रेल कर्मचारियों के बच्चों में प्रतिभा की कमी नहीं- संगीता झा

unnamed-1

प्रधानमंत्री के रूप में मेरे 24घंटे 




खगौल रेलवे कर्मचारियों बच्चों में प्रतिभा की कमी नहीं है बस उन्हें निखारने की जरूरत है. ये बातें पूर्व मध्य रेलवे महिला कल्याण संगठन की अध्यक्षा संगीता झा ने खगौल के बढ़ते कदम स्कूल में रेल कर्मचारियों के बच्चों के लिए हो रहे निबंध प्रतियोगिता के आयोजन पर कहा. उन्होंने कहा कि इस तरह के आयोजन कर प्रतिभाओं की खोज करने के साथ-साथ बच्चों को आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है. इस मौके पर प्रतियोगिता में शामिल सभी बच्चों के बीच पढाई-लिखाई के सामग्रियों का वितरण संगठन की अध्यक्षा  झा के अलावा रश्मि प्रियदर्शी, ज्योति श्रीवास्तव, स्नेहलता सिंह, मधु सिंह, अनुभा मौर्या, शोभा मंडल आदि ने संयुक्त रूप से किया. इस निबंध प्रतियोगिता के ग्रुप एक में बाल दिवस, मेरा पालतू पशु और कैसे करते हैं दादा-दादी का देखभाल विषय दी गई थी. ग्रुप दो में अगर मैं उड़ सकता, जिस दिन सब कुछ गलत होता गया और जीवन के सब से यादगार दिन तथा ग्रुप तीन में प्रधानमंत्री के रूप में मेरे 24घंटे, दो बातें जो मैं अपने बारे में बदल सकता था और हमारे जीवन में टेक्नोलॉजी, विषय को शामिल किया गया थ .