DM और जदयू के कई नेताओं को हुआ संक्रमण

जदयू से राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह पत्नी समेत कोरोना पॉजिटिव,सांसद दम्पति के साथ एक घरेलू स्टाफ भी पटना एम्स में भर्ती बिहार ने 1 दिन में कोरोना केसेज के मामले में नया रिकॉर्ड बना दिया है. 1 अगस्त को 3521 नए मरीज मिले हैं. वही पटना में संक्रमण काफी तेजी से फैल रहा है. पटना में अब कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 10 हजार के करीब पहुंच रही है. पटना में शनिवार को 594 मरीज बढ़ गए. पटना में कंटेनमेंट जोन की संख्या भी काफी बढ़ गई है. कंकड़बाग अशोक नगर रोड नंबर 11 में कई मरीज मिलने के बाद प्रशासन ने इसे एक कंटेनमेंट जोन बना दिया. कोरोना ने हाई फ्रोफाइल लोगो को अपनी चपेट में लेकर राजनितिक गलियारे में हडकंप मचा दिया. पटना के जिलाधिकारी कुमार रवि के कोरोना पॉजिटिव होते ही घर में ही आइसोलेट कर लिए जाने की खबर के कुछ ही देर बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी और जदयू के राज्यसभा सांसद राम चन्द्र प्रसाद सिंह और उनकी पत्नी गिरिजा देवी को भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आने की खबर मिलते ही राजनीतिकक हस्तियों को सन्न कर दिया. जदयू सांसद आर सी पी सिंह के साथ ही उनके आवास का एक स्टाफ भी कोरोना पॉजिटिव निकला है. सूत्रों के मुताबिक जदयू के राज्य सभा सांसद राम चन्द्र प्रसाद सिंह और उनकी पत्नी गिरिजा देवी समेत आवास के स्टाफ को पटना एम्स में भर्ती कराया गया है. जहाँ इनका इलाज आइसोलेशन वार्ड में किया जा रहा है. हालाँकि एम्स से कोई भी अधिकारी इन

Read more

सीएए और एनआरसी पर जदयू में दो फाड़ की स्थिति

पटना (ब्युरो रिपोर्ट) | बिहार में नागरिकता कानून यानी सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर जनता दल (यू) में दो गुटों जैसी स्थिति बन गई है. JDU के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर (पीके) एक ओर जहां सीएए और एनआरसी का विरोध कर रहे हैं, वहीं इसी पार्टी के दूसरे नेता सीएए के पक्ष में हैं.ज्ञातव्य है, रविवार को प्रशांत किशोर ने ट्वीट कर कहा था कि बिहार में सीएए और एनआरसी लागू नहीं होगा. जबकि जदयू के महासचिव आरसीपी सिंह ने इसके उलट कहा कि लोगों को सीएए और एनआरसी से डरने की जरूरत नहीं है. सिंह से कहा कि सीएए को लेकर देश में कुछ लोग भ्रम फैला रहे हैं. उन्होंने बताया कि सीएए कानून नागरिकता देने वाला है, न की किसी का अधिकार छीनने वाला. आरसीपी सिंह ने एनआरसी पर यह भी कहा कि जो अभी अस्तित्व में आया ही नहीं उसका विरोध कैसे हो रहा है, ये समझ से परे है.

Read more