पटना के इस नये फ्लाइओवर की जानिए खूबियां

सीएम ने बटन दबाकर की नये फ्लाइओवर की शुरुआत

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को आर ब्लॉक फ्लाई ओवर का शुभारंभ किया. इस फ्लाइओवर के शुरु होने से विधानसभा एवं हार्डिंग रोड के रास्ते वीरचंद पटेल पथ और इनकम टैक्स होते हुए डाकबंगला जाने वाले लोगों को आवागमन में सहुलियत होगी.




मुख्यमंत्री ने फ्लाईओवर के आर ब्लॉक गोलंबर पर बने एलिवेटेड रोटरी में नेटवर्क ऑफ फ्लाई ओवर नक्शे के अवलोकन के दौरान अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए. पथ निर्माण विभाग के अपर मुख्य सचिव अमृृृतलाल मीणा ने मुख्यमंत्री को जानकारी देते हुए बताया कि आर ब्लॉक-दीघा पथ को भी जीपीओ के पास इस फ्लाई ओवर से जोड़ दिया जाएगा जिससे गंगा पथ और दीघा पुल से आवागमन का सीधा जुड़ाव हो जाएगा और उत्तर बिहार के लोगों को भी यहां आने में सहुलियत होगी. मुख्यमंत्री ने आर ब्लाॅक फ्लाईओवर को एलिवेटेड पथ के माध्यम से फोरलेन आर ब्लाॅक दीघा पथ को जोड़ने का निर्देश दिया. इससे पटना रेलवे स्टेशन से जेपी सेतु तक का सीधा सम्पर्क स्थापित हो जायेगा.


मुख्यमंत्री ने करबिगहिया एलिवेटेड रोटरी का भी निरीक्षण किया और उससे जुड़ने वाले निर्माणाधीन पुलों एवं मार्गों से संबंधित जानकारी ली. इस दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को कई आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए. निरीक्षण के दौरान जानकारी दी गई कि इस गोलंबर के एक छोर से चिरैंयाटांड पुल होते हुए कंकड़बाग फ्लाईओवर भी कनेक्ट होगा. चिरैयाटांंड़ पुल के दक्षिणी छोर से यह कनेक्ट होगा जिससे मीठापुर-करबिगहिया और कंकड़बाग फ्लाईओवर सीधे जुड़ जायेंगे. गोलंबर के दूसरी तरफ पुल के निर्माण से पुनपुन होते हुए महुली तक का आवागमन आसान होगा.
निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने निर्माण कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया. मुख्यमंत्री ने कहा कि फ्लाईओवर के अधिकाधिक निर्माण से पटना के लोगों को आवागमन में सहुलियत तो होगी ही साथ ही राज्य के अन्य हिस्सों से पटना आने वाले लोगों को भी जाम से मुक्ति मिलेगी. इस फ्लाईओवर का निर्माण कार्य 2015 में शुरू हुआ था. इसेे अब मीठापुर फ्लाइओवर और भिखारी ठाकुर पुल से भी जोड़ा जाएगा.

आर ब्लॉक फ्लाइओवर की खास बातें

कुल लागत ₹106 करोड़

कुल लंबाई 960 मीटर

कहां से कहां तक- वीरचंद पटेल पथ से सप्तमूर्ति

PNCB