जेलों में अब कभी नहीं जलेंगे लालटेन

बिहार की जेलों से हटाएं  जाए लालटेन -आयोग

राज्य मानवाधिकार आयोग ने बिहार सरकार को सूबे के जेलों से लालटेन के इस्तेमाल पर रोक लगाने के लिए कहा है .अँधेरा रो जाने पर जेलों इमरजेंसी के तौर पर लालटेन ही जलाया जाता है .लालटेन कैदियों के लिए आत्महत्या करने का साधन बनता जा रहा है.विगत दिनों  बेगूसराय डिवीजनल जेल में कैदी की जलने से हुई मौत हो गई थी इस मामले की सुनवाई करते हुए आयोग ने ये फरमान दिया है. आयोग के उप सचिव अभिजीत कुमार ने बताया कि जेल प्रशासन की तरफ से मौत के मामले में रिपोर्ट सौंपी गई थी.




जेल में जलने वाले लालटेन से ही आग लगाकर 31 वर्षीय युवक ने आत्महत्या कर ली थी.आयोग के इस आदेश के बाद ऐसा माना जा रहा है कि बिहार की जेलों से अब रात में जलने वाले लालटेन को हटा कर बैट्री चालित बल्ब दिए जा सकते है जो इमरजेंसी का काम करेंगे.आयोग ने इसके साथ ही मतृक की पत्नी को ढाई लाख रुपए का मुआवजा देने का भी सरकार को आदेश दिया है.

image_2846 image_276192