क्या एक वर्ष तक चलेगा पर्यावरण संरक्षण ?

DM और DJ ने कहा पर्यावरण के लिए जन-भागेदारी जरूरी

प्रशासनिक पदाधिकारियों ने 1 वर्ष तक पर्यावरण संरक्षण के लिये कहा




जिला विधिक सेवा प्राधिकार  के तत्वाधान में विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर मंगलवार को कृषि विज्ञान भवन में वृक्षारोपण किया गया. इस मौके उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए जिला न्यायाधीश अमरेंद्र पति त्रिपाठी और जिला पदाधिकारी भोजपुरी संजीव कुमार ने ने कहा कि पर्यावरण को बचाने के लिए व्यापक जन आंदोलन की जरुरत है. उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि जीव-जंतु, पशु-पक्षी और मिट्टी-जलवायु का गहरा संबंध है. ग्लोबल वार्मिंग और लगातार वृक्षों की कटाई और प्रदूषण ने पर्यावरण को अत्यधिक क्षति पहुंचाया है.

अधिकारियों ने कहा कि 5 जून 2018 अगले 1 वर्ष तक पर्यावरण संरक्षण की दिशा में लोगों को कार्य करते हुए कम से कम 10 पेड़ लगाना चाहिए. ऐसा करने से धरती पर हरियाली तो आएगी ही जीव-जंतु भी प्रदूषण से मुक्त होंगे. अधिकारियों ने कहा कि पयार्वरण के लिए न सिर्फ सरकारी स्तर पर बल्कि इसके लिए गैर सरकारी स्तर पर भी लोगों को जागरूक होना चाहिए.

सामुहिक प्रयास और जन साहूकारों के आपसी सहयोग के बाद ही पर्यावरण सतुलन हो सकता है. जन अभियान का रूप ही इसे सुरक्षा  और संरक्षण दे सकता है. इस मौके पर जिला न्यायाधीश सह अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकार अमरेन्द्र पति त्रिपाठी, जिलाधिकारी सह उपाध्यक्ष, विधिक सेवा प्राधिकार संजीव कुमार, सदर अनुमंडलाधिकारी अरुण  प्रकाश सहित कई  न्यायायिक व प्रशासनिक पदाधिकारी मौजूद थे.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट