प्रारंभिक स्कूलों को शिक्षा विभाग की गाइडलाइंस का इंतजार

बिहार सरकार ने आखिरकार एक साल के बाद राज्य के तमाम सरकारी और निजी प्रारंभिक स्कूलों को लेकर बड़ा फैसला ले लिया है. बिहार के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने इस बात की पुष्टि की है कि एक मार्च से कक्षा 1 से 5 तक के स्कूल खुल जाएंगे. पिछले दिनों शिक्षा विभाग ने इस बात की जानकारी दी थी कि कक्षा 1 से 5 तक के स्कूलों को खोलने को लेकर क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में फैसला होगा. बिहार के तमाम स्कूल कोविड 19 के कारण हुए लॉकडाउन की वजह से 14 मार्च 2020 से ही बंद पड़े हैं. 4 जनवरी 2021 को कक्षा 9 से 12 तक के स्कूल खोले गए थे. 8 फरवरी 2021 से कक्षा 6 से 8 तक के स्कूल खोले गए और अब 1 मार्च से कक्षा 1 से 5 तक के स्कूल भी खुल जाएंगे. शिक्षा विभाग जारी करेगा विस्तृत गाइडलाइंस राज्य सरकार के सैद्धांतिक निर्णय के बाद अब बिहार का शिक्षा विभाग प्रारंभिक स्कूलों को खोलने के बारे में विस्तृत गाइडलाइंस जारी करेगा. कोविड-19 की वजह से बने हुए खतरे के कारण शिक्षा विभाग और राज्य सरकार बेहद सावधानी पूर्वक फूंक-फूंक कर कदम रख रहे हैं. यही वजह है कि स्कूलों में फिलहाल 50% से ज्यादा छात्रों को आने की अनुमति नहीं मिलेगी. इसके अलावा शिक्षा विभाग की ओर से जारी होने वाली गाइडलाइंस का भी स्कूलों को सख्ती से पालन करना होगा. सरकार 15 दिन के बाद सभी स्कूलों की स्थिति की समीक्षा करेगी जिसके बाद आगे इन स्कूलों को

Read more

बिहार में इस तारीख से खुल जाएंगे मध्य विद्यालय

पिछले करीब 1 साल से बंद पड़े बिहार के प्राथमिक व मध्य विद्यालयों को लेकर न सिर्फ स्कूल संचालक बल्कि आम लोग भी सवाल पूछ रहे थे कि आखिर ये स्कूल कब खुलेंगे. 4 जनवरी से बिहार में हाई स्कूल और हायर सेकेंडरी स्कूल खुल चुके हैं कोचिंग संस्थान भी खुल चुके हैं और कॉलेज की कक्षाएं भी शुरू हो चुकी है और अब सरकार ने शुक्रवार को एक बड़ा फैसला लिया है. पटना में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक हुई है जिसमें कक्षा 6 से 8 तक के स्कूलों को खोलने पर सहमति बनी है. शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने इसकी पुष्टि की है. उन्होंने बताया कि 8 फरवरी से कक्षा 6 से 8 तक के सरकारी और निजी स्कूल बिहार में खुल जाएंगे. यह सभी स्कूल पिछले साल मार्च महीने से ही बंद पड़े हैं. कोरोना के कारण हुए लॉकडाउन के वजह से मार्च महीने में भी स्कूल बंद कर दिए गए थे जो अब तक बंद पड़े हैं. 8 फरवरी से सरकार ने कक्षा 6 से 8 तक के स्कूलों को खोलने की अनुमति दी है. स्कूलों में बच्चों की उपस्थिति 50% से ज्यादा नहीं होगी लेकिन सभी शिक्षक और अन्य स्टाफ को हर रोज स्कूल आना होगा. कक्षा 1 से 5 तक के स्कूलों को खोलने को लेकर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है. सूत्रों के मुताबिक अगले कुछ दिनों में प्राइमरी स्कूलों को खोलने को लेकर भी फैसला हो सकता है. एसोसिएशन ऑफ इंडिपेंडेंट स्कूल्स बिहार के अध्यक्ष डॉ सी बी सिंह

Read more

जानिये, कब खुलेंगे छोटे बच्चों के स्कूल

बिहार में 4 जनवरी से ही हाई स्कूल, हायर सेकेंडरी स्कूल, कोचिंग और कॉलेज खुल चुके हैं. सरकार की ओर से कहा गया था कि प्राथमिक स्कूलों के खोलने पर फैसला 15 दिन बाद होगा. इस बयान के बाद बीस दिन से ज्यादा बीत चुके हैं. अब छोटे बच्चों के पैरेंट्स को बेसब्री से इंतजार है सरकार के अगले स्टेप का. दरअसल 4 जनवरी से स्कूल-कॉलेज खुलने के बाद कुछ स्कूलों में कोरोना के मामले सामने आए थे जिसके बाद सरकार की ओर से इन मामलों पर खास ध्यान दिया जा रहा था. कोरोना के मामलों के साथ भीषण ठंड के कारण अब सरकार ने इस मामले पर होने वाली बैठक को फिलहाल टाल दिया है. स्कूल खोलने को लेकर अब क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक 30 जनवरी को संभावित है जिसमें प्राथमिक स्कूलों को खोलने या ना खोलने पर फैसला हो सकता है. सूत्रों के मुताबिक कोविड के घटते मामलों के मद्देनजर शिक्षा विभाग प्राथमिक और मध्य विद्यालयों को खोलने का मन बना चुका है. लेकिन आखिरी फैसला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप लेगा, जिसमें स्वास्थ्य विभाग और आपदा प्रबंधन विभाग की महत्वपूर्ण भूमिका है. pncb

Read more