PM करेंगे धातृ महिलाओं और बच्चों के साथ वर्चुअल संवाद

• 12 योजनाओं के लाभार्थियों से पीएम करेंगे संवाद, आईसीडीएस की दो योजनाओं का हुआ है चयन• राष्ट्रीय पोषण व पीएमएमवीवाई से जुड़े 10-10 लाभार्थियों से पोषण योजनाओं की जानकारी लेंगे पीएमबक्सर, 31 मई. आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य पर मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जिले में राष्ट्रीय पोषण अभियान की अद्यतन स्थिति की जानकारी लेंगे. इसके लिए जिले के पोषण अभियान से जुड़े लाभार्थी जैसे विभिन्न वर्ग की गर्भवती महिला, धात्री माताओं, शून्य से छह वर्ष तक के बच्चे तथा किशोरी बालिकाओं से संवाद स्थापित करेंगे. इस दौरान प्रधानमंत्री जिले में संचालित प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना और पोषण अभियान के संबंध में लाभार्थियों से चर्चा करेंगे। प्रधानमंत्री के प्रस्तावित संवाद कार्यक्रम के सफल आयोजन के उद्देश्य से जिलामुख्यालय स्थित नगर भवन में कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा। जहां पर सजीव प्रसारण की व्यवस्था की जाएगी। ताकि, प्रधानमंत्री से संवाद के क्रम में लाभार्थियों को किसी प्रकार की परेशानी न हो सके। 10-10 लाभार्थियों का किया गया है चयन:आईसीडीएस अंतर्गत प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के जिला समन्वयक चंदन कुमार ने बताया, आजादी के अमृत महोत्सव के तहत जिले में संचालित विभिन्न विभागों के 12 योजनाओं के कार्यान्वयन की जानकारी ली जायेगी। इस क्रम में आईसीडीएस के द्वारा दो योजनाओं का चयन किया गया है। जिसके तहत प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के 10 और राष्ट्रीय पोषण अभियान से जुड़े 10 लाभार्थियों को नगर भवन में बुलाया जाएगा। जिनसे प्रधानमंत्री संवाद करेंगे। हालांकि, ये संवाद पूरे देश में आयोजित किया जा रहा है, इस दौरान बक्सर के लाभार्थी प्रधानमंत्री से संवाद

Read more

सावधान! खत्म नही हुआ है कोरोना

वैक्सीनेशन के साथ कोविड-19 के नियमों का सख्ती से करना होगा पालन कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए सरकार ने जारी किए हैं निर्देश लोगों की जरा सी लापरवाही से बढ़ सकती है संक्रमण प्रसार की सम्भवनाआरा, 25 फरवरी | कोरोना वायरस के संक्रमण को समाप्त करने के उद्देश्य से जिले में वैक्सीनेशन अभियान चल रहा है। लेकिन, अभी भी जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण की संभावना समाप्त नहीं हुई है। देश के कई राज्यों में संक्रमण का प्रसार एक बार फिर शुरू हो चुका है। जिसको लेकर राज्य सरकार के निर्देश पर जिला प्रशासन संक्रमण के प्रसार को रोकने की तैयारी में जुट गया है। साथ ही, स्वास्थ्य विभाग जिलेवासियों से पूर्व की भांति कोविड-19 के सामान्य नियमों का पालन करने की अपील कर रहा है। ताकि, संक्रमण के प्रसार की संभावना न उत्पन्न हो सके।इस संबंध में जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी (डीआईओ) डॉ. संजय कुमार सिन्हा ने बताया राज्य में फिलहाल कोरोना वायरस के संक्रमण का प्रसार शुरू नहीं हुआ है। लेकिन, जिस प्रकार से लोग विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) के जारी गाइडलाइन्स को लेकर उदासीन दिख रहे हैं, उसे देखकर संक्रमण के प्रसार को नकारा नहीं जा सकता। बाजारों व अन्य स्थानों में अब पहले की भांति नियमों का पालन कम देखा जा रहा है। जो बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। ऐसे में लोगों को विवेक से काम लेते हुए कोरोना संक्रमण प्रसार की संभावना को देखते हुए और भी ज्यादा सतर्क और सावधान रहने की जरूरत है।वैक्सीन लेने के बावजूद भी नियमों का पालन

Read more