महाराष्ट्र में बॉर्डर का फटा पोस्टर, हुआ शो बंद

निरहुआ का पुतला और पोस्टर भी जलाया
पत्रकारो ने कहा माफी मांगे निरहुआ वरना पूरे महाराष्ट्र में फ़िल्म के प्रदर्शन पर लगेगी रोक

भोजपुरी के स्वघोषित सुपर स्टार दिनेश लाल निरहुआ द्वारा पत्रकार शशिकांत सिंह को जान से मारने और माँ की भद्दी गालियां देने के बाद भी माफी नही माँगने पर विवाद रुकने का नाम नही ले रहा है.




पत्रकार के साथ एक सेलिब्रिटी के इस बेहूदगी के बाद गुस्साए लोगों ने ठाणे के नालासोपाड़ा में सिनेमाघरों में लगे बॉर्डर फ़िल्म का पोस्टर फाड़ डाला और फ़िल्म का प्रदर्शन भी होने नही दिया.

वही इस घटना पर गुस्साए पत्रकारों और CFJ के सदस्यों ने बॉर्डर फ़िल्म का पोस्टर और निरहुआ का पुतला भी दहन किया. पत्रकार मनीष जोशी ने  तीखे तेवर दिखाते हुए कहा कि अभी नालासोपाड़ा में शो बन्द हुआ है अगर निरहुआ ने माफी नही मांगी तो पूरे महाराष्ट्र में फ़िल्म का प्रदर्शन बन्द करा देंगे.

यही नही उन्होंने निरहुआ को चैलेंज करते हुए कहा कि अगर वह अपनी नीचता से बाज नही आया तो उसका घर से निकलना बंद करा देंगे. निरहुआ सोशल मीडिया पर भी इस घटना को लेकर काफी धींगा-मुश्ती चल रही है. एक तरफ जहाँ निरहुआ के इस धमकी के बाद उसे लोग गुंडा और सड़क छाप टपोरी तक कह कह रहे हैं

वही निरहुआ के लिए एक जाति विशेष वर्ग जमकर समर्थन कर रहा है और शशिकांत सिंह के फेसबुक वॉल पर जमकर गालियां और धमकी दे रहे हैं. अब देखना यह होगा कि इस बढ़ते बवाल पर पुलिस क्या रुख अपनाती है. निरहुआ कानून के शिकंजे में आता है या फिर माफी मांगने के लिए मूड बना मामले का पटाक्षेप करने की तैयारी करता है.

पटना नाउ के लिए ओ पी पांडेय की रिपोर्ट