रेल खण्डों पर ट्रेनों की धींगामुश्ती

श्रमजीवी हैंड ट्रॉली से टकराई तो मेमू सिंग्नल पार करने बाद रुकी

आरा, 15 मार्च. दानापुर मुगलसराय रेलखंड पर इन दिनों लगातार कई घटनाएं सामने आ रही हैं. इन घटनाओं में कहीं ना कहीं रेल कर्मियों की लापरवाही भी सामने आ रही है ऐसे ही एक मामले में बुधवार को मुगलसराय रेलखंड के टुड़ीगंज स्टेशन के समीप हुआ, जब अप में श्रमजीवी एक्सप्रेस से हैंड ट्राली टकरा गयी. जिसमें ट्रेन का इंजन फेल हो गया. इंजन फेल होने से करीब दो घंटे अप लाइन परिचालन बाधित रहा. हादसे के दो घंटे के बाद डुमरांव  स्टेशन से मालगाड़ी का इंजन भेजकर श्रमजीवी एक्सप्रेस को आगे के लिए रवाना किया गया. ट्रेन की लेटलतीफी से यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा.





वही दूसरी ओर पटना से मुगलसराय तक जाने वाली 63227 मेमू कुल्हड़िया स्टेशन पर सिग्नल पर करने के बाद रुकी. जिसके कारण ट्रेन को लगभग 20 मिनट वहां रुकना पड़ा. यह गलती से हुआ या कोई तकनीकी कारण से इसका पता लगाया जा रहा है.

घटना बुधवार की दोपहर करीब 12 बजे की है. मिली जानकारी के अनुसार राजगीर से चलकर नई दिल्ली को जाने वाली श्रमजीवी एक्सप्रेस जैसे ही टुड़ीगंज स्टेशन के समीप पहुंची थी कि एक हैंड ट्राली ट्रेन में टकरा गयी. ट्राली के टकराने के बाद डाइवर ने ट्रेन में झटका महसूस किया. इसके बाद इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोक दिया. पता चला कि इंजन में तकनीकी खराबी आने के कारण फेल हो गया है. इसके बाद ड्राइवर ने ट्रेन को टुड़ीगंज स्टेशन के समीप ही रोक दिया. इस दौरान चालक द्वारा इंजन बनाने का काफी प्रयास किया गया, लेकिन इंजन की खराबी को दूर नही कर सका. इसके बाद चालक ने इसकी सूचना कंट्रोल को दी. इंजन फेल होने की सूचना मिलते ही अधिकारियों में हड़कंप मच गया. अधिकारी इधर-उधर भागते नजर आये. करीब दो घंटे बाद डुमरांव से मालगाड़ी का इंजन भेजकर श्रमजीवी एक्सप्रेस को आगे के लिए रवाना किया गया.

झटके के साथ अचानक ट्रेन के रुकने से यात्री भी किसी दुर्घटना की आशंका से शशंकित हो गए. जैसे ही ट्रेन रुकी लोग डिब्बों से उतरकर पटरी पर खड़े हो गए. जब उन्होंने पूरे मामले की जानकारी दे तो उन्हें पता चला कि माजरा क्या है तब कहीं जाकर यात्रियों के जान में जान आई.

वहीं ट्रेन का इंजन फेल होने से अप लाइन का परिचालन पूरी तरह से बाधित रहा. दो घंटे के बाद अप लाइन का परिचालन चालू किया गया. वहीं कई ट्रेनों को जहां-तहां खड़ा करना पड़ा.हिमगिरी एक्सप्रेस को कारीसाथ, पटना-मुगलसराय पैसेंजर को रघुनाथपुर और फरक्का को बिहिया में रोक दिया गया.
इस बाबत बक्सर स्टेशन मास्टर एमके पांडेय ने बताया कि टुड़ीगंज स्टेशन के समीप श्रमजीवी एक्सप्रेस का ट्राली से टक्कर के बाद इंजन फेल हो गया था. डुमरांव से मालगाड़ी के इंजन को जोड़कर ट्रेन को आगे के लिए रवाना किया गया. हालांकि इस घटना के होने से रेलवे कर्मियों की बड़ी लापरवाही एक बार फिर उजागर हुई है.

आरा से सत्य प्रकाश सिंह की रिपोर्ट