बजट संतुलित और सभी वर्गों के हित को ध्यान में रखकर बनाया गया है- मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वर्ष 2021-22 के बिहार बजट पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा कि बजट संतुलित और सभी वर्गों के हित को ध्यान में रखकर बनाया गया है. उन्होंने कहा कि वर्ष 2005 से अब तक राज्य की अर्थव्यवस्था में विकास दर डबल डिजिट में रही है. यह बजट विकास दर को और गति देगा.मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2021-22 के कुल बजट व्यय का आकार 2,18,302.70 करोड़ रूपये है जिसमें राज्य के विकास योजना मद में 1,00,518.86 करोड़ रूपये एवं स्थापना और प्रतिबद्ध व्यय मद में 1,17,783.84 करोड़ रूपये है. इस बजट में शिक्षा विभाग के लिए 38,035.93 करोड़ रुपये प्रस्तावित है, जिसमें राजस्व मद में 36,971.29 करोड़ रूपये एवं पूंजीगत मद में 1,064.64 करोड़ रूपये प्रस्तावित है. पिछले वर्ष की तुलना में वित्तीय वर्ष 2021-22 में बजट में 8 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि प्रस्तावित है. स्वास्थ्य विभाग के लिए गत वर्ष की तुलना में वित्तीय वर्ष 2021-22 में 21 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि प्रस्तावित है. इस बजट में स्वास्थ्य प्रक्षेत्र हेतु 13,264.87 करोड़ रूपये प्रस्तावित है जिसमे राजस्व मद में 10,827.19 करोड़ रूपये तथा पूंजीगत मद में 2,437.68 करोड़ रूपये प्रस्तावित है.मुख्यमंत्री ने कहा कि पथ निर्माण एवं ग्रामीण कार्य विभाग द्वारा सड़क प्रक्षेत्र में व्यय किये जाते हैं. वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए सड़क प्रक्षेत्र में 15,227.74 करोड़ रूपये का व्यय अनुमानित है जिसमें सड़कों के रखरखाव एवं मरम्मत मद में 2,850.00 करोड़ रूपये अनुमानित हैंं. पिछले वर्ष की तुलना में वित्तीय वर्ष 2021-22 मद में 93 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि

Read more

रोजगार के लिए क्या करेंगे नीतीश कुमार, सुनिए

Click Here For Cm Live https://www.facebook.com/NitishKumarJDU/videos/1005027443298015/ जबसे राष्ट्रीय जनता दल ने रोजगार को चुनावी मुद्दा बनाया है, जदयू और बीजेपी के लिए यह गले की फांस बन गया है. अब मुख्यमंत्री भी अपनी सभाओं में ‘रोजगार कैसे देंगे’, इसकी दलील पेश कर रहे हैं. राजेश तिवारी

Read more

पटना के इस नये फ्लाइओवर की जानिए खूबियां

सीएम ने बटन दबाकर की नये फ्लाइओवर की शुरुआत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को आर ब्लॉक फ्लाई ओवर का शुभारंभ किया. इस फ्लाइओवर के शुरु होने से विधानसभा एवं हार्डिंग रोड के रास्ते वीरचंद पटेल पथ और इनकम टैक्स होते हुए डाकबंगला जाने वाले लोगों को आवागमन में सहुलियत होगी. मुख्यमंत्री ने फ्लाईओवर के आर ब्लॉक गोलंबर पर बने एलिवेटेड रोटरी में नेटवर्क ऑफ फ्लाई ओवर नक्शे के अवलोकन के दौरान अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए. पथ निर्माण विभाग के अपर मुख्य सचिव अमृृृतलाल मीणा ने मुख्यमंत्री को जानकारी देते हुए बताया कि आर ब्लॉक-दीघा पथ को भी जीपीओ के पास इस फ्लाई ओवर से जोड़ दिया जाएगा जिससे गंगा पथ और दीघा पुल से आवागमन का सीधा जुड़ाव हो जाएगा और उत्तर बिहार के लोगों को भी यहां आने में सहुलियत होगी. मुख्यमंत्री ने आर ब्लाॅक फ्लाईओवर को एलिवेटेड पथ के माध्यम से फोरलेन आर ब्लाॅक दीघा पथ को जोड़ने का निर्देश दिया. इससे पटना रेलवे स्टेशन से जेपी सेतु तक का सीधा सम्पर्क स्थापित हो जायेगा. मुख्यमंत्री ने करबिगहिया एलिवेटेड रोटरी का भी निरीक्षण किया और उससे जुड़ने वाले निर्माणाधीन पुलों एवं मार्गों से संबंधित जानकारी ली. इस दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को कई आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए. निरीक्षण के दौरान जानकारी दी गई कि इस गोलंबर के एक छोर से चिरैंयाटांड पुल होते हुए कंकड़बाग फ्लाईओवर भी कनेक्ट होगा. चिरैयाटांंड़ पुल के दक्षिणी छोर से यह कनेक्ट होगा जिससे मीठापुर-करबिगहिया और कंकड़बाग फ्लाईओवर सीधे जुड़ जायेंगे. गोलंबर के दूसरी तरफ पुल के निर्माण से पुनपुन होते

Read more

क्या इस बार पूरी होगी मुख्यमंत्री नीतीश की ये मांग!

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक बार फिर से सार्वजनिक रूप से केंद्र सरकार से गुहार लगाई है. पहले मुद्दा कुछ और था इस बार मुद्दा कुछ और है. मुद्दे अलग-अलग हैं लेकिन व्यक्ति एक है और वह व्यक्ति हैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार. आपको याद होगा कुछ साल पहले पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पटना आए थे. समारोह के दौरान मंच से नीतीश कुमार ने हाथ जोड़कर प्रधानमंत्री से मांग की थी कि पटना विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा दिया जाए. लेकिन प्रधानमंत्री ने उसी मंच से उनकी मांग ठुकरा दी थी. आपको वह वीडियो दिखाते हैं कि किस तरह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंच पर बैठे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हाथ जोड़कर यह अपील की थी। यह वीडियो वर्ष 2017 का है. अब वर्ष 2020 में जब महात्मा गांधी सेतु के पश्चिमी लेन का जीर्णोद्धार के बाद 31 जुलाई को उद्घाटन हुआ तो इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए केंद्र सरकार से एक और बड़ी अपील कर दी है. मुख्यमंत्री ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से यह मांग की है बक्सर को सड़क मार्ग से सीधे वाराणसी से जोड़ा जाए. वर्तमान में बक्सर से वाराणसी जाने के लिए लंबा रास्ता तय करना पड़ता है इसलिए 2 ऐतिहासिक शहरों के लिए सीधा सड़क मार्ग बनाने की मांग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री से की है. देखिए वीडियो अब देखना है कि मुख्यमंत्री की इस मांग पर केंद्र सरकार क्या कार्रवाई करती है. बक्सर से बीजेपी सांसद अश्विनी

Read more

’31 मई तक लॉकडाउन बढ़ाने की मांग’

पीएम के साथ वीसी में हुई डिमांड कोरोना वायरस से सुरक्षा एवं बचाव पर आयोजित आज प्रधानमंत्री की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार शामिल हुए. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम सेअपने संबोधन में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने में केंद्र, राज्य सरकार के सामूहिक प्रयास की सराहना की. उन्होंने कहा कि इस संकट के समय राज्यों नेे भी अपनी जिम्मेवारी का बेहतर ढंग से निवर्हन किया है. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए किए जा रहे कार्यो, लॉकडाउन के दौरान छट में किये जा रहे रोजगार सजन के कार्यों एवं कोरोना संक्रमण की अद्यतन स्थितिके साथ-साथ तथा भविष्य की रणनीति पर विस्तृत चर्चा की गई. मुख्यमंत्री नीतीश कमार ने अपने संबोधन में सभी लोगों का स्वागत करते हुये कहा कि आज की इस चर्चा में बहुत सारी बातें सामने आयी हैं. उन्होंने कहा कि बिहार के संबंध में हमआप सभी को जानकारी देना चाहते हैं कि देश के अन्य हिस्सों से एवं विदेशों से आने वाले लोगों के कारण बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या 700 से ज्यादा हो गयी है. अभी भी लोग बाहर से आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि 4 मई से 10 मई के बीच 1 लाख से ज्यादा लोग आये हैं. उनमें 1,900 लोगों की रैडम टेस्टिंग करायी गयी है, जिसमें 148 लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार के बाहर दूसरे राज्यों में फंसे श्रमिकों, छात्रों जरूरतमंदों को ट्रेनों से लाने की अनुमति देने

Read more

कोरोना के वक्त काल बनकर आई आकाशीय बिजली

बिहार में रविवार को आकाशीय बिजली गिरने से 12 लोगों की मौत हो गई. सबसे ज्यादा 9 लोगों की जान गई सारण में. इसके अलावा जमुई में 2 और भोजपुर में एक व्यक्ति की मौत हुई है. सारण, जमुई और भोजपुर में वज्रपात के कारण 12 लोगों की मृत्यु पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शोक संवेदना व्यक्त की है और मृतकों के आश्रितों को चार-चार लाख रूपये अनुग्रह अनुदान देने का निर्देश दिया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार हुये वज्रपात की तीव्रता काफी अधिक थी. लाॅकडाउन की वजह से लोग घरों में थे इस कारण ऐसी तीव्रता वाले वज्रपात से संभवतः क्षति कम हुयी है. मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि सभी लोग खराब मौसम में पूरी सतर्कता बरतें. खराब मौसम होने पर वज्रपात से बचाव के लिये आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किये गये सुझावों का अनुपालन करें. मुख्यमंत्री ने अपील करते हुये कहा कि लोग धैर्य रखें, सचेत रहें, सतर्क रहें, तभी स्वस्थ रहेंगे. लोग लाॅकडाउन के नियमों का पालन करते हुये घरों में रहें और सुरक्षित रहें. छपरा में रविवार को ठनका गिरने से 9 लोगों की मौत हो गई जबकि कई लोग झुलस गए. घटना छपरा के मखदूमगंज दियारा इलाके की है. स्थानीय लोगों के अनुसार सभी झुलसे लोगों को सदर हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है. बताया जा रहा है कि मरने वालों लोगों की संख्या बढ़ भी सकती है. हादसा उस समय हुआ जब कई लोग दियारा क्षेत्र में कुछ लोग जमीन नापी के लिए गए थे. वही कुछ फसल काटने के

Read more

बिहार में कोरोना पॉजिटिव केस बढ़े

बिहार में मंगलवार को 6 और लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए सरकार की परिस्थितियों पर पैनी नजर, लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है:- मुख्यमंत्री राज्य में जरूरी सामानों की कोई कमी नहीं है, लोगों को खाद्य सामग्री एवं जरूरी चीजें उपलब्ध होती रहेंगी। लाॅकडाउन के कारण बिहार के बाहर फंसे लोगों की हर सुविधाओं का ख्याल रखा जा रहा है बिहार में आज कुल कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 38 तक पहुंच गई है. 6 अप्रैल तक बिहार में कुल 32 कोरोना पॉजिटिव थे. स्वास्थ्य सचिव संजय कुमार ने बताया कि मंगलवार को सीवान से चार और दो लोग बेगूसराय में कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. हालांकि 38 में से अब तक 15 मरीज पूरी तरह स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं. इन सबके बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को 1, अणे मार्ग में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिये उठाये जा रहे कदमों की अद्यतन स्थिति की मुख्य सचिव एवं अन्य वरीय अधिकारियों के साथ गहन समीक्षा की. समीक्षा के क्रम में राज्य में दवाओं, मास्क और अन्य जरूरी इक्यूपमेंट्स की उपलब्धता के संबंध में जानकारी दी गयी. संक्रमित लोगों के इलाज के लिये जरूरी कदम उठाये गये हैं, उनकी उचित देखभाल की जा रही है. कोरोना संदिग्धों की अधिक से अधिक टेस्टिंग करायी जा रही है.संदिग्ध लोगों की स्क्रीनिंग तेजी से करायी जा रही है.समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने निर्देेेश देते हुये कहा कि दवाओं, मास्क और अन्य जरूरी इक्यूपमेंट्स की उपलब्धता सुनिष्चित करायी जाय और यह ध्यान रखा जाय कि इसकी कमी न हो.

Read more

दानापुर से शेरपुर के बीच गंगा नदी पर बनेगा नया पुल

मुख्यमंत्री ने किया पटना रिंग रोड के एलाइनमेंट का एरियल सर्वेक्षण मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज पटना रिंग रोड के एलाइनमेंट का एरियल सर्वेक्षण किया। एरियल सर्वेक्षण से लौटने के उपरांत मुख्यमंत्री ने 1 अणे मार्ग स्थित संकल्प में इस संबंध में उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की। समीक्षा बैठक में निम्नलिखित महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए:- पटना रिंग रोड का नया एलाइनमेंट ‘‘कन्हौली-नौबतपुर-डुमरी-लखना-कच्चीदरगाह -बिदुपुर-चकसिकंदर से हाजीपुर शहर के उत्तर से सराय एनएच-77 को पार करते हुए एसएच-74 को पार करते हुए एनएच-19 – 4 लेन-दिघवारा-शेरपुर-कन्हौली होगा। पटना रिंग रोड की कुल लंबाई लगभग 160 किमी होगी। यह रिंग रोड 60 मीटर चौड़ा बनाया जाएगा। उल्लेखनीय है कि पूर्व में रिंग रोड चकसिकंदर से एनएच- 103 होते हुए हाजीपुर, तदोपरांत एनएच-19 होकर सोनपुर जेपी सेतु के समानान्तर दीघा होते हुए कन्हौली तक जाना था। आज के एरियल सर्वे में यह महसूस किया गया कि हाजीपुर शहर की सघन बसावट एवं शहर में यातायात दबाव को देखते हुए रिंग रोड शहर के बाहर-बाहर उत्तर की दिशा की ओर बनाया जाए ताकि पटना और हाजीपुर ट्वीन शहरों का व्यापक फैलाव हो सके। दानापुर से शेरपुर के बीच पटना रिंग रोड के हिस्से के रूप में गंगा नदी पर नया पुल बनाया जाएगा। साथ ही रिंग रोड से वैशाली को 4 लेन कनेक्टिविटी प्रदान की जाएगी। बख्तियारपुर-ताजपुर के रास्ते आने वाले लोगों के लिए एनएच-103 से चकसिकंदर तथा ताजपुर-हाजीपुर रोड के माध्यम से रिंग रोड के सहारे वैशाली जाना आसान होगा। समीक्षा बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि जेपी सेतु के समानान्तर 4 लेन

Read more

अच्छी खबर: निविदाकर्मियों की बहुप्रतीक्षित मांग हुई पूरी

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना के गांधी मैदान में 72वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर झंडोत्तोलन किया. मुख्यमंत्री ने झंडोत्तोलन के बाद समस्त बिहारवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दीं. उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि सदियों की गुलामी के बाद आज ही के दिन हमारा देश आजाद हुआ था. इसके लिए हमारे राष्ट्रभक्तों को अनेक कुर्बानियां देनी पड़ी. आज के दिन हम मातृभूमि के उन सपूतों का स्मरण करते हैं, उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं और उनके सपनों को साकार करने का संकल्प लेते हैं. उन्होंने कहा कि मैं उन वीर जवानों को भी नमन करता हूं जो बहादुरी से देश की सरहदों की सुरक्षा कर रहे हैं. उनके बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है. देश के थल, जल और नभ की रक्षा करने वाले भारतीय सेना का हम अभिनन्दन करते हैं, जिनकी सजगता और सतर्कता से देश की सीमाओं की रक्षा होती है. मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार सरकार के लिए ये सौभाग्य का विषय था कि उसे गांधी जी के चंपारण सत्याग्रह के सौ वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में शताब्दी समारोह के सफल आयोजन का अवसर मिला. इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य उस समय की स्मृतियों को पुनर्जीवित करते हुए गांधी जी के विचारों एवं आदर्शों को जन-जन तक पहुंचाना रहा. उन्होंने कहा कि बापू की जयंती के 150 वें वर्ष को भी हम हर्षोल्लास से मनाएंगे और उनके आदर्श एवं विचारों को जन जन तक पहुंचाने की मुहिम को आगे बढ़ाएंगे. भारत के स्वतंत्रता  संग्राम में बिहार का अग्रणी योगदान रहा है.

Read more

सीट बंटवारे पर बोले मुख्यमंत्री

2019 लोकसभा चुनाव में बिहार की 40 सीटों में से किसे कितनी सीट मिलेगी, इसपर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पहली बार बयान दिया है. सीएम ने कहा कि सीट बंटवारे पर फैसला जल्द ही हो जाएगा. एनडीए के सभी घटक दल बीजेपी, जदयू, लोजपा और रालोसपा के मुख्य नेता एक साथ बैठेंगे और इस मसले को हल करेंगे. उन्होंने कहा कि सीटों को लेकर आमने-सामने बात होगी. अमित शाह से मुलाकात के बाद लोक संवाद में सीएम ने बीजेपी अध्यक्ष से मुलाकात पर  कहा कि उनसे कई मुद्दों पर बात हुई है. लेकिन बंद कमरे में जो बातें हुईं उसे सार्वजनिक नहीं किया जा सकता. उन्होंने ये भी कहा कि जितनी बातें मीडिया में आ रही थीं, उनपर तो अमित शाह ने बोल ही दिया. सीएम नीतीश के मुताबिक, एक महीने में सीट बंटवारे को लेकर बातचीत संभावित है. बीजेपी के प्रस्ताव पर जदयू और अन्य घटक दल मिलकर बात करेंगे.

Read more