सीएए और एनआरसी पर जदयू में दो फाड़ की स्थिति

पटना (ब्युरो रिपोर्ट) | बिहार में नागरिकता कानून यानी सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर जनता दल (यू) में दो गुटों जैसी स्थिति बन गई है. JDU के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर (पीके) एक ओर जहां सीएए और एनआरसी का विरोध कर रहे हैं, वहीं इसी पार्टी के दूसरे नेता सीएए के पक्ष में हैं.
ज्ञातव्य है, रविवार को प्रशांत किशोर ने ट्वीट कर कहा था कि बिहार में सीएए और एनआरसी लागू नहीं होगा. जबकि जदयू के महासचिव आरसीपी सिंह ने इसके उलट कहा कि लोगों को सीएए और एनआरसी से डरने की जरूरत नहीं है. सिंह से कहा कि सीएए को लेकर देश में कुछ लोग भ्रम फैला रहे हैं. उन्होंने बताया कि सीएए कानून नागरिकता देने वाला है, न की किसी का अधिकार छीनने वाला. आरसीपी सिंह ने एनआरसी पर यह भी कहा कि जो अभी अस्तित्व में आया ही नहीं उसका विरोध कैसे हो रहा है, ये समझ से परे है.