध्यक्ष श्याम कुमार तथा श्री हनुमत संगीतालय के प्राचार्य पंडित ब्रजेंन्द्र महाराज सहित ट्रस्ट के कई अन्य सदस्य कार्यक्रम प्रभारी निशिकांत श्रीवास्तव, तरुण कुमार,अंकुर, अनामिका, राजेश शुक्ला स्मृति देवी व आनंदी देवी उपस्थित थे. ट्रस्ट के अध्यक्ष श्याम कुमार ने बतलाया कि यह कार्यक्रम को प्रभावी बनाया जा रहा है, जिसमें विभूति कुमारी द्वारा हस्त शिल्प की प्रदर्शनी ,महिला सशक्तिकरण पर विचार गोष्ठी के साथ-साथ सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाएगा. आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट

Read more

मैट्रिक परीक्षार्थियों की भीड़ से शहर जाम, यातायात सुधारने में प्रशासन नाकाम

अपने ही आदेश को लागू कर जाम हटाने में प्रशासन विफल आरा, 18 फरवरी. कभी शाहाबाद का मुख्यालय रहने वाला आरा आजकल जाम का मुख्यालय बना हुआ है. वैसे तो आये दिन ही आरा की हर सड़के जाम रहती है,लेकिन परीक्षा और कुछ खास मौकों पर जाम देखने लायक होता है. लगता है जैसे सारी व्यवस्था ही ठप्प पड़ गयी है. फिलहाल मैट्रिक परीक्षा के कारण जिला मुख्यालय जाम का केंद्र बना हुआ है. आलम यह है कि इस जाम का समाधान किसी के पास नही दिख रहा है. इस महाजाम ने परीक्षा देने वालों से लेकर उन्हें परीक्षा दिलाने वालों, डॉक्टर से लेकर मरीज, जमादार से लेकर दफादार, अफसर से लेकर कर्मचारी, दुकानदारों से खरीदारों और सड़क छाप मजनुओं का भी पसीना छुड़ा दिया हैं. बताते चलें कि जिला प्रशासन हर ऐसे परीक्षाओं और खास मौकों पर शहर के यातायात व्यवस्था को सुचारू रूप से चालू रखने के लिए दावा करता है और एक आदेश भी निकालता है लेकिन बावजूद इसके इनके रुट प्लान का मटियामेट यहां की जनता कर देती है. पूरे जिलेवासी जाम के हत्थे चढ़ जाते हैं. लेकिन प्रशासनिक आदेश को तोड़ने वालों पर पुलिस न तो कार्रवाई करती है और न ही कोई कारण जानना चाहती है. सोमवार को पहले दिन ही परीक्षार्थियों की भीड़ से हर स्कूल के पास जाम की स्थिति बनी रही. दोपहर में पहली पाली की समाप्ति के बाद तो आलम यह था कि गोला से लेकर नवादा, महादेवा से लेकर बाबू बाजार, और मठिया से लेकर महाराजा कॉलेज तक जाम

Read more

ये लीजिये अब जुड़ेंगे एक दूसरे से हर गाँव के ब्राह्मण

हर गाँव के ब्राह्मणों को जोड़ने की तैयारी में जुटा ब्राह्मण महासभा 1 मार्च को चंदवा में होगा संस्थान के कार्यालय का भव्य उद्घाटन आरा, 18 फरवरी. वर्तमान राजनीति में दरकिनार करते सामान्य वर्गों और ब्राह्मणों की हर राजनीतिक दलों द्वारा उपेक्षा के बाद ब्राह्मण सभा से जुड़े लोगों ने भी अपनी जाति के लोगों को गोलबंद कर अपनी ताकत को दिखाने का फैसला किया है. हर बात में ब्राह्मणो को कोसने वाले नेताओं और फिर ब्राह्मणों के ही तलवे चाटने वाले राजनीतिक चरित्रों को महासभा सबक सिखाएगी. इन्ही बातों को ले बीते दिनों ब्राह्मण महासभा व परशुराम सेवा संस्थान की एक बैठक सम्पन्न हुई. यह बैठक चंदवा पेट्रोल पंप के पास स्थित परशुराम सेवा संस्थान के नव निर्मित कार्यालय मे की गई. इस बैठक में संस्थान से जुड़े वरिष्ठ और युवा सदस्यों के साथ नए लोगो ने भी भाग लिया. सभा को संस्थान के अध्यक्ष अंजनी तिवारी ने सम्बोधित किया. कार्यक्रम का संचालन गुड्डु ओझा ने किया. सभा की बैठक मे सभी के सहमति पर प्रखर समाज सेवी, ब्राह्मण नेता व ब्राह्मणों के प्रेरणास्रोत ईं संजय शुक्ला को परशुराम सेवा संस्थान का मुख्य संरक्षक घोषित किया गया. बैठक मे तय किया गया कि आगामी 1 मार्च को परशुराम सेवा संस्थान के कार्यालय का विधिवत उद्घाटन किया जाएगा और उसी दिन भव्य होली मिलन का कार्यक्रम भी किया जाएगा. बैठक में परशुराम सेवा संस्थान की सदस्यता अभियान को लेकर भी ब्लू प्रिंट तैयार किया गया जिसमें यह तय किया गया कि पुरे शाहाबाद के समस्त जनपद एवं हर गाँव के

Read more

कहाँ खुला भोजपुर नाट्य महोत्सव के आयोजन का कार्यालय ?

19 राज्यों की 25 नाट्य दलों ने दी महोत्सव में आने की स्वीकृति आरा,16 फरवरी. स्थानीय जैन स्कूल परिसर में आगामी 1 से 5 मार्च को आयोजित हो रहे भोजपुर नाट्य महोत्सव 2020 सह जैन स्कूल शताब्दी समारोह के सफल आयोजन हेतु आरा रंगमंच कार्यालय का विधिवत उद्घाटन उप विकास आयुक्त भोजपुर अंशुल अग्रवाल व पर्यावरणविद – समाजसेवी ई. संजय शुक्ला के हाथों संयुक्त रूप से हुआ. कार्यालय जैन स्कूल परिसर में ही खोला गया. यह आयोजन आरा रंगमंच, श्री आदिनाथ ट्रस्ट व जैन स्कूल के संयुक्त तत्वाधान में किया जा रहा है. कार्यालय उद्घाटन के बाद अपने संबोधन में अंशुल अग्रवाल ने कहा कि यह जिले के लिए गर्व की बात है कि किसी संस्थान का 100 वां वर्ष मनाया जा रहा है. इस शताब्दी वर्ष के समारोह में आरा रंगमंच द्वारा पुरे भारत की संस्कृति को एक मंच पर लाने का यह प्रयास सराहनीय है. ऐसे आयोजन शताब्दी वर्ष पर ही नही बल्कि प्रत्येक वर्ष होने चाहिए. पर्यावरणविद व समाजसेवी ई. संजय शुक्ला ने श्री आदिनाथ ट्रस्ट, जैन स्कूल व आरा रंगमंच के इस संयुक्त समारोह को त्रिवेणी संगम का नाम दिया. उन्होंने कहा कि यह आयोजन आने वाले वर्षों के लिए मील का पत्थर साबित होगा. कार्यक्रम में श्री आदिनाथ ट्रस्ट के सचिव कमल किशोर जैन ने अपने संबोधन में कहा कि शताब्दी वर्ष सिर्फ जैन स्कूल का ही नही बल्कि बल्कि श्री आदिनाथ ट्रस्ट व दानवीर पुज्य बाबूजी श्री हर प्रसाद दास जैन की पुण्यतिथि का भी यह शताब्दी वर्ष है. कार्यक्रम को ज्योति प्रकाश जैन

Read more

किसानों से धान नही ख़रीदा तो नपेंगे पदाधिकारी

किसानों से धान क्रय में कोताही बरतने वालों पर होगी कार्रवाई : रोशन कुशवाहा DM ने जिला सहकारिता पदाधिकारी को प्रखण्ड पदाधिकारियों से तालमेल बैठाने को दिया सख्त निर्देश किसानों के हित में जिलाधिकारी रोशन कुशवाहा ने जिला सहकारिता पदाधिकारी को सख्त हिदायत देते हुए कहा है कि वे सभी प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी को इस कार्य में सक्रिय एवं तत्पर करें. पैक्स एवं व्यापार मंडल से तालमेल स्थापित करते हुए मिशन मोड में कार्य में गति सुनिश्चित करें. उन्होंने कहा कि अगर कार्य में किसी भी प्रकार की अनियमितता पाई जाती है तो इसे गंभीरता से लेते हुए संबंधित प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी पर कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने सभी अनुमंडल पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी को इस कार्य की सतत एवं प्रभावी मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया है. इस संबंध में जिला सहकारिता पदाधिकारी ने बताया कि अभी तक 2350 किसानों से 18032 एमटी धान का क्रय किया गया है. उन्होंने कहा है कि जो निबंधित किसान धान की बिक्री करना चाहते हैं वह पैक्स एवं व्यापार मंडल में निर्धारित दर पर धान की बिक्री करें. धान अधिप्राप्ति के बारे में किसी भी प्रकार की शिकायत हेतु जिला सहकारिता पदाधिकारी अथवा संबंधित प्रखंड के प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी से संपर्क स्थापित किया जा सकता हैं. बैंक द्वारा पैक्स या व्यापार मंडल को पर्याप्त मात्रा में धान खरीद हेतु राशि उपलब्ध करा दिया गया है. आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट

Read more

8वीं पास नीतू ने दिया कईयों को रोजगार, बनी समाज की मिसाल

हुनर दे रहा है रोजगार, ध्वस्त हो रही है मैकाले शिक्षा-पद्धति आरा,17 फरवरी. मैकाले की शिक्षा-पद्धति में पढ़ता भारत और उस पद्धति में बंटोरते डिग्रियों के लिए लाखों खर्च करने के बाद भी एक भारी संख्या बेरोजगारों की खड़ी है. लेकिन मात्र 8वीं पास एक ऐसी महिला है जो अबतक 50 से ज्यादा लोगों को रोजगार दे चुकी है. सुनकर कानो पर यकीन आना मुमकिन नही होगा लेकिन यह सत्य है. ऐसा काम करने वाली कोई और नही भोजपुर जिले की नीतू है जिसने आर्थिक तंगी के बावजूद अपने हुनर को विकसित करने का फैसला लिया जिसमे जीविका ने उसका साथ दिया और जब नीतू आगे बढ़ी तो बढ़ते गयी और आज वह समाज के बीच एक रोल मॉडल के रूप में खड़ी है मिसाल बनकर. नीतू की सफलता की कहानी आइये जानते हैं थोड़ा विस्तार से… अभाव एवं आर्थिक तंगी की चुनौतियों से जूझती हुई आरा सदर प्रखंड के महुली गांव की आठवीं पास नीतू कुमारी ने जीविका से जुड़कर न केवल अपनी पारिवारिक स्थिति को सुंदृढ़ता प्रदान की बल्कि सैकड़ों बेटियों को हुनरमंद एवं स्वरोजगार प्रदान कर महिला सशक्तिकरण का अनोखा एवं अनुपम उदाहरण प्रस्तुत की है. नीतू के जीवन जीने का सफर मायके रामपुर से शुरू हुआ. 15 वर्ष पूर्व जयकुमार सिंह से शादी के बाद दिल्ली में पति के प्राइवेट नौकरी से परदेश में परिवार का जीवन बसर चलना मुश्किल था. अभाव एवं आर्थिक तंगी तथा मन में जीवन जीने की कसक और बेहतर जीवन यापन की आस लिए नीतू गांव लौट कर सिलाई कढ़ाई के

Read more

‘एकलव्य-खेल’ के लिए एक ही विद्यालय के तीन ‘एकलव्य’ चयनित

सम्भावना स्कूल के तीन छात्रों का चयन एकलव्य खेल 2020 के लिए, विशेष प्रशिक्षण के लिए आज हुए रवाना आरा, 16 फरवरी. प्रतिभा कभी भी जाति,उम्र या स्कूल की मोहताज नही रहती है. तभी तो सीखने वालों की ललक ने बिना गुरुकुल और स्कूलों के भी किसी न किसी को अपना गुरु बना दिया. जिनके पास देने को कुछ न हुआ तो छुप के ही ज्ञान को अर्जित कर अपनी हुनर का परिचय दिया. ये हुनर ये प्रतिभा आदिकाल से आजतक बद्दस्तूर जारी हैं और इसीक्रम में एक ही विद्यालय के तीन प्रतिभावों ने एकलव्य-खेल 2020 के लिए सलेक्ट होकर साबित कर दिया कि विद्यालय ही नही जिले के एकलव्य वे ही हैं. स्थानीय मझौवाँ के शुभ नारायण नगर स्थित सम्भावना आवासीय विद्यालय के तीन छात्रों का चयन एकलव्य खेल 2020 के लिए किया गया है. बिहार के कला संस्कृति एवं युवा विभाग तथा बिहार राज्य खेल प्राधिकरण द्वारा आयोजित होने वाला यह आयोजन 25-27 फरवरी तक पटना में आयोजित किया जाएगा. इसमे बिहार हैंडबॉल के टीम के लिए विद्यालय के कक्षा नवम के सुमित कुमार सिंह, रौशन कुमार सिंह और उत्सव राज का चयन किया गया है. विद्यालय के तीनों खिलाड़ी जहानाबाद में होने वाले 16 से 23 फरवरी तक विशेष प्रशिक्षण शिविर के लिए आज (रविवार) रवाना हुए. बताते चलें इन तीनो खिलाड़ियों में से दो रौशन और सुमित पूर्व में भी हैंडबॉल के नेशनल टीम का प्रतिनिधित्व कर चुके है. विद्यालय के छात्रों के इस चयन पर स्कूल की प्राचार्या डॉ अर्चना सिंह काफी प्रसन्न है और

Read more