मुज़फ़्फ़रपुर एसएसपी – रेड अपडेट

By Nikhil Apr 16, 2018

मुज़फ़्फ़रपुर एसएसपी – रेड अपडेट

आज पटना नाउ पर पब्लिश न्यूज़ https://goo.gl/hCkJuC के सन्दर्भ में आगे अपडेट –
मुजफ्फरपुर/पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) । एसएसपी के आवास पर छापेमारी के दौरान सवा 6 लाख नकद, साढ़े 5 लाख के गहने जब्त किये गए. इस रेड में करीब 45 हज़ार रुपए के पुराने नोट भी जब्त हुए. इस छापेमारी के बावत यूपी के सहारनपुर, मुज़फ्फनगर में भी कार्रवाई की सूचना है.
मुख्यालय से आई स्पेशल विजिलेंस की टीम ने जब एसएसपी विवेक कुमार के आवास पर धावा बोलकर छापेमारी शुरू कर दी तो मुजफ्फरपुर के पुलिस और प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया. आय से अधिक संपत्ति के मामले में राज्य सरकार की स्पेशल विजिलेंस टीम मुजफ्फरपुर के एसएसपी विवेक कुमार के आवास पर सोमवार को लगभग साढ़े बारह बजे पहुंची जिसमें मुख्यालय से निगरानी के एसपी समेत दर्जनभर पुलिस अफसरों की टीम एसएसपी आवास पर पहुंची.
टीम ने सबसे पहले वहां मौजूद सभी सुरक्षाकर्मियो को अलग कर उनके मोबाइल बंद करवा दिए. साथ ही पूरे आवास को अपने सुरक्षा घेरे में लेकर छापेमारी शुरू कर दी. इससे पहले, विशेष निगरानी टीम की इस कार्रवाई की भनक किसी को नहीं लगी थि. सोमवार को लगभग साढ़े बारह बजे तीन गाड़ियां अचानक एसएसपी आवास पर आकर रुकी. टीम के साथ बीएमपी के लगभग तीन दर्जन गोरखा जवान भी थे. मिनटों में निगरानी की टीम ने पूरे आवास को कब्जे में ले लिया. एसएसपी आवास पर पहले से तैनात जवानों के मोबाइल ले लिए गए तथा उनको अलग बैठा दिया गया. इसके बाद गेट से लेकर आवास के चप्पे-चप्पे में गोरखा जवान ने मोर्चा संभाल लिया. अधिकारियों की टीम अंदर पहुंच गई. छापेमारी के दौरान अधिकारियों की टीम ने बड़ी संख्या में दस्तावेज जब्त किए हैं. हालांकि अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है. लगभग साढ़े चार बजे एक गाड़ी में पांच अधिकारी एसएसपी आवास से बाहर निकल गए. छापेमारी कर रहे अधिकारियों में से किसी ने कुछ भी बताने से इंकार कर दिया है.। जानकारी है कि पूरे मामले को स्पेशल विजिलेंस यूनिट के आईजी रत्न संजय स्वयं देख रहे हैं.
पुलिस महकमे में चल रही चर्चा के अनुसार मुजफ्फरपुर के अलावा यूपी और हरियाणा के कई स्थानों पर एक साथ छापेमारी की गई है. एसएसपी विवेक कुमार इसके पहले भागलपुर, सीतामढ़ी और सीवान में भी एसपी रह चुके हैं. छापेमारी की सूचना पर एसएसपी कार्यालय सहित पुलिस के अन्य कार्यालयों में सन्नाटा पसरा रहा. वहीं पूरे पुलिस और प्रशासनिक महकमे में तरह-तरह की चर्चा चलती रही.




Related Post