12 घंटे में पटना पुुलिस ने सुलझाया मामला, तीन गिरफ्तार

12 घंटे में हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने का दावा
लूटपाट के दौरान ही की गयी हत्या – एसएसपी 
पटना के अनिसाबाद रघुनाथ टोला में गुरुवार की रात कारोबारी बंटी गुप्ता हत्याकांड की गुत्थी को पटना पुलिस ने महज 12 घंटे ही सुलझा लिया है |इस हत्त्याकाण्ड में शामिल तीन अपराधियों को फुलवारी शरीफ के एक कब्रिस्तान के पास से गिरफ्तार कर लिया गया है और बाकी चार अपराधियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जायेगा |निशांत फुलवारी शरीफ का ही रहने वाला है | सभी अपराधी नकाब लगाये थे | इस वारदात में कूल चार से पांच राउंड गोली चली थी जिसमे चार गोली बंटी गुप्ता को लगी और एक गोली बंटी के पिता दिनानाथ को लगी | कूल सात अपराधि  इस वारदात में शामिल थे |गिरफ्तार अपराधियों में निशांत के आलावा सन्नी और खाजेकला का तारिक नामक अपराधी शामिल है |
पुलिस ने गिरफ्तार अपराधियों के पास से लूट के पचास हजार रूपये भी बरामद किये है साथ ही एक देसी कट्टा सहित एक पिस्टल और चार गोलियां भी बरामद की गई है | एसएसपी ने बताया की बंटी गुप्ता को गोली मारने में निशांत शामिल था इसके अलावा तीन अन्य अपराधीयों ने भी गोली मारी थी | अपराधियो ने पुलिस को बताया की उसने डेढ़ लाख रूपये ही लुटे थे | ऐसा दावा करते हुए एसएसपी मनु महाराज ने कहा की लूटपाट के दौरान ही अपराधियों ने कारोबारी पर गोलियां चलाई थी जिसमे बंटी गुप्ता की मौत हो गयी और उनके पिता दीनानाथ गुप्ता को पैर में गोली लगी जिससे बच गये |लूटपाट के दौरान अपराधियों से बंटी गुप्ता का हाथापाई हुआ था जिसके विरोध में गोली मार हत्या कर दी गयी |पुलिस इलाके में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगालकर ही अपराधियो तक पहुँचने में सफल हो पाई है |  इस हत्याकांड की वारदात में शामिल अपराधियों का सरगना स्थानीय अपराधी रवि गुप्ता है जो हाल ही में जेल से छूटा है | रवि गुप्ता को राम कृष्णा नगर में व्यावसायी से लूटपाट में भी पुलिस तलाश कर रही है और उसपर पहले से ही सीसीए एक्ट लगा हुआ है | एसएसपी ने बतया की सिटी एसपी सेन्ट्रल के नेत्रित्व में गठित पुलिस टीम ने इस हत्याकांड को चुनौती के रूप में लेकर सुलझाया है | इस हत्याकांड में शामिल अपराधियो ने कई दिनों से रेकी कर रहे थे | सुबह में खाने पीने के इन्तेजाम भी किये गये थे और शाम में तीन अपराधी दुकान में घुसे थे जिसमे गिरफ्तार निशांत उर्फ़ निशु शामिल हैं |इस वारदात के दौरान अपराधी डेढ़ लाख रूपये लूटने की बात स्वीकार कर रहे हैं वहीँ घायल कारोबारी दिनानाथ गुप्ता ने ढाई लाख की लूट की बात बताई है | बारह घंटे के अन्दर मुख्य शूटर सहित तीन गिरफ्तार कर लिए गये और वारदात को अंजाम देने वाले गिरोह का पता लगा लिया गया  | सुबह में उस जगह की रेकी की गयी थी जहाँ हत्याकांड को अंजाम दिया गया |
पटना से अजीत