सकरैचा के छात्र-छात्राओं व ग्रामीणों में आक्रोश | कारण, महिलाओं के साथ दुष्कर्म व हत्या की बढ़ती घटनाएं

पटना/फुलवारीशरीफ (अजीत की रिपोर्ट) । हाल ही में हैदराबाद में एक महिला डॉक्टर प्रियंका रेड्डी के साथ दुष्कर्म तथा उसके बाद जला कर उसकी निर्मम हत्या कर दी गई थी. इस मामले की धमक अभी ख़त्म भी न हुई थी कि कि बिहार के बक्सर एवं समस्तीपुर में महिलाओं के साथ दुष्कर्म के बाद जलाकर हत्या कर दी गई. महिलाओं के प्रति बढ़ती घटनाओं के विरोध में पटना जिले के फुलवारीशरीफ प्रखण्ड के सकरैचा पंचायत में कॉलेज, स्कूल, कोचिंग के के छात्र-छात्राओं सहित सैंकड़ो ग्रामीणों ने मानव श्रृंखला बनाकर आक्रोश का इजहार किया. इनलोगों ने डॉ०प्रियंका रेड्डी सहित बक्सर व समस्तीपुर की घटनाओं में शामिल हैवानों को फांसी देने की मांग की. कार्यक्रम में सकरैचा पंचायत के मुखिया संतोष कुमार के साथ मे उप-मुखिया प्रकाश कुमार रंजन, सौरभ कुमार, विवेक कुमार उर्फ छोटू, विकास, अविनाश कुमार, विजय पासवान, बिरजू चौधरी, रामेश्वर जमादार विनोद पासवान, रंजन कुमार सहित सैंकड़ो लोग मौजूद रहे.

Read more

“बाल मजदूरी इंसानियत के लिए अपराध” का मंचन

फुलवारी शरीफ (अजित की रिपोर्ट) | रविवार को वाल्मी में सर्वमंगला सांस्कृतिक मंच (एस.एस.एम.) के साप्ताहिक नुक्कड़ नाटक की श्रृंखला में एक नाटक की प्रस्तुति की गई. महेश चौधरी द्वारा लिखित एवं निर्देशित “बाल मजदूरी इंसानियत के लिए अपराध” नामक नाटक की शुरुआत सौरभ राज के स्वरबध्द गीत – बाल मजदूरी इंसानियत के लिए अपराध है ओ भईया, हर एक को जन्म से जीने का अधिकार है ओ भईया…… से हुई. इस नाटक के माध्यम से यह बताया गया कि बाल मजदूरी इंसानियत के लिए अपराध है जो समाज के लिए श्राप बनता जा रहा है. बाल मजदूरी देश के वृद्धि और विकास में बाधक के रूप में बड़ा मुद्दा है. बचपन जीवन का सबसे यादगार क्षण होता है जिसे हर एक को जन्म से जीने का अधिकार है. बचपन सभी के जीवन में विशेष और सबसे खुशी का पल होता है जिसमें बच्चे प्रकृति, प्रियजनों और अपने माता-पिता से जीवन जीने का तरीका सीखते हैं. सामाजिक,बौद्धिक, शारीरिक और मानसिक सभी दृष्टिकोण से बाल मजदूरी बच्चों की वृद्धि और विकास में अवरोध का काम करता है. बाल मजदूरी भारत में बड़ा सामाजिक मुद्दा बनता जा रहा है जिसे नियमित आधार पर हल करना चाहिए. यह मुद्दा सभी के लिए है जो कि व्यक्तिगत तौर पर सुलझना चाहिए क्योंकि यह किसी के भी बच्चे के साथ हो सकता है. गरीबी के कारण गरीब माता-पिता अपने बच्चों को घर-घर और दुकानों में काम करने के लिए भेजते हैं. दुकान और छोटे व्यापारी भी बच्चों से काम तो बड़े लोगों के जितना करवाते

Read more

राजनीति में निष्कासन से बाहर आकर अपना भविष्य तय करना होगा – राजीव

पटना (पटना नाउ ब्यूरो रिपोर्ट)| अखिल भारतीय कायस्थ महासभा, बिहार प्रदेश के कोर ग्रुप की बैठक नागेश्वर कॉलोनी में आयोजित की गयी. जदयू प्रवक्ता एवं अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय कार्यवाहक अध्यक्ष राजीव रंजन प्रसाद ने बैठक सम्बोधित करते हुए राज्य में सांगठनिक विस्तार की प्रगति पर संतोष व्यक्त करते हुए दहेज एवं कन्या भ्रूणहत्या जैसी विकृतियों से निबटने के लिए व्यापक स्तर पर अभियान चलाए जाने के लिए आह्वान किया. राजीव रंजन ने कहा कि लोकनायक जयप्रकाश नारायण, डाक्टर राजेंद्र प्रसाद, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, स्व० लालबहादुर शास्त्री, स्वामी विवेकानंद एवं महर्षि अरविन्दो की सन्तानों को अपनी विरासत एवं गौरवशाली परम्परा के अनुरूप आचरण करते हुए राजनीतिक तौर पर निष्कासन से बाहर निकल कर अपना भविष्य तय करना होगा. साथ ही यह समझना होगा कि जो समाज लोकतंत्र में वोट ट्रांस्फ़र करने की क्षमता नहीं विकसित करेगा, उसे हाशिए से बाहर निकालना असम्भव है.इस अवसर पर महासभा की राष्ट्रीय कार्यसमिति के सदस्य एवं उत्तरप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी, काशी प्रांत के अध्यक्ष महेश श्रीवास्तव ने स्वाधीनता संग्राम एवं आधुनिक भारत के निर्माण में कायस्थों के योगदान की चर्चा करते हुए एक बार फिर अपनी भूमिका तय करने के लिए महासभा का आह्वान किया. महेश श्रीवास्तव ने कहा कि महासभा के द्वारा पुरे देश में अलग अलग जगहों से भगवान श्री चित्रगुप्त कि शोभा यात्रा निकाली जायेगी जिसके तिथि की घोषणा बाद में निर्णयोंपरांत की जायेगी. वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डाक्टर मुकेश श्रीवास्तव ने कार्ययोजना का स्वरुप स्पष्ट करते हुए राष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य में महासभा की तैयारी पर अपनी बातें रखीं.

Read more

एक बार पुनः इस स्कूल ने कला के आकाश पर लहराया अपना परचम

पटना (पटना नाउ ब्यूरो रिपोर्ट) | कौन कहता है कि आसमाँ में सुराख नही होता, एक पत्थर तो तबियत से उछालो यारों।यह फलसफा शनिवार को लिट्रा वैली स्कूल, पटना ने अक्षरशः सत्य सिद्ध कर दिया. अभी स्कूल में हुए तीन दिवसीय महोत्सव लिट्फेस्ट की थकान पूर्णतः उतरी भी नही थी कि लिट्रा वैली स्कूल को शनिवार, 30 नवम्बर 2019 को डी0 पी0 एस0 वल्र्ड स्कूल, पटना में आयोजित आटकाॅन फेस्ट तथा रेडियंट स्कूल, पटना में आयोजित कला एवं साहित्यिक प्रतियागिताओं में भाग लेने का अवसर प्राप्त हुआ. इस कला महोत्सव में राजधानी कई प्रतिष्ठित विद्यालयों ने भाग लिया. लिट्रा वैली स्कूल के प्रतिभाशाली छात्रों ने डी0 पी0 एस0 वल्र्ड स्कूल के आर्टकॉन तथा रेडियंट स्कूल के विभिन्न प्रतियोगिताओं में अपना कौशल दिखाया. सभी प्रतियोगिता चाहें वह रेडियंट स्कूल में आयोजित कोलेबोरेटिव राईटिंग हो या डी0 पी0 एस0 वल्र्ड स्कूल में आयोजित वाल-पेंटिंग हो या फिर रंगोली प्रतियोगिता हर जगह लिट्रा वैली स्कूल के छात्रों ने अपना परचम लहराया. जहाँ एक ओर आर्टकॉन फेस्ट के ओवरऑल चैम्पियन घोषित किए गए, वही दूसरी ओर रेडियंट स्कूल में आयोजित सिनियर तथा जूनियर दोनों स्तर की प्रतियोगिताओं के एकमत से विजेता घोषित किए गए. लिट्रा वैली स्कूल के छात्रों ने यह सिद्ध कर दिया कि वह सिर्फ अपने विद्यालय के ही सिकंदर नही वरन् विद्यालय के बाहर भी बादशाह बनने का दमखम रखते है. जैसा की ज्ञातव्य है कि एक दिन पहले समाप्त हुए विद्यालय के तीन दिवसीय महोत्सव लिट्फेस्ट-4 में भी लिट्रा वैली स्कूल प्रथम स्थान पर आसीन था. बाद में अच्छे मेजबान

Read more

स्वामी रामनरेशाचार्य जी महाराज का पांच दिवसीय पटना प्रवास

पटना (प०ना० रिपोर्ट) | रामानंद संप्रदाय के प्रधान आचार्य स्वामी रामनरेशाचार्य जी महाराज पांच दिवसीय प्रवास पर 4 दिसम्बर को पटना आ रहे हैं. वे 5 दिसम्बर से राजधानी के राजेन्द्र नगर में सनातनी श्रद्धालुओं को संबोधित करेंगे. स्वामीजी के सत्संग की तैयारियां अंतिम चरण में है. जगदगुरु रामानंदाचार्य पद प्रतिष्ठित स्वामी रामनरेशाचार्य रामानंदी वैष्णवों की मूल आचार्यपीठ श्रीमठ, पंचगंगा घाट, काशी के वर्तमान पीठाधीश्वर हैं. इस पीठ को सगुण और निर्गुण रामभक्ति परंपरा और रामानंद संप्रदाय का मूल गादी होने का गौरव प्राप्त है. रामानंदाचार्य आध्यात्मिक मंडल, बिहार से जुड़े सतेन्द्र पांडेय के मुताबिक स्वामीजी का पटना प्रवास रामभाव प्रसार यात्रा के तहत हो रहा है. इसके निमित्त वे वैष्णव विश्व दर्शन फाउंडेशन के सभागार में निवास करेंगे तो राजेन्द्र नगर में गणपति उत्सव के सामने है. राजधानी के भक्त सुबह में आचार्यश्री का दर्शन, पूजन करेंगे. दोपहर में भंडारा होगा और सायं चार बजे से सत्संग का आयोजन होगा, जिसमें जगदगुरु रामानंदाचार्य के प्रवचनों का लाभ श्रद्धालु ले पाएंगे. रामालय ट्रस्ट के संयोजक हैं रामनरेशाचार्यजगदगुरु रामानंदाचार्य स्वामी रामनरेशाचार्य रामजन्मभूमि पर भव्य राममंदिर बनाने के लिए पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हराव की पहल पर गठित रामालय ट्रस्ट के संयोजक रहे हैं. उस ट्रस्ट में द्वारा पीठ और ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरुपानंद सरस्वती और श्रृंगेरी पीठ शंकराचार्य स्वामी भारती तीर्थ जी भी थे. रामनरेशाचार्य जी ने राममंदिर आंदोलन से आम जन को जोड़ने के लिए देशव्यापी यात्राएं की थी. रामजन्मभूमि की मुक्ति के लिए बने रामजन्मभूमि न्यास के पहले अध्यक्ष शिवरामाचार्य थे, जो इनसे पहले श्रीमठ के पीठाधीश्वर थे.

Read more

व्यवसाय सुगमता के लिए उठाये गयें कदमों पर चर्चा का आयोजन

पटना (पटना नाउ ब्यूरो रिपोर्ट)। शुक्रवार को होटल मौर्या, पटना में मिनिस्ट्री ऑफ़ कॉरपोरेट अफेयर्स, भारत सरकार तथा पटना चेप्टर, भारतीय कंपनी सचिव संस्थान आइसीएसआइ के सयुंक्त प्रवधान में भारत सरकार द्वारा व्यव्साय के सुगमता के लिए उठाए गया कदमों पर चर्चा हेतु सम्मेलन का आयोजन किया गया. सम्मेलन में मुख्य अथिति के तौर पर सुशील मोदी, उपमुख्यमंत्री, बिहार सरकार की उपस्थिति रही. अन्य अथितियों में एस. डी. संजय, (माननीय एंड सॉलिसिटर जेनरल ऑफ़ इण्डिया) संजय कु अग्रवाल, आईएएस सचिव, परिवहन विभाग, बिहार सरकार, पी. के. अग्रवाल (अध्यक्ष चैंबर आॅफ कॉमर्स बिहार) तथा डी. बंधोपाध्याय (रीजनल डायरेक्टर, पूर्व, मिनिस्ट्री ऑफ़ कॉरपोरेट अफेयर्स, भारत सरकार) की उपस्थिति रही. कार्यक्रम की शुरूआत सुशील मोदी तथा अन्य अतिथियों के कर कमलों द्वारा दिप प्रज्वलित कर किया गया. समारोह में सीएस सुधीर कुमार (अध्यक्ष, आइसीएसआइ पटना चैप्टर) के द्वारा आगत अतिथियों का स्वागत किया गया. अपने स्वागत भाषण में कुमार ने उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी व अन्य आगत अतिथियों के प्रति सम्मान प्रकट करते हुए आभार प्रकट किया. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पी के अग्रवाल अध्यक्ष चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स, बिहार ने सरकार के द्वारा उठाये कदमो को सरहानीय बताते हुए अपना मत रखा. जबकि संजय कु अग्रवाल, आईएएस सचिव, परिवहन विभाग, बिहार सरकार, एस. डी. संजय एडिशनल सॉलिसिटर जेनरल ऑफ़ इण्डिया, तथा डी. बंधोपाध्याय रीजनल डायरेक्टर, पूर्व, मिनिस्ट्री ऑफ़ कॉरपोरेट अफेयर्स, भारत सरकार ने भी सम्बोधित करते हुए अपने विचार और सुझाव रखे. इसके उपरांत सुशील मोदी, उपमुख्यमंत्री ने अपना सम्बोधन करते हुए सबसे पहले मंत्रालय तथा भारतीय कंपनी सचिव संस्थान को इस

Read more

ट्राई के अनुसार, रेवन्यू मार्केट शेयर में भी ये बिहार-झारखंड में नंबर वन

पटना / रांची (ब्यूरो रिपोर्ट) | रिलायंस जियो 4.4 % की बढ़त के साथ बिहार सर्किल में नंबर-वन टेल्कम ऑपरेटर बनी हुई है. 30 सितंबर को खत्म हुई दूसरी तिमाही पर जारी ट्राई की रिपोर्ट के अनुसार चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के मुकाबले जियो का रेवन्यू मार्केट शेयर 4.4 फीसदी बढ़कर 55.7  % से 60.1 % जा पहुँचा है. पहली तिमाही में एजीआर 872.51 करोड़ था जो दूसरी तिमाही में बढ़कर 924.92 करोड़ हो गया है. ग्रॉस रेवन्यू यानी सकल राजस्व में भी रिलायंस जियो पिछले एक साल में 36 फीसदी से 43.2 फीसदी तक जा पहुँचा है. दूसरी तिमाही में 1154 करोड़ के ग्रॉस रेवन्यू कलेक्शन साथ बिहार टेल्कम सर्किल आन्ध्रप्रदेश और महाराष्ट्र के बाद तीसरे पायदान पर है. देशभर में जियो के आरएमएस यानी रेवन्यू मार्केट शेयर के लिहाज से बिहार सर्किल छठे मुकाम पर है. ट्राई के इस रिपोर्ट के अनुसार बिहार सर्किल में भारती एयरटेल दूसरी तिमाही में 2.3 फीसदी नुकसान के साथ 33.3 फीसदी से घटकर 31 फीसदी पर आ गयी है. पहली तिमाही में एयरटेल का एजीआर 521.13 करोड़ था जो दूसरी तिमाही में घटकर 476.84 करोड़ रह गया है. आरएमएस में तीसरे नंबर पर कायम वोडा-आइडिया को भी इस दौरान 2.3 फीसदी का नुकसान हुआ है. एजीआर का आँकड़ा 9 फीसदी से घटकर 6.7 फीसदी आ पहुँचा है. वोडा-आइडिया को पहली तिमाही में 141.6 करोड़ की आय हुयी थी जो दूसरी तिमाही में घटकर 102.68 करोड़ रह गयी है. ट्राई के एजीआर रिपोर्ट के मुताबिक बिहार सर्किल में BSNL समेत दूसरे

Read more

सरस मेला 1 दिसंबर से गांधी मैदान में, प्रवेश होगा निःशुल्क

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | देसी अंदाज में आयोजित सरस मेला आधुनिक समाज में भी अपनी एक अलग पहचान बना रहा है. मेला में बिकने वाले उत्पाद और उनके प्रति लोगों का क्रेज लगातार बढ़ रहा है और यह बात का प्रमाण है कि लोग आधुनिकता से दूर गांव की ओर लौट रहे हैं. अपने घरों को संवारने के लिए लोग ग्रामीण शिल्प और उत्पाद को ही तरजीह दे रहे हैं. सरस मेले में लोगों का सबसे बड़ा रुझान ग्रामीण शिल्प कला की ओर तरफ है. वर्तमान समय में बिहार ग्राम सरस मेला राष्ट्रीय मेला के स्वरूप में प्रदर्शित हो रहा है. सरस मेला ग्रामीण विकास विभाग, भारत सरकार द्वारा निर्धारित कैलेंडर के तहत देश की लगभग प्रत्येक राज्य की राजधानी में प्रतिवर्ष आयोजित होता है. राजधानी पटना में भी इसका आयोजन कई वर्षों से होता रहा है. वर्ष 2014 से ही इसके आयोजन की जिम्मेदारी बिहार ग्रामीण जीविकोपार्जन प्रोत्साहन समिति जीविका की है. बिहार ग्राम सरस मेला इस साल 2019-20 का प्रथम संस्करण ज्ञान भवन, पटना में 2 सितंबर से 11 सितंबर तक आयोजित हुआ. मेला में बिहार समय देश राज्यों के स्वयं सहायता समूह से जुड़े महिलाओं और अन्य सरकारों द्वारा निर्मित उत्पादक आकृतियों की बिक्री से प्रदर्शनी 110 स्टॉलों से हुई. एक बार फिर इसी साल जीविका सरस मेला का आयोजन 1 दिसंबर से 15 दिसंबर तक गांधी मैदान पटना में हो रहा है, जिसमें 400 स्टॉल विभिन्न विभागों के 50 और जीविका दीदियों के लिए 50 का निर्माण प्रस्तावित है. इस मेला में स्टाल के माध्यम से

Read more

अनियंत्रित कार डिवाइडर से टकराई | आग लगने से कार में फंसा चालक जिंदा जला

पटना/बिहटा (पटना नाउ रिपोर्ट) | शनिवार अहले सुबह पटना-औरंगाबाद मुख्य मार्ग में अमहरा गोबर्धन बाबा के समीप एक अनियंत्रित वैगन आर कार डिवाइडर से टकरा कर पलट गई. इस कारण कार में आग गई तथा कार में फंसे कार का चालक जिंदा जलकर मर गया. मृतक की पहचान बिहटा के कंचनपुर निवासी मो भितरछेनी का 20 वर्षीय पुत्र पुलिस उर्फ अंश के रूप में की जा रही है. बताया जाता है कि कार में चार लोग सवार थे. बिक्रम से बारात कर घर वापस लौटने के क्रम में यह दुर्घटना हुई. दुर्घटना के बाद कार में से तीन लोगो को निकाला गया तथा उन्हें नजदीक के अस्पताल में भेजा गया. लेकिन कार में फंसे पुलिस उर्फ़ अंश जिंदा जलकर राख हो गया. दुर्घटनाग्रस्त कार में घायल कंचनपुर निवासी सह कार का मालिक नंद किशोर सिंह की भी इलाज के दौरान मौत हो गयी.

Read more

शिक्षकों जीतेंगे नकद 1 लाख रुपये | 25 नवंबर, 2019 तक Registration

मुंबई (पटना नाउ ब्यूरो) | सेंटर फॉर टीचर एक्रेडिटेशन (सेंटा) टीचिंग प्रोफेशनल्स ऑलिम्पियाड 2019 (टीपीओ) शिक्षकों के लिए भारत की सबसे बड़ी वार्षिक राष्ट्रीय प्रतियोगिता है. सेन्टा टिपीओ 2019 भारत के 75 से अधिक शहरों में 14 दिसंबर, 2019 (www.centa.org/tpo2019 पर पंजीकरण) को आयोजित किया जाएगा. पंजीकरण 25 नवंबर, 2019 को बंद हो जाएंगे.AMITY इंटरनेशनल स्कूल, लखनऊ से सारिका चुनी, सेन्टा टिपीओ 2018 में राष्ट्रीय स्तर पर दूसरी रैंक के साथ-साथ प्राइमरी स्कूल – इंग्लिश मीडियम की सब्जेक्ट टॉपर थीं. उन्होंने रिलायंस फाउंडेशन शिक्षक पुरस्कार, 1 लाख रु. का नकद पुरस्कार, ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय – यूके में ऑक्सफोर्ड मास्टरक्लास, टिपीओ प्रमाणपत्र और एक सेन्टा माइक्रो-क्रेडेंशियल करने के लिए 75% छात्रवृत्ति जीता. सारिका कहती हैं, “मुझे एहसास हुआ कि यह उस विषय को जानने के बारे में नहीं है जो मायने रखता है, बल्कि यह भी है कि आप विषय को कैसे पढ़ाते हैं. सेन्टा टिपीओ ने मुझे अपने कौशल को बढ़ाने के लिए ऑक्सफोर्ड के मास्टरक्लास में भाग लेने के लिए जीवन में एक बार मिलने वाला मौका दिया है.”सेन्टा टिपीओ के विजेताओं को 1 लाख रुपये तक के 1000 नकद पुरस्कार सहित 1000 रिलायंस फाउंडेशन शिक्षक पुरस्कारों, अपने सहकर्मी के बीच मान्यता, एक पुस्तक का सह-लेखन करने का मौका, एक टीपीओ प्रमाणपत्र और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी यूके में मास्टरक्लास में भाग लेने का अवसर मिलता है. इसके अलावा, सभी प्रतिभागियों को परीक्षा के बाद एक राष्ट्रीय स्तर पर निर्धारित गोपनीय निजी प्रदर्शन रिपोर्ट प्राप्त होती है, जिसमें रिकॉर्ड ऑफ पार्टिसिपेशन भी शामिल है. 12 राज्य सरकारों द्वारा समर्थित, सेन्टा टिपीओ में

Read more