जिला प्रशासन ने की समीक्षात्मक बैठक, नियमों का पालन नही करने वालों पर होगी सख्त कार्रवाई

आरा, 27 अप्रैल. जिला पदाधिकारी, भोजपुर ने सोमवार को कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को लेकर जिले के सभी पदाधिकारियों के साथ समीक्षात्मक बैठक की. बैठक में कोविड संक्रमण के मामलों को नियंत्रित करने के लिए बाजारों में दुकानों व प्रतिष्ठानों पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिए उन्हें Alternate day पर खोलने के लिए जिला गोपनीय शाखा द्वारा निर्गत आदेश (ज्ञापांक 876/गो0, दिनांक 21.04.2021) का सख्ती से अनुपालन कराने की बात कही ताकि संक्रमण के फैलाव को रोका जा सके.

जिलाधिकारी भोजपुर रोशन कुशवाहा

उन्होंने कहा कि सभी थानाध्यक्ष, अंचलाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी एवं अनुमंडल पदाधिकारी, लोगों को जागरूक करने एवं कोरोना संक्रमण के फैलाव की रोकथाम हेतु लगातार मास्क जाँच अभियान चलाएँ. इसके साथ ही वाहनों में निर्धारित क्षमता के 50 प्रतिशत ही यात्रियों की उपस्थिति को सुनिश्चित कराने का निदेश जिला परिवहन पदाधिकारी, भोजपुर/ सभी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी एवं अनुमंडल पदाधिकारी को दिया. यदि निर्धारित क्षमता से अधिक लोग वाहन में सवार पाए जाते हैं तो संबंधित वाहन चालक एवं वाहन के विरूद्ध नियमानुसार विधिसम्मत कार्रवाई की जाए.




उन्होंने कहा कि जिले में रात्रि 9ः00 बजे से लागू नाइट कर्फ़्यू का सख्ती से अनुपालन सभी पदाधिकारी गण करें.शादी विवाह समारोह में 100 लोगों से ज्यादा की उपस्थिति नहीं रहे, इसे अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी एवं अनुमंडल पदाधिकारी सुनिश्चित करें.

ग्रामीण परिवारों को मिलेंगे 6 मास्क

कोविड से सावधानी बरतने एवं वैक्सीनेशन कराने हेतु प्रचार-प्रसार के माध्यम से लोगों को जागरूक करने का निदेश सभी अंचलाधिकारी/सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया गया. साथ ही प्रत्येक ग्रामीण परिवार को 6 मास्क ग्राम पंचायत के पंचायत सचिव एवं कार्यपालक सहायक के माध्यम से उपलब्ध कराने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि मास्क की राशि का भुगतान 15वें वित्त आयोग के राशि से किया जाएगा. इसके लिए प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारी एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी को निदेश दिया गया कि मास्क वितरण में पारदर्शिता लायी जाए एवं इसका प्रचार-प्रसार कराया जाय. जिला पंचायत राज पदाधिकारी, भोजपुर को मास्क वितरण कार्यों का मानीटरिंग कर ससमय मास्क वितरण का कार्य पूर्ण कराने की जिम्मेदारी दी गयी.

भोजपुर DM ने सभी अंचलाधिकारी/प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अनुमंडल पदाधिकारी को निर्देश दिया कि कोरोना मरीजों के प्रथम उपचार हेतु जिन दवाओं को दिये जाने के संबंध में सरकार द्वारा विज्ञापन के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया जा रहा है, उन दवाओं की मेडिकल स्टोर पर उपलब्धता/अनुपलब्धता तथा दवायें किस रेट में मिल रही है, इस बिन्दु पर जाँच करें.

इसके साथ ही अन्य राज्यों से आने वाले लोगों के संबंध में जानकारी प्राप्त करने एवं उन लोगों का कोरोना जाच कराने एवं आवश्कतानुसार लोगों को अनुमंडल स्तर पर चिन्ह्ति क्वारंटीन कैंप में रखने के संबंध में आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश भी सभी अंचलाधिकारी/प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अनुमंडल पदाधिकारियों को दिया.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट