एम्स की नई निदेशक के सामने चुनौतियों का अम्बार

एम्स के ओपीडी और न्यू ओपीडी,हॉस्पिटल, छात्रावास समेत अन्य विभागों का लिया जायजा 

unnamed-7




पटना एम्स के  नये निदेशक का पदभार डॉ गीतांजली ने  एम्स पहुंचकर संभाला . उन्होंने पदभार ग्रहण करते ही एम्स पटना के ओपीडी , न्यू ओपीडी , हॉस्पिटल , छात्रावास समेत अन्य विभागों का निरीक्षण किया. इस दौरान उनहोंने एम्स के निर्माण कार्य का भी निरीक्षण किया.उन्होंने  निर्माणाधीन विभागों के निर्माण में तेजी लाने का भी अधिकारियों को निर्देश दिया. डॉ गिरीश कुमार सिंह के रिटायर्मेंट के बाद एम्स पटना में महत्वपूर्ण विभागों का अधूरा और निर्माण की धीमी गति निदेशक डॉ गीताजंली के लिए सबसे अहम चुनौती माना जा रहा है. एम्स में बढ़ते रोगियों की भीड़ के मुकाबले बेड मुहैया कराने में एम्स पटना अब तक सफल नही हो पाया है. मरीजों की बढ़ती  संख्या से निपटना  भी पटना एम्स की प्रभारी निदेशक डॉ गीताजंली के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं. एम्स पहुंची प्रभारी निदेशक डॉ गीताजंली ने दिन भर एम्स की फाईलों को खंगाला और मीडिया से दुरी बनाए  रखा . एम्स सूत्रों ने बताया की डायरेक्टर मैडम ने कई दिशा निर्देश दिए हैं लेकिन उनसे बात कराने में असमर्थता जाहिर कर दिए. गौरतलब हो की पटना  एम्स का मुख्य ओपीडी भवन भी अब तक निर्माणाधीन है .एम्स निर्माण में लगे मजदूरों  के भुगतान को लेकर का मामला हो या हाल ही में सप्ताह भर से अधिक दिनों तक चले छात्रों के प्रदर्शन का,इन सबसे निपटना और इन समस्याओं का निराकरण एम्स के नये निदेशक का प्रभार सँभालने पहुंची डॉ गीतांजली के परेशानियों का सबब बन सकता है .गौरतलब हो कि डॉ गीतांजली ओडिशा एम्स से स्थानान्तरण के बाद पटना आई हैं .उनके कार्यभार संभालने के बाद से ऐसा लगत है कि एम्स के दिन बहुरेंगे.