सत्ता में कांग्रेस आएगी तभी आएंगे अच्छे दिन- राहुल गांधी

कांग्रेस का  ‘जन वेदना सम्मेलन’

नोटबंदी से देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ की हड्डी टूट गई है




ऑटो मोबाइल सेक्टर ढ़ाई साल में आज 16 साल के पहले की स्थिति में पहुंच गया है

मोदी जी जनता से बचने के लिए नोटबंदी के पीछे छुप गए

भाजपा और हमारे प्रधानमंत्री की आदत में आ गया है कि कांग्रेस ने पिछले 70 वर्षों में क्या किया. देश के लोगों को पता है मोदी जी. दिल्ली में बुधवार को तालकटोरा स्टेडियम में शुरू हुए ‘जन वेदना सम्मेलन’ को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने ये बातें कही. राहुल गांधी ने कहा कि देश के लोग ये समझते हैं कि हमारे नेताओं ने अपना खून और आंसू इस देश के लिए दे दिया है. मैं राज्यों का नाम दे सकता हूं जहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नेताओं ने अपने खून और पसीने का बलिदान किया है.

राहुल गांधी ने कहा, हमें यह बताने की जरूरत नहीं है कि हमने पिछले 70 वर्षों में क्या किया और क्या नहीं. पीएम मोदी के नेतृत्व में बीजेपी ने जो ढाई साल में जो किया क्या हम नहीं कर सकते.कांग्रेस उपाध्यक्ष  ने कहा, आज उन्होंने (भाजपा) हर संस्था को कमजोर कर दिया है. भारत के इतिहास में पहली बार प्रधानमंत्री का मजाक उड़ाया जा रहा है. भाजपा, आरएसएस और नरेंद्र मोदी ने आरबीआई जैसे संस्थानों को कमजोर कर दिया है.अच्छे दिन तब आएंगे, जब 2019 में कांग्रेस सत्ता में लौटकर आएगी.

तालकटोरा स्टेडियम में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और नोटबंदी पर लघु फिल्मों की स्क्रीनिंग के साथ सम्मेलन शुरू हुआ. इस सम्मेलन की अध्यक्षता कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी कर रहे हैं.कांग्रेस का कहना है कि नोटबंदी से देश की जनता को सबसे ज्यादा परेशानी हुई है और जनता की इस वेदना को आवाज देने के लिए वह जन वेदना सम्मेलन का आयोजन कर रही है.सम्मेलन नोटबंदी के विरोध को लेकर पार्टी की भविष्य की रणनीति पर केंद्रित है.सम्मेलन में नवंबर में इंदिरा गांधी की 100वीं जयंती के उत्सव को लेकर एक प्रस्ताव भी पारित किया जाएगा. राहुल सम्मेलन में पुस्तिका ‘हाल बेहाल, जन वेदना के 2.5 साल’ भी जारी करेंगे. इस मौके पर कांग्रेस के कई प्रमुख नेताओं ने भी सम्म्मेलन को संबोधित किया.