विश्व पुस्तक मेला का इस वर्ष का थीम ‘मानुषी’

 महिलाओं के लेखन और नेशनल बुक ट्रस्ट के 60 वर्षों के सफर का जश्न मनाने के लिए तैयार है नई दिल्ली विश्व पुस्तक मेला

नई दिल्ली विश्व पुस्तक मेला का इस वर्ष का थीम ‘मानुषी’ होगा, जिसमें महिलाओं द्वारा तथा महिलाओं के ऊपर लिखने वालों पर ध्यान दिया जाएगा; और इसमें प्राचीन काल से अब तक महिलाओं के लेखन की समृद्ध परंपरा को प्रदर्शित भी किया जायेगा. विश्व पुस्तक मेला नई दिल्ली के प्रगति मैदान में 7 से 15 जनवरी 2017 तक आयोजित किया जायेगा. नई दिल्ली में नेशनल बुक ट्रस्ट द्वारा भारत व्यापार संवर्धन संगठन (आईटीपीओ) के सहयोग से इस पुस्तक मेले का आयोजन किया जा रहा है. मानव संसाधन विकास मंत्री  प्रकाश जावडेकर 10 जनवरी को थीम पवेलियन का उद्घाटन करेंगे. मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री डॉ महेन्द्र नाथ पांडे इस मेले का उद्घाटन करेंगे. विख्यात ओडिया लेखिका और ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित डॉ प्रतिभा रे इस समारोह की मुख्य अतिथि होंगी तथा इस अवसर पर भारत में यूरोपीय संघ के प्रतिनिधिमंडल के माननीय राजदूत महामहिम तोमाज कोजलोस्की विशिष्ट अतिथि होंगे.




नेशनल बुक ट्रस्ट अपनी स्थापना की 60 वीं वर्षगांठ मना रहा है और एक विशेष प्रदर्शनी “पीछे मुड़कर नहीं देखना है!” के जरिए यह पुस्तकों और पढ़ने वालों को बढ़ावा देने की अपनी यात्रा का प्रदर्शन भी करेगा. इस प्रदर्शनी के जरिए नेशनल बुक ट्रस्ट (एनबीटी) विभिन्न गतिविधियों जैसे पुस्तकों को बढ़ावा देने के लिए ट्रस्ट द्वारा पूरे देश में पुस्तक मेलों का आयोजन, अंतरराष्ट्रीय पुस्तक मेलों में एनबीटी की भागीदारी तथा कार्यक्रमों का प्रकाशन इत्यादि, को प्रदर्शित भी करेगा.नई दिल्ली विश्व पुस्तक मेला पुस्तकों के माध्यम से ज्ञान की हमारी समृद्ध खजाने को प्रदर्शित करने का एक मंच है. भारतीय व्यापार संवर्धन संगठन ने पुस्तक मेले को और अधिक दर्शकों के अनुकूल बनाने के लिए विशेष प्रयास भी किये हैं.