रावण वध देखने उमड़े शहर और गांव के लोग

 रावण  वध देखने उमड़ी लोगों की भीड़ 

जिलाधिकारी बिरेंद्र प्रसाद यादव ने रावण के पर  तीर चलाया  और उसके साथ ही रावण जल उठा .उसके अंत से अधर्म पर धर्म की जीत हो गई  पटाखे की आवाज के साथ ही रावण का पुतला धूं-धू कर जल उठा. पूरा मैदान जय श्री राम के नारों से गूंज उठा. रामलीला समिति द्वारा बनाया गया रावण का पुतला पटाखों की आवाज के साथ जलता रहा. रावण के इस वध को देखने के लिए पूरा रमना मैदान लोगों की भीड़ से खचाखच भरा हुआ था. स्टेज पर राम के साथ लक्ष्मण खड़े थे.अधर्म पर धर्म की जीत और बुराई पर अच्छाई की जीत के इस पवित्र पर्व पर सभी लोगों ने रामलीला समिति के अध्यक्ष प्रेम पंकज उर्फ ललन जी को धंन्यवाद दिया. इस तरह के कार्यक्रम हमारी लुप्त हो रही संस्कृति को उजागर करती है. नगर रामलीला समिति के अध्यक्ष प्रेम पंकज उर्फ ललन जी ने कहा कि प्रशासन की ओर से यदि थोड़ी बहुत और मदद मिल जाती तो यह कार्यक्रम और चार चांद लग जाता.




326f8f12-cca9-43db-9bb9-63463b31feae 769c1b85-83b4-4547-b0c6-89c3215931f3

रमना मैदान में रावण वध का गवाह बनने जिला प्रशासन एवं पुलिस की पूरी टीम थी. जिलाधिकारी बिरेंद्र प्रसाद यादव पुलिस कप्तान छ्त्रनील सिंह, सदर एसडीओ नवदीप शुक्ला, एएसपी अभियान मोहम्मद साजिद, सदर एसडीपीओ संजय कुमार, नगर कोतवाल सत्येंद्र शाही के अलावा दर्जनों की संख्या में पुलिस बल और हजारों की संख्या में लोग उपस्थित थे