पीएनबी के 125वें स्थापना दिवस पर कार्यक्रम

सामाजिक दायित्वों के निर्वह्न में पीएनबी अग्रणी – मंडल प्रमुखअग्रणी बैंक की बेहतर भूमिका में है पीएनबी – तिवारी

आरा/कोइलवर (आमोद कुमार) | पंजाब नैशनल बैंक द्वारा 125वीं स्थापना दिवस के अवसर पर न्यू पुलिस लाईन स्थित मध्य विद्यालय सह कस्तुरबा गांधी अवासीय विद्यालय में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें विद्यालय को कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व के तहत वाटर कूलर प्रदान किया गया. साथ ही मूल्यवान ग्राहकों को सम्मानित किया गया. इस अवसर पर ग्राहकों को संबोधित करते हुए मण्डल प्रमुख दीपक शर्मा ने कहा कि 12 अप्रैल वह दिन है, जब पंजाब नैशनल बैंक अपनी अद्भूत और समृद्ध विरासत का जश्न मनाता हैं. 1895 को इसी दिन राष्ट्रवादियों महान देशभक्त और स्वतंत्रता सेनानियों (लाला लाजपत राय, सरदार दयाल सिंह मजीठिया, लाला हरकिशन लाल, लाला लाल चंद और लाला ढोलन दास) द्वारा भारतीय हितों की सेवा के लिए भारतीय पूंजी के साथ प्रथम स्वदेशी बैंक की स्थापना की गई थी. कई उतार चढ़ाव के बाद भी पीएनबी के देश भर में फैली लगभग 7000 से अधिक शाखाओं के साथ एक सक्रिय संगठन के रूप में विकसित और विस्तारित है. बैंक करीब 11 करोड़ से अधिक मूल्यवान ग्राहकों की सेवा कर रही है. इस मंडल के चारों जिलों भोजपुर, बक्सर, रोहतास और कैमूर में कुल 103 शाखाओं, 4 अग्रणी जिला कार्यालयों तथा 4 “ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान” द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है. करीब 300 से अधिक सीएसपी हैं. मुख्य अतिथि जिला कृषि पदाधिकारी संजय नाथ तिवारी ने कहा कि पीएनबी अग्रणी बैंक के नाते भोजपुर जिले में अहम भूमिका निभा रही है. मौके पर उपमण्डल प्रमुख अंजन चट्टोपाध्याय, मुख्य प्रबन्धक प्रवीण कुमार, राजेश कुमार पाण्डेय, आरके त्रिपाठी, अतुल्य कुमार, एलडीएम जेके वर्मा, मुख्य प्रबंधक जैनेन्द्र कुमार वर्मा,  अतनु सिन्हा, हेमचन्द्र अहलावत, अभिराम कुमार, स्नेहा सिंह, कस्तूरबा विद्यालय की प्रभारी पूजा कुमारी, जितेन्द्र शुक्ला एवं रीता कुमारी सहित काफी संख्या में ग्राहक एवं मंडल कार्यालय के कर्मी उपस्थित थें.