“निष्ठा” प्रशिक्षण का उद्घाटन

कोइलवर (ब्यूरो रिपोर्ट) | इन्टीग्रेटेड टीचर्स ट्रेनिंग प्रोग्राम के तहत नेशनल इनिसिएटिव फार स्कूल हेड्स एन्ड टीचर्स हालिस्टिक एडवान्समेंट (विद्यालय प्रमुखों और शिक्षकों की समग्र उन्नति के लिए राष्ट्रीय पहल) हेतु पांच दिवसीय गैर आवासीय प्रशिक्षण का उद्घाटन जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, समग्र शिक्षा, राघवेंद्र प्रताप सिंह, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, माध्यमिक शिक्षा, कृष्ण मुरारी गुप्ता एवं प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, कोईलवर, विनीता कुमारी द्वारा संयुक्त रुप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया. जिला कार्यक्रम पदाधिकारी ने शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि

पूर्व में बच्चों को शिक्षण के तहत विषयगत जानकारी पर ही बल दिया जाता था परन्तु आज किताबों की दुनिया से बाहर निकलकर सीखने-सिखाने की बात की जा रही है. सूचना एवं संचार तकनीकी के दौर में बच्चों की सोच में भी परिवर्तन हुआ है इसलिए बच्चों की रुचि के अनुसार सिखाने की नई तकनीक की जानकारी हेतु प्रशिक्षण की व्यवस्था की जा रही है. जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, माध्यमिक शिक्षा कृष्ण मुरारी गुप्ता ने प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए बताया कि आज विद्यालयों में स्मार्ट कक्षा का संचालन हो रहा है जिसका सकारात्मक प्रभाव भी दिखाई दे रहा है. प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, कोईलवर, विनीता कुमारी ने कहा कि शिक्षक समाज का पथ- प्रदर्शक होता है और बच्चों के भविष्य का निर्माता होता है. उन्होंने ने आगे कहा कि प्रशिक्षण में समय का अनुपालन सुनिश्चित हो ताकि नवाचार को लेकर शिक्षक विद्यालयों में जायें और बच्चों को भी देने का कार्य करें.
पांच दिवसीय प्रशिक्षण में जिला प्रशिक्षण संभाग प्रभारी शाश्वत अवतार, एसआरपी, सुरेंद्र प्रसाद सिंह, केआरपी,राजाराम सिंह, मो.रफी, महातम सिंह और रुपेश कुमार सिंह मास्टर प्रशिक्षक के रुप में होंगे. आगे जानकारी दी गई कि इस प्रशिक्षण में पाठ्यचर्या, पाठ्यक्रम, आईसीटी, भाषा शिक्षा शास्त्र, गणित शिक्षण शास्त्र, विज्ञान विज्ञान शिक्षण शास्त्र, सामाजिक विज्ञान शिक्षण शास्त्र के अलावा समग्रता में हेल्थ ऐन्ड वेल बिंग इन स्कूल, इनिशिएटिव इन स्कूल एडुकेशन, स्कूल बेस्ड असेसमेंट, आर्ट इन्टीग्रेटेड एडुकेशन की जानकारी प्राप्त करेंगे. इस प्रशिक्षण का मुख्य उद्देश्य शिक्षकों में नेतृत्व क्षमता का विकास, खेल-खेल में गुणवत्तापूर्ण शिक्षण को बढ़ावा, विद्यालय व्यवस्था में हो रहे परिवर्तन से शिक्षकों को लैस करना भी है. प्रशिक्षण के प्रथम बैच में कोईलवर, संदेश और बड़हरा प्रखंड के पचास-पचास कुल एक सौ पचास शिक्षक शामिल हो रहे हैं.
मौके पर वरीय साधनसेवी कोईलवर मुहम्मद मुसस्ताक, प्रताप कुमार, छेदी प्रसाद, सहायक लेखापाल, ओमप्रकाश, संतोष कुमार सहित कई शिक्षक/शिक्षिका मौजूद रहे.