कोर्ट ने दे दी जमानत, रिहा होंगे लालू

झारखंड हाईकोर्ट का फैसला, सशर्त मिली बेल रांची,17 अप्रैल. बहुचर्चित चारा घोटाले में सजा काट रहे आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव को झारखंड हाईकोर्ट ने जमानत दे दी है. यह जमानत उन्हें दुमका कोषागार मामले में मिली है. शनिवार को सुनवाई के दौरान झारखण्ड कोर्ट ने यह फैसला सुनाया. कोर्ट ने उन्हें एक लाख के निजी बॉन्ड और 10 लाख के जुर्माने की राशि पर यह जमानत मुकर्रर की है. निजी बांड भरने के बाद वे बाहर आ सकते हैं. ऐसे में ऐसी उम्मीद की जा रही है कि 2 से 3 दिनों के बाद दुमका कोषागार मामले में आधी सजा काट चुके लालू प्रसाद जेल से बाहर आ जाएंगे. कोर्ट ने यह जमानत उन्हें सशर्त दी है. इसके अनुसार वे न तो देश से बाहर जाएंगे और न ही अपना पुराना दिया हुआ पता और मोबाइल नम्बर ही बदलेंगे. इसके पूर्व उन्हें चाइबासा कोषागार मामले के निकासी में भी जमानत मिल चुकी है और डोरंडा कोषागार का मामला फिलहाल कोर्ट के विचाराधीन है लेकिन फ़िलहाल CBI कोर्ट ने कोविड की वजह सुनवाई टाल दिया है. बताते चलें कि लालू प्रसाद इस वर्ष जनवरी से अपने इलाज के लिए दिल्ली एम्स में भर्ती हैं. Pncb

Read more

ओलम्पिक क्वालीफायर सी ए भवानी का भव्य स्वागत

भुवनेश्वर | अकेले आसमान पर सितारे नहीं चमकते. कडी मेहनत और दृढ़निश्चय ने कई बार लोगों को बुलन्दियों तक ले जाने के लिए मद्द की है, जहां से वे एक प्रतीक बनकर उभरे हैं. सी.ए. भवानी देवी भी उन्हीं खेल सितारों की आकाशगंगा में से एक हैं, जिन्होंने तलवारबाजी में टोक्यो ओलंपिक 2021 में क्वालीफाई किया है. यह केवल भवानी के लिए ही गर्व का पल नहीं है, बल्कि कीट डीम्ड विश्वविद्यालय की एक छात्रा होने के नाते भवानी जैसे बच्चों की प्रतिभा को निखारने के लिए एक विश्वसनीय एवं अनुभवी परामर्शदाता की भांति कीट और कीस को दो नियमित लांच पैड बनने का गौरव प्राप्त हुआ है. सभी कहते है कि कोई भी उपरोक्त दो संस्थानों के संस्थापक डॉ अच्युत सामंत को उनके अपने गौरव का आभास नहीं करा सकता कि न केवल खेल में भवानी की लम्बी शानदार यात्रा के लिए, बल्कि उन सभी के लिए अनकही सहायता प्रदान करने के लिए, जिन्होंने पहले से ही खेल के साथ-साथ सभी क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है, चाहे वह राष्ट्रीय या अन्तराष्ट्रीय स्तर पर. उस पर क्रेडिट स्कोर रुकता नहीं है, क्योंकि वर्ष 2021 टोक्यो ओलम्पिक के लिए भवानी, तलवारबाजी में क्वालीफाई करने वाली पहली भारतीय महिला बन गई है. हम सभी के लिए वह पल कैसा होगा जब भारत की एक युवा महिला खिलाड़ी लाखों के सामने अपने प्रतिद्वन्द्वियों के खिलाफ कृपाण की तेजस्वी कला की चमक बिखेरेगी. तमिलनाडु की रहने वाली और कीट डीम्ड विश्वविद्यालय की छात्रा, भवानी 25 मार्च 2021 की सुबह इटली से सीधे भुवनेश्वर

Read more

ग्लोबल कायस्थ कांफ्रेंस राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक संपन्न

नयी दिल्ली | रविवार को नई दिल्ली में ग्लोबल कायस्थ कांफ्रेंस राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक संपन्न हुई. इस बैठक में विश्व भर में फैले कायस्थों को संगठित होने के लिये आह्वान किया गया. ग्लोबल कायस्थ कांफ्रेंस (Global Kayastha Conference, जीकेसी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन प्रसाद ने यह आह्वान किया. उन्होंने कहा कि यदि हम संगठित होकर काम करें तो कायस्थ समाज अपने स्वर्णिम अध्याय और गौरवशाली अतीत को फिर से पाने में सफल हो जायेगा. जीकेसी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की यह महत्वपूर्ण बैठक दिल्ली स्थित इंडिया इंटरनेशनल सेंटर, 40 मैक्समुलर रोड में हुई. इसकी अध्यक्षता जनता दल यूनाईटेड प्रवक्ता और जीकेसी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन प्रसाद ने की. इस बैठक के मुख्य अतिथि चक्रपाणि जी महाराज थे. भगवान चित्रगुप्त जी के चित्र पर पुष्पांजलि एवं दीप प्रज्वलन के बाद राष्ट्रीय गीत और गणेश वंदना से कार्यक्रम की शुरूआत हुई. इसके बाद अभय सिन्हा और माया कुलश्रेष्ठ ने आरती की. बैठक में देश और विदेश भर के सभी पदाधिकारी और सदस्यों ने शिरकत की. कार्यक्रम का स्वागत भाषण दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष विजय चन्द्रदास ने किया जबकि कार्यक्रम का संचालन डॉ. राजीव रंजन प्रसाद और मनोज श्रीवास्तव ने संयुक्त रूप से किया. मुख्य अतिथि चक्रपाणि ने उद्घाटन संबोधन किया. कार्यक्रम का समापन राष्ट्रीय गीत के साथ सम्पन्न हुआ. जीकेसी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन ने अपने संबोधन में कहा कि कायस्थ समाज का ऐतिहासिक एवं गौरवशाली इतिहास रहा है. स्वामी विवेकानंद, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, डॉ राजेन्द्र प्रसाद, लाल बहादुर शास्त्री, जय प्रकाश नारायण और बाला साहब ठाकरे जैसी

Read more

69वीं सीनियर नेशनल वॉलीबाल चैम्पियनशिप KIIT कैम्पस में शुरू

भुवनेश्वर | शुक्रवार को बीजू पटनायक इंडोर स्टेडियम, के.आई.आई.टी. (KIIT) डीम्ड विश्वविद्यालय में 69वीं सीनियर नेशनल वॉलीबॉल (पुरुष और महिला) चैम्पियनशिप 2020-21 का उद्घाटन हुआ. बीजू पटनायक की 105वीं जयन्ती के अवसर पर दिवंगत बीजू बाबू को पुष्पाजंलि देने के उपरान्त इस समारोह का शुभारम्भ किया गया. उद्घाटन समारोह में राज्यों और संघ शासित प्रदेशों के वॉलीबॉल संघों के अध्यक्ष और महासचित भी उपस्थित थे. इस राष्ट्रीय चैम्पियनशिप में 28 राज्यों और 8 केन्द्र शासित प्रदेशों के 1200 से अधिक पुरुष और महिला वॉलीबॉल खिलाड़ी भाग ले रहे हैं. पहली बार केन्द्र शासित प्रदेश, लद्दाख की टीम, वी.एफ.आई. के प्रेसिडेन्ट की उचित अनुमति के साथ इस प्रतियोगिता में भाग ले रही हैं. कई अर्जुन अवार्डी और अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय खिलाड़ी इस चैम्पियनशिप में भाग लेंगे. भारतीय वॉलीबॉल के इतिहास में पहली बार ओडिशा ने एक राज्य के रूप में पिछले साल 68वीं सीनियर नेशनल वॉलीबॉल (पुरुष एवं महिला) चैम्पियनशिप का सफलतापूर्वक संचालन करने के बाद लगातार सीनियर नेशनल चैम्पियनशिप की मेजबानी की. साथ ही पहली बार सभी मैच इन्डोर कोर्ट में लाइव स्ट्रीमिंग के साथ खेले जाएंगे. सभी मैच बीजू पटनायक इन्डोर स्टेडियम में ओडिशा राज्य सरकार के कोविड गाइडलाइन्स के अनुसार ही खेले जाएंगे. ओडिशा को एक राज्य के रूप में चार वॉलीबॉल नेशनल चैम्पियनशिप – 36वीं जूनियर नेशनल वॉलीबॉल चैम्पियनशिप 2009, 41वीं नेशनल सब-जूनियर वॉलीबॉल चैंपियनशिप 2019, 68वीं सीनियर नेशनल वॉलीबॉल (पुरुष एवं महिला) चैम्पियनशिप 2019-20 और अब वर्तमान 69वीं सीनियर नेशनल वॉलीबॉल (पुरुष एवं महिला) चैम्पियनशिप 2020-21 आवंटित किये गये हैं. चारों टूर्नामेंट के.आई.आई.टी. (KIIT) परिसर में

Read more

आई.आई.एल. सतत शिक्षा की संस्कृति को बढ़ावा देगा: न्यायमूर्ति उदय उमेश ललित, सर्वोच्च न्यायालय

इंडियन इंस्टीच्यूट ऑफ लॉ (आई.आई.एल.) की नींव पट्टिका (foundation plaque) का अनावरण भारत के सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीशगण, माननीय न्यायमूर्ति उदय उमेश ललित, माननीय न्यायाधीश भूषण रामकृष्ण गवई और माननीय न्यायमूर्ति श्री वी. रामासुब्रमण्यम के कर-कमलों द्वारा दिनाँक 20 फरवरी 2021 को के.आई.आई.टी. विश्वविद्यालय, भुवनेश्वर में किया गया। इस समारोह में सीनियर एडवोकेट और बार काउंसिल ऑफ इंडिया (बी.सी.आई.) तथा बार काउंसिल ऑफ इंडिया ट्रस्ट ( बी.सी.आई.टी.) के चेयरमैन, मनन कुमार मिश्रा; ओडिशा के एडवोकेट जनरल, अशोक परीजा; सीनियर एडवोकेट एवं बी.सी.आई.टी. के चेयरमैन, देबी प्रसाद धल; बी.सी.आई.टी. के एसोसिएट मैनेजिंग ट्रस्टी एवं के.आई.आई.टी. व के.आई.एस.एस. के फाउंडर, प्रो. अच्युत सामंत सहित कई कानूनी दिग्गजों ने मेजबानी करते हुए भाग लिया एवं सभा को सम्बोधित किया। बार काउंसिल ऑफ इंडिया ट्रस्ट (बी.सी.आई.टी.) के समर्थन एवं के.आई.आई.टी. विश्वविद्यालय के सहयोग से इंडियन इंस्टीच्यूट ऑफ लॉ (आई.आई.एल.) की स्थापना की जा रही है, जो कानून के शिक्षकों के लिए कौशल विकास और वकीलों के अभ्यास करने के साथ-साथ, निरंतर शिक्षा और अनुसंधान को बढ़ावा देने एवं कानूनी शिक्षकों की अकादमी के लिए एक मॉडल संस्थान होगा। यह संस्थान, देश के युवा लॉ स्कूल शिक्षकों को सुविधा प्रदान करेगा और उनकी विशेषज्ञता, पेशेवर कौशल और कुशाग्रता को बढ़ाने में सहायक होगा। यह देश में अपनी तरह का पहला संस्थान होगा। फाउंडेशन समारोह में बोलते हुए, माननीय न्यायमूर्ति उदय उमेश ललित ने आई.आई.एल. की स्थापना का स्वागत किया और इस कदम के लिए बी.सी.आई.टी. और के.आई.आई.टी. डीम्ड विश्वविद्यालय की सराहना की। “जीवन में परिवर्तन एकमात्र स्थिर है। सतत शिक्षा हर पेशे में महत्वपूर्ण है

Read more

बिहार मेंं कोविड19 से जुड़ी कुछ खास बातें

बिहार में कोरोना का आंकड़ा 426 पर पहुंच चुका है. अब तक राज्य के 29 जिले कोरोना की चपेट में आ चुके हैं. मार्च 2020 में बिहार में पहला मामला सामने आया था. ये मामला 21 मार्च को सामने आया था जब 38 साल के एक युवक की मौत पटना एम्स में इलाज के दौरान हो गई थी। यह युवक कतर से लौटा था और उसे किडनी की बीमारी थी. मौत के बाद जांच रिपोर्ट आई तो पता चला कि मुंगेर निवासी उस युवक को कोरोना था. अब इस मामले को इस तरह समझा जाए कि बिहार में पहला मामला 21 मार्च को दर्ज हुआ था और अब तक तक बिहार में 426 लोगों में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है. इनमें से 85 लोग स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं. पटना में जो युवक सबसे पहले कोरोना संक्रमित पाया गया था उसने एन एच-30 बाइपास के पास खेमनीचक सनरम अस्पताल में अपना इलाज करवाया था. प्रशासन ने जब वहां जांच की तो वहां की एक नर्स और कुछ अन्य लोग भी संक्रमित मिले. हालांकि अब यह लोग पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं. यह पटना का पहला हॉटस्पॉट था. वर्तमान में पटना का खाजपुरा इलाका हॉटस्पॉट बना हुआ है और सबसे ज्यादा मरीज फिलहाल वहीं से हैं. पटना में कुल मरीजों की संख्या फिलहाल 44 है. वही मुंगेर कोरोना संक्रमित मरीजों के मामले में नंबर वन पर है वहां 95 कोरोनावायरस संक्रमित मरीज हैंं. जबकि 45 मरीजों के साथ रोहतास दूसरे नंबर पर पहुंच गया है.

Read more

एक साथ मिले 13 नए मरीज, पटना के इन इलाकों में भी फैला कोरोना

पटना में हैं अब कुल 44 कोरोना मरीज बिहार में आज एकाएक 13 नए मामले सामने आए हैं. इससे पहले सुबह चार मामले सीतामढ़ी से और दो रोहतास से सामने आए थे. ताजा अपडेट के मुताबिक पटना के दो नए इलाकों में कोरोना मरीज मिले हैं जिससे हड़कंप मचा हुआ है. पटना के मीठापुर में एक 32 साल के युवक को कोरोना वायरस संक्रमित पाया गया है, वहीं पटना के फाइनेंस कॉलोनी में भी एक कोरोनावायरस मरीज मिलने की पुष्टि हुई है. बिहार में अब कुल 422 कोरोनावायरस संक्रमित पेशेंट हो गए हैं. इनके अलावा सारण जिले के सोनपुर और नजीबा में कोरोना मरीज मिले हैं. वही रोहतास में 9 संक्रमित मरीज फिर से मिले हैं. रोहतास में तेजी से कई इलाकों में कोरोना का संक्रमण फैलता हुआ नजर आ रहा है. यहां सासाराम, नोखा, डेहरी और परमेश्वर पुर समेत कई इलाकों में संक्रमण फैल गया है. मुंगेर बिहार में कोरोनावायरस के मामले में पहले नंबर पर है इसके बाद पटना और फिर बक्सर तीसरे नंबर पर है. बिहार में कोरोनावायरस के फैलते संक्रमण के बीच एक अच्छी खबर भी है. वह अच्छी खबर जाहिर तौर पर कोरोनावायरस से जुड़ी है. पहले संक्रमित हुए मरीजों में से 19 और मरीज आज स्वस्थ होकर अपने घर लौट गए. अब कुल 84 मरीज बिहार में स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं. PNC

Read more

पटना में फिर मिले 2 मरीज, बिहार 400 पार

बिहार में कोरोना मरीजों का कुल आंकड़ा 400 के पार कर गया है. ताजा अपडेट के मुताबिक बिहार में अब 403 कोरोना पॉजिटिव केस हैं. इस बार पटना में 2 और मरीजों का पता चला है. इनमें से एक राजधानी के राजा बाजार इलाके से है जबकि दूसरा पालीगंज से. इससे पहले आज एक और मामला नौबतपुर में सामने आया था जहां एक 24 साल की युवती कोरोना संक्रमित पाई गई. पटना में अब 42 मरीज हो गए हैं. इनके अलावा भोजपुर के भलुहीपुर से 2, बक्सर के डुमरांव से 2 और रोहतास, मधेपुरा, औरंगाबाद, सीतामढ़ी, वैशाली और रोहतास के एक-एक मरीज मिले हैं. इधर एक मरीज को आज डिस्चार्ज किया गया है जिसके बाद अब कुल 65 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं. स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने बुधवार को कन्फर्म किया है कि जल्द ही 20 और मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया जाएगा. देखिए ये पूरा आंकड़ा- PNC

Read more

अब तक कुछ ऐसी है बिहार में कोरोना की तस्वीर

बिहार के लिए 90 मरीजों के साथ मुंगेर चिंता का सबब बना हुआ है. वहीं राजधानी पटना में अचानक सामने आए 5 मरीजों के साथ यह बिहार में दूसरे नंबर पर पहुंच गया है. इसके बाद 34 मरीजों के साथ नालंदा और 32 मरीजों के साथ सासाराम भी जैसे एक दूसरे को पछाड़ने में लगे हैं. बिहार के 25 जिले अब कोरोना की जद में आ चुके हैं. बिहार में लगातार बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दुकानें खोलने का फैसला फिलहाल स्थगित कर दिया है. इस बात की उम्मीद ज्यादा है कि बिहार के ज्यादातर शहरों में लॉक डाउन 3 मई के बाद भी जारी रह सकता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सोमवार को मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में इस बात के संकेत दिए हैं कि सभी राज्यों को अपने यहां रेड जोन चिन्हित कर लेने चाहिए, जहां लॉक डाउन अगले कुछ दिनों तक जारी रहेगा, जब तक की वह इलाका ग्रीन जोन में परिवर्तित ना हो जाए और वहां जाहिर तौर पर लोगों को कोई छूट नहीं मिलने वाली. पीएनसी

Read more

पटना में आठ और नये मरीज

बिहार में कोरोना अब तेजी से फैल रहा है. लेटेस्ट जानकारी के अनुसार पटना के खाजपुरा में आठ और नए पेशेंट जिले हैं. इनमें से 6 एक ही परिवार के हैं जबकि 2 अन्य इनके किरायेदार हैं. पटना में इसके साथ ही कोरोना मरीजों की कुल संख्या 24 हो गई है. इससे पहले गुरुवार को कोरोना ने कैमूर में भी दस्तक दे दी. कैमूर के चैनपुर में पहले ही दिन 8 लोग संक्रमित पाए गए हैं. स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव के मुताबिक कैमूर में 5 पुरुष जिनकी उम्र 4,12,17,24 और,35 वर्ष है और 3 महिलाएं जिनकी वर्ष 17,18 और 18 वर्ष है, सभी एक ही परिवार के चैनपुर, कैमूर के निवासी हैं. ये सभी कोरोना पॉजिटीव के संपर्क में आये थे. वहीं एक अन्य 20 वर्षीय युवक गोरियाकोठी, सिवान का निवासी है. इधर सासाराम में भी 6 नये मामले सामने आए हैं. वहीं मुंगेर के जमालपुर में गुरुवार को चार और कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं उसके साथी मुंगेर बिहार के टॉप पर पहुंच गया है अब बिहार में सबसे ज्यादा कोरोणा के मामले मुंगेर और नालंदा से हैंं. दोनों जगह पर अब 31-31 पेशेंट हैं. उनके बाद दूसरा नंबर पटना का है जहां भाई 24 कोरोना मरीज हैंं. इन सबके बीच स्वास्थ्य मंत्री ने जानकारी दी है कि अब तक बिहार में 69,45,955 घरों की डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग हो चुकी है. इसमें कुल 3,78,22,472 लोगों की स्क्रीनिंग हुई है. कोरोना वायरस पॉजिटिव 170 मरीज मिले हैं, जिनमें से 45 कोरोना पॉजिटिव मरीज स्वस्थ हो चुके हैं जबकि 2 लोगों

Read more