‘खसरा’ प्रकोप गाँव का DM ने किया दौरा, कहा किसी को घबराने की जरूरत नही

इंदिरा आवास के चल रहे कार्य का भी किया निरीक्षण, गुणवत्तापूर्ण आवास बनाने की दी हिदायत

आरा, 6 जनवरी. भोजपुर जिलाधिकारी संजीव कुमार ने पीरों प्रखंड में खसरा के प्रकोप से आक्रांत चकटोला गांव में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ शनिवार की भ्रमण किया और खसरा के निरोधात्मक कार्रवाई के तहत रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने हेतु विटामिन ए की गोली प्रत्येक बच्चों को कार्ययोजना के अनुरूप मिशन मोड में देने,निकटवर्ती गांव में इस रोग का प्रसार न हो इसके लिए टीकाकरण का विशेष अभियान चलाने और खसरा रोग के कारण, लक्षण, एवं रोकथाम के उपाय संबंधी बातों से लोगों को जागरूक करने का आदेश दिया.




जिलाधिकारी ने चक टोला गांव में सर्वेक्षित 400 बच्चों को पर्याप्त मात्रा में विटामिन ए की गोली 9 माह से 15 साल के बच्चों को कैंप मोड में देने को कहा ताकि उन बच्चों के रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि हो. उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि उन्हें खसरा से घबराने की जरूरत नहीं है बल्कि अन्य गांवों में इसके प्रसार को रोकने हेतु टीकाकरण अभियान चलाएं. गांव वार कैंप की तिथि को सार्वजनिक स्थानों पर प्रदर्शित कर शिविर के माध्यम से टीकाकरण अभियान चालू करें. मौके पर उपस्थित अनुमंडल पदाधिकारी पीरों को निर्देश दिया गया कि वह स्कूलों में बच्चों को इस रोग के बारे में जागरूक एवं प्रेरित करें साथ ही गांवो के जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक कर इस रोग के बारे में तथा टीकाकरण कैंप के बारे में आधिकारिक लोगों को अवगत कराएं इस कार्य में घर-घर भ्रमण करने तथा बच्चों के सर्वेक्षण कार्य हेतु एएनएम को लगाएं तथा आंगनवाड़ी सेविका सहायिका को सक्रिय एवं सहभागी बनाएं टीकाकरण से कोई भी बच्चा छूटे नहीं.

गांव के भ्रमण कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी ने उपस्थित जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी को विटामिन ए की गोली पर्याप्त मात्रा में क्रय करने ,स्कूलों में जागरूकता अभियान चलाने, गांव में कैंप मोड में टीकाकरण अभियान चलाने पर बल दिया. तत्पश्चात जिलाधिकारी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पीरो जाकर अस्पताल में भर्ती बच्चों की स्थिति एवं हालचाल जानने पहुंचे. मौके पर उपस्थित अस्पताल प्रबंधक ने उन्हें बताया कि अस्पताल में खसरा के कूल 21 मरीज भर्ती थे. जिसमें 4 बच्चों के इलाज में सुधार के उपरांत छोड़ दिए गए हैं. शेष 17 बच्चों का इलाज जारी है जिसमें 11 बच्चे चक टोला गांव के भर्ती हैं. जिलाधिकारी ने वार्ड में हर बेड पर जाकर सभी भर्ती बच्चों का हालचाल जाना तथा अस्पताल प्रशासन को पूरी मुस्तैदी के साथ इलाज हेतु तत्पर रहने का निर्देश दिया. उन्होंने अस्पताल की साफ सफाई का भी निरीक्षण किया चक टोला गांव के भ्रमण के दौरान अनुमंडल पदाधिकारी पीरो सुनील कुमार ,जिला जनसंपर्क पदाधिकारी प्रमोद कुमार, यूनिसेफ के राज्य प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ नरेंद्र कुमार सिन्हा ,जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉक्टर संजय कुमार सिन्हा, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ राजीव कुमार, यूनिसेफ एसएमसी कुमुद रंजन मिश्रा उपस्थित थे.

इंदिरा आवास के कार्यों का भी किया निरीक्षण

पीरो से लौटने के क्रम में जिलाधिकारी ने गढ़हनी प्रखंड के दुलारपुर गांव जाकर महादलित के लिए क्लस्टर में बन रहे इंदिरा आवास के निर्माण कार्य तथा अमर बंदी बाग में चल रहे निर्माण कार्य का जायजा लिया मौके पर उपस्थित कर्मियों को गुणवत्तापूर्ण कार्य करने की हिदायत दी.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट