पब्लिक ट्रांसपोर्ट और कनेक्टिविटी बढ़ाने में मील का पत्थर साबित होगा पटना मेट्रो

पटना  मेट्रो से सार्वजनिक परिवहन और कनेक्टिविटी को मिलेगा बढ़ावा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रविवार को बहुप्रतीक्षित पटना मेट्रो रेल परियोजना के दो मेट्रो रेल कॉरिडोर (i) दानापुर से मीठापुर (ii) पटना रेलवे स्टेशन से नए आईएसबीटी तक के कॉरिडोर के निर्माण की आधारशिला रखेंगे. इसकी अनुमानित लागत 1,3365.77 करोड़ रुपये है.  परियोजना विवरण:  यह परियोजना पांच साल में पूरी होगी. दानापुर कैंट से मीठापुर कॉरिडोर शहर के बीचों-बीच होकर गुजरेगा और घनी आबादी वाले इलाकों रज़ा बाज़ार, सचिवालय, उच्‍च न्‍यायालय और लॉ यूनिवर्सिटी रेलवे स्टेशन को जोड़ेगा. पटना जंक्‍शन से आईएसबीटी कॉरिडोर गांधी मैदान, पीएमसीएच, पटना विश्वविद्यालय, राजेंद्र नगर, महात्मा गांधी सेतु,ट्रांसपोर्ट नगर और आईएसबीटी को जोड़ेगा. यह मेट्रो शहर के निवासियों, औद्योगिक श्रमिकों, आगंतुकों और यात्रियों को पर्यावरण के अनुकूल और स्थायी सार्वजनिक परिवहन उपलब्‍ध कराएगी. पटना मेट्रो परियोजना की मुख्य विशेषताएं: दानापुर से मीठापुर कॉरिडोर की लंबाई 16.94 किमी है, जो अधिकतर भूमिगत (11.20 किमी) है और कहीं कहीं एलिवेटेड (5.48 किमी) है और इसमें 11 स्टेशन (3-एलिवेटेड और 8-भूमिगत) शामिल हैं. पटना स्टेशन से नए आईएसबीटी कॉरिडोर की लंबाई 14.45 किलोमीटर है, जो अधिकतर एलिवेटेड (9.9 किमी) है और कहीं-कहीं भूमिगत (4.55 किमी) है और इसमें 12 स्टेशन (9-एलिवेटेड और 3-भूमिगत) शामिल हैं. पटना समुदाय क्षेत्र की मौजूदा आबादी 26.23 लाख है जिसे पटना मेट्रो रेल परियोजना से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से लाभान्वित होने की उम्मीद है. स्वीकृत कॉरिडोर में रेलवे स्टेशनों और आईएसबीटी स्टेशन के साथ मल्टीमॉडल इंटीग्रेशन होगा और इसमें बसों का फीडर नेटवर्क, मध्‍यवर्ती सार्वजनिक परिवहन और गैर-मोटरीकृत परिवहन उपलब्‍ध होंगे. इस परियोजना में ट्रांजिट जन्‍य विकास (टीओडी) और विकास अधिकारों के हस्‍तांतरण (टीडीके) के माध्यम से किराये और विज्ञापन के साथ-साथ वेल्‍यू कैप्‍चर फाइनेंसिंग (वीसीएफ) से गैर-किराया बॉक्स राजस्व प्राप्‍त होगा.  इस मेट्रो रेलवे कॉरिडोर के साथ-साथ

Read more

पटना रिवर फ्रंट लोगों को समर्पित करेंगे प्रधानमंत्री

बेगूसराय दौरे पर पीएम मोदी करेंगे लोकार्पण निर्मल गंगा की दिशा में एक और महत्वपूर्ण कदम बढ़ाते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी बिहार में पटना, बाढ़, सुल्तान गंज और नौगछिया में सीवेज से जुड़ी आधारभूत संरचनाओं की आधारशिला रखेंगे. प्रधानमंत्री पटना में गंगा नदी के मुहाने पर बनाए गए 16 नए घाट, एक विद्युत शवदागृह, 50.9 किलोमीटर लंबा सैर करने का स्थान, सामुदायिक सह संस्कृति केंद्र, दृश्य-श्रव्य सभागार और एक पर्यावरण केंद्र भी स्थानीय लोगों को समर्पित करेंगे. इनके निर्माण पर 243.27 करोड़ रुपये खर्च हुए है. मुख्य समारोह 17 फरवरी को दिन में 11:00 बजे बेगुसराय में आयोजित किया जाएगा. प्रधानमंत्री जिन सीवेज आधारभूत संरचना परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे उनमें पटना में कर्मलीचक में 96.54 किलोमीटर लंबे सीवेज नेटवर्क और सीवेज पम्पिंग स्टेशन, 11 एमएलटी जलमल शोधन क्षमता वाला संयंत्र, बाढ़ में मलजल प्रवाहित करने वाले तीन बड़े नालों का पानी नदी में गिरने से रोकने और उनके बहाव का मार्ग बदलने के लिए तीन एसपीएस , सुल्‍तानगंज में 10 एमएलडी क्षमता वाला मलजल शोधन संयंत्र , 4 एसपीएस और पांच गंदे नालों को बंद करने और उनके बहाव का रास्‍ता बदलने तथा नऊ गुचिया में 9 एमएलडी क्षमता वाले जलमल शोधन संयंत्र ,6 एसपीएस और 9 गंदे नालों को नदी में बहने से रोकने और उनका बहाव बदलने की परियोजनाएं शामिल हैं.  इन परियोजनाओं पर 452.24 करोड़ रुपये का खर्च आएगा. इनके बन जाने से 6.7 करोड़ लीटर गंदा पानी गंगा नदी में गिरने से रोका जा सकेगा.   

Read more

2 लाख करोड़ का बिहार बजट 2019-20 : प्रमुख योजनाएं

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए बिहार के उप मुख्यमंत्री सह वित्त मंत्री सुशील कुमार मोदी द्वारा मंगलवार को 2 लाख करोड़ का बजट विधानसभा में पेश किया गया. 2019 में लोकसभा चुनाव होने के कारण विधानमंडल का यह सत्र अल्प अवधि का है. 15 फरवरी को लेखानुदान संबंधी प्रस्ताव पर वाद-विवाद के बाद मतदान होगा और इस संबंध में चार माह के खर्च के लिए विनियोग विधेयक पारित कराया जायेगा.आइये जानते हैं मोदी के 2019-20 के बजट में कौन कौन सी योजनाओं का प्रावधान हैं – कृषि विभाग • अनियमित मॉनसून तथा कम वर्षा होने के कारण राज्य के 24 FCजिलों के 280 प्रखण्डों को सूखाग्रस्त घोषित करते हुए वहाँ के किसानों को सिचिंत क्षेत्र के लिए 13,500 रू० प्रति हेक्टेयर तथा असिचिंत क्षेत्र के लिए 6,800 रू० प्रति हेक्टेयर की दर से कृषि इनपुट अनुदान की राशि का ऑनलाइन भुगतान किया गया. इसके तहत 16 लाख किसानों से प्राप्त आवेदनों के विरूद्ध 13.40 लाख किसानों के बैंक खाते में कुल आवंटित राशि 1430 करोड़ रू० के विरूद्ध 901 करोड़ रू० अंतरित किया गया. • वर्ष 2018-19 में सिंचाई के लिए 350 रू० प्रति एकड़ प्रति सिंचाई डीजल अनुदान को बढ़ाकर 500 रू० प्रति एकड़ प्रति सिंचाई कर दी गई है. इस वर्ष धान फसल के लिए 3 सिंचाई के बदले 5 सिंचाई तथा रबी मौसम में गेहूँ के लिए 3 के स्थान पर 4 एवं मक्का के लिए 2 के स्थान पर 3 सिंचाई के लिए डीजल अनुदान की स्वीकृति दी गयी. • वर्ष 2018-19

Read more

“सबको स्वास्थ्य चिकित्सा” के सपने को पूरा करेगी सरकार – मंगल पांडेय

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि इंदिरा गांधी विज्ञान संस्थान में क्यू लेसिक मशीन लगाने की प्रक्रिया शुरु होगी. संबंध में उन्होंने संस्थान के निदेशक आर एन विश्वास और प्रशासन को इस संबंध में प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार कर देने को कहा है. सरकार इसके लिए जो भी खर्च होगा उसको वहन करने को तैयार है. पांडेय ने आज पटना स्थित वेदांता नेत्र विज्ञान केंद्र में अत्याधुनिक क्यू लेसिक मशीन के अनावरण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर अपने संबोधन में यह बात कही. स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने आगे कहा कि “चिकित्सा क्षेत्र में विकास से मुझे बहुत खुशी होती है चाहे सरकारी क्षेत्र में हो या निजी क्षेत्र में. आंख की समस्या बिहार के 12 करोड जनसंख्या के 80 प्रतिशत लोगों को है जिसमें बच्चे,बूढ़े और महिलाएं सभी शामिल है. क्यू लेसिक मशीन चश्मा और कॉन्टैक्ट लेंस उतारने की दिशा में विकसित देशों में मील का पत्थर साबित हो रही है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का सपना है कि देश विदेश की सबसे अत्याधुनिक तकनिक हम बिहार में लाए और लोगों की सेवा करें. इसलिए आज मैंने इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान स्थान के प्रशासन से इस संबंध में शीघ्र पहल करने को रहा है. सभी को बसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए पांडेय ने कार्यक्रम में उपस्थित चिकित्सकों से कहा कि वह इलाज करते समय दिमाग के साथ दिल की आवाज भी सुनें और कुछ गरीब लोगों का निशुल्क इलाज करने पर हमेशा ध्यान दें.”पांडेय आज वेदांता नेत्र चिकित्सक केंद्र में अत्याधुनिक

Read more

कैंसर की रोक थाम के लिए पटना एम्स चलायेगा जागरूकता कार्यक्रम

चार से आठ फरवरी तक चलेगा जागरूकता कार्यक्रम भारत मे हर साल 10 लाख नये कैंसर के मरीज कैंसर को बढ़ावा दे रहा है युवाओं में बढ़ती धुम्रपान की लत फुलवारीशरीफ/पटना (अजित की रिपोर्ट)। सम्पूर्ण विश्व में 4 फरवरी को “विश्व कैंसर दिवस” मनाया जाता है. हर साल इस बिमारी से लाखों लोगों की मौत हो जाती है. समाज के हर वर्ग में तेजी से बढ़ रही इस बीमारी के प्रति जागरूकता ही इसका सबसे बड़ा बचाव है. अगर इस बीमारी का पता समय पर चल जाता है तो इलाज बेहतर हो सकता है. भारत में हर साल 10 लाख कैंसर के मरीज सामने आते हैं और उनमें से 7 लाख मरीजों की मौत हो जाती है. ये बातें पटना एम्स की रेडियो थेरेपी विभागाध्यक्ष डा०प्रीतांजलि सिंह ने बताया. उन्होंने आगे कहा कि ये आकड़े खुद बता रहे हैं कि देश में कैंसर की क्या तस्वीर है. खान-पान में बदलाव और बदलती जीवनशैली कैंसर का प्रमुख वजह बनता जा रहा है. चालीस प्रतिशत कैंसर सिर्फ तंबाकू के सेवन से होता है. युवाओं में बढ़ती धुम्रपान की लत कैंसर को बढ़ावा दे रहा है. ये बीमारी सरकार के लिए बड़ी चुनौती बनती जा रही है. कैंसर की रोकथाम कैसे हो और लोगों में इसके प्रति जागरुकता कैसे बढ़े, इसके लिए इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल ने इस वर्ष कैंसर दिवस पर थीम आई एम एंड आई विल यानी “मैं हूं और मैं रहूंगा / रहूंगी” – है. जागरूकता ही इसका सबसे बड़ा बचाव है और यदि कोई कैंसर से बचना चाहता है

Read more

ईशान लिटिल जीनियस स्कूल में खसरा एवं रुबैला टीकाकरण अभियान

पटना 29 जनवरी (राजेश तिवारी की रिपोर्ट) | स्वास्थ्य विभाग और राज्य स्वास्थ्य समिति की ओर से प्रदेश के सभी जिलों में खसरा और रुबैला टीकाकरण अभियान 15 जनवरी से शुरु किया गया है. यह टीका 09 माह से 15 वर्ष तक के सभी बच्चों को लगाया जा रहा है. इसी के तहत राजधानी पटना के विभिन्न सरकारी और निजी विद्यालयों में वहां पंजीकृत 15 साल तक की उम्र तक के बच्चों को भी टीका लगाया जा रहा है.मंगलवार को ईशान लिटिल जीनियस स्कूल में करीबन चार सौ बच्चों के बीच टीकाकरण अभियान चलाया गया. प्राचार्य डॉ. किरण सिन्हा ने सरकार के इस पहल की सराहना करते हुए कहा कि इससे बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि एक स्वस्थ बच्चा ही कल एक स्वस्थ नौजवान बनकर देश के विकास में अपना योगदान दे सकता है. टीकाकरण के दौरान चिकित्सक डॉ. एन के तिवारी. ने बच्चों और अभिभावकों को जागरूक भी किया। उन्होंने कहा कि खसरा एक जानलेवा रोग है जो खांसने और छींकने से एक बीमार बच्चे से दूसरे बच्चे में फैलता है. यह बच्चों में गंभीर कुपोषण, दस्त, निमोनिया और दिमागी बुखार भी कर सकता है. बीमार बच्चे में बुखार, शरीर पर लाल दाने, नाक बहना, आंख आना आदि लक्षण से इसकी पहचान होती है. जबकि गर्भवती स्त्री में रुबैला संक्रमण से अजन्मे बच्चे में जन्मदोष जैसे अंधापन बहरापन मंदबुद्धि और दिल में सुराख जैसी गंभीर बीमारी हो सकती है. यह अभियान पांच सप्ताह तक चरणबद्ध तरीके से पूरे राज्य में एक साथ

Read more

कैंसर का इलाज अब संभव

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | कैंसर का डर लोगों के जेहन तक में बैठा हुआ है. कैंसर तेजी से फैलने वाली बीमारियों में शुमार है. अलग अलग कैंसर के कारण भी अलग होते हैं. गंगा के इलाकों में रहने वालों को कैंसर का खतरा अधिक होता है. शोध से पता चला है कि गंगा नदी के इलाकों में आर्सेनिक की अधिकता के कारण कैंसर होने का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है. वहीं तंबाकू, गुटका, पान मशाला के सेवन से मुंह के कैंसर का खतरा और ज्यादा बढ़ गया है. मुंह का कैंसर सबसे तेजी से फैलने वाली बीमारी मानी जाती है और तीसरे चरण के मरीज की उम्र महीने में होती है. आईजीआईएमएस के ऑंकोलोजी ( दवा) विभाग के हेड डॉ अविनाश पांडे का कहना है कि कैंसर लाईलाज नहीं है, बस सावधानी की जरुरत है. उनका कहना है कि कैंसर का शुरुआत में पता चलने पर मरीज के ठीक होने की संभावना शत प्रतिशत होती है. डॉ पांडे ने बताया कि शरीर में सेल्स ग्रुप का अनियंत्रित वृद्धि हीं कैंसर है.ये सेल्स टिश्यू को प्रभावित कर शरीर के अन्य हिस्सों में फैलने लगते हैं और कैंसर बढ़ता चला जाता है. डॉ अविनाश के अनुसार गुटका पान मशाला से मुंह के कैंसर ने महामारी का रूप धारण कर लिया है. इसकी शुरुआत मुंह में लाल या सफेद धब्बा पाया जाता है. कुछ लोगों में ठीक नहीं होने वाला मुंह का छाला भी हो सकता है. डॉ अविनाश का कहना है कि मुंह के कैंसर को फैलने में देर नहीं लगती. शुरुआती

Read more

दानापुर से शेरपुर के बीच गंगा नदी पर बनेगा नया पुल

मुख्यमंत्री ने किया पटना रिंग रोड के एलाइनमेंट का एरियल सर्वेक्षण मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज पटना रिंग रोड के एलाइनमेंट का एरियल सर्वेक्षण किया। एरियल सर्वेक्षण से लौटने के उपरांत मुख्यमंत्री ने 1 अणे मार्ग स्थित संकल्प में इस संबंध में उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की। समीक्षा बैठक में निम्नलिखित महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए:- पटना रिंग रोड का नया एलाइनमेंट ‘‘कन्हौली-नौबतपुर-डुमरी-लखना-कच्चीदरगाह -बिदुपुर-चकसिकंदर से हाजीपुर शहर के उत्तर से सराय एनएच-77 को पार करते हुए एसएच-74 को पार करते हुए एनएच-19 – 4 लेन-दिघवारा-शेरपुर-कन्हौली होगा। पटना रिंग रोड की कुल लंबाई लगभग 160 किमी होगी। यह रिंग रोड 60 मीटर चौड़ा बनाया जाएगा। उल्लेखनीय है कि पूर्व में रिंग रोड चकसिकंदर से एनएच- 103 होते हुए हाजीपुर, तदोपरांत एनएच-19 होकर सोनपुर जेपी सेतु के समानान्तर दीघा होते हुए कन्हौली तक जाना था। आज के एरियल सर्वे में यह महसूस किया गया कि हाजीपुर शहर की सघन बसावट एवं शहर में यातायात दबाव को देखते हुए रिंग रोड शहर के बाहर-बाहर उत्तर की दिशा की ओर बनाया जाए ताकि पटना और हाजीपुर ट्वीन शहरों का व्यापक फैलाव हो सके। दानापुर से शेरपुर के बीच पटना रिंग रोड के हिस्से के रूप में गंगा नदी पर नया पुल बनाया जाएगा। साथ ही रिंग रोड से वैशाली को 4 लेन कनेक्टिविटी प्रदान की जाएगी। बख्तियारपुर-ताजपुर के रास्ते आने वाले लोगों के लिए एनएच-103 से चकसिकंदर तथा ताजपुर-हाजीपुर रोड के माध्यम से रिंग रोड के सहारे वैशाली जाना आसान होगा। समीक्षा बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि जेपी सेतु के समानान्तर 4 लेन

Read more

कौन दे रहा है 10,000 युवाओं को रोजगार !

IDIO देगा 10,000 युवाओं को रोजगार पटना. खनन के क्षेत्र में अग्रसर कम्पनी IDIO के पटना के दक्षिणी गांधी मैदान स्थित IMA हॉल में हुई असाधारण आम सभा में नये निदेशक अवधेश कुमार ने कहा कि कम्पनी आने वाले दिनों में बिहार के युवाओं के लिये 10,000 रोजगार उपलब्ध करायेगी. अपनी बातों को आगे रखते हुए नए निदेशक ने यह भी कहा कि कंपनी के इतने अच्छे कार्यशैली के बावजूद कुछ लोगों ने इसे सिर्फ अपनी महत्वाकांक्षा के लिए इस्तेमाल किया और इसे बदनाम किया जिसकी वजह से कंपनी के मेंबरों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. इस आम सभा में वित्त वर्ष 2018-19 हेतु सनदी लेखाकार के पद पर CA को भी नियुक्त किया गया. वर्तमान निदेशक मंडल को कई आपराधिक और आर्थिक अपराध न्यायालय में दोषी करार दिए जाने के कारण कंपनी अधिनियम 2013 के प्रावधानों के तहत कंपनी के पंजीकृत कार्यालय से पद मुक्त किया गया एवं निदेशक मंडल को पदस्थापित करने का निर्णय हुआ जिसमें अवधेश कुमार, उदय कुमार, हरेंद्र सिंह इत्यादि के नाम सर्वसम्मति से पारित हुए. कंपनी के शेयरधारकों का निवेश एवं लाभ को सुनिश्चित करने हेतु कई महत्वाकांक्षी निर्णय लिए गए. नए पते पर पंजीकृत कार्यालय खनिज पर आधारित उद्योगों, मोबाइल क्रशर, बॉल मिल,खदान में मशीनीकरण,देसी विदेशी निवेश बिहार समेत देश के अन्य प्रदेशों में बड़े पैमाने पर रोजगार सृजन एवं पंचवर्षीय योजना कार्यान्वित किए जाने का निर्णय हुआ. कंपनी के खनन अभियंता मनोज कुमार चौधरी ने बताया कि कंपनी की कई महत्वाकांक्षी योजनाएं हैं जिसके बल पर युवाओं को रोजगार देने

Read more

बर्ड फ्लू से गई पक्षियों की जान, सांसत में जू प्रशासन

बिहार में बर्ड फ्लू ने एक बार फिर दस्तक दी है। इस बार निशाने पर आ गए पटना के संजय गांधी जैविक उद्यान की पक्षी। पटना जू में 20 दिसंबर को कुछ मोर मृत पाए गए जिसके बाद इनके सैंपल भोपाल स्थित लैब में भेजे गए इधर इसके बाद भी मोरों की मौत का सिलसिला नहीं रुका और 5 दिनों में ही करीब 6 मोरों की मौत हो गई। इसी बीच सोमवार को लैब की रिपोर्ट में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई जिसके बाद आनन-फानन में पटना जू प्रशासन ने संजय गांधी जैविक उद्यान को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया। 25 दिसंबर को छुट्टी होने के कारण बड़ी संख्या में लोग पटना जू पहुंचते हैं छुट्टियां मनाने और जानवरों का दीदार करने। लेकिन यहां पहुंचे लोगों को निराशा हाथ लगी जब उन्हें पता चला कि पटना जू को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है। बिहार के प्रधान मुख्य वन संरक्षक देवेंद्र कुमार शुक्ला ने बताया कि पटना जू में सभी पिंजरे को सेनेटाइज किया जा रहा है और सभी जरूरी उपाय किए जा रहे हैं ताकि बर्ड फ्लू का असर और जानवरों पर ना पड़े। एन के डी वर्मा

Read more