बिहार मेंं कोविड19 से जुड़ी कुछ खास बातें

बिहार में कोरोना का आंकड़ा 426 पर पहुंच चुका है. अब तक राज्य के 29 जिले कोरोना की चपेट में आ चुके हैं. मार्च 2020 में बिहार में पहला मामला सामने आया था. ये मामला 21 मार्च को सामने आया था जब 38 साल के एक युवक की मौत पटना एम्स में इलाज के दौरान हो गई थी। यह युवक कतर से लौटा था और उसे किडनी की बीमारी थी. मौत के बाद जांच रिपोर्ट आई तो पता चला कि मुंगेर निवासी उस युवक को कोरोना था. अब इस मामले को इस तरह समझा जाए कि बिहार में पहला मामला 21 मार्च को दर्ज हुआ था और अब तक तक बिहार में 426 लोगों में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है. इनमें से 85 लोग स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं. पटना में जो युवक सबसे पहले कोरोना संक्रमित पाया गया था उसने एन एच-30 बाइपास के पास खेमनीचक सनरम अस्पताल में अपना इलाज करवाया था. प्रशासन ने जब वहां जांच की तो वहां की एक नर्स और कुछ अन्य लोग भी संक्रमित मिले. हालांकि अब यह लोग पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं. यह पटना का पहला हॉटस्पॉट था. वर्तमान में पटना का खाजपुरा इलाका हॉटस्पॉट बना हुआ है और सबसे ज्यादा मरीज फिलहाल वहीं से हैं. पटना में कुल मरीजों की संख्या फिलहाल 44 है. वही मुंगेर कोरोना संक्रमित मरीजों के मामले में नंबर वन पर है वहां 95 कोरोनावायरस संक्रमित मरीज हैंं. जबकि 45 मरीजों के साथ रोहतास दूसरे नंबर पर पहुंच गया है.

Read more

एक साथ मिले 13 नए मरीज, पटना के इन इलाकों में भी फैला कोरोना

पटना में हैं अब कुल 44 कोरोना मरीज बिहार में आज एकाएक 13 नए मामले सामने आए हैं. इससे पहले सुबह चार मामले सीतामढ़ी से और दो रोहतास से सामने आए थे. ताजा अपडेट के मुताबिक पटना के दो नए इलाकों में कोरोना मरीज मिले हैं जिससे हड़कंप मचा हुआ है. पटना के मीठापुर में एक 32 साल के युवक को कोरोना वायरस संक्रमित पाया गया है, वहीं पटना के फाइनेंस कॉलोनी में भी एक कोरोनावायरस मरीज मिलने की पुष्टि हुई है. बिहार में अब कुल 422 कोरोनावायरस संक्रमित पेशेंट हो गए हैं. इनके अलावा सारण जिले के सोनपुर और नजीबा में कोरोना मरीज मिले हैं. वही रोहतास में 9 संक्रमित मरीज फिर से मिले हैं. रोहतास में तेजी से कई इलाकों में कोरोना का संक्रमण फैलता हुआ नजर आ रहा है. यहां सासाराम, नोखा, डेहरी और परमेश्वर पुर समेत कई इलाकों में संक्रमण फैल गया है. मुंगेर बिहार में कोरोनावायरस के मामले में पहले नंबर पर है इसके बाद पटना और फिर बक्सर तीसरे नंबर पर है. बिहार में कोरोनावायरस के फैलते संक्रमण के बीच एक अच्छी खबर भी है. वह अच्छी खबर जाहिर तौर पर कोरोनावायरस से जुड़ी है. पहले संक्रमित हुए मरीजों में से 19 और मरीज आज स्वस्थ होकर अपने घर लौट गए. अब कुल 84 मरीज बिहार में स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं. PNC

Read more

पटना में फिर मिले 2 मरीज, बिहार 400 पार

बिहार में कोरोना मरीजों का कुल आंकड़ा 400 के पार कर गया है. ताजा अपडेट के मुताबिक बिहार में अब 403 कोरोना पॉजिटिव केस हैं. इस बार पटना में 2 और मरीजों का पता चला है. इनमें से एक राजधानी के राजा बाजार इलाके से है जबकि दूसरा पालीगंज से. इससे पहले आज एक और मामला नौबतपुर में सामने आया था जहां एक 24 साल की युवती कोरोना संक्रमित पाई गई. पटना में अब 42 मरीज हो गए हैं. इनके अलावा भोजपुर के भलुहीपुर से 2, बक्सर के डुमरांव से 2 और रोहतास, मधेपुरा, औरंगाबाद, सीतामढ़ी, वैशाली और रोहतास के एक-एक मरीज मिले हैं. इधर एक मरीज को आज डिस्चार्ज किया गया है जिसके बाद अब कुल 65 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं. स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने बुधवार को कन्फर्म किया है कि जल्द ही 20 और मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया जाएगा. देखिए ये पूरा आंकड़ा- PNC

Read more

अब तक कुछ ऐसी है बिहार में कोरोना की तस्वीर

बिहार के लिए 90 मरीजों के साथ मुंगेर चिंता का सबब बना हुआ है. वहीं राजधानी पटना में अचानक सामने आए 5 मरीजों के साथ यह बिहार में दूसरे नंबर पर पहुंच गया है. इसके बाद 34 मरीजों के साथ नालंदा और 32 मरीजों के साथ सासाराम भी जैसे एक दूसरे को पछाड़ने में लगे हैं. बिहार के 25 जिले अब कोरोना की जद में आ चुके हैं. बिहार में लगातार बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दुकानें खोलने का फैसला फिलहाल स्थगित कर दिया है. इस बात की उम्मीद ज्यादा है कि बिहार के ज्यादातर शहरों में लॉक डाउन 3 मई के बाद भी जारी रह सकता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सोमवार को मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में इस बात के संकेत दिए हैं कि सभी राज्यों को अपने यहां रेड जोन चिन्हित कर लेने चाहिए, जहां लॉक डाउन अगले कुछ दिनों तक जारी रहेगा, जब तक की वह इलाका ग्रीन जोन में परिवर्तित ना हो जाए और वहां जाहिर तौर पर लोगों को कोई छूट नहीं मिलने वाली. पीएनसी

Read more

पटना में आठ और नये मरीज

बिहार में कोरोना अब तेजी से फैल रहा है. लेटेस्ट जानकारी के अनुसार पटना के खाजपुरा में आठ और नए पेशेंट जिले हैं. इनमें से 6 एक ही परिवार के हैं जबकि 2 अन्य इनके किरायेदार हैं. पटना में इसके साथ ही कोरोना मरीजों की कुल संख्या 24 हो गई है. इससे पहले गुरुवार को कोरोना ने कैमूर में भी दस्तक दे दी. कैमूर के चैनपुर में पहले ही दिन 8 लोग संक्रमित पाए गए हैं. स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव के मुताबिक कैमूर में 5 पुरुष जिनकी उम्र 4,12,17,24 और,35 वर्ष है और 3 महिलाएं जिनकी वर्ष 17,18 और 18 वर्ष है, सभी एक ही परिवार के चैनपुर, कैमूर के निवासी हैं. ये सभी कोरोना पॉजिटीव के संपर्क में आये थे. वहीं एक अन्य 20 वर्षीय युवक गोरियाकोठी, सिवान का निवासी है. इधर सासाराम में भी 6 नये मामले सामने आए हैं. वहीं मुंगेर के जमालपुर में गुरुवार को चार और कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं उसके साथी मुंगेर बिहार के टॉप पर पहुंच गया है अब बिहार में सबसे ज्यादा कोरोणा के मामले मुंगेर और नालंदा से हैंं. दोनों जगह पर अब 31-31 पेशेंट हैं. उनके बाद दूसरा नंबर पटना का है जहां भाई 24 कोरोना मरीज हैंं. इन सबके बीच स्वास्थ्य मंत्री ने जानकारी दी है कि अब तक बिहार में 69,45,955 घरों की डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग हो चुकी है. इसमें कुल 3,78,22,472 लोगों की स्क्रीनिंग हुई है. कोरोना वायरस पॉजिटिव 170 मरीज मिले हैं, जिनमें से 45 कोरोना पॉजिटिव मरीज स्वस्थ हो चुके हैं जबकि 2 लोगों

Read more

लॉकडाउन में जरूरतमंदों की मदद में जुटे हैं पाटलिपुत्रा वारियर्स

पाटलिपुत्र वारियर्स के तहत जद यू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद के संरक्षण में पाटलिपुत्रा नगर विकास समिति , पटना के तत्वाधान मे शाहगंज देवी स्थान के पास रह रही छात्राओं के अनुरोध पर जो किसी कारणवश लॉकडाउन मे घर नही जा पाईं उन्हे समिति के अध्यक्ष बबलू कुमार के द्वारा एक सप्ताह का खाद्य सामग्री उपलब्ध कराया गया. समिति द्वारा  लॉकडाउन का पूरा ख्याल भी रखा जाता है. साथ ही कोविद-19 रिलीफ के नवीन जी के द्वारा मारवाड़ी कॉलोनी, श्याम मंदिर के कुछ परिवारों को भोजन उपलब्ध कराया गया. इस कार्य मे अल्पसंख्यक कल्याण मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह पाटलिपुत्र वारियर्स के को -ऑर्डिनेटर सबीहुद्दीन अहमद सिफु के अतिरिक्त भूट्टो खान , वरुण कुमार , शशि मेहता , अभिषेक कुमार , अमन मेहता , हलीम जाफ़र का अहम योगदान रहा. आईजीआइएमएस में मरीज़ों के तीमारदारों के बीच पाटलिपुत्र वारियर्स ने एजाज़ अहमद एवं कंचन सिंह के नेतृत्व में भोजन पैकेट का वितरण जारी रखा , वहीं मुकेश यादव विनीत राज एवं रंजन कुमार के नेतृत्व में सेवासंघ एवं पाटलिपुत्र वारियर्स ने मिल कर जक्कनपुर, सरिस्ताबाद एवं कच्ची तालाब में राशन पैकेट वितरित किए. जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि लॉकडाउन ख़त्म होने तक पाटलिपुत्र वारियर्स के योद्धा भिन्न भिन्न इलाक़ों में निरंतर सक्रिय रहेंगे.

Read more

पटना ने बढ़ाई चिंता

बिहार में शनिवार को कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 86 पर पहुंच गई है . आज कुल 3 मामले सामने आए जिनमें एक नालंदा से, एक बेगूसराय और एक पटना के खाजपुरा से है. पटना में 25 साल की एक युवती कोरोना पॉजिटिव पाई गई है. युवती का इलाज पटना एम्स में चल रहा है. पीड़ित युवती पटना के खाजपुरा शिव मंदिर के पास बिचली गली की रहने वाली है. रिपोर्ट आने के बाद, ब्रांड फैक्टरी आउटलेट के पास गली में पहुंची पुलिस की टीम और सिविल सर्जन के साथ मेडिकल की टीम ने जायजा लिया. जानकारी के मुताबिक आज इस गली को सील कर दिया जाएगा. राज्य में तेजी से रिकवर कर रहे कोरोना पेशेंट कोरोना वायरस के संक्रमण के आगे जहां विश्व के कई देशों ने घुटने टेक दिए हैं, वहीं बिहार में लॉकडाउन के बाद मरीजों के स्वस्थ्य होने का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है.स्वास्थ्य विभाग के अनुसार अब तक बिहार में कोरोना संंक्रमित 42 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं. वहीं सीवान में 29 लोगों में से 17 लोग स्वस्थ हो चुके हैं. कोरोना संक्रमण से 24 घंटे में पांच मरीज ठीक हो चुके हैं. आपको बता दें कि बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण से दो लोगों की मौत हुई है. कुल 10,130 लोगों की जांच में 86 पाॅजिटिव लोग पाये गये हैं. पटना में 7 मरीजों में से पांच ठीक हुए हैं वहीं गया के पांच में से 4 लोग स्वस्थ हो गए हैं. गोपालगंज के सभी तीनों संक्रमित कोरोना वायरस के संक्रमण से स्वस्थ

Read more

अनजान घुड़सवारों से गाँव में दहशत

सिवान (राजेश कुमार की रिपोर्ट) | कोरोना वायरस पूरी दुनिया पर कहर बनकर टूटा है, जिससे एक लाख से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है. इस वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए पूरी दुनिया में लाकडाउन जारी है. भारत में भी 21 दिनों का लॉकडाउन है, जिसके बाद इसका और दो हफ्ते बढ़ना लगभग तय है. कई राज्यों ने 30 अप्रैल तक लॉकडाउन लागू भी कर दिया है. लेकिन केंद्र सरकार की तरफ से देशभर के लिए इसकी आधिकारिक घोषणा बाकी है. इसी लॉक डाउन में सिवान से तकरीबन 10 की संख्या में आए घोड़ा वालो ने सरण के मसरख प्रखंड के पकड़ी मैं एक मंदिर के पास डेरा डाला. जिससे ग्रामीणों में दहशत बन गया. बाद में ग्रामीणों ने अपने गांव के ही आंगनबाड़ी केंद्र में सूचना दी तत्काल. आंगनबाड़ी केंद्र का संचालक ने वीडियो और थाना प्रभारी को भी सूचना दी. लेकिन कोई भी प्रखंड से ना प्रखंड विकास पदाधिकारी और ना थाना प्रभारी ने इसकी सुध ली. हालांकि ग्रामीणों के विरोध के बाद सभी गो सवारों ने गांव से बाहर चले गये.

Read more

धनुपरा में जयप्रकाश चौधरी तो कोइलवर में थाना प्रभारी ने की मदद

भोजपुर (आमोद कुमार) | कोरोना वायरस को लेकर किये लॉक डाउन के कारण मजदूर वर्ग के लोगों को सबसे ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. मजदूर वर्ग भुखमरी के कगार पर आ गए हैं. ऐसे में आज वैश्विक महामारी ,राष्ट्रीय आपदा करोना की दौड़ मे प्रभारी जदयू विधानसभा ब्रह्मपुर सह जिलाध्यक्ष श्रमिक प्रकोष्ठ जदयू भोजपुर के जयप्रकाश चौधरी द्वारा अपने पैत्रिक गाँव धनुपरा (आरा) में मजदूरों की बस्तियों मे लगभग दो सौ परिवार के बीच अपनी खेती का हरी सब्जियां एवं दो क्विंटल चावल वितरित किया गया.इनके इस पुनीत कार्य में जदयू के मुकेश कुमार एवं जीतेंद्र चंद्रवंशी भरपूर साथ दिया. गौरतलब हो कि पूरे देश एवं प्रदेश की सभी गतिविधियां लॉक डाउन के कारण बंद है. ऐसे मे गरीब मजदूरों के घर भोजन एवं आवश्यक वस्तुओं की समस्या है. हम सभी राजनैतिक समाजिक कार्यकर्ताओं की कर्तव्य होता है कि इस संकट की घडी मे गरीब मजदूर एवं जरुरतमंदों को साथ दें. कोइलवर थाना प्रभारी ने की जरूरतमंदों की मददजहां एक ओर पूरे देश के लोग देश के समर्थन में एकजुट होकर खड़ा है. कोरोना से निपटने के लिये देशवासियों का यह अटूट संकल्प सरहनीय है. वही दूसरी ओर लॉकडाऊन से भूख की एक बड़ी समास्या आ खड़ी हुई है. जिले के कोइलवर थाना क्षेत्र के लगभग 80 प्रतिशत लोगों के घर का खर्चा मजदूरी से चलता है. सभी लोग दैनिक मजदूरी कर अपना जीवनयापन करते हैं. किन्तु सभी प्रकार के काम स्थगित हो जाने के कारण इनका जीना बेहाल हो गया है. इस विपदा को देखते हुए

Read more

सबको साथ मिलकर कोरोना से जंग लड़नी होगी – रणविजय

भोजपुर (ब्युरो रिपोर्ट) | जानलेवा कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में लोग खुलकर सहयोग करने लगे हैं. इसे लेकर विभिन्न संगठनों और बुद्धिजीवियों ने सहयोग का हाथ बढ़ा दिया है. सभी अपने-अपने स्तर से सहयोग करने में जुट गए हैं. कोई गरीबों के बीच खाद्य सामग्रियों का वितरण कर रहा है, तो कोई मास्क, सैनिटाइजर, फिनाइल आदि का वितरण कर लोगों को कोरोना से बचाव की जानकारी दे रहा है. जिला प्रशासन और सरकार को भी इस आपदा से निपटने के लिए सहयोग राशि दे रहे हैं. ऐसे संकट की घड़ी में RJD के MLC रणविजय सिंह ने अपने सहयोगी राजद के जिला उपाध्यक्ष गजेन्द्र यादव के साथ मिलकर पहल किया है. इस दौरान उन्होंने प्रखण्ड के राजापुर में लोगों के बीच मास्क, सेनिटाइजर व बिलीचिंग पाउडर का वितरण किया. इस दौरान MLC ने कोरोना से जंग हेतु इससे बचाव के लिए लॉक डाउन का पालन करने था समाजिक दूरी बना कर रहने का आग्रह किया. इसके अंतर्गत लॉक डाउन से पीड़ित लोग जिन्हें रोज 2 वक्त का खाना नही मिल पा रहा है उसको राशन देने के साथ-साथ लोगों के बीच मास्क, सेनेटाइजर , बिलीचिंग पावडर आदि का वितरण किया. इस दौरान प्रखण्ड के इंग्लिश पुर में भी लोगों के बीच जाकर मास्क, सेनिटाइजर व बिलीजिंग पाउडर दिया तथा साफ-सफाई के साथ लॉक डाउन का पालन करने का आग्रह किया. साथ ही कहा कि आप अपने घरों में रहें. अपने सामर्थ्य के अनुसार जरूरतमंद लोगों को सहयोग कीजिये. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को लोगों से अंधकारमय कोरोना को

Read more