प्रकाशपर्व फिल्म महोत्सव परदे पर बिखरी पंजाबी संस्कृति

श्री गुरु गोविन्द सिंह जी महाराज के 350वें प्रकाश पर्व के अवसर पर कला संस्कृति एवं युवा विभाग के अंतर्गत आयोजित विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों की श्रृंखला में बिहार राज्य फिल्म विकास एवं वित्त निगम द्वारा प्रकाशपर्व फिल्म महोत्सव का समापन पंजाबी फिल्म वारिस शाह-इश्क द वारिस के साथ चैंबर ऑफ कामर्स के सभागार में हुआ. महोत्सव के दूसरे दिन की शुरुआत हिन्दी फिल्म फ्लाइंग जट्ट के साथ हुई.रेमो डी सूजा निर्देशित यह फिल्म एक सामान्य बालक के सुपरहिरो बनने और फिर पर्यावरण की रक्षा के लिए संघर्ष की कथा रोचक अंदाज में बयान करती है. टाइगर श्राफ,जैकलीन फर्नांडिश,के के मेनन अभिनीत फ्लाइंग जट्ट का सिख अतिथियों ने भरपूर आनंद उठाया.




दूसरे सत्र में गिप्पी अग्रवाल निर्देशित फिल्म अरदास दिखायी गयी.पंजाबी में बनी इस फिल्म में पंजाब के सामाजिक जीवन में धर्म की महिमा प्रदर्शित की गई थी. सामाजिक पृष्ठभूमि पर बनी यह फिल्म इस बात को रेखांकित करती थी कि अरदास वास्तव में जीवन में संघर्ष की शक्ति देता है.अपने नएपन के लिए इस फिलम को काफी प्रशंसा मिली थी और अभिनेता आमिर खान तक इसके प्रमोशन के लिए आगे आए थे. तीसरे सत्र में पंजाब के महान संत कवि वारिस शाह के जीवन पर आधारित पंजाबी फिल्म वारिस शाह-इश्क द वारिस दिखायी गई..2006 में बनी ‘वारिश शाह’ पंजाबी की श्रेष्ठ फिल्मों में शुमार की जाती है जिसे विभिन्न श्रेणियों में चार नेशनल अवार्ड मिले थे.फिल्म में मुख्य भूमिका जूही चावला,गुरदास मान और दिव्या दत्ता की थी.यह फिल्म पंजाब की संस्कृति में संगीत और कला के महत्व को प्रदर्शित करती थी.यह औरंगजेब द्वारा संगीत पर लगाए प्रतिबंध के खिलाफ वारिस शाह के संघर्ष को चित्रित करती थी.

फिल्म प्रदर्शन के पूर्व निगम के प्रबंध निदेशक गंगा कुमार ने कहा कि इस तरह के महोत्सव से हमें अपने देश के अन्य क्षेत्रों की संस्कृति और भाषा बोली से रु ब रु होने का मौका मिलता है,जो हमें एक राष्ट्रीय परिदृश्य पर खडे होने का अवसर देती है. उन्होंने कहा कि इस महोत्सव का उद्देश्य मात्र मनोरंजन नहीं,बल्कि शैक्षणिक था,जिसमें सिख धर्म की शिक्षा के साथ पंजाब की संस्कृति के बारे में भी दर्शक जान सके. इस दौरान कला, संस्‍कृति एवं युवा विभाग, बिहार के अपर सचिव आनंद कुमार, फिल्‍म समीक्षक विनोद अनुपम और मीडिया प्रभारी रंजन सिन्‍हा के अलावा कई गणमान्‍य अतिथि भी उपस्थित रहे.