उत्तर बिहार में NDRF की 13 टीमें मुस्तैदी से राहत-बचाव ऑपेरशन में जुटी

उत्तर बिहार में बाढ़ की गम्भीर स्थिति के मद्देनजर आपदा प्रबंधन विभाग, बिहार सरकार की माँग पर 9वी वाहिनी राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) की कुल 13 टीमें बाढ़ प्रभावित विभिन्न जिलों में मुस्तैदी से राहत व बचाव ऑपेरशन में जुटी हुई है. विजय सिन्हा, कमाण्डेन्ट, 9वी वाहिनी NDRF ने बताया कि उत्तर बिहार के विभिन्न बाढ़ प्रभावित जिलों में 13 टीमें तैनात की गई है, जिसमें 2 टीम अररिया में, 2 टीम मधुबनी में, 2 टीम दरभंगा में, 1-1 टीम क्रमशः कटिहार, सुपौल, बेतिया, मोतिहारी, सीतामढ़ी, गोपालगंज और मुजफ्फरपुर जिलों में मुस्तैदी के साथ राहत व बचाव कार्यों में जुटी हुई है. इसके अलावे 9वी वाहिनी की 05 टीमें झारखण्ड राज्य में तैनात है जिसमें 04 टीमें श्रावणी मेला के मद्देनजर देवघर तथा बासुकीनाथ धाम में तैनात है. उन्होंने आगे बताया कि सभी टीमें अत्याधुनिक बाढ़-बचाव तथा संचार उपकरणों से लैस है. सभी टीमों में डीप डाइविंग सेट के साथ गोताखोर मौजूद है. हमारे NDRF के बचावकर्मी कुशल तैराक है तथा बाढ़-बचाव तकनीक में निपुण हैं. साथ ही उन्होंने बताया कि सभी टीमों के टीम कमाण्डर सम्बंधित जिला प्रशासन से कुशल समन्वय स्थापित कर बाढ़ में फँसे लोगों को हर सम्भव सहायता पहुँचा रहे हैं.

Read more

‘लोग डूब रहे हैं और सीएम हवाई यात्रा कर रहे हैं’

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने एक के बाद एक तीन ट्वीट करके सरकार और सीएम नीतीश पर कई सवाल उठाए हैं. उन्होंने लिखा है कि बिहार के 15 जिले बाढ़ की चपेट में हैं. उत्तर बिहार की नदियां खतरे के निशान के ऊपर बह रही हैं. जान, माल, फसल, मवेशी का लगातार नुकसान हो रहा है, पर आत्ममुग्ध सरकार और बेपरवाह प्रशासन मदमस्त है. आम जनजीवन अस्त-व्यस्त होने की इन्हें क्यों चिंता होगी? आखिर दोष प्रकृति को जो देना है. एक और ट्वीट में तेजस्वी यादव ने लिखा कि नीतीश सरकार असम्भव हवाई सर्वेक्षणों की सरकार है. ऐसी उन्नत तकनीक NASA के पास भी नहीं. CM चमकी बुखार, लू का हवाई सर्वेक्षण करते हैं तो मंत्री सूखाग्रस्त क्षेत्रों में अदृश्य बाढ़ से निपटने की तैयारियों का हवाई सर्वेक्षण करते हैं. कार्यकर्ताओं से आग्रह सीेएम नीतीश पर जमकर हमला बोलते हुए तेजस्वी ने अपने कार्यकर्ताओं से आग्रह किया कि अपने-अपने जिले में बाढ़ प्रभावित लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने में यथासंभव मदद करें और प्रशासन से संपर्क स्थापित कर समस्याओं का निराकरण और उचित सुविधा मुहैया कराने में सहयोग करें.

Read more

CM राहत कोष में दान का सिलसिला जारी

बिहार में आई बाढ़ के बाद मुख्यमंत्री रिलीफ फंड में दान करने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है. आज जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह, पंचायती राज मंत्री कपिलदेव कामत और कई विधायक, पूर्व विधायक, चिकित्सक एवं अन्य गणमान्य लोगों ने  1 अणे मार्ग जाकर सीएम को चेक सौंपा. बता दें कि इस साल बिहार के 19 जिलों में आई बाढ़ में 500 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई. बाढ़ से किसानों की फसल बर्बाद हो गई, लोगों के घर बह गए और बड़ी संख्या में पुल और सड़क भी तबाह हो गए.

Read more

BIA ने CM को सौंपा 25 लाख का चेक

बिहार में इस साल बाढ़ से जबरदस्त तबाही हुयी है. बिहार के मुख्यमंत्री ने लोगों से सीएम रिलीफ फंड में दान देने की अपील की है ताकि बाढ़ पीड़ितों की मदद में कोई कमी ना आए. शुक्रवार को राम लाल खेतान की अध्यक्षता में बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के एक 7 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की. BIA ने बिहार में आयी भीषण बाढ़ से प्रभावित लोगों के लिए 25 लाख रुपये का एक चेक, जिसमें मुख्य योगदान बिहार स्टील मैन्युफेक्चर्स एसोसिएशन के सदस्यों का था, 1 अणे मार्ग जाकर भेंट किया. प्रतिनिधिमंडल में BIA के अध्यक्ष  राम लाल खेतान के अतिरिक्त उपाध्यक्ष ए.के.पी. सिन्हा, संजय भरतिया, पूर्व अध्यक्ष के.पी.एस. केशरी, पूर्व उपाध्यक्ष सुभाष कुमार पटवारी, सदस्य नवल कनौडिया और बासु सराफ शामिल थे.

Read more

अगर मुंबई में फंसे हैं तो इस नंबर पर करें कॉल

मुंबई में आफत की बारिश ने सबका जीना मुहार कर दिया है. इस आफत की घड़ी में छोटे समय के मदद के लिए भायखला वेस्ट में स्टेशन के विपरीत दिशा में स्थित हिंदुस्तानी मस्जिद में अब्दुल हाफ़िज ने भी वाट्सअप के जरिये सभी फंसे लोगों को आमंत्रित किया है. उन्होंने अपना मोबाइल नम्बर 8692836441 देते हुए ये भी लिखा है कि किसी भी धर्म या जाति के लोग आकर संकट तक रह सकते हैं. साथ ही वो लोगों को हिम्मत देते हुए कहते हैं हसीन कि डरने की बात नहीं है. वही VT स्टेशन के पास फंसे लोगों के लिए वो नागपाड़ा स्थित दावनी मस्जिद जाने की सलाह देते हैं. अपने दोस्तों के कई ग्रुप में इस तरह के कई मैसेज स्थानीय लोग कर लोगों को मदद के लिए अपना हाथ बढ़ा रहे हैं. ये आपदा प्रबंधन का एक बेहतरीन उदाहरण भी है जब सभी स्थानीय स्तर पर एक दूसरे की मदद करते हैं. मुम्बई की यही स्पिरिट तो सबसे अलग उसे रखती है. तभी तो कभी थमती नही है यहां जिंदगी. मुंबई से ओपी पांडे

Read more

शिव शिष्य परिवार ने CM राहत कोष में दिए 11 लाख

बिहार में बाढ़ से अबतक 500 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है. ये आधिकारिक आंकड़े हैं. सूबे के 19 जिलों के करीब 2 करोड़ लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. राज्य सरकार जहां अपने स्तर से बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए लगी है. वहीं कई संस्थाएं भी बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आगे आ रही हैं और स्वेच्छा से सीएम रिलीफ फंड में दान दे रही हैं. भगवान शिव की शिष्यता से जुड़े शिव शिष्य हरिन्द्रानंद फाउंडेशन न्यास, शिव शिष्य परिवार और वैश्विक शिव शिष्य परिवार न्यास ने आज बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी को 11 लाख रुपए का चेक सीएम रिलीफ फंड के लिए सौंपा. ये संस्थाएं अररिया, किशनगंज, मुजफ्फरपुर और मोतिहारी समेत कई बाढ़ पीड़ित जिलों में राहत शिविर भी चला रही हैं. महामारी से बचाव के लिए दस हजार ब्लीचिंग पाउडर की खेप भी प्रभावित इलाकों में इन तीनों संस्थाओं ने भेजी है. बता दें कि शिव शिष्य हरिन्द्रानंद फाउंडेशन न्यास, शिव शिष्य परिवार और वैश्विक शिव शिष्य परिवार न्यास देश के विभिन्न राज्यों में आध्यात्मिक और सामाजिक उत्थान के लिए लगातार प्रयासरत हैं. इस मौके पर हरीन्द्रानंद फाउंडेशन के अध्यक्ष अर्चित आनंद, शिव शिष्य परिवार के अध्यक्ष रामेश्वर मंडल, डॉ अमित कुमार, नरेन्द्र देव, रणधीर कुमार और अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे.

Read more

PM राहत कोष से मिलेगी बाढ़ पीड़ित परिवारों को मदद

बाढ़ की तबाही से जूझ रहे बिहार के लिए पीएम मोदी ने हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया है. शनिवार को पूर्णिया प्रमंडल में बाढ़ प्रभावित इलाकों के हवाई सर्वेक्षण के बाद पीएम ने बिहार को तुरंत 500 करोड़ की मदद का एलान किया. इसके साथ ही प्रधान मंत्री राहत कोष से प्रत्येक मृतक के परिवार को 2 लाख रुपए एवं गंभीर रूप से घायल व्यक्ति को 50 हजार रुपए की सहायता मिलेगी. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सीमांचल के बाढ़ प्रभावित जिलों का हाल जानने और बाढ़ पीड़ितों की जानकारी लेने दिल्ली से पूर्णिया के चूनागढ़ एयरबेस पहुंचे. पूर्णिया एयरपोर्ट पहुंचने पर सीएम नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार सुशील मोदी ने पीएम की अगुवाई की. पीएम मोदी ने हेलीकॉप्टर से बाढ़ प्रभावित पूर्णिया, अररिया, कटिहार और किशनगंज इलाके का हवाई सर्वेक्षण किया और बाढ़ प्रभावित इलाकों की तबाही देखी. हवाई सर्वेक्षण के बाद पीएम मोदी ने मुख्यमंत्री के साथ चूनापुर एयरबेस के कांफ्रेंस हॉल में बैठक की. इसमें बाढ़ पीड़ितों की मदद और बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की गई. करीब पैंतालिस मिनट तक चली बैठक में केंद्र व राज्य सरकार के आला अधिकारी भी मौजूद थे. प्रधानमंत्री ने नुकसान के आंकलन के लिए तुरंत ही एक केंद्रीय टीम भेजने का भी आश्वासन दिया है. बाढ़ से प्रभावित सड़कों की मरम्मत के लिए सड़क एवं परिवहन मंत्रालय को उपयुक्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है. साथ ही केन्द्र सरकार बाढ़ से प्रभावित बिजली व्यवस्था की शीघ्र बहाली के लिए भी राज्य सरकार की हर संभव मदद करेगी.

Read more

बिहार को 500 करोड़ की तत्काल राहत

   पूर्णिया से दिल्ली लौटे प्रधानमंत्री मोदी पूर्णिया में समीक्षा बैठक के बाद PM मोदी की घोषणा  बाढ़ राहत के लिए बिहार को मिलेगी 500 करोड़ की राशि तत्काल राहत के तौर पर मिलेंगे 500 करोड़ रूपए जरूरत पड़ने पर बढ़ाया जा सकता है राहत पैकेज

Read more

इस नजारे को देख कर कांप उठेंगे आप

जिस नजारे को देखकर आम इंसना चकरा जाए, जहां दूर-दूर तक पानी ही पानी हो, जहां जीने की कोई आस नजर नहीं आ रही हो, वैसी स्थिति में NDRF के जवानों ने कमाल दिखाते हुए 5 लोगों की जान बचाई है. शुक्रवार को मुज़फ़्फ़रपुर के बाढ़ प्रभावित मुशहरी प्रखण्ड में राहत व बचाव कार्य में लगी NDRF टीम के बचावकर्मियों ने एक बोट दुर्घटना के बाद 5 लोगों की जान बचा ली. इस दौरान जो वीडियो सामने आया है वो सचमुच दिल दहलाने वाला है. शुक्रवार को सुबह लगभग 08.25 बजे NDRF टीम कमाण्डर निरीक्षक दीपक कुमार पाण्डेय को सूचना मिली कि मुशहरी प्रखण्ड अन्तर्गत नरौली गांव से मैनक्या गांव जा रही एक सिविल बोट बूढ़ी गंडक नदी की बाढ़ में पलट गई है. नाव पर सवार 5 लोगों की जान खतरे में है. सभी लोगों की जान बचाना वहाँ नजदीक में ऑपेरशन में लगी NDRF बचावकर्मियों के समक्ष एक चुनौती थी. बिना समय गंवाए NDRF के बचावकर्मी तुरन्त घटनास्थल के नजदीक बोट से पहुँचे. जरा आप भी नजर डालिए इस दिल दहला देने वाले दृश्य पर घटनास्थल का दृश्य बहुत ही मार्मिक और दिल दहला देने वाला था. बोट पलटने के बाद उसपर सवार सभी 5 लोग – मुहम्मद हबीब (60 साल), मुहम्मद सद्दाम (27 साल), मु. गुलाब (30 साल), मु. आयूब (19 साल) और जमीला खातून (57 साल), पानी के तेज धारा में बहते-बहते अपनी जान बचाने के लिए सहारा के रूप में 2 पेड़ों की टहनियाँ पकड़ रखे थे. उनके बोट पर दो बकरियाँ भी थी. उनहोंने बकरियों

Read more

PM करेंगे बड़ी घोषणा!

बिहार में बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लेने प्रधानमंत्री मोदी बिहार आ रहे हैं. पहले उनके पटना आने का प्रोग्राम था, जिसमें बदलाव हुआ है. पीएम मोदी अब दिल्ली से सीधे पूर्णिया जाएंगे. File Pic पीएम पूर्णिया के चूनापुर वायु सेना हवाई अड्डे पर पीएम पहुंचेंगे, जहां से वे बाढ़ प्रभावित पूर्णिया के इलाकों का हेलीकाप्टर से हवाई सर्वेक्षण करने जायेंगे. हवाई सर्वेक्षण से लौटने के बाद वे पूर्णिया ऑफिसर्स मेस में बने मीटिंग रूम में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी सहित अन्य लोगों के साथ समीक्षा बैठक करेंगे. लालू की रैली के ठीक एक दिन पहले आ रहे प्रधानमंत्री मोदी के दौरे को लेकर सियासत भी जोरों पर है. सूत्रों के मुताबिक बाढ़ को देखते हुए पीएम बिहार के लिए कोई विशेष पैकेज या कोई खास घोषणा कर सकते हैं. बता दें कि इस बार बाढ़ में सबसे ज्यादा जान-माल का नुकसान पूर्णिया प्रमंडल में ही हुआ है.

Read more