क्या आप जानते हैं ‘बापू’ के सात पाप ?

बापू के आदर्शवादी समाजिक पापों को चुनाव के लिए बनाया जा रहा हथकंडा

आरा, 21 जनवरी. स्वतंतत्र,निष्पक्ष एवं भयरहित चुनाव संपन्न कराने तथा नवगठित कोषांगों को सक्रिय एवं क्रियाशील बनाने के लिए कई स्तर पर सम्पर्क और बैठक जिला प्रशासन द्वारा किया जा रहा है. साथ ही लोगों में जिज्ञासाओं को पैदा करने के लिए महापुरुषों के जीवन की गलतियों और उनसे मिलने वाली सीखो को बतलाया जा रहा है जिससे अधिकारियों, कर्मियों और आमजनों को मोटिवेशन मिल सके.




चुनाव के ऐसे कार्य हेतु सोमवार को भोजपुर जिलाधिकारी संजीव कुमार ने कृषि भवन सभागार में विभिन्न कोषांगों के अधिकारियों के साथ बैठक की तथा सभी अधिकारियों एवं कर्मियों को पूरी जवाबदेही ,तत्परता एवं प्राथमिकता के तौर पर मिशन मोड में चुनाव कार्य करने का निर्देश दिया. बैठक की शुरुआत राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सात सामाजिक पाप से की गई. इस संदर्भ में विस्तृत जानकारी देते हुए जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को बापू के आदर्शवादी सामाजिक पाप संबंधी विचारों एवं मूल्यों को मानव जीवन के लिए प्रासंगिक एवं व्यवहारिक बतलाया तथा उन सामाजिक मूल्यों एवं विचारों को आत्मसात करने एवं मानव जीवन में उतारने की सीख दी. उन्होंने भोजपुर जिला के सभी विद्यालयों तथा सभी सरकारी कार्यालयों में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सात सामाजिक पाप के प्रचार प्रसार एवं उन मूल्यों को आत्मसात करने हेतु फ्लैक्स लगाने का निर्देश दिया गया. राष्ट्रपिता महात्मा गांधी द्वारा प्रदत्त सात सामाजिक पाप निम्नवत है
1.सिद्धांत के बिना राजनीति
2.काम के बिना धन
3.विवेक के बिना सुख
4.चरित्र के बिना ज्ञान
5.नैतिकता के बिना व्यापार
6.मानवता के बिना विज्ञान
7.त्याग के बिना पूजा
साथ ही महात्मा गांधी के निम्न विचार को भी शामिल करने का निर्देश दिया-
“पृथ्वी से हमें जो कुछ मिलता है वह हमारी आवश्यकता पूरी करने के लिए पर्याप्त है लेकिन हमारे लालच को पूरा करने के लिए पर्याप्त नहीं है.”

आगामी लोकसभा चुनाव कार्य के सफल एवं सुचारू संचालन हेतु भोजपुर जिला में 24 कोषांग का गठन किया गया है. जिलाधिकारी ने सभी को संघ के अधिकारियों को अपने अपने कोषांग क कार्य के बारे में जानकारी प्राप्त करने एवं पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के द्वारा सभी बातों को बैठक में रखने का निर्देश दिया. उन्होंने प्रशिक्षण को संघ द्वारा मतदान कर्मियों को दिए जाने वाले प्रशिक्षण की पूरी तैयारी करने तथा कार्य योजना बनाकर ट्रेनर को चिन्हित करते हुए उन्हें भी समुचित प्रशिक्षण देने का निर्देश दिया. साथ ही सार्वजनिक स्थलों पर विशेषकर अनुसूचित जाति जनजाति क्षेत्रों में ईवीएम VVPT की तकनीकी जानकारी देने हेतु जगह जगह पर कैंप लगाने को कहा.

विजिल ऐप से चुनाव आयोग करेगा मॉनिटरिंग

DM ने कहा कि चुनाव कार्य में लगे हुए कर्मी अगर बहाना बनाकर चुनाव कार्य से छुट्टी चाहते हैं तो वैसे कर्मियों के चिकित्सीय जांच हेतु मेडिकल टीम गठित की जाएगी तथा जांच उपरांत ही छुट्टी संबंधी उचित निर्णय लिए जाएंगे उन्होंने कहा की चुनाव कार्य को पारदर्शी एवं प्रलोभन मुक्त बनाए रखने हेतु सी विजील नामक एप सृजित किया गया हैं. इस एप्प के माध्यम से निर्वाचन आयोग द्वारा मॉनिटर किया जाएगा. इस संदर्भ में उल्लेखनीय है कि इस एप्प पर किसी उम्मीदवार राजनीतिक दल अथवा किसी अन्य व्यक्ति द्वारा लोभ, प्रलोभन, रुपया -पैसा अथवा अन्य कोई सामग्री देते हुए फोटो पोस्ट करने पर आयोग त्वरित कार्रवाई करेगी तथा जांच उपरांत विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी. 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस का आयोजन सभी मतदान केंद्रों पर होंगे तथा जिला स्तर पर भी समारोह पूर्वक आयोजन किए जाएंगे जिलाधिकारी ने मतदाताओं को जागरूक एवं प्रेरित करने हेतु जिला स्तर पर कार्य योजना तैयार करने तथा बूथवार कार्यक्रम आयोजित करने का निर्देश दिया. उन्होंने विशेषकर अनुसूचित जाति एवं जनजाति क्षेत्रों तथा न्यूनतम वोटिंग वाले मतदान केंद्रों को टारगेट कर मतदाता जागरूकता का कार्यक्रम संचालित करने पर बल दिया. बताते चलें कि इस एप्प पर शिकायत की सुनवाई 100 मिनट के अंदर होगी.

जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी ने बैठक में कहा कि 22 जनवरी से जन समाधान रथ द्वारा पंचायतों में भ्रमण कर लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम के संदर्भ में लोगों को जागरूक किया जाएगा इसके लिए कार्य योजना बना ली गई है तथा जिलाधिकारी द्वारा हरी झंडी दिखाकर कृषि भवन से जागरूकता रथ को पंचायतों के लिए रवाना किया जाएगा. जिलाधिकारी ने कहा कि जिला के वैसे विद्यालय अथवा सामुदायिक केंद्र जहां मतदान केंद्र बनाए गए हैं वहां पर शौचालय निर्माण हेतु त्वरित कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया. उन्होंने कहा कि विद्यालयों में महिला एवं पुरुष के लिए अलग-अलग शौचालय कार्यरत अवस्था में रहे. उन्होंने 116 विद्यालयों में शौचालय निर्माण कार्य की जांच हेतु टीम बनाकर सभी ईआर ओ स्तर पर निगरानी करने का निर्देश दिया गया. बैठक में विकास आयुक्त उप विकास आयुक्त शशांक शुभंकर नगर आयुक्त प्रमोद कुमार, अपर समाहर्ता सुरेंद्र प्रसाद, जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी सहित कई अधिकारी गण उपस्थित थे.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट