रामायण यात्रा के लिए शुरू हुई डीलक्स एस ट्रेन


डीलक्स एस ट्रेन सबसे आरामदायक रेलगाड़ियों में से एक
सभी कोचों में लगे हैं एसी,एक व्यक्ति का किराया 82,950 रुपए
दो रेस्टुरेंट, एक आधुनिक रसोई और बोगियों में शावर रूम

इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन आईआरसीटीसी ने रामायण यात्रा श्रृंखलाओं की योजना बनाई है. यह धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए रेलगाड़ियों के जरिए घरेलू पर्यटन को फिर से शुरू करने की दिशा में मददगार होगी. पहली यात्रा यात्रा सात नवंबर से शुरू हो गई हुई. आईआरसीटीसी के एक बयान के मुताबिक, ‘‘पहली रामायण सर्किट ट्रेन सात नवंबर को नई दिल्ली से रवाना हुई. उसके बाद चार और रेलगाड़ियां भी रवाना होंगी.’’




आईआरसीटीसी की यह फुल एसी ट्रेन है, जो रविवार को दिल्ली से शाम छह बजकर 45 मिनट पर रवाना हुई. अफसरों के हवाले से कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया कि यह डीलक्स एस ट्रेन सबसे आरामदायक रेलगाड़ियों में से है.
ट्रेन के हर कोच में सीसीटीवी कैमरा हैं. साथ ही सिक्योरिटी गार्ड भी मौजूद रहेंगे. यह ट्रेन कुल 7500 किमी का सफर तय करेगी, जिसमें यह प्रभु राम के जीवन से जुड़े अहम स्थानों/स्थलों के लोगों को दर्शन कराएगी.
यह ट्रेन 16 नवंबर को रवाना होगी. रामायण यात्रा एक्सप्रेस-श्री गंगानगर से 25 नवंबर को रवाना होगी. इस रेलगाड़ी में दो रेस्त्रां, एक आधुनिक रसोई और बोगियों में शावर रूम सरीखी सुविधाएं भी मिलेंगी.

दक्षिण भारत के धार्मिक पर्यटन बाजार के मद्देनजर आईआरसीटीसी रामायण यात्रा एक्सप्रेस-मदुरै का संचालन करेगा. यह ट्रेन मदुरै से शुरू होगी और हम्पी, नाशिक, चित्रकूट, इलाहाबाद, वाराणसी जाएगी और मदुरै वापस आएगी.
रामायण सर्किट ट्रेन में एक व्यक्ति का किराया एसी क्लास के लिए 82,950 रुपए से शुरू होता है. खास बात है कि आईआरसीटीसी इसमें विभिन्न प्रकार के पैकेज भी मुहैया कराता है, जिसकी वजह से रकम घट/बढ़ भी सकती है.
एसी-2 क्लास के लिए एक यात्री का किराया 82,950 रुपए होगा, जबकि एसी फर्स्ट के लिए यह रकम 1,02,095 रुपए हो जाएगी. ट्रेन बाहर से देखने में रेत के रंग की है.

अत्याधुनिक कोच में यात्रियों की सुविधा के लिए सारी विशेषताएं

ट्रेन का पहला गंतव्य यूपी का अयोध्या होगा, जिसके बाद दूसरा पड़ाव बिहार में आने वाला सीतामढ़ी रहेगा. इस डीलक्स एसी रेलगाड़ी में दो किस्म की बोगियां हैं. पहली- एसी फर्स्ट, जबकि दूसरी है- एसी सेकेंड.
रामायण सर्किट, भारत सरकार की “स्वदेश दर्शन योजना” के अंतर्गत चिन्हित थीम सर्किट में से एक महत्वपूर्ण सर्किट है. पर्यटकों की लगातार मांग को देखते हुए यह यात्रा 12 दिसंबर को दोबारा रवाना की जाएगी, जिसके लिए रिजर्वेशन चालू हो चुका है.

PNCDESK #ramayantrain #biharkikhabr