धनुपरा में जयप्रकाश चौधरी तो कोइलवर में थाना प्रभारी ने की मदद

भोजपुर (आमोद कुमार) | कोरोना वायरस को लेकर किये लॉक डाउन के कारण मजदूर वर्ग के लोगों को सबसे ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. मजदूर वर्ग भुखमरी के कगार पर आ गए हैं. ऐसे में आज वैश्विक महामारी ,राष्ट्रीय आपदा करोना की दौड़ मे प्रभारी जदयू विधानसभा ब्रह्मपुर सह जिलाध्यक्ष श्रमिक प्रकोष्ठ जदयू भोजपुर के जयप्रकाश चौधरी द्वारा अपने पैत्रिक गाँव धनुपरा (आरा) में मजदूरों की बस्तियों मे लगभग दो सौ परिवार के बीच अपनी खेती का हरी सब्जियां एवं दो क्विंटल चावल वितरित किया गया.इनके इस पुनीत कार्य में जदयू के मुकेश कुमार एवं जीतेंद्र चंद्रवंशी भरपूर साथ दिया. गौरतलब हो कि पूरे देश एवं प्रदेश की सभी गतिविधियां लॉक डाउन के कारण बंद है. ऐसे मे गरीब मजदूरों के घर भोजन एवं आवश्यक वस्तुओं की समस्या है. हम सभी राजनैतिक समाजिक कार्यकर्ताओं की कर्तव्य होता है कि इस संकट की घडी मे गरीब मजदूर एवं जरुरतमंदों को साथ दें. कोइलवर थाना प्रभारी ने की जरूरतमंदों की मददजहां एक ओर पूरे देश के लोग देश के समर्थन में एकजुट होकर खड़ा है. कोरोना से निपटने के लिये देशवासियों का यह अटूट संकल्प सरहनीय है. वही दूसरी ओर लॉकडाऊन से भूख की एक बड़ी समास्या आ खड़ी हुई है. जिले के कोइलवर थाना क्षेत्र के लगभग 80 प्रतिशत लोगों के घर का खर्चा मजदूरी से चलता है. सभी लोग दैनिक मजदूरी कर अपना जीवनयापन करते हैं. किन्तु सभी प्रकार के काम स्थगित हो जाने के कारण इनका जीना बेहाल हो गया है. इस विपदा को देखते हुए

Read more

सबको साथ मिलकर कोरोना से जंग लड़नी होगी – रणविजय

भोजपुर (ब्युरो रिपोर्ट) | जानलेवा कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में लोग खुलकर सहयोग करने लगे हैं. इसे लेकर विभिन्न संगठनों और बुद्धिजीवियों ने सहयोग का हाथ बढ़ा दिया है. सभी अपने-अपने स्तर से सहयोग करने में जुट गए हैं. कोई गरीबों के बीच खाद्य सामग्रियों का वितरण कर रहा है, तो कोई मास्क, सैनिटाइजर, फिनाइल आदि का वितरण कर लोगों को कोरोना से बचाव की जानकारी दे रहा है. जिला प्रशासन और सरकार को भी इस आपदा से निपटने के लिए सहयोग राशि दे रहे हैं. ऐसे संकट की घड़ी में RJD के MLC रणविजय सिंह ने अपने सहयोगी राजद के जिला उपाध्यक्ष गजेन्द्र यादव के साथ मिलकर पहल किया है. इस दौरान उन्होंने प्रखण्ड के राजापुर में लोगों के बीच मास्क, सेनिटाइजर व बिलीचिंग पाउडर का वितरण किया. इस दौरान MLC ने कोरोना से जंग हेतु इससे बचाव के लिए लॉक डाउन का पालन करने था समाजिक दूरी बना कर रहने का आग्रह किया. इसके अंतर्गत लॉक डाउन से पीड़ित लोग जिन्हें रोज 2 वक्त का खाना नही मिल पा रहा है उसको राशन देने के साथ-साथ लोगों के बीच मास्क, सेनेटाइजर , बिलीचिंग पावडर आदि का वितरण किया. इस दौरान प्रखण्ड के इंग्लिश पुर में भी लोगों के बीच जाकर मास्क, सेनिटाइजर व बिलीजिंग पाउडर दिया तथा साफ-सफाई के साथ लॉक डाउन का पालन करने का आग्रह किया. साथ ही कहा कि आप अपने घरों में रहें. अपने सामर्थ्य के अनुसार जरूरतमंद लोगों को सहयोग कीजिये. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को लोगों से अंधकारमय कोरोना को

Read more

कोरोना के कारण राज्य में सभी सेवाएं ठप्प

पटना (ब्युरो रिपोर्ट) | कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बिहार सरकार द्वारा रविवार को एपिडेमिक डिजीज ऐक्ट 1897 की धारा 2 के तहत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए कुछ सेवाओं को छोड़कर राज्य के सभी निजी प्रतिष्ठानों, निजी कार्यालयों एवं सार्वजनिक परिवहन को पूर्णता बंद करने का आदेश दिया गया है. यह आदेश सभी जिला मुख्यालयों, सभी अनुमंडल मुख्यालयों, सभी प्रखंड मुख्यालयों एवं सभी नगर निकायों पर लागू होगा. सरकार द्वारा दिया गया यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया. फिलहाल यह लॉकडाउन 31 मार्च 2020 तक लागू रहेगा. इस लॉकडाउन में निजी क्षेत्र में कार्यरत चिकित्सा, सेवा दूरसंचार सेवा, बैंकिंग एवं एटीएम सेवाएं, डेयरी एवं डेयरी से संबंधित प्रतिष्ठान, खाद्यान्न एवं किराने के प्रतिष्ठान, फल सब्जियों की दुकानें, दवा की दुकानें, सर्जिकल आइटम से संबंधित संस्थान, पेट्रोल पंप एवं सीएनजी स्टेशन, एलपीजी गैस एजेंसी, पोस्ट ऑफिस तथा कोरियर सेवाएं, कॉमर्स सेवाएं और इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिंट मीडिया को सम्मिलित नहीं किया गया है. बताते चलें कि 31 मार्च तक लॉकडाउन के दौरान मालवाहक वाहन, एंबुलेंस, आवश्यक एवं आपातकालीन सेवाओं से संबंधित वाहनों के परिचालन को अनुमति दी गई है. साथ ही इन सभी सेवाओं के लिए उपयोग में आने वाले वाहनों एवं सरकारी कार्यों में लगे हुए वाहनों को इस आदेश की परिधि से बाहर रखा गया है. सरकारी कार्यालयों में आमजन के प्रवेश को प्रतिबंधित करने संबंधी सामान्य प्रशासन विभाग के पहले का निर्देश लागू रहेगा. उपरोक्त आदेश का अनुपालन सुनिश्चित कराने हेतु सभी जिला दंडाधिकारियों को प्राधिकृत किया गया है. इस कार्य

Read more

बिहार में कोरोना से पहली मौत, पटना AIIMS में भर्ती था मरीज

फुलवारीशरीफ/पटना (अजीत की रिपोर्ट) | राजधानी पटना से बड़ी खबर एम्स से आ रही है. पटना एम्स में मुंगेर निवासी एक मरीज जो किडनी रोग का इलाज कराने आया था. दो दिन पहले ही एम्स में भर्ती हुआ था. एम्स के चिकित्सकों ने उसे संदिग्ध कोरोना मरीज मानकर आइसोलेशन वार्ड में रखकर इलाज कर रहे थे जिसकी मौत इलाज के दौरान हो गयी. मरीज की मौत के घंटो बाद जब उसकी रिपोर्ट पटना के आरएमआरआई से एम्स पहुंची तब पता चला कि किडनी रोग ग्रस्त मरीज की मौत कोरोना से ही हुई है. सोर्स बताते हैं कि मुंगेर निवासी किडनी रोगग्रस्त मरीज 38 वर्षीय सैफ अली की मौत कोरोना से हो गयी . कोरोना रोग की पॉजिटिव रिपोर्ट आने के पहले ही उसकी मौत हो गयी थी . इसके बाद उसके परिजन डेड़ बॉडी लेकर अपने गाँव चले गए . सोर्स बताते हैं कि सैफ विदेश में कतर में काम करता था जहां से बीमार होने पर बिहार आया और फिर उसके परिजन उसे एम्स लेकर आये थे. पटना एम्स के निदेशक डॉ प्रभात कुमार सिंह ने कहा कि मुंगेर निवासी एक मरीज किडनी रोग का इलाज कराना आया था जिसे आइसोलेशन वार्ड में रखा गया था. शनिवार सुबह ही उसकी मौत इलाज के दौरान हो गयी लेकिन उसकी रिपोर्ट आरएमआर आई से शनिवार की देर शाम मिली. उन्होंने कहा कि मुंगेर के मरीज की मौत कोरोना से ही हुई है. मिली जानकारी के अनुसार पटना के राजेंद्र मेमोरियल रिसर्च इंस्‍टीच्‍यूट (RMRI) में दो मरीजों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव मिली

Read more

31 मार्च तक बिहार में रहेगा लॉकडाउन – नीतीश

पटना (ब्युरो रिपोर्ट) | कोरोना वायरस के चलते बढ़ रहे संकट पर रविवार शाम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अधिकारियों से विचार विमर्श किया. विमर्श के बाद उन्होंने मीडिया के मार्फत बिहार वासियों को संदेश दिया. अपने दिए गए संदेश में नीतीश कुमार ने ये कहा – “कोरोना वायरस से पूरी मानव जाति संकट में है। हम सब इस महामारी का डट कर मुकाबला कर रहे हैं. आवश्यक सावधनियां भी बरती जा रही हैं किंतु इस बीमारी की गंभीरता को देखते हुये प्रत्येक व्यक्ति का सचेत रहना नितांत आवश्यक है. इसका सबसे अच्छा उपाय सोशल डिस्टेंसिंग है. कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से आमलोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुये राज्य सरकार द्वारा तत्काल प्रभाव से फिलहाल 31 मार्च 2020 तक के लिये सभी जिला मुख्यालयों, सभी अनुमंडल मुख्यालयों, सभी प्रखंड मुख्यालयों एवं सभी नगर निकायों के स्वबाकवूद का निर्णय लिया गया है. निजी प्रतिष्ठानों, निजी कार्यालयों एवं सार्वजनिक परिवहन को पूर्णतः बंद किया गया है, परंतु आवश्यक एवं अनिवार्य सेवाओं से संबंधित प्रतिष्ठानों यथा चिकित्सा सेवाओं, खाद्यान्न एवं किराने के प्रतिष्ठान, दवा की दुकानों, डेयरी एवं डेयरी से संबंधित प्रतिष्ठान, पेट्रोल पंप एवं सी0एन0जी0 स्टेशन, बैंकिंग एवं ए0टी0एम0, पोस्ट ऑफिस तथा प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया आदि सेवाओं एवं इन सेवाओं के लिये उपयोग किये जा रहे वाहनों को इस आदेश की परिधि से बाहर रखा गया है. उन्होंने बिहार के तमाम लोगों से अपील की कि कोरोना संक्रमण के खिलाफ राज्य सरकार द्वारा चलायी जा रही इस मुहिम में अपना पूरा सहयोग दें. जब भी संकट का समय आया

Read more

जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय का घेराव महाशिवरात्रि को भी जारी रहा

पटना (ब्युरो रिपोर्ट) | राजधानी पटना में शुक्रवार 21 फरवरी को बर्खास्त शिक्षकों की बर्खास्तगी वापस लेने, जिन शिक्षकों पर FIR हुआ है, FIR वापस लेने एवं शो कॉज का पत्र निरस्त करने तथा पुराने शिक्षकों की तरह नियोजित शिक्षकों को वेतनमान पुराना सेवा शर्त लागू करने राज्य कर्मी का दर्जा देने की मांग सहित सात सूत्री मांगों को लेकर शुक्रवार को भी जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय का घेराव सुबह 10 बजे से संध्या 5 बजे तक किया गया. इसमें हजारों शिक्षक धरने पर बैठे रहे एवं अपनी मांगों के समर्थन में नारा लगाते रहे. शुक्रवार के विशेष कार्यक्रम में शिवरात्रि होने के नाते घेराव में आए सभी शिक्षकों ने अपना शिवरात्रि पर्व वही मनाया और मांगे पूरी होने की मंशा को लेकर हवन पूजा भी किया. कार्यक्रम में उपस्थित प्रमुख रूप से बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के संयोजक श्री ब्रजनंदन शर्मा ने संबोधित करते हुए कहां की हमारी मांगे कोई नई नहीं है. हमारा मात्र इतना कहना है कि जो शिक्षकों को 30 वर्ष पहले वेतनमान दिया गया था, वही वेतनमान एवं पुराना जो सेवा शर्त बना हुआ है वहीं सेवा शर्त और सारी सुविधाएं हमारे नए शिक्षकों को भी दिया जाए हमारी लड़ाई इसकी है. और जब तक यह मिल नहीं जाएगा, पुरानी पेंशन योजना या अनुकंपा के आधार पर शिक्षकों के नियुक्ति का रास्ता साफ नहीं हो जाता, तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा. हम अब पीछे हटने वाले नहीं हैं और सरकार के बर्खास्तगी और शो कॉज और एफ आई आर जैसे विभागीय कुकृत्य

Read more

बिहार प्रारंभिक शिक्षक नियोजन प्रक्रिया तत्काल प्रभाव से स्थगित; शिक्षा विभाग ने जारी किया पत्र

पटना (राजेश कुमार) | बिहार प्राथमिक शिक्षक नियोजन प्रक्रिया को तत्काल प्रभाव से स्थगित किया जा रहा है. बिहार शिक्षा विभाग के अपर सचिव अरशद फिरोज ने सभी नियोजन इकाइयों के अध्यक्षों एवं सदस्य सचिव को आवश्यक कार्यवाही के लिए पत्र प्रेषित किया है. शिक्षा विभाग ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी को भी पत्र जारी कर यह सूचित किया है कि जितने भी नियोजन प्रक्रिया चल रही है उसे तत्काल प्रभाव से स्थगित किया जाए. गौरतलब है कि माननीय उच्च न्यायालय ने 21 जनवरी 2020 को एक आदेश पारित किया था जिसमें एनआईओएस डीएलएड किए हुए सभी छात्रों को नियोजन प्रक्रिया में शामिल करने का आदेश दिया था. हालांकि शिक्षा विभाग ने विधि विभाग से परामर्श मांगी है, साथ ही साथ शिक्षा विभाग ने एनसीटीई से भी एक परामर्श मांगा है कि क्या एनसीटीई माननीय उच्च न्यायालय के उस आदेश को क्या वह डिवीजन बेंच में जाएगी या नहीं.

Read more

पटना में ब्लास्ट, 7 घायल, पुलिस कर रही जांच

पटना (ब्युरो रिपोर्ट) | सोमवार सुबह राजधानी पटना के गांधी मैदान से सटे सालिमपुर अहरा में ब्लास्ट होने से करीब आधा दर्जन लोग घायल हो गये. इस घटना में घायल लोगों को इलाज के लिए पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है. जानकारी के मुताबिक, राजधानी पटना के गांधी मैदान से सटे सालिमपुर अहरा के रोड नंबर 1 स्थित एक मकान में सोमवार सुबह करीब 8 बजे विस्फोट हो गया. विस्फोट इतना भयानक था कि आसपास के चार मकान क्षतिग्रस्त हो गये. कहा जाता है कि विस्फोट में करीब आधा दर्जन लोग घायल हो गये हैं. सभी घायलों को PMCH में भर्ती कराया गया है. घटना की सूचना मिलते ही मौके पर कई थानों की पुलिस पहुंच गई. मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मी ने बताया कि विस्फोट और आग लगने की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची है. अभी जांच की जा रही है कि विस्फोट बम से हुआ है या सिलेंडर फटने से हुआ है. जांच के बाद ही स्पष्ट हो पायेगा कि विस्फोट का कारण क्या था. वहीं, आग लगने की सूचना पर मौके पर फायर बिग्रेड की टीम भी पहुंच चुकी है. वहीं, पटना के एसएसपी ने बताया कि इस घटना में कोई मौत नहीं हुई है. उन्होंने बताया कि इसमें कुल 7 लोग घायल हुए हैं.

Read more

डॉ प्रभात रंजन डायग्नोस्टिक एंड रिसर्च सेंटर ने शुरू किया फ्रेंचाइजी चेन

पटना (ब्युरो रिपोर्ट) | डॉ प्रभात रंजन डायग्नोस्टिक एंड रिसर्च सेंटर पैथोलॉजी सर्विस के क्षेत्र में एक जाना माना नाम है. जिसके पास है अत्याधुनिक तकनीक एवं मशीन से लैस अपना पैथोलॉजी लैब. जहां 24×7 ट्रेंड लैब टेक्निशियन बेहद कम समय में खून या दूसरे जांच सैंपल का परीक्षण कर तैयार करते हैं एक विश्वसनीय जांच रिपोर्ट. पहले मरीजों के खून या दूसरे सैंपल जांच के लिए राज्य के बाहर भेजना पड़ता था. लेकिन डॉ प्रभात रंजन डायग्नोस्टिक एंड रिसर्च सेंटर ने इस समस्या को हमेशा के लिए खत्म कर बिहार में विश्वस्तरीय पैथॉलोजी सेवाएं उपलब्ध कराई हैं. अब यह जांच एक छत के नीचे आसानी से कम खर्च और कम समय में हो जा रही है. यह बिहार के मरीजों के लिए एक बड़ी सुविधा है. पहले इस तरह के जटिल जांच के लिए मरीजों को या तो बिहार से बाहर जाना पड़ता था या फिर उन लैब्स पर निर्भर रहना पड़ता था जो जांच के लिए मरीजों के सैंपल्स को बिहार के बाहर भेजते थे. इसका प्रतिकूल असर मरीज पर पड़ता था. रिपोर्ट मिलने में देरी होने के कारण सही समय पर इलाज शुरू नहीं हो पाता था. जिससे कई बार बिमारी गंभीर हो जाती थी या फिर कई मामलों में मरीज की आकस्मिक मौत तक हो जाती थी. हमारे संस्थान ने बिहार में कैंसर जैसे गंभीर बीमारियों के जांच सही समय पर कम खर्च में प्रदान कर मानव सेवा की दिशा में एक अहम पहल की है. अब यह लैब अपनी सेवाओं का दायरा बढ़ाने की दिशा

Read more

सरकार झुकी, समझौते के बाद सफाईकर्मियों की हड़ताल हुई खत्म

पटना (ब्युरो रिपोर्ट) | पिछले 6 दिनों से विरोध पर बैठे नगर निगम के सफाईकर्मियों ने शनिवार को अपनी हड़ताल तोड़ दी है. सरकार से बात करने के बाद समझौता होने से यह हड़ताल खत्म करने की घोषणा हुई. 4300 दैनिक सफाईकर्मियों पर आउटसोर्सिंग का नियम लागू नहीं करने पर सहमति बनी रहेगी तथा पहले की तरह नियमतिकरण की प्रक्रिया जारी रहेगा. इंटक अध्यक्ष चंद्रप्रकाश ने यह बताया कि आउटसोर्सिंग पर रखे गए कर्मियों को न्यूनतम मजदूरी के अलावा ईपीएफ (एंप्लोई प्रोविडेंटर फंड) और कर्मचारी बीमा सख्ती से लागू किया जाएगा. इसके लिए एक सप्ताह में विशेष समिति का गठन किया जाएगा. सरकार के फैसले के विरोध में प्रदर्शन पर बैठे सफाईकर्मियों से बातचीत में यह तय हुआ कि हड़ताल अवधि के दौरान दंडात्मक कार्रवाई वापस ली जाएगी. हड़ताल अवधि में वेतन की कटौती भी नहीं की जाएगी. समझौते के बिन्दु निम्न हैं –

Read more