जी हाँ ये लाइन नोट बदलने के लिए लगी है

हजार व पांच सौ के पुराने नोट बदलने को लेकर भारी फजीहत

2000 का पहला नोट, लोग बोले- ये तो डॉलर जैसा है




खुदरा नोट (सौ,पचास, बीस, दस और पांच )  दिए गए 

शाम चार बजे के बाद भी लगी रही कतार

फुलवारी शरीफ के नगर व ग्रामीण इलाके के ज्यादातर बैंक और उनकी ब्रांचेज में सुबह 8 बजे से ही लंबी कतारें पहले से लग चुकी थी. जब बैंककर्मी पहुंचे तो आश्चर्य चकित थे. कतार में लगे सभी लोगों को नोट बदलवाने की जल्दीबाजी थी. पंजाब नेशनल बैंक , एसबीआई , आईसीआई , सेंट्रल बैंक , केनरा बैंक , मध्य बिहर ग्रामीण बैंक समेत तमाम बैंको में लोगों की लम्बी कतारें सुबह से शाम तक लगी रही . घंटो बाद जब लोगों ने अपने अपने नोटों को अकाउंट में जाम कराने के बाद बैंको से बाहर का रुख किया तो लगा जैसे जंग जीत ली हो .ये आलम फुलवारी शरीफ , बेउर , अनीसाबाद , सिपारा , रामकृष्ण नगर ,जगनपूरा , संपतचक के गोपालपुर ,गौरीचक , परसा बाजार के एतवारपुर , कुर्थौल , जानीपुर समेत तमाम इलाके में  बैंकों के बाहर देखने को मिला . पहले मैं के चक्कर में लोगों में आपाधापी मच गयी जिससे पुलिस को बैंको में पहुंचना पड़ा .2000 का पहला नोट देखते ही लोगों के चेहरे डॉलर जैसे नोट देख चहक उठे .बैंको में खुदरा नोट मसलन सौ , पचास , बीस , दस और पांच रुपये वाले भी  मिल रहे थे .बैंको में रूपये जमा कराने की कोई लिमिट नही थी , जितना रुपया चाहे जाम करा सकते हैं .लेकिन मिलेंगे अधिकतम चार हजार रुपये ही .

unnamed-3 unnamed-4

नोट बदलवाने के लिए एक चार-पांच पंक्तियों का फॉर्म भरवाया जा रहा है. जिनके अकाउंट हैं, उन्हें नोट बदलवाने में आसानी हो रही है. जिनके नहीं हैं फिलहाल उन्हें दिक्कतों का सामना करना पड़ा.पुराने नोट बैंक में जमा कराने पहुंचे लोगों को एक फार्म भरवाया जा रहा था. इसमें बैंक का नाम, कौनसी ब्रांच है, आई प्रूफ की फोटोकॉपी – जैसे आधार कार्ड, वोटर आईडी, पासपोर्ट, नरेगा कार्ड आदि. इसके अलावा कौन से नोट और किन नंबरों के हैं और कितने हैं. ये भी फार्म में भरना है. साथ ही हस्ताक्षर करने होंगे.

रिपोर्ट -फुलवारी शरीफ से अजीत कुमार 

14993547_1224294224310211_298837241912789478_n unnamed-6