फरक्का एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त; CM नीतीश ने व्यक्त की गहरी संवेदना

रायबरेली (ब्यूरो रिपोर्ट) | बुधवार सुबह 6 बजकर 05 मिनट पर मालदा टाउन से नई दिल्ली जा रही न्यू फरक्का एक्सप्रेस (14003) के इंजन और नौ डिब्बे उत्तर प्रदेश में रायबरेली के पास पटरी से उतर गए. इस हादसे में 7 लोगों की मौत हो गई जबकि 30 यात्री घायल हो गए. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने हादसे की जांच के आदेश दिए हैं. इसके अलावा उन्होंने मुआवजे का भी ऐलान कर दिया है. लखनऊ और वाराणसी से एनडीआरएफ की टीमें मौके पर पहुंच गई हैं.




यह हादसा रायबरेली के निकट हरचन्दपुर स्टेशन से 50 मीटर दूर हुई. यूपी के सहायक महानिदेशक कानून व्यवस्था आनंद कुमार ने बताया कि घायलों को हरचंदपुर पीएचसी में भर्ती कराया गया है. इनमें से नौ लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है.कुमार ने बताया कि दुर्घटना में किसी आतंकी साजिश के पहलू की जांच के लिये एटीएस की टीम भी मौके पर भेजी गयी है.अधिकारियों ने बताया कि यात्रियों को फिलहाल लखनऊ भेजा जा रहा है जहां से उन्हें विशेष ट्रेन से दिल्ली भेजा जाएगा.
उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृतक के परिजनों को 2 लाख रुपए और गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को 50,000 रुपए का मुआवजा देने की घोषणा की है. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने भी मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपए, गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को 1 लाख रुपए और मामूली चोट वाले लोगों को लिए 50,000 रुपए का मुआवजा देने की घोषणा की है.

पीएम नरेंद्र मोदी ने इस हादसे पर दुःख व्यक्त किया है. पीएम ने अपने एक ट्वीट में कहा, ‘रायबरेली में हुई रेल दुर्घटना में जान गंवाने लोगों के प्रति मैं दुख प्रकट करता हूं. पीड़ित परिवारों को मेरी श्रद्धांजलि है. साथ ही इस हादसे में घायल लोगों के जल्द स्वस्थ होने की मैं प्रार्थना करता हूं.
ये बोगियां पटरी से उतरीं

1 S-6
2. S-7
3. S-8
4. S-9
5. S-10
6. S-11

ट्रेन एक्सीडेंट के बाद रूट बंद होने से कई ट्रेनों का संचालन बाधित हो गया है. इस रूट पर आने जाने वाली सभी ट्रेन फिलहाल बाधित हैं. 5 ट्रेनों को अस्थाई रूप से बाधित या रद्द क्र दिया गया है, वही 9 ट्रेनों के रूट को बदल दिया है. रूट को सामान्य होने में 24 से 36 घंटे लग सकते हैं.

नीतीश कुमार ने रेल दुर्घटना में मृत लोगों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उत्तर प्रदेश के रायबरेली के पास फरक्का एक्सप्रेस रेल दुर्घटना में मृत लोगों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है एवं दुख की इस घड़ी में मृतक के शोक संतप्त परिजनों को धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईष्वर से प्रार्थना की है. मुख्यमंत्री ने आपदा प्रबंधन विभाग एवं राज्य रेल मुख्यालय को निर्देशित किया कि घटनास्थल के रेल प्रशासन तथा स्थानीय जिला प्रशासन के पदाधिकारियों से तत्काल समन्वय करते हुये राहत कार्य तथा घायलों के शीघ्र समुचित इलाज की दिशा में अपेक्षित कार्य सुनिश्चित करायें। अब तक प्राप्त सूचनानुसार इस दुर्घटना में मुंगेर जिला के 04 एवं किशनगंज के 01, कुल 05 लोगों की मृत्यु हुई है. मुख्यमंत्री ने दुर्घटना में हताहत हुये बिहार के मृतकों के परिजन को तत्काल 02-02 लाख रूपये तथा घायलों को 50-50 हजार रूपये का अनुग्रह अनुदान देने का निर्देश दिया तथा घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की भी ईश्वर से कामना की है.