कोरोना के कहर से पर्दाविहीन हुई AC बोगियां

कोरोना से बचाव के लिए ECR ने जारी किए जरूरी निर्देश

ट्रेनों में फॉगिग और बेंच कुर्सी से लेकर डोर नॉब तक को सैनिटाइज करने के निर्देश




पटना,14 मार्च. पूर्व मध्य रेलवे ने भी कोरोना से बचने के लिए स्वच्छता पर विशेष ध्यान देते हुए यात्रियों की सुरक्षा को लेकर अपनी संवेदनशीलता दिखाई है. पूर्व मध्य रेलवे के CPRO राजेश कुमार ने पटना नाउ को बताया कि सभी ट्रेनों में सीट,खिड़की से लेकर शौचालय,दरवाजा, बेसिन और फ्लोर तक को सैनिटाईज करने का तत्काल आदेश जारी किया है. इतना ही नही लोकल ट्रेनों में भी इस सफाई को लागू करने का आदेश दिया गया है. इसके अलावा ट्रेन की पटरियों, ट्रेनों और रेलवे परिसर में लगातार फॉगिंग करने के आदेश भी जारी किए गए हैं. सभी वातानुकूलित कोचों से पर्दे अगले आदेश तक निकालने के आदेश जारी किए गए हैं. निर्देश जारी होने के साथ ही स्टेशनों पर इसे शुक्रवार की शाम से चालू भी कर दिया गया है.

पूर्व मध्य रेलवे के GM ने रेलवे यात्रा के दौरान कोरोना वायरस के संक्रमण से यात्रियों को बचाने के लिए निम्न निर्देश तत्क्षण प्रभाव में लाने को दिए हैं:

1) सभी डिवीजन में चलने वाली ट्रेनों की कोचों को अंदर और बाहर से 2% लाईजॉल जैसे डायलुशन से प्राथमिक मेंटेनेंस के दौरान कीटाणुरहित करने का निर्देश दिया गया है.

2) EMU और DEMU कोचों को संक्रमणरहित करने के लिए उनका मेंटेनेंस रात्रि अवधि में करने का निर्देश दिया है.

3) सभी स्टेशनों के सफाईकर्मियों को निर्देश दिया गया है कि बेंच,कुर्सी,वाश बेसिन,बाथरूम और डोर नॉब जैसे उन सभी सतहों को संक्रमणरहित किया जाय जिनका सम्पर्क विभिन्न यात्रियों से होता है.

4) हैंड रेल,दरवाजे,खिड़की,चेन,स्नैक्स टेबल सहित उन सभी वस्तुओं की नियमित सफाई का निर्देश दिया गया है जो प्रत्येक कोचों में लगे रहते हैं.

5) कोचों में प्रचुर मात्रा में लिक्विड साबुन रखने का निर्देश दिया गया है.

6)AC कोचों से सभी पर्दों को हटाने का निर्देश दिया गया है.

7) ट्रेनों में प्रतिदिन फॉगिंग का निर्देश दिया गया है.

8) प्रतिदिन सभी पिट-लाइनों पर फॉगिंग का निर्देश दिया गया है. ये सभी एक्शन तत्काल पूर्व सावधानी के तौर पर लिया गया है, जिससे कोरोना का संक्रमण यात्रियों को रेल यात्रा के दौरान नही हो सके.

ओ पी पांडेय की रिपोर्ट