रंग लाई मेहनत, प्रकाश पर्व के बहाने चमका ब्रांड बिहार

देश-विदेश के लाखों लोगों ने श्रद्धा और उल्लास के साथ मनाया प्रकाश पर्व  

प्रधानमंत्री और सभी अतिथियों ने की बेहतरीन आयोजन की तारीफ




मुख्यमंत्री ने की पटना डीएम और एसएसपी की जमकर तारीफ

पिछले कई महीनों से लगातार दिन-रात एक करने वाले पटना जिला प्रशासन, बुडको, नगर निगम, पर्यटन विभाग और अन्य विभागों की मेहनत रंग लाई. गुरूवार को प्रकाश पर्व के मौके पर ऐतिहासिक भीड़ और प्रधानमंत्री समेत कई VVIP की सफलतापूर्वक अगवानी करके पटना पूरे विश्व पटल पर अपनी पहचान बनाने में सफल रहा. ना सिर्फ पटना बल्कि पूरे बिहार, जिला प्रशासन, गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी और बिहार वासियों की भी बाहर से आए श्रद्दालुओं ने जमकर तारीफ की. सबकी जुबां पर बस एक ही बात थी… पटना आकर बहुत अच्छा लगा.

  

ना सिर्फ पटना सिटी बल्कि कंगन घाट, बाइपास और गांधी मैदान टेन्ट सिटी में भी जिला प्रशासन के बेहतरीन विश्वस्तरीय इंतजाम और उच्चस्तरीय प्रशासनिक व्यवस्था का गवाह बने श्रद्धालु यहां की व्यवस्था गद्गद् नजर आए.  विशेष रुप से गांधी मैदान में आयोजित कार्यक्रम का और जिला प्रशासन की व्यवस्था का अतिथियों और श्रद्धालुओं ने खुले दिल से प्रशंसा की. विधि-व्यवस्था के लिए प्रतिनियुक्त दण्डाधिकारी/पुलिस पदाधिकारी/हेल्प डेस्क पर प्रतिनियुक्त कर्मियोें से मिलकर श्रद्धालुओं ने उनकी पीठ थपथपायी.  कई श्रद्धालुओं ने खुलकर कहा कि बिहार के बारे में उनकी सोच बदली है और अपेक्षा से कहीं बेहतर व्यवस्था प्रशासन द्वारा श्रद्धालुओं के लिए किया गया. पटना डीएम संजय कुमार अग्रवाल की व्यक्तिगत निगरानी और पर्यवेक्षण में जिला प्रशासन की पूरी टीम कई महीने से प्रकाश पर्व की तैयारियों में लगी रही.

प्रकाश पर्व की प्रमुख बातें-

  • 1 जनवरी 2017 से 05 जनवरी 2017 के बीच गांधी मैदान में गुरू ग्रन्थ साहिब जी का प्रवास रहा. इस दौरान देश-विदेश के लाखों श्रद्धालुओं ने गांधी मैदान आकर मत्था टेका
  • 6 जनवरी से गांधी मैदान में निर्मित टेन्ट सिटी में रहने वाले लोग/श्रद्धालु ही गांधी मैदान में प्रवेश कर सकेंगे जबकि आम नागरिकों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा.

जिला प्रशासन की प्राथमिकता थी कि जो भी श्रद्धालु प्रकाश पर्व के अवसर पर पटना आयें, वे  यहाँ की व्यवस्था से सन्तुष्ट रहें और उल्लास पूर्वक प्रकाश
पर्व मनाने के बाद सुरक्षित अपने घर तक पहुँचें. इस दौरान श्रद्धालुओं से मिल रही प्रतिक्रिया और फीडबैक के आधार पर व्यवस्थाओं में अपेक्षित सुधार किया गया. लोगों की प्रतिक्रिया  जिला प्रशासन के लिए संतोष का विषय है. मैं इस पर्व से जुड़े हुए प्रत्येक विभाग के पदाधिकारी, गुरूद्वारा प्रबंधक कमिटी के सदस्यगण एवं सभी संबंधित कर्मियों का धन्यवाद देता हूं जिनके सामूहिक प्रयास से प्रकाश पर्व अत्यन्त ही उल्लास के साथ सम्पन्न हुआ- संजय कुमार अग्रवाल, डीएम पटना