2030 तक सड़क हादसों में मौत के आंकड़े को आधा करने का लक्ष्य

9 से 15 जनवरी तक मनाया जाएगा सड़क सुरक्षा सप्ताह
बिहार के सभी जिलों में कॉमर्शियल ड्राइवर्स के लिए होगी ट्रेनिंग

बिहार में अगले सप्ताह 9 जनवरी से 15 जनवरी तक सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाया जाएगा. इस दौरान सभी 38 जिलों में सड़क सुरक्षा रैली, ड्राइवर और ट्रैफिक व्यवस्था से जुड़े लोगों की ट्रेनिंग, स्कूलों में जनजागरूकता अभियान, नुक्कड़ नाटक, पेंटिंग- स्लोगन प्रतियोगिता, नेत्र जाँच शिविर और सड़क सुरक्षा पर राज्य स्तरीय कार्यशाला का आयोजन होगा.  पटना स्थित बि्हार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण में उपाध्यक्ष व्यासजी की अध्यक्षता में बैठक हुई. जिसमें निर्णय लिया गया कि टाटा मोटर्स के सहयोग से परिवहन विभाग द्वारा इस सप्ताह से प्रारंभ करते हुए पूरे राज्य के सभी 38 जिलों में  व्यावसायिक वाहनों के चालकों का प्रशिक्षण आयोजित किया जायेगा. साथ ही इंडियन ऑयल कार्पोरेशन और शिक्षा विभाग विद्यालयों में जनजागरूकता अभियान चलाएगा.




बता दें कि विभिन्न प्रकार की प्राकृतिक एवं मानवजनित आपदाओं में रोड एक्सीडेंट्स से होने वाली मौतों की संख्या सबसे ज्यादा पाई गयी है. वर्ष 2015 में भारत में लगभग 5 लाख दुर्घटनाओं के मामले सामने आये जिनमे 146000 लोगों की मृत्यु हुई  और इससे तीन गुना अधिक लोग घायल हुए. सड़कों के निरंतर विकास एवं गाडियों की संख्या में लगातार हो रही वृद्धि और बढ़ते शहरीकरण के कारण सड़क दुर्घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं.  2015 में ही बिहार में लगभग 10000 सड़क दुर्घटनाएं हुईं, जिनमें लगभग 5000 लोगों की मौत हो गई जबकि 7000 लोग घायल हुए.

इस गंभीर ह्यूमन मेड डिजास्टर के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाने और सम्बंधित विभागों के साथ मिलकर सड़क सुरक्षा जैसे महत्वपूर्ण विषय पर बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा विशेष प्रयास किया जा रहा है. सड़क सुरक्षा सप्ताह -2017 की तैयारियों के सिलसिले में प्राधिकरण द्वारा आयोजित बैठक में विभिन्न विभागों एवं अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधियों और विशेषज्ञों ने भाग लिया. बैठक में प्रमुख रूप से परिवहन विभाग, पथ निर्माण विभाग, स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, मद्य निषेध, आबकारी एवं निबंधन विभाग, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के प्रतिनिधिओं के साथ अन्तराष्ट्रीय गैर-सरकारी संस्थाओं के प्रतिनिधि, DRR Roadmap Implementation Support Unit (RISU), यूनिसेफ , रेड क्रॉस, टाटा मोटर्स, इंडियन आयल कार्पोरेशन, पटना पेट्रोलियम डीजल एसोसिएशन आदि के प्रतिनिधि शामिल हुए.

 इस साल केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय (रोड सेफ्टी प्रभाग) के द्वारा जारी दिशानिर्देशों के अंतर्गत प्राधिकरण द्वारा पूरे राज्य में 28th सड़क सुरक्षा सप्ताह 9 जनवरी से 15 जनवरी 2017 तक मनाने का निर्णय लिया गया है. यह निर्णय बिहार के आपदा जोखिम न्यूनीकरण रोडमैप द्वारा आपदाओं में होने वाली मौतों को 2030 तक आधा करने के निश्चय की दिशा में एक सार्थक पहल है. व्यासजी, उपाध्यक्ष, BSDMA