अच्छी खबर: निविदाकर्मियों की बहुप्रतीक्षित मांग हुई पूरी

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना के गांधी मैदान में 72वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर झंडोत्तोलन किया. मुख्यमंत्री ने झंडोत्तोलन के बाद समस्त बिहारवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दीं. उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि सदियों की गुलामी के बाद आज ही के दिन हमारा देश आजाद हुआ था. इसके लिए हमारे राष्ट्रभक्तों को अनेक कुर्बानियां देनी पड़ी. आज के दिन हम मातृभूमि के उन सपूतों का स्मरण करते हैं, उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं और उनके सपनों को साकार करने का संकल्प लेते हैं. उन्होंने कहा कि मैं उन वीर जवानों को भी नमन करता हूं जो बहादुरी से देश की सरहदों की सुरक्षा कर रहे हैं. उनके बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है. देश के थल, जल और नभ की रक्षा करने वाले भारतीय सेना का हम अभिनन्दन करते हैं, जिनकी सजगता और सतर्कता से देश की सीमाओं की रक्षा होती है. मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार सरकार के लिए ये सौभाग्य का विषय था कि उसे गांधी जी के चंपारण सत्याग्रह के सौ वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में शताब्दी समारोह के सफल आयोजन का अवसर मिला. इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य उस समय की स्मृतियों को पुनर्जीवित करते हुए गांधी जी के विचारों एवं आदर्शों को जन-जन तक पहुंचाना रहा. उन्होंने कहा कि बापू की जयंती के 150 वें वर्ष को भी हम हर्षोल्लास से मनाएंगे और उनके आदर्श एवं विचारों को जन जन तक पहुंचाने की मुहिम को आगे बढ़ाएंगे. भारत के स्वतंत्रता  संग्राम में बिहार का अग्रणी योगदान रहा है.

Read more

सीट बंटवारे पर बोले मुख्यमंत्री

2019 लोकसभा चुनाव में बिहार की 40 सीटों में से किसे कितनी सीट मिलेगी, इसपर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पहली बार बयान दिया है. सीएम ने कहा कि सीट बंटवारे पर फैसला जल्द ही हो जाएगा. एनडीए के सभी घटक दल बीजेपी, जदयू, लोजपा और रालोसपा के मुख्य नेता एक साथ बैठेंगे और इस मसले को हल करेंगे. उन्होंने कहा कि सीटों को लेकर आमने-सामने बात होगी. अमित शाह से मुलाकात के बाद लोक संवाद में सीएम ने बीजेपी अध्यक्ष से मुलाकात पर  कहा कि उनसे कई मुद्दों पर बात हुई है. लेकिन बंद कमरे में जो बातें हुईं उसे सार्वजनिक नहीं किया जा सकता. उन्होंने ये भी कहा कि जितनी बातें मीडिया में आ रही थीं, उनपर तो अमित शाह ने बोल ही दिया. सीएम नीतीश के मुताबिक, एक महीने में सीट बंटवारे को लेकर बातचीत संभावित है. बीजेपी के प्रस्ताव पर जदयू और अन्य घटक दल मिलकर बात करेंगे.

Read more

दुआ करिएगा, इस बार बाढ़ और सुखाड़ का सामना नहीं करना पड़े

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि इस बार पुरवईया हवा के कारण मानसून प्रभावित होने की आशंका है, लेकिन मौसम विज्ञानी बता रहे हैं कि अच्छी बरसात होगी. हज यात्रियों के पहले जत्थे की रवानगी के मौके पर पहुंचे सीएम ने कहा कि आप सभी आजमीन वहां जाकर यह दुआ करिएगा कि इस बार बिहार को बाढ़ और सुखाड़ का सामना नहीं करना पड़े. लोग सहज ढंग से जीवन-यापन कर सकें. बिहार में इंसाफ के साथ तरक्की हो रही है, इसका एहसास सभी लोगों को है. अपने संबोधन के अंत में मुख्यमंत्री ने सभी हाजियों को मुबारकबाद दी. शुक्रवार को सीएम नीतीश कुमार ने हाजियों के पहले जत्थे को मदिना के लिये रवाना करने से पूर्व हज भवन में आयोजित दुआईया मजलिस में शिरकत की. इस दुआईया मजलिस कार्यक्रम में बिहार राज्य हज कमिटी के अध्यक्ष हाजी मोहम्मद इलियास हुसैन उर्फ सोनू बाबू ने मुख्यमंत्री को फूलों का गुलदस्ता, टोपी एवं अंगवस्त्र भेंटकर सम्मानित किया. दुआईया मजलिस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं इसे अपनी खुशकिस्मती मानता हूँ कि एक बार फिर मुझे यहाँ हाजिर होने का अवसर मिला है. विगत कई सालों से इस मौके पर मै शामिल होता रहा हूँ और मेरी इच्छा है कि आगे भी हर बार इस दुआईया मजलिस में मै शामिल रहूँ। सभी हज यात्रियों को मुबारकवाद देते हुये उन्होंने कहा कि हमारी यही दुआ है कि आपकी दुआ कबूल हो. इस बार 4,798 आजमीन हज यात्रा पर रवाना हो रहे हैं. 40 दिनों तक लोग वहां समर्पण भाव

Read more

शराबबंदी कानून में संशोधन के लिए बनाई गई कमिटी

बिहार के बहुचर्चित शराबबंदी कानून में संशोधन होगा. इसके लिए सीएम नीतीश कुमार ने हां कर दी है. सोमवार को एक अणे मार्ग में लोकसंवाद कार्यक्रम के बाद मीडिया से बात करते हुए सीएम ने कहा कि यह भी देखा जाएगा कि शराबबंदी कानून के किस प्रावधान के सबसे ज्यादा दुरुपयोग हो रहा है. मुख्य सचिव दीपक कुमार ने कमिटी बनाई है. संशोधन की जानकारी सुप्रीम कोर्ट को भी दी गई है. सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि कानून के विभिन्न प्रावधानों और इसके प्रभावों की समीक्षा कर कमिटी जल्द ही अपनी रिपोर्ट देगी. इसके बाद कमिटी की रिपोर्ट पर महाधिवक्ता और सुप्रीम कोर्ट के वकील से परामर्श लिया जाएगा. इसके बाद ही जरूरी संशोधन किए जाएंगे. बता दें कि बिहार में एक अप्रैल 2016 से देसी शराब को बैन किया गया था. इसके तुरंत बाद 5.04.2016 से राज्य में पूर्ण शराबबंदी लागू की गई थी. वहीं 2 अक्टूबर 2016 से बिहार में नया शराबबंदी कानून लागू हुआ था.

Read more

बिहार में क्यों 50 फीसदी से भी कम है सीडी रेशियो!

राज्य स्तरीय बैंकिंग समिति की बैठक में सीएम नीतीश कुमार ने बैंकों को जमकर फटकार लगाई है. सीएम ने साफ कहा कि आप बिहार के लोगों से पैसे जमा कराते हैं और उसी पैसे को साउथ और वेस्ट के राज्यों में जाकर बड़े-बड़े लोगों को लोन दे देते हैं. लेकिन बिहार के लोगों को लोन देने में आनाकानी करते हैं. बैंकों से लोन लेकर कई लोगों ने हजारों करोड़ का चूना लगा दिया लेकिन बिहार के लोग लाख-दो लाख का लोन मांगते हैं तो आप बहाने बनाते हैं. बिहार में क्रेडिट-डिपोजिट रेशियो 50% से भी कम रहने पर सीेएम ने नाराजगी जताई और कहा कि बिहार के लोग बैंकों पर इतना भरोसा करते हैं कि अपनी सारी जमा पूंजी बैंकों में ही जमा करते हैं, फिर आप लोन देने में क्यों उन्हें परेशान करते हैं. सरकारी योजनाओं का लाभ भी लाभुकों के खाते में समय पर नहीं पहुंचने की शिकायत भी मिल रही है जिसे बैंकों को गंभीरता से देखना चाहिए. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शनिवार को पटना में राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति द्वारा आयोजित 64वीं त्रैमासिक समीक्षा बैठक में बोल रहे थे. इस मौके पर एसबीआई के महाप्रबंधक ने बैंकों से संबंधित समस्या बताई, राज्य सरकार की तरफ से वित्त मंत्री एवं विभाग के प्रधान सचिव ने बैंकों से संबंधित पक्ष रखा. वहीं रिजर्व बैंक के महाप्रबंधक ने आंकड़े के मिलान में गड़बड़ी के बारे में जिक्र किया और भी बैंकों से जुड़ी समस्याओं को विस्तार से रखा. मुख्यमंत्री ने कहा कि आज के समय में बैंकों की सेवा महत्वपूर्ण होती जा रही

Read more

नीतीश कुमार आज से 8 जिलों की यात्रा पर

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज से विकास समीक्षा यात्रा पर निकल रहे हैं. बेतिया से शुरु होकर सीएम की यात्रा और आठ जिलों से होती हुई 16 दिसंबर तक चलेगी. मुख्यमंत्री का कार्यक्रम : 12 दिसंबर– बेतिया जिले के पितलार और कटैया भ्रमण 13 दिसंबर – मोतिहारी के परशुरामपुर और बलुआकोटी गांव 14 दिसंबर– सीतामढ़ी के बखरी और शिवहर के सुरगाही (यहां जनसभा और योजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन करेंगे) 15 दिसंबर– मुजफ्फरपुर के जारंग, मधुबनी के धकजरी गांव (यहां जनसभा करेंगे तथा योजनाओं के उद्घाटन के साथ दरभंगा में समीक्षा बैठक भी करेंगे) 16 दिसंबर– दरभंगा के कमलपुर और समस्तीपुर झकरा गांव भ्रमण (यहां आमसभा, योजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे; साथ ही विकास कार्यों की समीक्षा बैठक भी करेंगे). पहले ये यात्रा सात दिसंबर से ही शुरू होनी थी, लेकिन सीएम नीतीश कुमार की तबियत खराब होने के कारण यात्रा स्थगित हो गई थी.

Read more

अब 12 दिसंबर से शुरू होगी CM की समीक्षा यात्रा

CM नीतीश एक बार फिर सूबे की यात्रा पर निकलने वाले हैं. विकास समीक्षा यात्रा के जरिये मुख्यमंत्री विभिन्न जिलों में विकास कार्यों की समीक्षा करेंगे. पहले ये यात्रा 7 दिसंबर से शुरू होने वाली थी. लेकिन सीएम की तबीयत खराब होने के कारण अब इसमें परिवर्तन किया गया है. नए कार्यक्रम के मुताबिक, 12 दिसंबर को बेतिया के बगहा से वे अपनी समीक्षा शुरू करेंगे. इस दौरान वे बगहा प्रखंड के पतिलार और लौरिया के कटैया गांव जाएंगे. अगले दिन सीएम मोतिहारी पहुचेंगे. जहां वे कुछ गांवों में जाएंगे और शाम में बेतिया और मोतिहारी जिले के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करेंगे. मुख्यमंत्री 14 दिसंबर को सीतामढ़ी, 15 दिसंबर को मुजफ्फरपुर जिले के गायघाट प्रखंड के जारंग और मधुबनी जिले के बेनीपट्टी प्रखंड के धकजरी गांवों का दौरा करेंगे. शाम में दरभंगा जिला मुख्यालय में मधुबनी, समस्तीपुर एवं दरभंगा जिले की समीक्षा करेंगे. बता दें कि प्रथम चरण की विकास समीक्षा यात्रा में सीएम पहले 9 जिलों की योजनाओं की समीक्षा करेंगे. इस दौरान मुख्यमंत्री विभिन्न योजनाओं की समीक्षा, उद्घाटन, शिलान्यास और आम सभा करेंगे.

Read more

‘पूरा देश मनाये मेधा दिवस’

जो पढ़ेगा वही आगे बढ़ेगा- मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री ने तीन दिसंबर को मेधा दिवस के मौके पर वार्षिक माध्यमिक परीक्षा 2017 में उत्कृष्ट प्रदर्शन करनेवाले प्रथम से दस रैंक तक के छात्रों को पुरस्कृत किया. प्रथम स्थान प्राप्त करनेवाले परीक्षार्थी को 1 लाख रुपया, दूसरे स्थान प्राप्त करनेवाले को 75 हजार रुपया और तीसरे स्थान प्राप्त करनेवाले को 50 हजार रूपये के चेक के साथ-साथ एक लैप टॉप एवं किन्डल इ रीडर प्रदान किया. चतुर्थ स्थान से दसवें स्थान तक प्राप्त करनेवाले विद्यार्थियों को 10 हजार रुपया एवं लैप टॉप प्रदान किया. इंटरमीडिएट के कला संकाय, विज्ञान संकाय, वाणिज्य संकाय में उत्कृष्ट प्रदर्शन करनेवाले प्रथम 5 विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया. प्रथम स्थान प्राप्त करनेवाले परीक्षार्थी को 1 लाख रुपया, दूसरे स्थान प्राप्त करनेवाले को 75 हजार रुपया और तीसरे स्थान प्राप्त करनेवाले को 50 हजार रूपये के चेक के साथ-साथ एक लैप टॉप एवं किन्डल इ रीडर प्रदान किया. चौथे एवं पांचवें स्थान प्राप्त करनेवाले विद्यार्थियों को सीएम ने 15 हजार रुपये एवं लैप टॉप प्रदान किया. मुख्यमंत्री ने मेधा दिवस के अवसर पर वार्षिक माध्यमिक एवं इंटरमीडिएट परीक्षा 2017 के स्वच्छ एवं कदाचार रहित परीक्षा के संचालन में सर्वश्रष्ठ योगदान देनेवाले राज्य के 10 जिला क्रम से औरंगाबाद, कटिहार, कैमूर, गोपालगंज, जमुई, नालंदा, पटना, पश्चिम चंपारण, बेगुसराय, एवं मधेपुरा के जिलाधिकारियों को भी पुरस्कृत किया. इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि आज देशरत्न डॉ राजेन्द्र बाबु की जयंती है इसे इस वर्ष से मेधा दिवस के रूप में मनाने की शुरुआत की गयी है. इसका निर्णय तो

Read more

‘शिक्षा का नए ढंग से विकास जरूरी’

शिक्षा दिवस पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि बिहार को फिर से ज्ञान की भूमि बनाएंगे. सीएम ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में अभी काफी काम करना बाकी है. उन्होंने कहा कि बिहार में प्रतिभा की कमी नहीं है. लेकिन अब जरुरत है कि नए ढंग से शिक्षा का विकास हो ताकि युवाओं की प्रतिभा और निखरे. शनिवार को देश के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आजाद की जयंती पर आयोजित शिक्षा दिवस समारोह में सीएम ने मौलाना अबुल कलाम आजाद को एक महान स्वतंत्रता सेनानी बताया. उन्होंने कहा कि आजादी की लड़ाई में उनका अहम योगदान था. इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रख्यात शिक्षाविद् IIT कानपुर में भौतिकशास्त्र के प्रोफेसर हरीश चंद्र वर्मा को वर्ष 2017 का मौलाना अबुल कलाम आजाद शिक्षा पुरस्कार से सम्मानित किया. हरीश चन्द्र वर्मा को मुख्यमंत्री ने अंगवस्त्र, प्रशस्ति पत्र और ढाई लाख रुपए का चेक प्रदान किया.

Read more

‘आउटसोर्सिंग में रिजर्वेशन लागू करने का फैसला सही’

सीएम नीतीश कुमार ने आज पटना में मीडिया से बात करते हुए कई बातें सामने रखीं. उन्होंने साफ कहा कि महागठबंधन से अलग होने का फैसला बिल्कुल सही थआ क्योंकि बालू और शराब माफिया हावी होने की कोशिश कर रहे थे जिससे कानून व्यवस्था संभालने में दिक्कत हो रही थी. बिहार में हाल ही में आउटसोर्सिंग में रिजर्वेशन के फैसले को सीएम नीतीश कुमार ने नियमों के मुताबिक बताते हुए इसे सही करार दिया है. मुख्यमंत्री आज लोक संवाद के बाद पत्रकारों के सवालों के जवाब दे रहे थे. उन्होंने कहा कि अगर किसी कर्मचारियों को सरकारी फंड से सैलरी दी जा रही है तो उसमें आरक्षण लागू करना एक्ट के मुताबिक है. सीएम ने ये भी कहा कि वे निजी क्षेत्र में भी आरक्षण लागू करने के पक्षधर हैं लेकिन अभी यह बहस का मुद्दा है और संसद से पास नहीं हुआ है. बालू माफिया और शराब माफिया हो रहे थे हावीCM नीतीश ने कहा कि महागठबंधन से अलग होने का फैसला बिहार के लोगों के हित को ध्यान में रखकर लिया. बालू माफिया और शराब माफिया हावी होने की कोशिश कर रहे थे. उन्होंने राजद अध्यक्ष लालू पर इशारों में ही वार करते हुए कहा कि कुछ लोग खुद तो डूबे ही हैं और साथ में पूरे परिवार को भी फंसा दिया है. सीएम ने कहा कि कुछ लोग आज बड़े बड़े बयान दे रहे हैं. सृजन स्कैम को हमलोगों ने प्रकाश में लाया. CBI जांच कर रही है, कोई नहीं बचेगा. शौचालय स्कैम का खुलासा पटना के DM ने

Read more