दानापुर-खगौल रोड पर बॉउंड्री करा रहे बिजनेसमैन की हत्या, सहयोगी भी गोली लगने से घायल

दानापुर (ब्यूरो रिपोर्ट)। पटना में इन दिनों अपराधियों का मनोबल लगातार बढ़ता जा रहा है. बुधवार को अपराधियों ने दानापुर थानांतर्गत सगुना मोड़-खगौल रोड पर स्थित सेंट कैरेन्स स्कूल के सामने एक विवादित जमीन की बाउंड्री करा रहे एक बिजनेसमैन पर गोलियों की बौछार कर दी. इस गोलीबारी में संपतचक के राज फ्लावर मिल के मालिक मिथिलेश सिंह की मौत हो गयीं जबकि उनके साथ मौजूद एक व्यक्ति रविन्द्र घायल हो गया. मौके पर पहुंची दानापुर थाना पुलिस ने दोनों को तत्काल पारस हॉस्पिटल ले गयी जहाँ चिकित्सको ने मिथिलेश सिंह को मृत घोषित कर दिया. अपराधियों की गोलियों से घायल रविन्द्र कुमार का इलाज चल रहा है तथा उसके सीने में गोली लगी है.मृतक मिथिलेश सिंह उम्र 46 वर्ष थी तथा वे रामकृष्णा नगर में रहते थे. मिथिलेश के बड़े भाई दारोगा बताये जा रहे हैं जो पूर्व में दुल्हिन बाजार के थाना प्रभारी भी रह चुके हैं. मिथिलेश सिंह का संपतचक के वाटर पार्क के पास राज फ्लावर मिल है. मिथिलेश सिंह के बड़े भाई अखिलेश कुमार सिंह पुलिस ऑफिसर हैं. मिथिलेश सिंह के बारे में बताया जाता है कि वे जमीन का कारोबार भी करते थे. प्राप्त जानकारी के अनुसार विवादित जमीनों की खरीद बिक्री में ही उनकी हत्या हो गयी. पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है. घटना के जानकारी मिलते मिथिलेश सिंह के परिजनों में कोहराम मच गया तथा वे रोते बिलखते बेली रोड स्थित एक प्राइवेट अस्पताल पहुंचे.इस मामले में पटना की एसएसपी गरिमा मल्लिक ने कहा है कि पुलिस अपराधियों की पहचान कर

Read more

पटना कोतवाली से सिर्फ 100 मीटर दूर हुई हत्या

पटना [ब्यूरो रिपोर्ट]।  बेखौफ अपराधियों ने शुक्रवार दिन दहाड़े पटना पुलिस को खुली चुनौती देते हुए कोतवाली के निकट राजद के पूर्व सांसद और तिहाड़ जेल में बंद मोहम्मद शहाबुद्दीन के शार्प शूटर तबरेज उर्फ तब्बू को गोलियों से भून डाला. अपराधियों ने, जो बाइक पर आए थे, उसे पांच गोलियां मारकर फरार हो गए. गोली की आवाज सुनकर आस पास के लोग चौंक गए. जबतक लोग कुछ समझ पाते, अपराधी घटना स्थल से भाग चुके थे. पंद्रह मिनट बाद मौके पर पुहंची पुलिस तबरेज को पीएमसीएच ले गई जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. पुलिस के अनुसार मृतक का अापराधिक इतिहास रहा है तथा उस पर कई संगीन अपराध के केस दर्ज हैं. सूत्रों के अनुसार तबरेज उर्फ तब्बू हम पार्टी से टिकट लेकर चुनाव भी लड़ने वाला था. आस पास के प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक पुलिस थाने से दस कदम की दूरी पर एक सफारी गाड़ी खड़ी थी. सफेद कुर्ता पायजामा पहना एक युवक सड़क किनारे खड़ी सफारी गाड़ी में बैठने जा ही रहा था कि बाइक से जा रहे दो युवकों ने शख्स को बिल्कुल पास से पांच गोलियां मारीं और बाइक की स्पीड बढाकर फरार हो गए. मौके पर पहुंची पुलिस घायल युवक को लेकर पीएमसीएच पहुंची, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. उसे पांच गोलियां मारी गई. पुलिस ने मृतक का मोबाइल लेकर उसकी जांच की और पूछताछ में पता चला कि उसका नाम तबरेज उर्फ तब्बू है. पुलिस मामले की तहकीकात में जुट गई है. पटना कोतवाली से सिर्फ 100 मीटर दूर हुई हत्या

Read more

नहाय खाय के दिन ही साले ने बहनोई से लिया जानलेवा बदला

साले ने बहनोई को मार डाला आरोपित साला दो घंटे में गिरफ्तार बहनोई की दूसरी शादी रचाने से था नाराज   पटना के फुलवारी शरीफ में रानीपुर गली के महावीर कैंसर के धर्मशाला के पास देरशाम दूसरी शादी रचाने से नाराज साले प्रमोद ने अपने बहनोई महेश राय को पेट में गोली मार कर हत्या कर दी. छठमय माहौल में हत्या की घटना से फुलवारी में सनसनी फ़ैल गयी. वारदात के दो घंटे के भीतर ही पुलिस ने आरोपी साला प्रमोद राय को दानापुर के गोसाई टोला से गिरफ्तार कर लिया. 6 साल पहले छठ महापर्व के नहाय खाय के दिन ही महेश की पहली पत्नी कुसम देवी की मौत हो गयी थी. साले ने बहनोई को मौत के घाट उतारने के लिए भी इसी नहाय खाय के दिन को चुना और बदला ले लिया.    मृतक महेश राय सुधा डेयरी में वाहन चालक था. 6 साल पहले मृतक महेश राय की पहली पत्नी कुसुम देवी  की मौत रहस्यमय ढंग से हो गयी थी. पहली पत्नी की हत्या के आरोप में महेश राय जेल भी गया था और एक साल तक जेल में रहकर छूटकर आया था . इधर डेढ़ साल पहले महेश राय ने दूसरी शादी रचा ली थी और उसकी दूसरी पत्नी गुडिया देवी गर्भवती है. इस मामले में DSP रमाकांत प्रसाद ने बताया कि महेश राय ने मरने से पहले बयान दिया है कि उसे साला प्रमोद ने ही गोली मारी है .पुलिस ने दो घंटे के अंदर हत्यारोपित साला प्रमोद को उसके दानापुर के गोसाई टोला

Read more