ग्राहकों को जिसपर है सबसे ज्यादा भरोसा

श्रीलेदर्स का 38वा शोरुम रा में आज से चालू
प्रोडक्ट की विश्वसनीयता पर खड़ा श्रीलेदर्स

आरा, 14 अप्रैल. अपने किफायती और बेहतरीन प्रोडक्टों की वजह से लोगों की खास पसंद बने श्रीलेदर्स ने नाला मोड़ के पास अपने शोरूम का आज शुभारम्भ किया. मध्यमवर्ग, सस्ते और टिकाऊ प्रोडक्ट के लिए भोजपुर जिले से पटना तक का सफर करते थे, लेकिन अब श्रीलेदर्स के आरा में शोरूम खुल जाने के साथ ही पटना जाने का झंझट खत्म हो गया. ग्राहकों को उनके पसंद का सामान अब आरा में ही मिल जाएगा. श्रीलेदर्स ने अपने शोरुम का उद्घाटन विशेष अंदाज में किया किया. जहां आम तौर पर उद्घाटन में बड़ी-बड़ी शख्सियतों और उनके नाम के मजमे में के बीच ताम-झाम से होता है, वही इन ताम-झाम से परे श्रीलेदर्स ने अपना चीफ गेस्ट खरीदारी के लिए आए अपने पहले ग्राहक को चुना और उन्ही से फीता काटवा कर अपने शोरूम का उद्घाटन करवाया.




श्रीलेदर्स का दिल्ली कोलकाता और चेन्नई जैसे महानगरों में शोरूम है. देश में आरा में खुलने वाला यह उसका 38वां शोरूम है. बताते चलें कि श्रीलेदर्स ने अपनी शुरुआत 1977 से की थी और तब से लेकर अब तक अपनी क्वालिटी और किफायती दामों की वजह से ग्राहकों के दिलो दिमाग पर छाया हुआ है. जेंट्स और लेडीज फुटवियर, बैग पर्स, बेल्ट और अन्य एक्सेसरीज के लगभग 25,000 डिजाइन के साथ श्रीलेदर्स ग्राहकों को लुभाने और उनका विश्वास जीतने में अब तक सफल रहा है.
शुक्रवार को कंपनी के PRO और विज्ञापन इंचार्ज सौरभ विश्वास, कंपनी के प्रोडक्ट डेवलपमेंट एंड परचेज डिपार्टमेंट के मैनेजर प्रसनजीत और सोमनाथ सरदार ने मीडिया से मुखातिब होते हुए अपने प्रोडक्ट और विश्वसनीयता की बातें शेयर की थी.

उन्होंने बताया उनकी आगामी योजना बेगूसराय और मोतिहारी में भी कंपनी के शोरूम खोलने की है. मीडिया से बात करते हुए उन्होंने उन्होंने कहा कि उनका मकसद सिर्फ प्रोडक्ट बेचना नहीं बल्कि ग्राहकों के साथ लंबे समय तक रिश्ता बनाना भी है. ग्राहकों की मांग पर समय-समय पर कंपनी नए डिजाइन को भी तैयार करती है. यही नहीं चोट और मोच के मरीजों के लिए भी विशेष तरह के और फ्लेक्सिबल जूते बनाए जाते हैं. बता दें कि कम्पनी कभी ऑफर या डिस्काउंट स्किम भी नही चलाती है कारण सालों भर कम्पनी के उत्पादों की कीमत बाजार में अन्य ब्रांडों से काफी कम रहता है. वही मजबूती और क्वालिटी भी उत्पादों की खास विशेषता है.

आरा से ओ पी पांडेयसत्य प्रकाश सिंह की रिपोर्ट