विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष बनीं राबड़ी देवी

पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी बिहार विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष की भूमिका निभाएंगी. विधान परिषद में राष्ट्रीय जनता दल के सदस्यों की संख्या बढ़ने के साथ ही अब राबड़ी देवी को विधान परिषद के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह ने नेता प्रतिपक्ष का दर्जा दे दिया है.

बिहार विधान परिषद के सचिव की ओर से जारी अधिसूचना के मुताबिक राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के अनुरोध पर कार्यकारी सभापति ने विधान परिषद में राजद के सदस्यों की संख्या के आधार पर राबड़ी देवी को नेता प्रतिपक्ष की मान्यता 11 अप्रैल 2022 के प्रभाव से दे दी है.




आपको बता दें कि विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष के लिए विपक्ष के सदस्यों की संख्या कम से कम 8 होनी चाहिए . हाल में संपन्न विधान परिषद चुनाव से पहले विधान परिषद में राजद के सदस्यों की कुल संख्या 5 थी. अप्रैल महीने में 24 सीटों के लिए हुए चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल के छह सदस्यों ने जीत दर्ज की है जिसके बाद विधान परिषद में राजद के सदस्यों की संख्या बढ़कर 11 हो गई है. सदस्यों की संख्या बढ़ने के साथ ही विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष के रूप में राबड़ी देवी को भी मान्यता मिल गई है. इस तरह अब बिहार विधानमंडल के दोनों सदनों में राष्ट्रीय जनता दल को विपक्ष का नेता का दर्जा मिल गया है. बिहार विधानसभा में तेजस्वी यादव नेता प्रतिपक्ष है.

pncb