Reliance को मिला सऊदी से तेल आपूर्ति का भरोसा

नई दिल्ली (पीटीआई) | सऊदी अरब ने मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज को आश्वासन दिया है कि वह पहले किए गए सभी करारों के अनुसार अक्टूबर में कच्चे तेल की आपूर्ति सुनिश्चित करेगी क्योंकि दुनिया का सबसे बड़ा तेल निर्यातक अपने तेल उद्योग पर अब तक के सबसे बड़े हमले के बाद उम्मीद से कहीं अधिक तेजी से रिकवरी करने में सफल रहा है.रिलायंस ने किंगडम से तेल की आपूर्ति पर प्रश्नावली संबंधित एक ईमेल के जवाब में कहा कि “अरामको 20 से अधिक वर्षों से रिलायंस को कच्चे तेल की आपूर्ति का एक प्रमुख और विश्वसनीय आपूर्तिकर्ता है. कंपनी कच्चे तेल की मात्रा और कच्चे तेल, दोनों के विभिन्न ग्रेडों के मिश्रण के मामले में तेल की आपूर्ति जारी रखेगी.”सऊदी अरब 14 सितंबर के ड्रोन और मिसाइल हमले से अभी भी उबर रहा है, जिसकी मुख्य तेल सुविधा देश के उत्पादन में लगभग 5.7 मिलियन बैरल प्रतिदिन पहुंचता है. इसकी सरकारी ऊर्जा कंपनी, सऊदी अरामको ने ग्राहकों को भेजे जाने वाले शिपमेंट को कम नहीं करने की शपथ ली और तेल को कंपनी के रणनीतिक भंडारों से सप्लाई किया जा रहा है.रिलायंस ने कहा कि “यह आश्वस्त है कि अरामको ने क्रूड सप्लाई को बनाए रखा और क्रूड सप्लाई इंफ्रास्ट्रक्चर पर हमले के बावजूद अपनी सप्लाई कमिटमेंट्स को पूरा किया है.” इस घटना के तुरंत बाद, अरामको ने कच्चे तेल के वैकल्पिक ग्रेड के साथ गुजरात के जामनगर में रिलायंस की जुड़वां रिफाइनरियों को आपूर्ति बनाए रखी.उन्होंने विवरण देते हुए बताया कि “वैकल्पिक ग्रेड रिलायंस की रिफाइनिंग जरूरतों के

Read more

आने वाले 3 सालों में Jio विश्व के 100 सबसे मूल्यवान ब्रांड्स में शामिल होगा : रिपोर्ट

पटना / नई दिल्ली (ब्यूरो रिपोर्ट) | मुकेश अंबानी संचालित कंपनी ‘Jio’ ने बुधवार को प्रेस रिलीज़ में एक रिपोर्ट के आधार पर बताया है कि यह आने वाले 3 सालों के अंदर विश्व के 100 सबसे मूल्यवान ब्रांड्स में शामिल होगी. संचार सेवा प्रदाता WPP और मार्केट रिसर्च फर्म Kantar Millward Brown ने ‘टॉप 100 मोस्ट वैल्यूएबल ग्लोबल ब्रांड्स 2019’ रिपोर्ट में कहा कि अमेजन ताजा आकलन में एप्पल और गूगल को पछाड़ कर इस साल दुनिया का सबसे मूल्यवान ब्रांड बन गया है. अमेजन की ब्रांड वैल्यू (मूल्य) 315.505 अरब डॉलर रही.जियो को पुरानी व्यवस्थाओं में बदलाव करने वाले 100 वैश्विक ब्रांडों में जगह दी गई है. मौजूदा समय में जियो का ब्रांड मूल्य 4.1 अरब डॉलर है. रिपोर्ट में कहा गया है कि ‘जियो ने डेटा पर भारी छूट देकर भारतीय दूरसंचार क्षेत्र में व्यापक परिवर्तन किया और पुरानी व्यवस्था को बदलने का काम किया. इसके चलते प्रतिस्पर्धी दूरसंचार कंपनियों को कीमत घटाने और विलय करने पर मजबूर होना पड़ा.’ इस रिपोर्ट में आगे में कहा गया है कि जियो के इस कदम से न सिर्फ जियो के ग्राहकों को बल्कि दूसरे ग्राहकों को भी फायदा मिला है. रिपोर्ट में कहा गया है कि यदि जियो ‘मौजूदा वृद्धि दर से आगे बढ़ेगा तो तीन साल के अंदर शीर्ष 100 ब्रांड की श्रेणी में आ जाएगा.’ रिपोर्ट के अनुसार इस सूची में नए प्रवेश करने वालों में जीवन बीमा निगम (एलआईसी) और टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) है. रिपोर्ट के मुताबिक, सूची में एलआईसी (20.314 अरब डॉलर) 68 वें

Read more