सात समंदर पार से भागवत रसपान को पहुंचे विदेशी भक्त

तिवारीपुर गांव में हो रहा श्रीकृष्ण आश्रम का निर्माण
जलभरी व कलशयात्रा में शामिल हुए हजारों लोग

बक्सर के सदर प्रखंड के तिवारीपुर गांव स्थित श्रीगौर नारायण गौड़ीय मठ से बुधवार को कलश यात्रा निकाली गई, जिसमें स्थानीय श्रद्धालुओं के अलावा काफी संख्या में विदेशी अनुयायियों ने भी हिस्सा लिया. वृंदावन धाम से पधारे श्री श्री स्वामी मधुसूदन जी महाराज के नेतृत्व में तिवारीपुर गांव से कलश यात्रा निकाली गयी. श्रीकृष्ण नाम का संकीर्तन करते हुए श्रद्धालुओं का जत्था शहर के रामरेखा घाट पहुंच, जहां पूरे विधि-विधान जलभरी की गई. जलभरी के बाद माथे पर कलश लिये नंगे पांव शहर के विभिन्न सड़कों से विदेशी अनुयायियों का जत्था गुजरा. विदेशी महिला व पुरुष अनुयायी श्रीकृष्ण व राधा के रूप में रचे बसे दिखे. इनमे 18 देशों के अनुयायी शामिल थे.





बता दें कि जिले के तिवारीपुर गांव में श्री श्री गौर नारायण गौड़ीय मठ में राधे कृष्ण मंदिर का निर्माण हो रहा है. प्राण प्रतिष्ठा के लिए बुधवार को जलभरी में करीब 500 की संख्या में विदेशी श्रद्धालु भी पहुंचे थे. संयोजक कृष्ण मुरारी दास ने बताया कि आज श्रील गुरुदेवा ॐ विष्णुपाद श्रीमदभक्ति वेदान्त नारायण गोस्वामी महाराज, श्री श्री गौर सुन्दर और श्री श्री राधा रमण बिहारी जी की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा की जायेगी. पूजन श्री पाद भक्ति वेदान्त मधुसूदन गोस्वामी महाराज के तत्वावधान में होगा. मंदिर के प्रांगण मे ही श्री पाद भक्तिवेदांत मधुसूदन गोस्वामी महाराज 24 मार्च से 30 मार्च तक भागवत कथा का भी आयोजन है. 30 मार्च को पूर्णाहुति और विशाल भंडारा का भी आयोजन किया जायेगा.

 

बक्सर से ऋतुराज