रालोसपा के प्रदेश उपाध्यक्ष ने जेडीयू ज्वाइन किया

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | आज दिनांक 18 फरवरी 2019 दिन सोमवार को बिहार प्रदेश कार्यालय में जदयू के प्रधान महासचिव सह सांसद आरसीपी सिंह, विद्यानंद विकल, छोटू सिंह सहित कई गणमान्य लोगों के उपस्थिति में रालोसपा के प्रदेश उपाध्यक्ष कौशल कुमार सिंह ने अपने सैकड़ो साथियों के साथ जदयू की सदस्यता ग्रहण की. सदस्यता के दौरान कौशल कुमार सिंह ने बताया कि नशा, बाल-विवाह, दहेज-विवाह जैसे सामाजिक कुरीतियों के खिलाफ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अभियान तथा सात निश्चय कार्यों के द्वारा पंचायत स्तर पर विकास से प्रभावित होकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के संरक्षण में कार्य करने का संकल्प लेते हुए जनता दल यूनाइटेड पार्टी की सदस्यता ग्रहण की. रालोसपा दिन व दिन दिशा विहिन हो बिखरती चली जा रही है.

बताते चले कि समाजसेवी कौशल कुमार सिंह बांका जिले के धरैया थाना अंतर्गत गौरा गाँव के रहने वाले हैं. उनकी शिक्षा-दीक्षा गाँव व भागलपुर तथा जमशेदपुर शहर में हुई है. कौशल कुमार सिंह आज राज्य एवं जिले में युवा उद्यमी के रूप में अपनी पहचान बनाई है. युवाओं के बीच में वो आइकॉन हैं जिनका मानना है कि आज खेती किसानी घाटे का सौदा बन गई है और गाँवो से युवाओं का अन्य राज्यों की ओर पलायन तथा जाती की राजनीति को बढ़ावा दिया गया है. अब यह बहुत जरूरी हो गया है कि हम संकीर्ण मानसिक सोच से आगे बढ़े और कृषि संकट समाधान के प्रति एक समग्र सोच विकसित करें. इन्होंने बांका जिला क्षेत्रों में लगभग 10 वर्षो से लगातार सामाजिक सरोकार से जुड़े कार्य करते रहे हैं. इस दौरान इन्होंने वर्ष 2011 में मतदाता जागरूकता अभियान चलाकर जिले के 185 पंचायतों के 877 गाँवो में भ्रमण कर ईमानदार और कर्तव्यनिष्ठ प्रत्याशी को चुनने का अभियान चलाया तथा जीवन ज्योति केंद्र सामाजिक संस्था के माध्यम से प्रखंड स्तर पर स्वास्थ शिविर एवं मुफ़्त दवा वितरण केंद्र समय समय पर चलाया. प्रत्येक वर्ष हज़ारों जोड़ो का विवाह एवं निकाह के साथ-साथ घर बनाने जैसे कार्यों को अपने जीवन में महत्व दिया है. युवाओं के बीच खेल-कूद को बढ़ावा हो इसके लिए राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खिलाड़ियों को बांका जिला के प्रखंडों में बुलाकर प्राइज का वितरण तो आपदा से पीड़ित गरीब लोगों के बीच कंबल, चादर व साड़ी का वितरण करना जैसे कार्यो से उनका जीवन भरा है. सामाजिक कार्य करते-करते राजनीति से जुड़ प्रथम रालोसपा पार्टी में प्रदेश उपाध्यक्ष के पद को सुशोभित भी किया. इसी दौरान किसान दिवस के उपलक्ष्य पर अंग किसान मोर्चा का गठन करते हुए जिले के 185 पंचायतों के 192 किसानों को उलेन अंगवस्त्र देकर सम्मान तो मंदार मेले में किसानों को नेनुआ, खीरा, पालक, भिंडी, लाल साग जैसे बीजो का वितरण 28000 किसानों के बीच करना मतलब उनसे सीधा जुड़ाव किसानों से होना दर्शाता है. लेकिन इससे भी बढ़कर अंग किसान मोर्चा ने अपने साथ दिवसीय हस्त्ताक्षर संकल्प अभियान के तहत एक लाख चौसठ हज़ार चार सौ निनानब्वे लोगो से हस्ताक्षर करवाया, इस मुद्दे पर कि इस बार के चुनाव में स्थानीय जनप्रतिनिधि की भागीदारी होंनी चाहिए. जिससे क्षेत्र के विकास में एक बड़ा बदलाव लाया जा सके.