रजिस्ट्रेशन में गांव का नाम एडमिट कार्ड में पंचायत हो गया!

39 परीक्षार्थियों पर संकट छाया, किया प्रैक्टिकल परीक्षा का बहिष्कार रजिस्ट्रेशन में बसडीहा एडमिट कार्ड में हो गया अमेहता कैसे? कहा – जल्द सुधार कर पुनः भेजे जाएंगे बच्चों के सही रजिस्ट्रेशन व एडमिट कार्ड आरा. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के कारनामे जग जाहिर हैं। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की गलतियों की वजह से इस बार फिर परीक्षार्थियों में कन्फ्यूजन है। कन्फ्यूजन इस बात से है कि बच्चे किस स्कूल के विद्यार्थी हैं। जी हां सुनते ही आप जिस तरह चौंके होंगे विद्यार्थियों में दिमाग में भी ऐसा ही कुछ हुआ होगा। दरअसल यह भौंचक करने वाला मामला पीरो प्रखंड के अगिआंव बाजार थाना क्षेत्र के बसडीहा गांव का है। गांव में स्थित मिडिल स्कूल अपग्रेड होकर हाई स्कूल में तब्दील हो गया। कोरोना काल में पढ़ाई तो नही हुई लेकिन इसमें नामांकन जरूर हुआ। अब जिन विद्यार्थियों ने मैट्रिक का फॉर्म भरा उनके रजिस्ट्रेशन कार्ड पर तो हाई स्कूल बसडीहा प्रिंट है लेकिन एडमिट कार्ड पर बसडीहा की जगह अमेहता प्रिंट हुआ है। बच्चे इसी वजह से परेशान हैं। उन्हे समझ में नहीं आ रहा है कि वे बसडीहा स्कूल के छात्र हैं या फिर अमेहता के! इसको लेकर बच्चों ने शिक्षकों से मुलाकात कर जब इस गलती को सुधारने के लिए कहा तो शिक्षकों ने अपना पलड़ा झाड़ते हुए इसे बोर्ड की गलती करार दिया। इस वजह से कुछ बच्चों ने एडमिट कार्ड लिया ही नही। गुरुवार से शुरू होने वाले बिहार बोर्ड के प्रैक्टिकल परीक्षा के दिन विद्यार्थियों का गुस्सा फूटा। विद्यार्थियों ने हंगामा करते हुए बहिष्कार

Read more

कंगना, मनोज और धनुष का धमाल ,मिला बेस्ट एक्टर का अवार्ड

67वें नेशनल फिल्म अवॉर्ड्स का आयोजन दिल्ली के विज्ञान भवन में सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म ‘छिछोरे’ को भी बेस्ट हिंदी फिल्म के लिए पुरस्कार मिला कंगना रनौत, मनोज बाजपेयी और धनुष बने बेस्ट एक्टर रजनी कान्त को दादा साहब फाल्के पुरस्कार फिल्म अवार्ड से उप राष्ट्रपतिवेंकैय ने किया सम्मानित एक समारोह में उपराष्ट्रपति एम वेकैया नायडू कलाकारों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया .बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत, साउथ सुपरस्टार धनुष और बॉलीवुड एक्टर मनोज बाजपेयी सहित कई कलाकारों को नेशनल अवॉर्ड से सम्मानित किया गया .कंगना रनौत को फिल्म मणिकर्णिका और पंगा के लिए अवॉर्ड मिला है. धनुष और मनोज बाजपेयी को ‘असुरन’ और ‘भोंसले’ के लिए अवॉर्ड दिया गया है. वहीं सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म ‘छिछोरे’ को भी बेस्ट हिंदी फिल्म के लिए पुरस्कार मिला है. सावनी रविंद्र को भी नेशनल अवॉर्ड से सम्मानित हुईं तो वहीं बॉलीवुड के सिंगर बी प्राक को अक्षय कुमार की फिल्म ‘केसरी’ के गाने ‘तेरी मिट्टी’ के लिए बेस्ट प्लेबैक सिंगर का अवॉर्ड मिला। सावनी रविंद्र को ‘रान पटेला’ गाने के लिए बेस्ट फीमेल प्लेबैक सिंगर का अवार्ड मिला.बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर के लिए साउथ सुपरस्टार विजय सेतुपति (सुपर डीलक्स- तमिल)और बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के लिए पल्लवी जोशी (द ताशकंद फाइल्स- हिंदी) को अवॉर्ड मिला । बेस्ट चाइल्ड आर्टिस्ट के लिए नागा विशाल, करुप्पु दुराई (तमिल) को अवॉर्ड मिला। बच्चों की फिल्म कस्तूरी (हिंदी), निर्माता- इनसाइट फ़िल्म्स, निर्देशक- विनोद उत्तरेश्वर काम्बले को पुरस्कार से सम्मानित किया गया . PNC DESK #BIHARKEKHABAR #KanganaRanaut #Manikarnika #NationalFilmAwards #Panga #Bollywood

Read more

मुख्यमंत्री जी अब तो सुन लीजिए हमारी फरियाद

135 साल से चल रहे कन्हौली आदर्श विद्यायल की जमीन पर चल रहा है कब्जे का खेल प्रशासन ने नहीं की अब तक कोई कार्रवाई दान में शुक्ला परिवार ने दी थी स्कूल को जमीन,खेल के मैदान पर भी हो रहा है अतिक्रमण हाजीपुर । महुआ थाना क्षेत्र के कन्हौली आदर्श मध्य विद्यालय की जमीन पर अतिक्रमण कर निर्माण कार्य शुरू कर दिए जाने से विद्यालय प्रशासन बुरी तरह परेशान है। वहीं इस संबंध में जिलाधिकारी को आवेदन देकर दोषियों पर कार्रवाई की भी मांग की गई है। इसके बावजूद निर्माण कार्य धड़ल्ले से चल रहा है। दिए गए आवेदन में आदर्श मध्य विद्यालय कन्हौली के प्रधानाध्यापक नितेश्वर महतो ने लिखा है कि विद्यालय की जमीन को रंजन कुमार शुक्ला ने निजी हाथों में बेच दिया है। जिसके बाद उमेश्वर प्रसाद, अमित कुमार, महेश राय, नागेश्वर राय, विद्यालय की भूमि पर निर्माण कार्य शुरू कर दिया है। जिसकी शिकायत अधिकारियों से की गई थी जिसके बाद निर्माण कार्य पर रोक भी लगा दिया गया था लेकिन फिर से निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है। प्रधानाध्यापक ने दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। जमीन की दो बार कराई रजिस्ट्री कोरोना में हुए लॉकडाउन का फायदा उठाते हुए रंजन कुमार शुक्ला ने दो बार लोगों के नाम जमीन की रजिस्ट्री कर दी। पहली रजिस्ट्री 10 सितंबर 2019 को उमेश्वर प्रसाद से तथा 19 जून • 2021 को अमित कुमार, महेश राय एवं नागेश्वर राय के नाम से आदर्श मध्य विद्यालय कन्हौली की खेल मैदान के जमीन की रजिस्ट्री

Read more

यूपीएससी की सिविल सर्विसेज (प्रा) परीक्षा कदाचार मुक्त सम्पन्न

यूपीएससी की सिविल सर्विसेज (प्रा) परीक्षा का हुआ स्वच्छ, शांतिपूर्ण एवं कदाचारमुक्त आयोजनप्रथम पाली में 20569 परीक्षार्थीद्वितीय पाली में 20387 परीक्षार्थी प्रमंडलीय आयुक्त पटना ने केंद्रीय विद्यालय शेखपुरा एवं जेडी विमेंस कॉलेज सहित कई केंद्र का भ्रमण कर स्थिति का लिया जायजा सभी केंद्रों पर सुरक्षा व्यवस्था के तहत दंडाधिकारी ,पुलिस प्राधिकारी एवं पुलिस बल रहे तैनातनियंत्रण कक्ष से हुई सतत एवं प्रभावी निगरानीडीएम /एसएसपी द्वारा परीक्षा के शांतिपूर्ण संचालन तथा विधि व्यवस्था संधारण हेतु की गई लगातार मॉनिटरिंगएसडीओ/ एसडीपीओ ने भी केंद्रों का लिया जायजा पटना: संघ लोक सेवा आयोग नई दिल्ली द्वारा संचालित सिविल सर्विसेस प्रारंभिक परीक्षा को देखते हुए प्रमंडलीय आयुक्त पटना संजय कुमार अग्रवाल ने सफल एवं शांतिपूर्ण आयोजन हेतु विभिन्न केंद्रों का भ्रमण किया. इस क्रम में आयुक्त ने केंद्रीय विद्यालय शेखपुरा तथा जेडी विमेंस कॉलेज सहित कई केंद्रों पर जाकर आयोग द्वारा प्राप्त दिशा निर्देश एवं मानक के अनुरूप परीक्षा के संचालन का निरीक्षण किया. उन्होंने केंद्र पर सुरक्षा व्यवस्था, परीक्षा की स्वच्छता, परीक्षार्थियों की उपस्थिति सहित कई अन्य पहलू की स्थिति का अवलोकन किया. सिविल सर्विसेज की प्रारंभिक परीक्षा निर्धारित कार्यक्रम के अनुरूप पटना के 89 केंद्रों पर आज दो पाली में शांतिपूर्ण संपन्न हुआ. इस परीक्षा में प्रथम पाली में 20569 तथा द्वितीय पाली में 20387 परीक्षार्थी उपस्थित हुए. यूपीएससी द्वारा प्रदत्त दिशा निर्देश के अनुरूप परीक्षा के सफल, शांतिपूर्ण एवं कदाचार मुक्त संचालन हेतु सभी आवश्यक व्यवस्था की गई थी। सभी केंद्रों पर मजिस्ट्रेट, पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस बल तैनात थे तथा नियंत्रण कक्ष से लगातार निगरानी की गई। जिलाधिकारी एवं

Read more

पटना के एम्स में दसवें स्थापना दिवस पर भव्य समारोह का आयोजन

एम्स का टेलीमेडिसिन गरीबों के इलाज में ऐतिहासिक कदम अजीत फुलवारी शरीफ : एम्स पटना का 10वें स्थापना दिवस ,एम्स परिसर में आयोजन किया गया। इस मौके पर भारत सरकार के परिवार एवं कल्याण मंत्रालय विभाग के राज्यमंत्री डॉ भारती पवार ने कहा कि एम्स पटना ने बिहार के सुदूर ग्रामीण इलाकों में गरीब एवं असहाय लोगों के बीच टेली मेडिसिंस के माध्यम से चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराकर एक इतिहास रचा है। डॉ भारती ने कहा कि अब तक एम्स पटना से 208 शोध प्रकाशित किया जा चुका है। इसके अलावा श्रवण कुमार योजना सहित आयुष्मान भारत कार्ड के माध्यम से गरीबों और शहरों के बीच एम्स ने सुविधा पूर्वक गरीबों का इलाज किया है। उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी ने एक सपना देखा था जिसे भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज पूरा कर दिखाया है। पूरे बिहार वासी इस पर गर्व महसूस कर रहे हैं। एम्स के निदेशक डॉ प्रभात कुमार ने कहा कि कोविड डेडीकेटेड अस्पताल बनाने के लिए एम्स पटना एक्सपर्ट सपोर्ट दे रहा है। साथ ही प्लाज्मा थेरेपी देने में भी अन्य अस्पतालों को मदद दे रहा है। डॉ. प्रभात कुमार सिंह ने बताया कि रोबोटिक सर्जरी की शुरूआत, बर्न सेंटर का निर्माण, अंग प्रत्यारोपण की शुरूआत, शैक्षणिक और प्रशासनिक भवन का निर्माण और चिकित्सकों के लिए आवास का निर्माण कुछ ऐसी योजनाएं हैं, जिनके लिए संस्थान प्रयासरत है।उन्होंने बताया कि अप्रैल 2020 से लेकर मार्च 2021 तक एम्स पटना की ओपीडी में नए व पुराने कुल 1,37,619 मरीज देखे गए और 12,590 मरीज

Read more

एप्प बनाएं और जीतें 50 लाख रुपये

नई दिल्ली : दुनिया के लिए मेक इन इंडिया एप्प विकसित करने का एक अभिनव अवसर! AmritMahotsav ऐप इनोवेशन चैलेंज 2021 में भाग लें, और आप जीत सकते हैं 50 लाख की राशि । 16 श्रेणियां के अंतगर्त बनने वाले एप्प को आप my gov पर जाकर या नीचे दिए लिंक पर खुद को रजिस्टर कर सकते हैं । https://innovateindia.mygov.in/app-innovation-challenge/केवल भारतीय उद्यमी और स्टार्ट-अप सूचीबद्ध के रूप में विभिन्न श्रेणियों में अपनी प्रविष्टियां जमा करने के पात्र हैं। हाई स्कूल और कॉलेज के छात्रों को भी भागीदारी के लिए माना जा सकता है क्योंकि इनमें से अधिकांश छात्र, विशेष रूप से जो इंजीनियरिंग के क्षेत्र में हैं, उभरते हुए उद्यमी हैं और प्रौद्योगिकी के आगामी रुझानों के अनुकूल होने वाले पहले व्यक्ति हैं। इसके अलावा, प्रतिभागियों को प्रत्येक टीम में 4 से अधिक प्रतिभागियों वाली टीमों में प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं दी जा सकती है। अंतिम तिथि है 30 सितम्बर 2021 अमृत ​​महोत्सव ऐप इनोवेशन चैलेंज 2021 में निम्नलिखित 16 श्रेणियां शामिल हो सकती हैं: संस्कृति और विरासतस्वास्थ्यशिक्षासामाजिक मीडियाइमर्ज टेककौशलसमाचारखेलमनोरंजनकार्यालयस्वास्थ्य और पोषणकृषिव्यापार और खुदराफिनटेकमार्गदर्शनअन्यइन अनुप्रयोगों की पहचान करने के अलावा, प्रतिभागी इन ऐप्स को अधिक अनुकूलनीय और सभी के लिए उपयुक्त बनाने के लिए अपने विचारों में पिच कर सकते हैं, और प्रौद्योगिकी में प्रगति को बनाए रखने के लिए उभरती हुई तकनीकों को शामिल करने के तरीकों को शामिल कर सकते हैं, जिसके लिए व्यवसायों को अगले कुछ वर्षों के लिए एक दृष्टि की आवश्यकता होती है। प्रतिभागियों को उन ऐप्स की तलाश करने का भी सुझाव दिया

Read more

कोविड ‘डिमेंशिया’ को तेज करेगा-क्लाइव कुकसन

वर्तमान में लगभग 55 मिलियन लोग मनोभ्रंश के साथ जी रहे हैं, नई दिल्ली : वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि कोविड ‘मनोभ्रंश महामारी’ को तेज करेगा। विशेषज्ञ इशारा करते हैं कि वायरस कुछ रोगियों में दीर्घकालिक मस्तिष्क क्षति का कारण भी बन सकता है। वर्तमान में लगभग 55 मिलियन लोग मनोभ्रंश के साथ जी रहे हैं, यह आंकड़ा दशक के अंत तक तक बढ़ने की भविष्यवाणी की गई है।लंदन में क्लाइव कुकसन द्वारा वैज्ञानिकों और मनोचिकित्सकों ने चेतावनी दी है कि कोरोनोवायरस के मस्तिष्क पर अपक्षयी प्रभाव “मनोभ्रंश की महामारी” में आग में घी डालने का काम करेगा जो दशक के अंत तक को प्रभावित करेगा। डिमेंशिया संघों के वैश्विक महासंघ, अल्जाइमर डिजीज इंटरनेशनल ने समस्या के पैमाने को बेहतर ढंग से समझने और इससे निपटने के तरीकों की सिफारिश करने के लिए एक विशेषज्ञ कार्य समूह का अनावरण किया।अब तक के तमाम अध्ययनों के आधार पर विशेषज्ञों ने बताया है कि सार्स-सीओवी-2 वायरस और इसके म्यूटेशन के कारण संक्रमितों के मस्तिष्क और न्यूरोलॉजिकल गतिविधियों पर भी बुरा प्रभाव देखने को मिल रहा है। इसका असर कम समय या फिर लंबे वक्त के लिए भी हो सकता है। विशेषज्ञों के मुताबिक कोविड-19 संक्रमित एक तिहाई रोगियों ने कई तरह के तंत्रिका संबंधी लक्षणों का अनुभव किया। इसके दीर्घकालिक प्रभाव के तौर पर भविष्य में लोगों को स्ट्रोक जैसी दिक्कतों का खतरा बढ़ जाता है। एडीआई के मुख्य कार्यकारी पाओला बारबारिनो ने कहा, “हम लोगों को अनावश्यक रूप से डराना नहीं चाहते हैं, लेकिन दुनिया भर के कई डिमेंशिया विशेषज्ञ

Read more

जेपी और लोहिया के विचार नहीं हटाये जा सकते -लालू

दिल्ली- लोहिया और जेपी के विचारों को अब जेपी विश्वविद्यालय में नहीं पढ़ाये जाने पर छात्रों की तीखी प्रतिक्रिया मिल रही है वहीं राजद के मुखिया ने इस खबर पर ट्वीट कर अपनी तीखी प्रतिक्रिया दी है उन्होंने कहा है कि जयप्रकाश जी के नाम पर अपनी कर्मभूमि छपरा में 30 वर्ष पूर्व जेपी विश्वविद्यालय की स्थापना की थी।अब उसी यूनिवर्सिटी के सिलेबस से संघी बिहार सरकार तथा संघी मानसिकता के पदाधिकारी महान समाजवादी नेताओं जेपी-लोहिया के विचार हटा रहे है।यह बर्दाश्त से बाहर है।सरकार तुरंत संज्ञान लें । इधर पाठ्यक्रम से लोहिया और जेपी के विचार हटाने पर छात्र संघ भी आंदोलन के मूड में हैं ।

Read more

जारी होगा 125 रुपया का सिक्का

पटना: “इस्कॉन (ISKCON) की स्थापना करने वाले और हरे कृष्ण भक्ति आंदोलन के प्रवर्तक माने जाने वाले श्री भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद जी की 125वीं जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 125 रुपये का विशेष स्मृति सिक्का जारी करेंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस मौके पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए ये सिक्का जारी करेंगे। इसके पहले भी नेता जी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती पर भी 125 रुपये का विशेष स्मृति सिक्का जारी किया गया था ।

Read more

आज से माध्यमिक शिक्षक पद के लिए करें आवेदन

32,714 पदों पर नियोजन के लिए आवेदन आज से बिहार में छठे चरण के नियोजन के तहत माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कूलों में 32714 पदों के लिए 18 अगस्त से 17 सितंबर तक आवेदन लिए जाएंग. जो अभ्यर्थी पहले आवेदन कर चुके हैं उन्हें आवेदन देने की जरूरत नहीं है. 30 जून 2019 की तिथि तक राज्य के उच्च माध्यमिक और माध्यमिक विद्यालयों में सर्वाधिक रिक्तियां दरभंगा में 2804 और पटना में 2058 हैं. औरंगाबाद, पूर्वी चंपारण, भोजपुर, समस्तीपुर, नवादा, गया, नालंदा व रोहतास में एक-एक हजार से ज्यादा रिक्तियां हैं. सर्वाधिक रिक्तियां 19389 उच्च माध्यमिक स्कूलों में हैं जबकि माध्यमिक स्कूलों में रिक्तियों की संख्या 13325 हैं. कौन कर सकते हैं आवेदनइस नियोजन प्रक्रिया में पूर्व निर्धारित एसटीइटी-2011 में पास अभ्यर्थी जो 26 सितंबर 2019 तक नियुक्ति संबंधी जरूरी अर्हता रखते हों वे ही आवेदन के लिए योग्य होंगे. एसटीइटी 2011 पास अप्रशिक्षित अभ्यर्थी जो बीएड सत्र 2016-18 तक में नामांकित और पास हों और उनका रिजल्ट 26 नवंबर तक प्रकाशित हो चुका हो वे भी आवेदन कर सकते हैं.संशोधित नियमों के आलोक में माध्यमिक शिक्षक के समाजिक विज्ञान विषय के लिए इतिहास या भूगोल की तरह अर्थशास्त्र और राजनीति शास्त्र में भी प्रतिष्ठा होने पर पांच अंक जोड़ने का निर्णय भी लिया गया है. नये शेड्यूल के अनुसार 18 से 29 सितंबर तक औपबंधिक मेधा सूची तैयार की जाएगी. 5 अक्टूबर तक औपबंधित मेधा सूची का अनुमोदन और 8 अक्टूबर तक औपबंधिक मेधा सूची का प्रकाशन किया जाएगा. 11 अक्टूबर से 3 नवंबर तक आपत्तियां दे सकते हैं.

Read more