“छोटी फ़िल्म” के लिए ‘बड़ी भीड़’ से गुलजार हुआ सिनेमा हॉल

अम्बा की फ़िल्म ने जगाई उम्मीद की एक किरण
पटना से आरा तक लोगों की एक ही डिमांड ” फ़िल्म लंबी बने”….

आरा 17सितंबर. आमतौर पर सिनेमा हॉल में दर्शकों की भीड़ इन दिनों ना के बराबर होती है इसका एक मात्र कारण होता है भोजपुरी के अश्लील एवं फूहड़ फिल्मों का हॉल में प्रदर्शन लेकिन रविवार को दोपहर 3:00 बजे के शो में दर्शकों की संख्या जब बढ़ी तो लोगों के बीच यह चर्चा का विषय बन गया. मौका था अंबा द्वारा बनाई गई लघु फिल्म human bomb का मोहन सिनेमा में प्रदर्शन. अंबा ने शहरवासियों को खुले तौर पर अखबार, टेलीविजन और सोशल मीडिया के माध्यम फिल्म देखने के लिए आमंत्रित किया था. अम्बा के कार्यो से प्रभावित और उसके प्रशंसको की भीड़ परिवार के संग हॉल में फ़िल्म देखने उपस्थित हुई और फ़िल्म देखने के बाद लोगों का कॉमेंट मिला- छोटी फ़िल्म नही बड़ी फिल्म चाहिए…बधाई पूरी टीम को…




फ़िल्म की स्क्रीनिंग भोजपुर वासियों के लिए नि:शुल्क किया गया. पहली बार किसी शॉर्ट फिल्म की स्क्रीनिंग बड़े पर्दे पर पर आरा जैसे शहर में की गई. पटकथा व निर्देशन बॉलीवुड अभिनेता सत्यकाम आनंद की है. सत्यकाम की यह पहली निर्देशित फिल्म है. फिल्म संवेदनशील मुद्दे पर बनी हुई है जो बताती है की धर्म ग्रंथों को पहचानना टेढ़ी खीर है लेकिन जो मां हमें बताती है धर्म ग्रंथों के बारे में, वही सच्ची होती है क्योंकि मां कभी भी गलत बता ही नहीं सकती. फिल्म में सत्यकाम खुद ही अभिनय करते हुए दिखे,जिन्हें देखकर दर्शक उत्साह से तालियां बजा रहे थे. वही नवोदित चेहरों में में आरा शहर के राहुल बदलानी और पटना रंगमंच की चर्चित युवा अभिनेत्री अदिति सिंह मुख्य किरदारों में नजर आयीं. सहयोगी कलाकार में पटना के नीतीश,रौशन व वाराणसी की वीणा सहाय दिखीं. फिल्म का फिल्मांकन व एडिटिंग पटना के फेमस सिनेमाटोग्राफर अभिनव झा का था. फिल्म का बैकग्राउंड संजय मिश्रा ने, संगीत आशीष मोहंती, डबिंग विष्णु शंकर बेलु, फिल्म का DI शीनू मोहंती का था और इस फ़िल्म के एसोसिएट डायरेक्टर की कमान संभाली थी आरा के चर्चित युवा रंगकर्मी और निर्देशक ओ पी पांडे ने.फ़िल्म को प्रोड्यूस किया है प्रदीप बदलानी ने.

लगभग 600 दर्शकों से हॉल भरा था जिसमे अधिकांशतः परिवार के संग पहुँचने वाले लोग थे. महिलाओं और स्टूडेंट के साथ खिलाड़ियों ने भी शो में अपना सहभागिता फ़िल्म देखकर निभाई. इस मौके पर अम्बा के सदस्यों के साथ फ़िल्म की क्रिएटिव टीम के सदस्यों की उपस्थिति रही. लोगों ने फ़िल्म देखने के बाद कहा नीड एक्सटेंशन…

अपनो को देख गदगद हुए दर्शक


रविवार  Human bomb के स्क्रीन के दौरान स्क्रीनिंग के दौरान उपस्थित भोजपुर वासियों और सिनेमा प्रेमियों का मन गदगद क्योंकि जिन चेहरों को अब तक हुए सामने से देखा करते थे वह सिनेमा के विशाल पर्दे पर दिखा व्यापार यह पल दर्शकों के लिए जहां आत्मिक सुकून देने वाला था वही दर्शकों की भारी संख्या में उपस्थित थी उपस्थिति अंबा टीम के लिए एक दृढ़ विश्वास की नई लकीर सिनेमा के उपरांत लोगों से मिले रिएक्शन और खुशी ने उनकी डिमांड को बता दिया.

अधिकांश दर्शकों का की यह मांग थी कि फिल्म लंबी अवधि की बने. फिल्म के शो के बाद फ़िल्म के निर्देशक व अभनेता सत्यकाम आनंद अभिनेता राहुल बदलानी और एसोसिएट डायरेक्टर ओ.पी पांडेय के साथ सेल्फी लेने के लिए लोगों की भीड़ इक्कठी हो गई अंबा टीम ने स्क्रीनिंग के बाद दर्शकों से मिले सकरात्मक रिस्पांस के लिए जहां पूरी टीम को बधाई दी. वही सिनेमा हॉल के विशाल पर्दे पर स्क्रीनिंग के लिए मोहन सिनेमा और पंकज सिंह का विशेष आभार व्यक्त किया. अंबा टीम का कहना था कहना था कि अगर ने कहा कि पंकज सिंह के बगैर यह प्लान ही अधूरा था.

भारत लीडरशिप फेस्टिवल में भी हुआ था फ़िल्म का प्रदर्शन
बतातें चलें कि फ़िल्म की पहली स्क्रीनिंग पटना में भारत लीडरशिप फेस्टिवल 2018 के दौरान 9 सितंबर को की गई थी, जहां 17 राज्यों के 100 डेलीगेट्स आमंत्रित थे. उस प्रदर्शन के बाद भी दिल्ली के एक कॉलेज के प्रोफेसर ने फ़िल्म की तारीफ ये शिकायत के अंदाज में की थी कि फ़िल्म 23 मिनट की जो बनी उसे बड़ा बनाया जाए.

आरा से अपूर्वा की रिपोर्ट